टेस्ट क्रिकेट के किंग बने कोहली, स्टीव स्मिथ को पछाड़कर टॉप पर पहुंचे

NewsCode | 5 August, 2018 2:29 PM
newscode-image

नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में अपने बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत एक बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। रविवार को जारी हुई आईसीसी की ताजा टेस्ट रैंकिंग में किंग कोहली दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज बन गए हैं। 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में कोहली ने 149 & 51 रन की शानदार पारी खेली थी।

विराट ने ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ को हटा कर पहली बार आईसीसी टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर कब्जा किया है। कोहली 934 रेटिंग पॉइंट लेकर टॉप पर हैं जबकि बॉल टैंपरिंग प्रकरण के बाद 1 साल का प्रतिबंध झेल रहे स्मिथ 929 रेटिंग पॉइंट लेकर दूसरे नंबर पर खिसक गए हैं।

आईसीसी टॉप-10 टेस्ट बल्लेबाज

1 विराट कोहली भारत – 934

2 स्टीव स्मिथ ऑस्ट्रेलिया – 929

3 जो रूट इंग्लैंड – 865

4 केन विलियमसन न्यूजीलैंड – 847

5 डेविड वॉर्नर ऑस्ट्रेलिया – 820

6 चेतेश्वर पुजारा भारत – 791

7 दिमुथ करुणारत्ने श्रीलंका – 754

8 दिनेश चांडीमल श्रीलंका – 733

9 डीन एल्गर दक्षिण अफ्रीका – 724

10 एडेन मार्कराम दक्षिण अफ्रीका – 703

इसके साथ ही विराट कोहली टेस्ट रैंकिंग में सबसे ज्यादा रेटिंग पॉइंट हासिल करने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर को पछाड़ते हुए यह मुकाम हासिल किया है। ज्ञात हो कि गावस्कर ने साल 1979 में 916 रेटिंग अंक हासिल किए थे।

टेस्ट क्रिकेट में बेस्ट रेटिंग वाले भारतीय (बल्लेबाजी रैंकिंग)

934 – विराट कोहली, साल 2018*

916 – सुनील गावस्कर, साल 1979

898 – सचिन तेंदुलकर , साल 2002

892 – राहुल द्रविड़ , साल 2005

वहीं कोहली आईसीसी के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज बनने वाले 7वें भारतीय बन गए हैं। उनसे पहले 6 भारतीय बल्लेबाज यह कारनामा कर चुके हैं। कोहली से पहले सुनील गावस्कर, दिलीप वेंगसरकर, सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर यह गौरव हासिल कर चुके हैं। गौरतलब है कि 7 साल बाद कोई भारतीय बल्लेबाज टेस्ट रैंकिंग में टॉप पर पहुंचा है। इससे पहले 2011 में मास्टर ब्लास्टर सचिन टॉप रैंकिंग पर जमे हुए थे।

किंग खान को पछाड़कर कैप्टन कोहली बने नंबर-1 ब्रांड

टाइम-100 की लिस्ट में दीपिका और कोहली के नाम शामिल, जानें और किसे मिली जगह

इंग्लैंड में संकटमोचक कोहली का पहला टेस्ट शतक, मैच में कराई भारत की वापसी

IND vs ENG: बेकार गया विराट प्रयास, इंग्लैंड ने टीम इंडिया को 31 रन से हराया

IND vs WI: हैदराबाद टेस्ट में भी नहीं मिला मयंक को मौका, 12 खिलाड़ियों के नामों का ऐलान

NewsCode | 11 October, 2018 5:28 PM
newscode-image

नई दिल्ली। वेस्टइंडीज के खिलाफ हैदराबाद में शुक्रवार से शुरू हो रहे दूसरे और आखिरी टेस्ट मैच के लिए भारतीय टीम के 12 खिलाड़ियों के नामों की घोषणा कर दी गई है। दो टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी टेस्ट के लिए कोई बदलाव नहीं किया गया है। सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को एकबार फिर मौका नहीं मिला है। मयंक अग्रवाल के अलावा ऑलराउंडर हनुमा विहारी, तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को मौका दिए जाने की बात की जा रही थी, लेकिन चयनकर्ताओं ने दूसरे टेस्ट में भी राजकोट टेस्ट की टीम को ही बनाए रखा।

उल्लेखनीय है कि 27 साल के मयंक अग्रवाल का इंतजार और लंबा हो गया है। घरेलू क्रिकेट में रनों का अंबार लगाने के बाद से ही वह अपने टेस्ट पदार्पण की प्रतीक्षा में हैं। वहीं, राजकोट टेस्ट में पृथ्वी शॉ ने डेब्यू शतक के जरिये सुर्खियां बटोरी थी।

12 सदस्यीय टीम-

विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, पृथ्वी शॉ, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और शार्दुल ठाकुर।

बता दें कि टीम इंडिया ने राजकोट टेस्ट ढाई दिन में ही पारी और 272 रनों के रिकॉर्ड अंतर से जीत लिया था। भारतीय टीम उप्पल के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में वेस्टइंडीज का क्लीन स्वीप करने के लिए तैयार है।

दिख सकता है ‘तितली’ का असर

चक्रवाती तूफान ‘तितली‘ का असर हैदराबाद टेस्ट पर भी दिख सकता है। यह तूफान उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिशा के तटीय तटों तक पहुंच गया है। ऐसे में हैदराबाद टेस्ट पर में बाधा पड़ने की आशंका है। फिलहाल यह तूफानी हवाएं 140 से 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से पहुंच रही हैं, इसकी गति 165 किमी प्रति घंटे तक होने का अनुमान है। तेज बारिश की आशंका से भी इनकार नहीं किया जा सकता। अब देखना है कि मौसम उसका कितना साथ देता है। भारतीय खिलाड़ी बुधवार को अभ्यास सत्र में शामिल हुए थे।


भारतीय फिरकी के आगे वेस्टइंडीज पस्त, टेस्ट इतिहास में टीम इंडिया की सबसे बड़ी जीत

INDvsWI : पहले टेस्ट में ही पृथ्वी शॉ ने ठोका शानदार शतक, बना डाले ये रिकॉर्ड

WI के खिलाफ पहले टेस्ट में पृथ्वी को मौका, मयंक अग्रवाल को करना होगा इंतजार

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

बिहार में 25 अक्टूबर से पॉलीथीन बैन, प्रयोग करने पर 1 लाख तक लगेगा जुर्माना

NewsCode | 23 October, 2018 1:14 PM
newscode-image

पटना। बिहार में प्लास्टिक कैरी बैग के प्रयोग को प्रतिबंधित करने के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। 25 अक्टूबर से हर प्रकार के कैरी बैग के प्रयोग पर प्रतिबंध रहेगा। पटना हाई कोर्ट के आदेश पर बिहार सरकार ने ये फैसला लिया है।

आपको बता दें कि पहले पटना हाई कोर्ट के निर्देश पर प्रतिबंध 24 सितंबर से लगने वाला था लेकिन सरकार ने तैयारियों के लिए एक महीने का समय लिया था। पर्यावरण और वन मंत्रालय ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। अधिसूचना के मुताबिक, पॉलीथीन के उत्पादन या बार-बार प्रयोग पर पांच साल की जेल और 1 लाख रुपए जुर्माने का प्रावधान है। हालांकि सरकार ने अबतक के स्टॉक को खपाने के लिए 60 दिनों की मोहलत भी दी है। इसके बाद 15 दिसंबर से पॉलीथीन के प्रयोग पर दंड की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

बैन में सिर्फ प्लास्टिक कैरी बैग को प्रतिबंधित किया गया है जबकि बायो वेस्ट के संग्रहण और भंडारण के लिए प्रयोग होने वाले 50 माइक्रोन से अधिक के कैरी बैग पर प्रतिबंध लागू नहीं होगा। साथ ही सभी प्रकार के खाद्य और अन्य पदार्थ की पैकेजिंग, दूध और पौधे उगाने के प्रयोग में आने वाले बैग भी इस बैन से मुक्त रहेंगे।

इससे पहले राज्य सरकार ने कोर्ट का भरोसा दिलाया था कि जरूरी नियमावली बनाने के बाद पूर्ण प्रतिबंध के लिए अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। इसके अलावा बिहार सरकार ने कोर्ट में यह भी बताया कि 25 अक्टूबर से शहरों में पॉलिथीन के पूर्ण प्रतिबंध के बाद 25 नवंबर को राज्य के ग्रामीण इलाकों में भी इस पर पूर्ण प्रतिबंध लग जाएगा। यानी शहरों के एक महीना बाद गांवों में पॉलिथीन का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा।

पहले 24 सितंबर से बिहार में पॉलीथीन पर पूर्ण प्रतिबंध का डेडलाईन पटना हाईकोर्ट की तरफ से दिया गया था लेकिन उस समय राज्य सरकार ने कहा था कि अभी इसके लिए पूरी तरह से तैयार नहीं है। इसलिए अब खुद राज्य सरकार ने बिहार के शहरी क्षेत्रों को पॉलिथीन रहित करने के लिए 25 अक्टूबर की तारीख तय की है।


रांची : पॉलीथीन के खिलाफ निगम की कार्रवाई, कई शॉपिंग मॉल में लगाया जुर्माना

जमशेदपुर : अवैध रूप से चल रहे पॉलीथीन फैक्ट्री में छापा, मशीन को किया सील

Paytm के मालिक को ब्लैकमेल कर मांगे 20 करोड़, महिला सेक्रेटरी समेत तीन गिरफ्तार

NewsCode | 23 October, 2018 12:13 PM
newscode-image

नई दिल्ली। मशहूर मोबाइल वॉलेट कंपनी पेटीएम (Paytm) के कुछ खास कर्मचारियों द्वारा कंपनी के सीईओ विजय शेखर का पर्सनल डाटा चुराकर 20 करोड़ रुपए उगाही करने का मामला सामने आया है। मामले में नोएडा की थाना सेक्टर-20 पुलिस ने कंपनी की महिला वाइस प्रेसिडेंट, उसके पति और एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया है।

नोएडा के एसएसपी अजय पाल शर्मा के मुताबिक विजय शर्मा ने उनसे शिकायत की थी कि कोई उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है। विजय शर्मा ने बताया कि 20 सितंबर को जब वे जापान में थे, उसी समय उनके पास थाइलैंड के एक नंबर से ब्लैकमेलर का फोन आया। उसने दावा किया कि विजय शर्मा के निजी डाटा उसके पास हैं। इसके एवज में ब्लैकमेलर ने 20 करोड़ की मांग की। साथ ही उसने कहा कि अगर उसे पैसे नहीं दिए गए तो वे पर्सनल डाटा सार्वजनिक कर देगा, जिससे विजय शेखर की छवि खराब हो जाएगी।

ब्लैकमेलर ने कहा कि उसके पास ये डाटा कंपनी के ही एडमिन डिपार्टमेंट में काम करने वाले राहुल और देवेंद्र से मिली है। इन दोनों कर्मचारियों को विजय शर्मा के पर्सनल डाटा कंपनी में सेक्रेटरी सोनिया धवन से मिली है। ब्लैकमेलर ने ये भी बताया कि उगाही की रकम का 10 प्रतिशत राहुल और देवेंद्र को दिया जाएगा। विजय शेखर के मुताबिक अपने ही कर्मचारियों की इस कारगुजारी पर उन्हें पहले तो विश्वास ही नहीं हुआ। इससे वे तनाव में आ गए।

दो महीने से चल रही थी ब्लैकमेलिंग

विजय शेखर के भाई अजय शेखर शर्मा ने पुलिस को दी गई शिकायत में लिखा कि उनकी कंपनी में सोनिया धवन और देवेंद्र कुमार काम करते हैं। सोनिया के पति का नाम रूपक जैन है। वह नोएडा में ही प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है। सोनिया धवन विजय शेखर की निजी सचिव के रूप में कंपनी में काम करती थीं।

सोनिया, रूपक और देवेंद्र कुमार ने ही साजिश करके विजय के निजी कम्प्यूटर से तमाम महत्वपूर्ण जानकारियां चोरी कर लीं। डेटा चोरी करने के बाद इन लोगों को कोई ऐसा आदमी चाहिए था जो इनसे पैसे निकाल सके। इसके लिए कोलकाता में रोहित चोमल को खोजा गया। उसके बाद देवेंद्र ने कोलकाता जाकर रोहित को डेटा दिया।

सच्चाई जांचने के लिए जमा किए 2 लाख रुपये

डेटा मिल जाने के बाद 10 सितंबर 2018 को रोहित चोमल ने विजय शेखर को फोन किया। एक बार फोन करने के बाद फिर उन्हें वॉट्सऐप कॉल की। पहले 10 करोड़ रुपये मांगे। रोहित ने इन पैसों को बैंक में जमा कराने के लिए आईसीआईसीआई बैंक का खाता नंबर भी दिया।

पुलिस को दी शिकायत में अजय शेखर ने बताया कि 10 अक्टूबर को पहले 67 रुपये और फिर 15 अक्टूबर को 2 लाख रुपये इस खाते में ट्रांसफर भी कर दिए गए। पैसे ट्रांसफर हो जाने के बाद रोहित ने फिर 10 करोड़ रुपये की मांग शुरू कर दी। जब रोहित ने फिर से पैसे जमा करने के लिए प्रेशर बनाना शुरू किया तो उसके बाद अजय शेखर ने पुलिस में शिकायत कर दी।

शिकायत मिलने पर नोएडा पुलिस Paytm के सेक्टर पांच स्थित ऑफिस पहुंची और तीनों आरोपियों- सेक्रेटरी सोनिया, राहुल और देवेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक इस पूरी साजिश की मास्टरमाइंड सोनिया है। उसे इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस की मदद से दबोचा गया।

बता दें कि पेटीएम साल 2012 में अस्तित्व में आई। आज 7 मिलियन लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। नोटबंदी के बाद अधिकतर लोग Paytm मोबाइल ऐप के जरिये इसी ई-वॉलेट से भुगतान कर रहे थे। साल 2017 में कंपनी का करोड़ों का कारोबार रहा है।


लॉन्च हुआ पेटीएम Payments Bank, मिलेंगे ये सारे फायदे

दिल्ली से आईएसआई एजेंट गिरफ्तार, महिला कर्नल को कर रहा था ब्लैकमेल

More Story

more-story-image

सुप्रीम कोर्ट का फैसला - दिवाली पर सिर्फ 2 घंटे...

more-story-image

कैसा रहेगा आज आपका दिन ? जानें आज दिनांक 23-10-2018...