‘किंग’ कोहली ने तोड़ा सचिन का वर्ल्ड रिकॉर्ड, वनडे में सबसे तेज 10 हजारी बने

NewsCode | 24 October, 2018 4:50 PM

विशाखापत्तनम में कोहली ने जड़ा वनडे करियर का 37वां शतक, 105 गेंदों में पूरी की सेंचुरी

newscode-image

नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ विशाखापत्तनम वनडे में एक बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है। विराट कोहली ने दूसरे वनडे में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी पारी का 81वां रन बनाते ही मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 10 हजार रनों के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ दिया है।

विराट कोहली ने 213 वनडे की 205 पारियों में 10 हजार रनों का आंकड़ा छूकर न सिर्फ सचिन को पीछे छोड़ा, बल्कि सबसे तेज 10 हजार रन बनाने का नया वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया। सचिन तेंदुलकर ने 266वां वनडे खलते हुए 259वीं पारी में सबसे तेज 10 हजार वनडे रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। विराट कोहली इसके अलावा सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और महेंद्र सिंह धोनी के बाद इस उपलब्धि को हासिल करने वाले 5वें भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं।

वनडे में सबसे तेज 10000+ रन बनाने वाले बल्लेबाज

विराट कोहली – 205 पारी
सचिन तेंदुलकर – 259 पारी
सौरव गांगुली – 263 पारी
रिकी पोंटिंग – 266 पारी
जैक कैलिस – 272 पारी
महेंद्र सिंह धोनी – 273 पारी

विराट का एक और बड़ा धमाका

विराट कोहली वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने विशाखापत्तनम में अपनी जोरदार पारी की बदौलत सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ा। सचिन ने 39 पारियों में 1573 रन बनाए थे। विराट ने महज 29 पारियों में सचिन के इंडीज के खिलाफ सर्वाधिक वनडे रनों के रिकॉर्ड को तोड़ा।

वेस्टइंडीज के खिलाफ सर्वाधिक वनडे रन बनाने वाले भारतीय वल्लेबाज

1574 रन, विराट कोहली, * 29 पारियां

1573 रन, सचिन तेंदुलकर, 39 पारियां

1348 रन, राहुल द्रविड़, 38 पारियां

1142 रन, सौरव गांगुली, 27 पारियां

घरेलू मैदान पर सबसे तेज 4000 वनडे रन

इसके अलावा 29 वर्षीय विराट ने भारत की धरती पर सबसे तेज 4000 वनडे रन पूरे करने का कारनामा किया है। दरअसल, विराट ने भारत में खेलते हुए महज 78 पारियों में अपने वनडे करियर के चार हजार रनों के आंकड़े को छुआ। किसी एक देश में सबसे कम पारियों में चार हजार रन पूरे करने की बात करें, तो विराट ने एबी डिविलियर्स को पीछे छोड़ा, जिन्होंने साउथ अफ्रीका में 91 पारियों में चार हजार रन पूरे किए थे। सचिन ने 92 पारियों में यह कारनामा कर दिखाया था।


टेस्ट क्रिकेट के किंग बने कोहली, स्टीव स्मिथ को पछाड़कर टॉप पर पहुंचे

किंग खान को पछाड़कर कैप्टन कोहली बने नंबर-1 ब्रांड

मीराबाई चानू और कैप्टन कोहली को खेल रत्न, इन खिलाड़ियों को मिला अर्जुन पुरस्कार

कोहली को पॉली उमरीगर अवॉर्ड, महिला वर्ग में हरमनप्रीत-स्मृति होंगी सम्मानित

जमशेदपुर : लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हो- रघुवर दास

NewsCode Jharkhand | 8 November, 2018 4:15 PM
newscode-image

जमशेदपुर। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ होने चाहिए। जमशेदपुर में पत्रकारों से बातचीत में रघुवर दास ने एक बार फिर विपक्षी दलों के गठबंधन को महाठगबंधन बताया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 नवंबर को रांची के रिनपास में टाटा कैंसर अस्पताल की आधारशिला रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी गरीबों को घर मुहैय्या कराने का वायदा 2022 में ही पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में कोई जनता बेघर नहीं रहे, इस संकल्प को लेकर सरकार निरंतर आगे बढ़ रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में भी यह फैसला लिया गया कि शहरी क्षेत्र में झुग्गी-झोपड़ी  एवं स्लम बस्ती में रहने वाले गरीब परिवारों को भी मकान उपलब्ध कराया जाए, इसके तहत राज्यभर में करीब डेढ़ लाख मकान बनाये जाएंगे। सिर्फ जमशेदपुर के ही शहरी क्षेत्र में 27 हजार मकान बनाये जाएंगे।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान के क्षेत्र में भी झारखंड में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। चार वर्ष पहले जब उन्होंने कार्यभार संभाला था, तो सिर्फ 18प्रतिशत घरों में ही शौचालय की सुविधा था, अब यह 99 प्रतिशत से अधिक घरोंतक पहुंच गयी है, दिसंबर 2018 तक सभी घरों में शौचालय की सुविधा उपलब्ध करा दी जाएगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची: कांठीटांड़-कांके-विकास तक रिंग रोड 10 साल बाद बन कर हुआ तैयार

NewsCode Jharkhand | 13 November, 2018 1:45 PM
newscode-image

10 साल बाद छह लेन वाले रिंग रोड फेज-7 का काम पूरा

रांची । करीब 10 साल के इंतजार के बाद रांची रिंग रोड सेक्शन सेवन बन कर तैयार हो गया है। छह लेन वाली 23.575 किमी लंबी इस सड़क पर गाड़ियां भी दौड़ने लगी हैं। यह रिंग रोड रांची-डालटनगंज मुख्य मार्ग (एनएच 75) पर कांठीटांड़ से शुरू होकर कांके रोड होते हुए रांची-रामगढ़ मुख्य मार्ग (एनएच 33)  पर विकास (नेवड़ी) से मिलता है। यानी दो महत्वपूर्ण राष्ट्रीय उच्च पथ एनएच 75 व एनएच 33 को यह जोड़ रहा है।

इस सड़क के बन जाने से बड़ी संख्या में गाड़ियां रांची शहर रातू रोड-बरियातू रोड में प्रवेश नहीं करेंगी, बल्कि रिंग रोड के सहारे निकल जायेंगी। इसका औपचारिक उदघाटन जल्द होगा. इस सड़क का निर्माण आइएलएफएस व पथ निर्माण विभाग की ज्वायंट वेंचर कंपनी झारखंड त्वरित पथ विकास कंपनी लिमिटेड (जेएआरडीसीएल) ने कराया है।

रिंग रोड के सेक्शन थ्री, फोर, फाइव व सिक्स का निर्माण भी इसी कंपनी  के माध्यम से कराया गया है।  रिंग रोड सेक्शन -7 (एक नजर में)  सड़क की लंबाई 23.575 किमी कहां से कहां तक कांठीटांड़ से नेवड़ी सड़क की चौड़ाई  छह लेन (30.5 मीटर) निर्माण पर खर्च 452 करोड़ (लगभग) काम करानेवाली कंपनी आइएलएफएस बड़े पुलों की संख्या 3 छोटे पुलों की संख्या 6 फ्लाइओवर की संख्या 01 अंडर पास की संख्या 7 रेलवे ओवर ब्रिज 01 कलवर्ट की संख्या 53 बस पड़ाव की संख्या 16 इस रोड के बन जाने से खास कर बड़े वाहनों व लंबी दूरी वाली गाड़ियां शहर में नहीं घुसेंगी।

बड़ी गाड़ियां शहर में घुस कर लंबे समय तक जाम में फंसी रहती हैं और ईंधन भी अत्यधिक बर्बाद होता है। अब ऐसा नहीं होगा. शहर की मुख्य सड़कों  पर से थोड़ा ट्रैफिक कम होगा। रिंग रोड के माध्यम से 23.5 किमी की दूरी तय करने में अधिकतम 20 मिनट का ही समय लगेगा, जबकि शहर के अंदर घुस कर इतनी दूरी तय करने में एक घंटे का समय लग रहा था. वहीं बड़े वाहनों के साथ नो इंट्री की भी बाध्यता नहीं रहेगी. वे 24 घंटे चल सकेंगे।

रिंग रोड सेक्शन सेवन का शिलान्यास वर्ष 2008 में हुआ था। इसके बाद इसका निर्माण कार्य शुरू हुआ। जिस कंपनी को काम मिला था, उसने इसे पूरा नहीं कराया। काम आधा-अधूरा रह गया था। ऐसे में सरकार ने उसका एग्रीमेंट रद्द कर दिया था। इस दौरान लंबे समय तक काम बंद रहा। बाद में इसका काम जेएआरडीसीएल को दिया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

बोकारो : सॉर्ट सर्किट से लगी आग, घर जलकर खाक

NewsCode Jharkhand | 13 November, 2018 1:34 PM
newscode-image

बोकारो। बिजली के तार में हुए सॉर्ट सर्किट से आग लग गई इस आग की घटना में पूरा घर जलकर खाक हो गया। इस आग लगी से एक लाख से अधिक के नुकसान का अनुमान है। घटना के बाद ग्रामीणों के द्वार आग पर काबू पाने का प्रयास किया गया लेकिन स्थानीय जिला परिषद के प्रतिनिधि की सूचना पर पहुँची  दमकल की गाड़ी ने आग पर काबू पाया।

आज सुबह चास प्रखण्ड के सोनाबाद पंचायत स्थित गांव आमडीहा टोला बंधुडीह के फूलचंद माहतो के कच्चे मकान में सौभाग्य योजना के तहत बिजली का कनेक्सन तार में अचानक के सर्ट सर्किट में आग लग गई।

इस आगलगी की घटना के बाद घर में रखे पुआल में आग लग गई। इसके बाद आग की तेज लपटों ने पूरे घर को पूरी तरह से जलाकर खाक कर दिया। इस घटना के बाद ग्रामीणों ने आग पर काबू करने का प्रयास किया।स्थानीय लोगों की सूचना पर जिला परिषद संजय कुमार के प्रतिनिधि नरेश माहतो ने दमकल विभाग को इसकी जानकारी दी।

मौके पर पहुँची दमकल की एक गाड़ी ने आग पर काबू पाया। इस आग की घटना में घर में  रखा पुआल, कपड़े, अनाज, नकदी समेत अन्य कागजात जल कर खाक हो गया। मौके पर पहुँची पिंडराजोड़ा थाना पुलिस ने घटना स्थल का जायजा लिया।

जिला परिषद संजय कुमार ने इस घटना की जानकारी चास अंचलाधिकारी वन्दन सेजवालकर को दी और पीड़ित को अर्थित सहायता देने की बात कही।सीओ ने कर्मचारी को मौके पर पहुँच नुकसान का आकलन करने का निर्देश दिया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

रांची : स्थापना दिवस- नव चयनित शिक्षक ड्रेस कोड में...

more-story-image

रांची : स्थापना दिवस- राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू होंगी चीफ गेस्ट

X

अपना जिला चुने