500 साल पहले कोलंबस ने चंद्र ग्रहण का डर दिखाकर लोगों को ऐसे बनाया था ‘उल्लू’

NewsCode | 26 July, 2018 9:29 AM
newscode-image

नई दिल्ली। 27 जुलाई को इस सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। इस दिन पृथ्वी, चंद्रमा और सूर्य एक सीधी रेखा में आ जाएंगे और पृथ्वी की गहरी छाया चंद्रमा को पूरी तरह से ढक लेगी। अब तो लोग चंद्र ग्रहण के खूबसूरत नजारे को अपनी आंखों में बसाने को उत्सुक रहते हैं लेकिन एक समय ऐसा भी था कि जब लोग चंद्रग्रहण से भयभीत रहते थे। प्राचीन समय में लोग चंद्रग्रहण को विनाश का संकेत मानते थे और इस खगोलीय घटना से बुरी तरह डर जाते थे।

प्रचलित कहानियों में चंद्रग्रहण को लेकर एक ऐसा ही दिलचस्प उदाहरण मिलता है। ये कहानी करीब 500 साल पहले को है जब अमेरिका की खोज करने वाले महान यात्री क्रिस्टोफर कोलंबस विश्व भ्रमण पर निकला था। कोलंबस चंद्र ग्रहण की घटना से अच्छी तरह वाकिफ था और 29 फरवरी 1504 को उसने इस चीज का भरपूर फायदा उठाया।

स्पेस.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, कोलंबस और उसके साथी यात्रा के दौरान एक द्वीप में 6 महीनों तक फंसे रह गए थे। अब इस द्वीप को जमैका के नाम से जाना जाता है। जैसे-जैसे समय बीतता जा रहा था, स्थानीय लोगों की उदारता और मेहमाननवाजी में कमी आने लगी। उन लोगों ने कोलंबस और उसके साथियों को खाना खिलाना बंद कर दिया।

500 साल पहले क्रिस्टोफर कोलंबस ने चंद्र ग्रहण का डर दिखाकर लोगों को ऐसे बनाया था 'उल्लू' Chandra Grahan stories Lunar Eclipse myths Christopher Columbus History | NewsCode - Hindi News

तब कोलंबस ने आने वाले पूर्ण चंद्रग्रहण का फायदा उठाया। उसके पास जर्मन खगोलविद जोहान्स मूलर का एक कैलेंडर था जिससे उसे पहले ही पता चल गया था कि 29 फरवरी 1504 को पूर्ण चंद्रग्रहण पड़ने वाला है। कोलंबस ने इस परिस्थिति से निपटने के लिए एक चाल चली। उसने वहां के लोगों से कहा कि उनका भगवान बहुत नाराज है क्योंकि वे उन्हें खाना नहीं खिला रहे हैं। कोलंबस ने उन लोगों के मुखिया से कहा कि इसलिए अब उनका भगवान चंद्रमा को गायब कर देगा और 3 दिनों के भीतर चंद्रमा गुस्से से लाल हो जाएगा।

रविवार की रात को जब वाकई ब्लड मून आसमान में दिखा तो स्थानीय लोग सन्न रह गए। भयभीत होकर वे कोलंबस और उसके साथियों को उनकी जरूरत का सारा सामान उपलब्ध कारने के लिए राजी हो गए। उन्होंने कोलंबस से कहा कि वह अपने भगवान से कहें कि वह आसमान में रोज निकलने वाला चंद्रमा लौटा दें।

दुनिया के महान यात्री क्रिस्टोफर कोलंबस ने लोगों से कहा कि उन्हें अपने भगवान से बात करने के लिए थोड़ी देर एकांत में छोड़ना होगा। इसके बाद उसने खुद को लगभग 50 मिनट के लिए एक कमरे में बंद कर लिया। कोलंबस ने चंद्रग्रहण के चरणों का सटीक अंदाजा लगाने के लिए बालू घड़ी का इस्तेमाल किया।

चंद्र ग्रहण खत्म होने के कुछ मिनट पहले कोलंबस कमरे से बाहर निकले और लोगों के सामने ऐलान कर दिया कि उनके भगवान ने सबको माफ कर दिया है और अब वह धीरे-धीरे आसमान में चांद लौटा देंगे।

क्रिस्टोफर कोलंबस के इस ऐलान के तुरंत बाद ही धीरे-धीरे चांद नजर आने लगा क्योंकि गणना के मुताबिक चंद्रमा पृथ्वी की छाया से बाहर निकल चुका था। लोग अवाक रह गए। उन्हें यह किसी चमत्कार से कम नहीं लगा। उन लोगों ने कोलंबस और उसके साथियों को हिस्पोनिया से राहत दल के ना आने तक खिलाया-पिलाया।  फिर कोलंबस और उसके साथी 7 नवंबर को स्पेन लौट आए।

सांस्कृतिक खगोलविद हैम्चर ने कहा कि आसमान के बारे में भविष्यवाणी करना आसान है लेकिन जब कुछ असामान्य होता है और इस रोजमर्रा के ढांचे में पूरी तरह फिट नहीं बैठता है तो इससे लोगों के मन में हैरानी या डर का भाव जग जाता है।

उदाहरण के तौर पर, ऑस्ट्रेलिया के स्थानीय लोग लाल रंग को बुराई, खूनी या अग्नि से जोड़कर देखते हैं। आसमान में सामान्यत: कुछ भी ऐसा नहीं नजर आता है जिसका रंग लाल हो। लेकिन यहां के कुछ लोग समझते हैं कि अगर आसमान में लाल रंग नजर आना किसी बुरी घटना का संकेत है।

प्राचीन मेसोपोटामियन मिथकों में भी चंद्रग्रहण को सात राक्षसों के आक्रमण का परिणाम बताया गया है। नैशनल जियोग्राफिक के मुताबिक, पेरू के लोग ग्रहण को चंद्रमा पर किसी के आक्रमण की तरह देखते थे। चंद्रमा और पृथ्वी को बचाने के लिए पेरू के सम्राट चंद्रमा की तरफ भाले फेंकते थे, खूब शोर मचाते थे और अपने कुत्तों की चीख निकालने के लिए उन्हें पीटते थे।

हैम्चर कहते हैं कि अलग-अलग संस्कृतियां अपने आस-पास की दुनिया को अलग-अलग तरह के अर्थ देती हैं। अब लगभग पूरी दुनिया में इस खगोलीय घटना को लेकर लोग जागरुक है और उन्हें इसका वैज्ञानिक कारण पता है। ऐसे में अब हम जानते हैं कि इसमें डरने जैसा कुछ नहीं है। अब लोगों को पता है कि चांद का लाल रंग वातावरण में होने वाली घटनाओं का नतीजा है और कुछ नहीं।

27 जुलाई को सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, जानिए सूतक का समय और राशियों पर असर

सूर्य के रहस्यों से पर्दा उठाने के लिए नासा ने तैयार किया यह खास मिशन

‘खइके पान बनारस…’ के बारे में ये बात आपको शायद ही मालूम हो, खुद अमिताभ ने खोला था राज

NewsCode | 11 October, 2018 1:20 PM
newscode-image

मुंबई। बॉलीवुड के ‘शहंशाह’ अमिताभ बच्चन ने 40 साल पहले ‘डॉन’ फिल्म में अभिनय किया था। फिल्म में अमिताभ डबल रोल में दिखें थे। फिल्म ‘डॉन’ का मशहूर गाना ‘खइके पान बनारस वाला’ फिल्म का हिस्सा नहीं होना था। इसकी जानकारी खुद बिग बी ने बुधवार को अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट के जरिए दी।

इस पोस्ट में बीग बी ने बताया कि फिल्म ‘डॉन’ का मशहूर गाना ‘खइके पान बनारस वाला’ फिल्म का हिस्सा नहीं होना था। इस गाने को पूरी फिल्म के शूट होने के बाद इस गाने की शूटिंग की गई थी। इस पर अमिताभ बच्चन ने कैप्शन में लिखा, “पहले ख्याल में आया और फिर सोचते-सोचते हो गया। गाना खइके पान बनारस वाला, फिल्म ‘डॉन’ की शूटिंग पूरी होने के बाद किया गया।”

साल 1978 में आई फिल्म ‘डॉन’ में अमिताभ का डबल रोल दिखाया गया था और फिल्म में इन्होंने मुंबई के अंडरवर्ल्ड डॉन की भूमिका और एक साधारण शख्स विजय की भूमिका निभाई थी।अमिताभ बच्चन ने अब तक कई हिट फिल्में की हैं और यह उनमें से एक थी। उन दिनों अमिताभ की फिल्मों की फैंस को भूख रहती थी और इनकी सभी फिल्मों के शो हाउसफुल जाते थे।

आपको बता दें कि, फिलहाल अमिताभ बच्चन कई फिल्मों की शूटिंग में बिजी हैं। उनकी आने वाली फिल्मों की बात करें तो ‘बदला’, ‘ब्रह्मास्‍त्र’ के अलावा आमिर खान के साथ वह ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान‘ फिल्म में नजर आएंगे।


76 के हुए बिग बी, एक नज़र अमिताभ के फिल्मी करियर पर

‘ठग्स ऑफ…’ में बिग बी बने हैं ठगों का सरदार ‘खुदाबक्श’, देखें First look

फेसबुक के शहंशाह बने अमिताभ, बॉलीवुड में सबसे ज्यादा फॉलोअर्स

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

कैसा रहेगा आज आपका दिन ? जानें आज दिनांक 14-10-2018 का अपना राशिफल

NewsCode | 14 October, 2018 9:01 AM
newscode-image

सुप्रभात मित्रों! परिवार में प्यार से लेकर तक़रार, व्यापार में मुनाफा से लेकर उधार, सेहत में बुखार से लेकर सुधार, करियर, रोजगार, कार इत्यादि के लिए कैसा रहेगा आज आपका दिन। पढ़ें अपना राशिफल :

मेष/Aries (मार्च 21-अप्रैल 20) – चोट-चपेट से बचना चाहिए, सेहत का भी ध्यान रखें, पारिवारिक समस्याओं के ऊपर ध्यान देना होगा, माता के सेहत का ध्यान रखें।

वृष/Taurus (अप्रैल 21–मई 21) – मानसिक रूप से भावुक रहेंगे, लंबी यात्रा के योग हो सकते हैं, कार्य व्यवसाय उत्तम है, परिवार के साथ समय गुजारना पसंद करेंगे।

मिथुन/Gemini (मई 22–21 जून) – दृढ़तापूर्वक कार्य करने का लाभ मिलेगा, पार्टनर के साथ मिलकर व्यापार बढ़ाने का प्रयास करेंगे, युवाओं के विवाह की बात होगी, नये कार्य की योजना भी बना सकते हैं।

कर्क/Cancer (जून 22–जुलाई 23) – क्रोध करने से बचें, कार्य व्यवसाय उत्तम है, साझेदारी में काम प्रारंभ न करें, दाम्पत्य जीवन में दबाव महसूस करेंगे।

सिंह/Leo (जुलाई 24–अगस्त 23) – परिवार की चिंता होगी, प्रोपर्टी से संबंधित खरीद-बिक्री सावधानी से करें, युवा अपने दोस्तों पर विशेष भरोसा करेंगे, विशिष्ट व्यक्तियों का सहयोग मिलेगा।

कन्या/Virgo (अगस्त 24–सितंबर 23) – सामर्थ्य का विकास होगा, अपने मन के अनुकूल घर लेने में सफल हो सकते हैं, पारिवारिक सदस्यों का सहयोग मिलेगा, कार्य व्यवसाय उत्तम है।

तुला/Libra (सितंबर 24–अक्टूबर 23) – धन निवेश की चिंता होगी, आगे नयी नौकरी की तलाश होगी, शारीरिक रूप से थकान महसूस करेंगे, कार्य व्यवसाय की चिंता होगी।

वृश्चिक/Scorpio (अक्टूबर 24–नवंबर 22) – कार्य क्षेत्र में निवेश की योजना होगी, निवेश पर ध्यान भी रखना होगा, कर्मचारियों का सहयोग नहीं मिलेगा, भाई के साथ मनमुटाव हो सकता है।

धनु/Sagittarius (नवंबर 23–दिसंबर 21) – मानसिक रूप से चिंताग्रस्त हो सकते हैं, वाणी पर नियंत्रण जरूरी है, जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा, ईश्वर भक्ति में मन लगेगा।

मकर/Capricorn (दिसंबर 22–जनवरी 20) – गुस्सा करने से बचें, कार्य व्यसाय पर ध्यान देना होगा, अचानक कार्य क्षेत्र में दबाव महसूस करेंगे, अति आत्मविश्वास में न रहें।

कुंभ/Aquarius  (जनवरी 20–फरवरी 19) – कार्य व्यवसाय उत्तम है, अपेक्षा के अनुकूल लाभ की संभावना है, अनुभवी लोगों का सहयोग मिलेगा, प्रेम संबध प्रगाढ़ होंगे।

मीन/Pisces (फरवरी 20–मार्च 20) – धार्मिक कार्य करने वाले के लिए समय अनुकूल है, घर खरीदने का सपना पूरा हो सकता है, कार्य व्यवसाय सामान्य है, दाम्पत्य सुख उत्तम है।


नवरात्रि में व्रत रखने वालों के लिए इन बातों पर ध्यान देना जरूरी

नवरात्र में भूलकर भी न करें ये काम, इन लोगों को नहीं रखना चाहिए उपवास

कैसा रहेगा आज आपका दिन ? जानें आज दिनांक 13-10-2018 का अपना राशिफल

NewsCode | 13 October, 2018 7:20 AM
newscode-image

सुप्रभात मित्रों! परिवार में प्यार से लेकर तक़रार, व्यापार में मुनाफा से लेकर उधार, सेहत में बुखार से लेकर सुधार, करियर, रोजगार, कार इत्यादि के लिए कैसा रहेगा आज आपका दिन। पढ़ें अपना राशिफल :

मेष/Aries (मार्च 21-अप्रैल 20) – वाहन सावधानी से चलाना होगा, अपव्यय से बचना चाहिए, कार्य के क्षेत्र में किसी से लड़ाई-झगड़े न करें, लाभ अपेक्षा के अनुकूल होगा।

वृष/Taurus (अप्रैल 21–मई 21) – भावुकता से बाहर निकल कर कार्य विशेष पर ध्यान देना होगा, यात्रा का लाभ मिलेगा, आसपास के लोगों से सतर्क रहें, ईश्वर भक्ति में आनंद मिलेगा।

मिथुन/Gemini (मई 22–21 जून) – दिनभर कार्य में व्यस्त रहेंगे, शाम को दोस्तों के साथ समय गुजारेंगे, युवाओं को नौकरी की तलाश होगी, कार्य व्यवसाय सामान्य है।

कर्क/Cancer (जून 22–जुलाई 23) – किसी के लिए बुरा न बोलें , माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें, कार्य व्यवसाय उत्तम है, जीवनसाथी की भावनाओं को समझें।

सिंह/Leo (जुलाई 24–अगस्त 23) – नये कार्य के ऊपर ध्यान केन्द्रित रहेगा, विशेष लोगों से मिलने का कार्यक्रम हो सकता है, सामर्थ्य में वृद्धि होगी, भाई–बहन का साथ मिलेगा।

कन्या/Virgo (अगस्त 24–सितंबर 23) – व्यस्त कार्यक्रम के बाद धन की चिंता होगी, खर्च की अधिकता से परेशान हो सकते हैं, अधिकारी वर्ग नाराज हो सकते हैं, युवाओं के विवाह में बाधा के संकेत हैं।

तुला/Libra (सितंबर 24–अक्टूबर 23) – व्यर्थ की चिंताओं से मन अशांत होगा, अपने उन्नति की बात सोचेंगे, धार्मिक कार्यों में रूचि लेंगे, पिता का सहयोग मिलेगा।

वृश्चिक/Scorpio (अक्टूबर 24–नवंबर 22) – निवेश के ऊपर ध्यान केन्द्रित होगा, सोच–समझ कर ही निवेश करना चाहिए, लाभ अपेक्षा के अनुकूल होगा, कार्य क्षेत्र में विशेष परिश्रम करने होंगे।

धनु/Sagittarius (नवंबर 23–दिसंबर 21) – चिंता से मुक्ति मिलेगी, मन प्रसन्न रहेगा, कार्य क्षेत्र में मजबूती से कार्य करेंगे, दाम्पत्य सुख उत्तम है।

मकर/Capricorn (दिसंबर 22–जनवरी 20) – अपने कार्य क्षमता पर विशेष भरोसा होगा, कार्य व्यवसाय उत्तम है, लाभ अपेक्षा से कम होगा, पत्नी बीमार हो सकती है।

कुंभ/Aquarius  (जनवरी 20–फरवरी 19) – बड़े व्यापारी नये कार्य का प्रारंभ करेंगे, सरकारी सहयोग नहीं मिलने से परेशानी होगी, अपने अधिकारियों के साथ मंत्रणा करेंगे, प्रेम करने वाले के लिए दिन अनुकूल है।

मीन/Pisces (फरवरी 20–मार्च 20) – कार्य व्यवसाय की चिंता होगी, नौकरी में परिवर्तन की बात सोचेंगे, वाहन सुख उत्तम है, परिवार का सहयोग मिलेगा।


नवरात्रि में व्रत रखने वालों के लिए इन बातों पर ध्यान देना जरूरी

नवरात्र में भूलकर भी न करें ये काम, इन लोगों को नहीं रखना चाहिए उपवास

More Story

more-story-image

चक्रधरपुर : नहीं रहे पूर्व रात्रि प्रहरी जीत बहादुर थापा

more-story-image

रांची : व्‍यवसायी नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड का हुआ खुलासा