भारत न्यूजीलैंड फाइनल मुकाबला, लगातार सातवीं सीरीज जीतने उतरेगी टीम इंडिया

NewsCode | 28 October, 2017 5:37 PM
newscode-image

कानपुर| भारत और न्यूजीलैंड की टीम ग्रीन पार्क स्टेडियम में रविवार को निर्णायक मुकाबले में आमने-सामने होंगी। तीन वनडे मैचों की सीरीज 1-1 से बराबरी पर है और तीसरा तथा आखिरी मैच इस सीरीज के विजेता का फैसला करेगा।

दोनों टीमों के लिए यह मुकाबला कई लिहाज से अहम है। भारत अपने घर में सीरीज की हार से बचना चाहेगा वहीं किवी टीम इस स्वर्णिम मौके को भुनाने की पूरी कोशिश में होगी। भारत को उसके घर में सीरीज में मात देना किवी टीम को विश्व क्रिकेट में एक नया मुकाम दे सकता है यह वह भलीभांति जानती है। भारत को घर में आखिरी बार दक्षिण अफ्रीका ने 2015-16 में पांच वनडे मैचों की सीरीज में 3-2 से हराया था।

किवी टीम को अपने पिछले दौरे में भारत ने वनडे सीरीज में 3-2 से मात दी थी। इससे पहले भारत में उसे 2010-11 में 5-0 से हार मिली थी। ऐसे में उसके पास भारत में सीरीज में जीत हासिल करने और इतिहास रचने का बेहतरीन मौका है।

मुंबई में खेले गए पहले मैच में न्यूजीलैंड ने जीत हासिल की थी जबकि दूसरे मैच में भारत ने विजय हासिल करते हुए 1-1 से बराबरी कर ली थी।

कप्तान विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम किवी टीम को हल्के में लेने से बचेगी। टीम की बल्लेबाजी कप्तान पर काफी हद तक निर्भर करती है।

हालांकि सलामी जोड़ी से अच्छी शुरुआत उसकी सबसे बड़ी चिंता है। रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी ने भारत को अभी तक ठोस शुरुआत से वंचित रखा है।

चौथे नंबर की समस्या के लिए भारत के पास दिनेश कार्तिक के रूप में एक विकल्प है। वह इस सीरीज के दोनों मैचों में खेले हैं। पहले मैच में वह पांचवें नंबर पर खेले थे, लेकिन अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाए थे। हालांकि उन्होंने दूसरे मैच में चौथे नंबर पर खेलते हुए अर्धशतक जड़ा था।

केदार जाधव ने भी अच्छी प्रतिभा दिखाई है लेकिन वह भी अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाए हैं। ऐसे में उन्हें भविष्य में अपनी जगह बनाए रखने के लिए बड़ी पारी की जरूरत है। कोहली, जाधव की जगह अंतिम एकादश में मनीष पांडे को भी आजमा सकते हैं।

निचले क्रम में हार्दिक पांड्या और महेंद्र सिंह धौनी के रूप में भारत के पास दो बेहतरीन खिलाड़ी हैं।

गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार किवी बल्लेबाजों के लिए सिरदर्द साबित हो सकते हैं। स्पिन विभाग में पिछले मैच में कोहली ने कुलदीप यादव को बाहर बैठा कर अक्षर पटेल को मौका दिया था।

किवी टीम की बात की जाए तो उसकी बल्लेबाजी मार्टिन गुप्टिल, कप्तान केन विलियमसन, रॉस टेलर और टॉम लाथम पर निर्भर है। गुप्टिल ने बल्ले से अभी तक कुछ खास योगदान नहीं दिया है जबकि कप्तान पूरी तरह से विफल रहे हैं यह मेहमानों की बड़ी चिंता का विषय है।

लाथम और टेलर ने पहले मैच में क्रमश: शतक और अर्धशतक जड़े थे। सीरीज में भारत को मात देने के लिए इन चारों में से दो बल्लेबाजों का चलना किवी टीम के लिए बेहद अहम है।

वहीं गेंदबाजी में ट्रेंट बाउल्ट को छोड़कर कोई और गेंदबाज अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाया है। मिशेल सैंटनर रनों पर अंकुश लगाने में जरूर कामयाब रहे हैं, लेकिन विकेट उनके हिस्से कम ही आए हैं।

ऐसे में किवी टीम के गेंदबाजी आक्रामण को भारत को रोकने के लिए संयुक्त प्रदर्शन की जरूरत है।

टीमें :

 

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, मनीष पांडे, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, कुलदीप यादव, यजुवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और शार्दूल ठाकुर।

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), ट्रेंट बाउल्ट, कॉलिन डी ग्रैंडहोमे, मार्टिन गुप्टिल, मैट हेनरी, टॉम लाथम, हेनरी निकोलस, एडम मिलने, कोलिन मुनरो, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सैंटनर, टिम साउदी, रॉस टेलर, जॉर्ज वर्कर और ईश सोढी।

(आईएएनएस)

Asian Games 2018: भारत को मिला चौथा मेडल, लक्ष्य ने साधा रजत पर निशाना

NewsCode | 20 August, 2018 5:52 PM
newscode-image

नई दिल्ली। जकार्ता में चल रहे एशियन गेम्स में पहले दिन दो मेडल जीतने के बाद भारत ने दूसरे दिन एक और मेडल हासिल कर लिया। 10 मीटर एयर राइफल में शूटर दीपक कुमार ने शानदार प्रदर्शन कर भारत को तीसरा मेडल दिलाया। दीपक कुमार ने इस इवेंट में सिल्वर मेडल जीता। अब भारत के खाते में एक गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल आ गया है।

सुबह दीपक कुमार ने 10 मी. एयर रायफल में रजत पर निशाना साधा, तो हरियाणा के युवा 19 साल के लक्ष्य श्योराण ने शूटिंग के ट्रैप वर्ग में ही रजत कब्जाते हुए भारत को सोमवार को चौथा पदक दिला दिया।


दूसरी ओर महिला कुश्ती में विनेश फोगाट ने 50 किग्रा वर्ग के फाइनल में पहुंचकर रजत पदक सुनिश्चित कर लिया। विनेश ने उज्बेकिस्तान की याकशिमुरातोवा डाउलेटबिके को तकनीकी सुपरियॉरिटी में 10-0 से हरकार सोने की जंग की पटकथा लिख दी।


पूजा ढांडा और साक्षी मलिक सेमीफाइनल में अपने-अपने वर्गों में हार गईं। लेकिन ये दोनो ही खिलाड़ी रिपेज राउंड के जरिए कांस्य पदक की होड़ में बनी हुई हैं।


अंकिता रैना और प्रार्थना थांबोर की जोड़ी ने महिला डबल्‍स के प्री क्‍वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। गुणास्‍वरेण प्रजनेश ने फितरियादी को हराकर अंतिम 16 में जगह बनाई। वहीं दिविज शरण और करमन कौर थांडी की जोड़ी भी मिक्‍स्‍ड डबल्‍स के प्री क्‍वार्टर फाइनल में पहुंच गई है।


कोरिया ने भारत को 24-23 से हरा दिया और पहली बार इंटरनेशनल स्‍तर पर भारत को हराया है।


बता दें कि भारत ने इवेंट के पहले दिन की शुरुआत शूटिंग में मिले ब्रॉन्ज मेडल से की तो वहीं दिन का अंत कुश्ती में मिले गोल्ड मेडल से किया। 18वें एशियाई खेलों में भारत के पहला गोल्ड मेडल रेसलर बजरंग पुनिया ने पुरुषों के 65 किलो फ्री-स्टाइल इवेंट में जीता। हालांकि, ब्रॉन्ज और गोल्ड के बीच एक बड़ी खबर भारत के सुपर स्टार रेसलर सुशील कुमार के सनसनीखेज हार की भी आई।


नॉटिंघम टेस्‍ट में बने अनोखे रिकॉर्ड, धवन-राहुल की जोड़ी ने 32 बरस बाद किया ये ‘कमाल’

Asian Games 2018 : शूटर अपूर्वी-रवि ने कांस्य से खोला भारत का खाता, पहलवान सुशील हारे

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

चाईबासा : स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 एप डाउनलोड करने की अपील

NewsCode Jharkhand | 20 August, 2018 5:38 PM
newscode-image

चाईबासा। डीसी अरवा राजकमल अरवा राजकमल ने जिले के निवासियों सहित सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों से अपील की है। वे भारत सरकार के जल और स्वच्छता मंत्रालय की तरफ से देश के सभी राज्यों और जिलों की गुणात्मक और संख्यात्मक के आधार पर श्रेणी निर्धारण करवाए जा रहे। पहले स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 की सफलता के लिए अपना योगदान दें। फोन में एसएसजी 18 एप डाउन लोड करके फीडबैक दें। जिससे चाईबासा जिले के गांवों को स्वच्छता सर्वेक्षण में पहला स्थान मिल सके।

इस अवसर पर मुख्य रुप से सदर अनुमंडल पदाधिकारी आर रोनिटा, प्रशिक्षु आईएएस नीतीश कुमार सिंह, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी स्मृति कुमारी, हेड क्वार्टर डीएसपी प्रकाश सोय, उत्पाद अधीक्षक सुधीर कुमार, नगर परिषद चाईबासा के स्वच्छता मित्र राजाराम गुप्ता, यूनिसेफ के कंसलटेंट बासिल टोप्पो, सदर थाना प्रभारी सुनील कुमार तिवारी और मुफस्सिल थाना प्रभारी दिग्विजय सिंह मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

तेनुघाट : ग्रामीणों को मिले निर्वाध विद्युत आपूर्ति- विधायक

NewsCode Jharkhand | 20 August, 2018 5:35 PM
newscode-image

तेनुघाट(बोकारो)। अनुमंडल कार्यालय तेनुघाट के समक्ष विधायक बबिता देवी एवं पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद और बनिया टोला के ग्रामीणों के साथ अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया। विधायक बबिता देवी ने बताया कि कसमार प्रखंड के बनिया टोला में पिछले 1 महीने से विद्युत आपूर्ति सेवा बाधित है।

बोकारो : शादीशुदा युवक ने किया नाबालिग के साथ दुष्कर्म, आरोपी फरार

जिससे लोगों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए ग्रामीणों को निर्वाध विद्युत आपूर्ति मिलनी चाहिए है। ग्रामीणों ने मांग किया है कि जल्द से जल्द कसमार, पेटरवार एवं गोमिया प्रखंड की बिजली की विभिन्न समस्याओं का निदान हो। योगेंद्र प्रसाद ने बताया कि जिन लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्हें गिरफ्तार करें नहीं किया जा रहा है, प्रशासन दोहरी नीति अपनाकर गुनाहगार को बचा रही है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

More Story

more-story-image

पश्चिमी टुण्डी : सद्भावना फुटबॉल टूर्नामेंट में फतेहपुर टीम रहा विजयी

more-story-image

टुण्डी : हाथियों के झुंड देखने से मचा कोहराम