गुमला : एक साल पहले बने गेट को तोड़कर बन रहा है नया गेट, भ्रष्टाचार का आरोप

NewsCode Jharkhand | 5 October, 2018 4:00 PM
newscode-image

गुमला। आपने ये कहावत तो सुनी ही होगी कि बैठे से बेगारी भला, कुछ न कुछ किए जा। नया पजामा फाड़कर, फिर उसी को सिए जा। इसी कहावत को चरितार्थ करने की कोशिश की है गुमला के सदर अस्‍पताल और भवन प्रमंडल के अधिकारियों ने। मात्र एक साल पहले बने सदर अस्पताल के मेन गेट को फिर से तोड़ा जा रहा है।

गुमला : एक साल पहले बने गेट को तोड़कर बन रहा है नया गेट, भ्रष्टाचार का आरोप

बताया जा रहा है कि पिछले वर्ष अस्पताल के अंदर आग लग गयी थी, उस समय अग्निशामक वाहन, गेट छोटा होने के कारण अंदर नहीं पहुंच पाया था। इसी कारण से गेट को तोड़कर, उसके स्‍थान पर बड़ा गेट बनाया जा रहा है ताकि भविष्‍य में कभी अगलगी जैसी घटना के होने पर अग्निशामक वाहन आसानी से सदर अस्‍पताल परिसर के अंदर पहुंच सके। गेट को तोड़ने का काम इतनी सुस्‍त गति से किया जा रहा है कि ये यहां से गुजरने वालों के लिए भी जानलेवा साबित हो सकता है।

सरकारी राशि के बंदरबांट का आरोप

परंतु यहां प्रश्‍न यह खड़ा होता है कि भवन प्रमंडल, गुमला ने सदर अस्पताल के मेन गेट का डिजाइन केस आधार पर तैयार किया था। यह डिजाइन गलत साबित हुआ, तो इसके लिए दोषी कौन है। क्‍या यह सरकारी राशि के दुरूपयोग का मामला नहीं है? लोगों का आरोप है कि गेट निर्माण के नाम पर सरकारी राशि का बंदरबांट कि‍या जा रहा है। वहीं संबंधित अधिकारी इस मामले में कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। उनका कहना है कि ये सामान्‍य बात है।

गुमला : जिले में लगातार दूसरे दिन भी आत्महत्या की घटना से लोग हतप्रभ

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

चतरा : फर्जी तरीके से जमीन खरीद-बिक्री मामले में बड़ी कार्रवाई, निलंबित

NewsCode Jharkhand | 10 October, 2018 3:33 PM
newscode-image

चतरा। उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह ने फर्जी तरीके से जमीन खरीद-बिक्री मामले में बड़ी कार्रवाई की है। उपायुक्त के आदेश पर सदर अंचल कार्यालय के कर्मचारी अरुण कुमार साह को निलंबित कर दिया गया। रजिस्टर 2 में छेड़छाड़ के आरोप में निलंबित हुए है अरुण कुमार साह।

इस मामले में सदर अंचल अधिकारी से भी स्पष्टीकरण पूछा गया है, जबकि अवर निबंधक राजेश सिन्हा के खिलाफ भी कार्रवाई हो सकती है। इस फजीवाड़े मामले में जिला प्रशासन की ओर से  जमीन खरीद बिक्री में शामिल भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है और संबंधित पक्षों को नोटिस भेजा है।

उपायुक्त ने यह कार्रवाई सदर अनुमंडल पदाधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर की है। रिपोर्ट में यह जानकारी दी थी कि चतरा मौजा के थाना-175 के पंजी-2 के पृष्ठ संख्या 161/1 में दर्ज रकबा में छेड़छाड़ की गयी है। एसडीओ ने बताया कि पंजी-2 हल्का का कार्यालय दस्तावेज है।

जिसकी संरक्षा की जिम्मेवारी राजस्व कर्मचारी के जिम्मे होती है। रिपोर्ट के अनुसार रकबा में छेड़छाड़ के बाद जाली कागजातों के आधार पर निबंधन कराया गया है।

निबंधन के समय कार्यालय कर्मचारियों और अवर निबंधक को ऑनलाइन खतियान पंजी-2 आदि की जांच पड़ताल कर विक्रेता और गवाहों से सत्यापन करा कर निबंधन करना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। अंचलाधिकारी द्वारा लापरवाही बरती गयी है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची : राजकीय कार्यक्रम में हंगामा करने पर 216 पारा शिक्षक बर्खास्त

NewsCode Jharkhand | 15 November, 2018 7:20 PM
newscode-image

600 अन्य की बर्खास्तगी को लेकर कार्रवाई, गिरफ्तार कर पारा शिक्षकों को कैंप जेल में रखा गया

रांची। झारखंड राज्य स्थापना दिवस के दिन पूरे राज्य भर से राजधानी रांची में आए पारा शिक्षकों ने सरकारी कार्यक्रम को बाधा पहुंचाने की कोशिश की। साथ ही विधि व्यवस्था को अपने हाथ में लेकर पत्थरबाजी भी की।

विधि व्यवस्था में लगे  पुलिस प्रशासन के पदाधिकारियों, वरीय पुलिस अधीक्षक, सिटी पुलिस अधीक्षक  एवम् ड्यूटी पर तैनात पदाधिकारियों पर  पारा शिक्षकों  ने  हमला किया जिससे कई पुलिसकर्मी और  पदाधिकारी गंभीर रूप से जख्मी हुए।

पारा शिक्षकों द्वारा सरकारी कार्यक्रम में व्यवधान डालने, विधि व्यवस्था को तोड़ने एवम् सरकारी लोगो पर हमला करने की घटना को बेहद अशोभनीय एवम् गंभीर रूप से लेते हुए  वीडियो रिकॉर्डिंग एवम् कार्यक्रम स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरा से  लिए फुटेज एवम् अन्य प्रमाणों के आधार पर  16 प्रखंड के कुल 216 पर शिक्षकों को बर्खास्त किया गया।

साथ ही लगभग 600 पारा शिक्षकों को जिला प्रशासन द्वारा बनाई गई खेलगांव एवम् रेड क्रॉस अस्थायी जेल में गिरफ़्तार कर रखा गया है। जिन पर सीसीटीवी कैमरा एवम्  वीडियो रिकॉर्डिंग से मिले प्रमाण के आधार पर बर्खास्त करने की कारवाई चल रही है।

अन्य जिलों के जिलाधिकारियों को भी यहां शामिल पारा शिक्षकों की सूची भेजी जा रही है जिसके आधार पर  चिन्हित कर अनुशासनात्मक कारवाई की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है।  स्थापना दिवस एक राजकीय दिवस है जी सम्पूर्ण राजवसियो के लिए सम्मान एवम् गौरव  का दिन है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

रांची : झारखंड स्थापना दिवस- संपूर्ण झारखंड खुले में शौच मुक्त घोषित, करीब 2100 को मिला नियुक्ति पत्र

NewsCode Jharkhand | 15 November, 2018 7:02 PM
newscode-image

रांची। झारखंड राज्य स्थापना दिवस मना रहा है। राज्य स्थापना दिवस के मौके पर राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री ने संपूर्ण झारखंड को खुले में शौच से मुक्त किये जाने की घोषणा की। समारोह में राज्य के तीन जिलों देवघर, हजारीबाग और लोहरदगा को पूर्ण विद्युतीकृत किये जाने की घोषणा की गयी।

इस मौके पर अरबों रुपये की योजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन के साथ ही परिसंपत्तियों का वितरण भी किया गया। समारोह में करीब 2100 लोगों को नियुक्ति पत्र का भी वितरण किया गया।

झारखंड स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य की जनता को कई सौगात दी। रांची में आयोजित मुख्य समारोह में उन्होंने राज्य को खुले में शौच से मुक्त किये जाने की घोषणा की।  उन्होंने कहा कि स्वच्छता को लेकर लोगों की आदतों में भी अब बदलाव आया है।

मुख्यमंत्री ने हर घर तक बिजली पहुंचाने के अपने वायदों को पूरा करते हुए राज्य के तीन जिलों देवघर, लोहरदगा और हजारीबाग को पूर्ण रूप से विद्युतीकृत होने का भी ऐलान किया। इस दौरान श्री दास ने कहा कि वर्तमान सरकार  पूरी तरह से पारदर्शी तरीके से काम कर रही  है और अब तक इस पर एक भी भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगे है।

इस दौरान राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि देश के विकास में झारखंड का अहम योगदान है। उन्होंने कहा कि जनता को चुनी हुई सरकार से आकांक्षाएं होती है , जिसे पूरा करने में सरकार लगी है।

समारोह के दौरान अरबों रुपये की परिसंपत्तियों का वितरण किया गया और कई नई परियोजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन भी हुआ। करीब 2100 लोगों के बीच नियुक्ति पत्र का वितरण और झारखंड और देश के विकास में अपनी भूमिका निभाने वाले लोगों को सम्मानित भी किया गया। जिला मुख्यालयों में भी परिसंपत्तियों का वितरण हुआ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

विधानसभावार बूथ स्तर तक प्रोजेक्ट शक्ति में लोगों को जोड़ने...

more-story-image

रांची : आम आदमी पार्टी ने निकाली झारखंड नवनिर्माण संकल्प...

X

अपना जिला चुने