धनबाद : 10 अगस्त को बच्‍चों को कृमि नाशक दवा की खुराक दी जाएगी 

Baidyanath Jha | 8 August, 2018 8:54 PM
newscode-image

धनबाद। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर 10 अगस्त को बच्चों को कृमि की खुराक मुफ्त में खिलायी जाएगी। बच्चों की रूचि को ध्यान में रखकर स्ट्रॉबेरी औऱ लेमन फ्लेवर में दवा तैयार की गई है। बुधवार को उपायुक्त ए दोड्डे ने समाहरणालय सभागार में प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी।

उन्‍होंने बताया कि सभी सरकारी, गैर सरकारी स्कूल, टेक्निकल संस्थान एवं आंगनबाड़ी केंद्र में दवा मुफ्त में उपलब्‍ध रहेगा। अगर कोई बच्‍चा 10 अगस्त को दवा खाने से वंचित रहेगा तो उसे 17 अगस्त को खिलाया जायेगा।

निरसा : बहू की अस्मत लूटने का प्रयास करने वाले ससुर की जम कर पिटाई

उपायुक्‍त ने कहा कि बच्‍चों को दवा खिलाने के बाद शिक्षक-शिक्षिका 22 अगस्त को रिपोर्ट एएनएम को उपलब्ध कराएंगे।

प्रेस वार्ता में सिविल सर्जन सी श्रीवास्तव ने बताया कि दवा के सेवन से बच्चों को कृमि से मुक्ति मिलेगी। दवा खाने से बच्चों को कोई नुकसान नहीं होगा तथा एनीमिया, कुपोषण, पेट दर्द और भूख नहीं लगने की बीमारी पूरी तरह ठीक हो जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

धनबाद : उपायुक्त ने हाईवे इंटरसेप्‍टर वाहन को दिखाई हरी झंडी

NewsCode Jharkhand | 15 August, 2018 2:16 PM
newscode-image

दुर्घटनाओं को रोकने में अहम है यह वाहन

धनबाद। उपायुक्‍त ए डोडे ने हाईवे इंटरसेप्‍टर वाहन को हरी झंडी दिखाकर पुलिस लाइन से रवाना किया। रांची स्थित पुलिस मुख्यालय ने यह वाहन धनबाद पुलिस को उपलब्ध कराई है।

इस अवसर पर एसएसपी मनोज रतन चौथे ने बताया कि यह वाहन एनएच दो और एनएच तीन पर मुस्तैद रहेगा। इसमें स्पीड सेन्सिंग गन, कैमरा तथा लैपटॉप लगे हैं।

धनबाद : पीएमसीएच की कारगुजारी, लापरवाही ने ले ली मरीज की जान

दुर्घटनाओं को रोकने के लिए यह वाहन काफी उपयोगी है। इसकी तैनाती से दुर्घटनाओं पर लगाम लगेगा। तेज गति से गुजरने वाले वाहनों को यह खुद ही चिनिह्त कर लेगी। जो चालक तेज गति से वाहन चलाएंगे उसे इसके जरिए तुरंत पकड़कर जुर्माना भी किया जाएगा।

उन्‍होंने बताया कि कुछ समय बाद धनबाद पुलिस को और भी ऐसी गाडियां उपलब्ध कराई जाएगी। शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर उसे तैनात किया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बाघमारा : प्रखंड प्रमुख ने किया ध्‍वजारोहण

NewsCode Jharkhand | 15 August, 2018 2:49 PM
newscode-image

बाघमारा (धनबाद)। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बाघमारा प्रखण्ड मुख्यालय में ब्‍लॉक प्रमुख मीनाक्षी रानी गुड़िया ने ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर प्रखंड के गणमान्‍य लोग उपस्थित थे।

बाघमारा : प्रखंड प्रमुख ने किया ध्वyजारोहण

धनबाद : सांसद आदर्श ग्राम योजना को लेकर जिला समन्वय समिति ने की बैठक

इसके अलावा बाघमारा थाना, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्रखण्ड संसाधन केंद्र, झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय, बरोरा थाना समेत विभिन्न शिक्षण संस्थानों एवं सभी पंचायत सचिवालयों में भी झंडोतोलन किया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

लेखक की संवेदना और विभाजन का दर्द बयां करती है नवाजुद्दीन सिद्दीकी की ‘मंटो’, देखें ट्रेलर

NewsCode | 15 August, 2018 2:49 PM
newscode-image

नई दिल्ली। 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नवाजुद्दीन सिद्दीकी की बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘मंटो (Manto)’ का ट्रेलर रिलीज कर दिया गया है। फिल्म की कहानी भारत-पाकिस्तान विभाजन और विवादित लेखक सआदत हसन मंटो के जीवन पर आधारित है। अभिनेत्री-फिल्मकार नंदिता दास द्वारा निर्देशित मंटो का ट्रेलर काफी दिलचस्प है।

फिल्म की कहानी पाकिस्तानी लेखक मंटो के इर्द-गिर्द घूमती है। ट्रेलर में नवाजुद्दीन इस किरदार को बड़े पर्दे पर जीवंत करते दिखाई दे रहे हैं। साल 1948 के दशक पर आधारित लौहार की इस कहानी में ‘मंटो’ काफी दमदार डायलॉग बोले हैं। पाकिस्तान की पृष्टभूमि पर आधारित इस फिल्म के ट्रेलर में मंटो कहते हैं, “जब गुलाम थे तो आजादी का ख्वाब देखते थे और अब आजाद हैं तो कौन-सा ख्वाब देखें?”

देखें, ‘मंटो’ का ट्रेलर…

विचार से बागी और स्वभाव से घुमक्कड़ लेखक सआदत हसन मंटो के जीवन पर भारतीय फिल्मकार नंदिता दास द्वारा अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की अवधारणा के आधार पर बनाई गई फिल्म ‘मंटो’ ने मौजूदा हालात के हिसाब से काफी प्रासंगिक है। इसमें ऐसे ज्वलंत मुद्दे को उठाया गया है जो न सिर्फ भारत बल्कि विश्व भर में अहम है। मंटो का जन्म 11 मई, 1912 को हुआ था और वह बाद में पाकिस्तान चले गए। मंटो का निधन 42 साल की उम्र में 18 जनवरी, 1955 को हुआ।

बता दें कि यह फिल्म लेखक मंटो के 1946 से 1950 तक के जीवन पर केंद्रित है। लेखक भारत-पाक विभाजन पर लिखी गई अपनी कहानियों के लिए दुनिया भर में मशहूर हैं। रिलीज होने से पहले ही फिल्म काफी तारीफ बटोर चुकी है और इसमें नवाजुद्दीन सिद्दीकी के अलावा ऋषि कपूर, परेश रावल और गीतकार जावेद अख्तर जैसे दिग्गज कलाकार नजर आएंगे। मंटो 21 सितंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

दीपिका-रणवीर की शादी हुई फिक्स, तारीख, जगह और गेस्ट के बारे में जानें

शादी में ‘कुत्ता’ बन जलील हुए वरुण धवन, तो फूट-फूटकर रोने लगी अनुष्का शर्मा

500 रूपये थी नवाजुद्दीन की पहली कमाई, फैज़ल खान बनने के बाद बदल गयी किस्मत

भारत के साथ ये तीन देश भी आज मना रहे हैं आजादी का जश्न

More Story

more-story-image

जमशेदपुर : पक्षी प्रेमियों ने दिखायी संवेदना, सैकड़ों पक्षियों को...

more-story-image

देवघर : आयुषी ने बहायी देश-प्रेम की गंगा, संस्‍कृत में...