धनबाद : जिले में विकास की गति तीव्र एवं सराहनीय है : 20 सूत्री उपाध्यक्ष

Ajay Upadhaya | 11 August, 2018 7:34 AM
newscode-image

धनबाद । उपायुक्त के नेतृत्व में जिले में विकास की गति तीव्र है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना तथा स्वच्छ भारत मिशन योजना में लक्ष्य के अनुसार कार्य किया जा रहा है। उक्त बातें माननीय 20 सूत्री उपाध्यक्ष ने आज जिले के वरीय पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद परिसदन में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही।

उन्होंने कहा कि धनबाद जिले में स्वच्छ भारत मिशन में अच्छा काम किया जा रहा है तथा 2 अक्तूबर 2018 के पूर्व धनबाद ओडीएफ घोषित हो जाएगा। उन्होंने ग्राम स्वराज अभियान पर कहा कि माननीय प्रधानमंत्री द्वारा गांवों के समेकित विकास हेतु ग्राम स्वराज अभियान की श्रृंखला आरंभ की गई है। इसी श्रृंखलान्तर्गत ग्रामीणों के जीवन स्तर एवं भविष्य संवारने के लिए एक जून से 15 अगस्त तक चल रहे ग्राम स्वराज अभियान टू में 6512 गांवों में केन्द्र सरकार द्वारा चलाये जा रहे प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना, उजाला योजना, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, मिशन इन्द्रधनुष जैसी सात फ्लैगशिप योजना को विशेष पहल के तहत शत-प्रतिशत कार्यान्वयन किया जा रहा है।

उज्जवला योजना पर उन्होंने कहा कि अब तक झारखंड के 20 लाख लोगों को गैस कनेक्शन दिया जा चुका है। दिसंबर तक शेष 13 – 14 लाख लोगों को भी योजना के अंतर्गत गैस कनेक्शन दिया जाएगा। धनबाद में उज्ज्वला योजना में काफी अच्छा कार्य किया गया है। एक लाख का लक्ष्य धनबाद प्राप्त कर चुका है। 15 अगस्त तक 14 हजार 500 लाभुकों को गैस कनेक्शन देने की तैयारी पूरी की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि देश में झारखंड ही ऐसा एक मात्र राज्य है जहां पर गैस चुल्हा के साथ पहला सिलेंडर भी निःशुल्क दिया जाता है। 20 सूत्री उपाध्यक्ष ने कहा कि 31 दिसंबर 2018 तक झारखंड के 68 लाख घरों में बिजली पहुंचा दी जाएगी।

धनबाद : राजेंद्र समर्थकों ने ददई को बताया दलबदलू

साथ ही उन्होंने कहा कि आने वाले एक माह में धनबाद में 5 हजार लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गृह प्रवेश कराया जाएगा। जिसमें घरों में बिजली, पेयजल, शौचालय इत्यादि की पूर्ण व्यवस्था होगी। 20 सूत्री उपाध्यक्ष ने स्वास्थ्य सेवा पर कहा कि माननीय मुख्यमंत्री रघुवर दास के नेतृत्व में सरकार बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने हेतु कृतसंकल्प है। सरकार ने निःशुल्क 108 एम्बुलेंस सेवा प्रारंभ की है। अभी झारखंड में 329 एम्बुलेंस है, जिसने 40 हजार गंभीर मरीजों को समय पर अस्पताल पहुंचाया है।उन्होंने कहा कि 15 अक्तूबर के बाद निःशुल्क बालू घाट तथा व्यवसायिक बालू घाट को चिन्हित कर अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित करवाया जाएगा। जिससे निजी उपयोग के लिए बालू लेने वालों को सुविधा होगी।

24 जिला 24 नदियां पर कहा कि झारखंड सरकार ने वन महोत्सव के अंतर्गत वृक्षारोपण के साथ-साथ 24 जिला 24 नदियां कार्यक्रम का शुभारंभ किया है। इसके अंतर्गत 24 जिला के 24 प्रमुख नदियों के तट पर वृक्षारोपण किया गया है। इससे पर्यावरण के साथ-साथ नदी के मिट्टी कटाव की भी रक्षा होगी तथा पूर्व की भांति नदियां प्रदूषण से मुक्त होगी एवं पुराने बहाव के साथ जल प्रवाहित होगा।

तालाबों के जीर्णोद्धार पर कहा कि सूखा एवं पानी की कमी से निपटने हेतू विशेष सिंचाई सुविधा योजना के तर्गत तीन करोड़ रूपए की लागत से राज्य के तालाबों का जीर्णोद्धार कराया जा रहा है। जिससे एक ओर जहां राज्य के किसानों को खेती करने में सुविधा होगी तथा भू-जलस्तर में वृद्धि होगी तथा मत्स्य पालन करने से गरीब परिवारों के आय में भी वृद्धि होगी। पत्रकार वार्ता में जिला 20 सूत्री उपाध्यक्ष इन्द्रजीत महतो समेत जिला जनसंपर्क पदाधिकारी एवं अन्य लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

धनबाद : उपायुक्त ने हाईवे इंटरसेप्‍टर वाहन को दिखाई हरी झंडी

NewsCode Jharkhand | 15 August, 2018 2:16 PM
newscode-image

दुर्घटनाओं को रोकने में अहम है यह वाहन

धनबाद। उपायुक्‍त ए डोडे ने हाईवे इंटरसेप्‍टर वाहन को हरी झंडी दिखाकर पुलिस लाइन से रवाना किया। रांची स्थित पुलिस मुख्यालय ने यह वाहन धनबाद पुलिस को उपलब्ध कराई है।

इस अवसर पर एसएसपी मनोज रतन चौथे ने बताया कि यह वाहन एनएच दो और एनएच तीन पर मुस्तैद रहेगा। इसमें स्पीड सेन्सिंग गन, कैमरा तथा लैपटॉप लगे हैं।

धनबाद : पीएमसीएच की कारगुजारी, लापरवाही ने ले ली मरीज की जान

दुर्घटनाओं को रोकने के लिए यह वाहन काफी उपयोगी है। इसकी तैनाती से दुर्घटनाओं पर लगाम लगेगा। तेज गति से गुजरने वाले वाहनों को यह खुद ही चिनिह्त कर लेगी। जो चालक तेज गति से वाहन चलाएंगे उसे इसके जरिए तुरंत पकड़कर जुर्माना भी किया जाएगा।

उन्‍होंने बताया कि कुछ समय बाद धनबाद पुलिस को और भी ऐसी गाडियां उपलब्ध कराई जाएगी। शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर उसे तैनात किया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

जमशेदपुर : पक्षी प्रेमियों ने दिखायी संवेदना, सैकड़ों पक्षियों को पिंजरे से किया आजाद

NewsCode Jharkhand | 15 August, 2018 2:46 PM
newscode-image

बेजुबानों को भी होती हैै आजादी प्यारी

जमशेदपुर। आजादी किसे प्यारी नहीं होती… चाहे इंसान हो या जानवर, हर कोई आजाद रहना चाहता है। आज एक ओर जहां पूरा देश  आजादी के जश्न मे डूबा हुआ है, वहीं जमशेदपुर के कुछ पक्षी प्रेमियों ने सौ से भी अधिक विदेशी पक्षियों को पिंजरा से आजाद किया और एक संदेश देने का प्रयास किया कि बेजुबानों को भी आजादी प्यारी होती है।

जमशेदपुर : बहुजन क्रांति मोर्चा ने संविधान जलाने वालाेें पर कार्रवाई को लेकर किया विशाल प्रदर्शन

टाटा जू ने भी लंगूरों को खुले बाड़े में रखने का लिया निर्णय

वहीं इस कड़ी में टाटा जू ने भी एक कदम बढ़ा दिया है और आज से जू के लंगूरों को छोटे बाड़े से निकालकर बड़े और खुले बाड़े में आजाद रखने का निर्णय लिया गया। वहीं लंगूर खुले बाड़े में काफी खुश नजर आए। खुले बाड़े में छोड़े जाने के बाद सभी लंगूर इधर उधर धमा- चौकड़ी करते हुए काफी खुश दिखे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

देवघर : आयुषी ने बहायी देश-प्रेम की गंगा, संस्‍कृत में गाया “ऐ मेरे वतन के लोगों”   

NewsCode Jharkhand | 15 August, 2018 2:25 PM
newscode-image

देवघर। एक ओर जहां युवाओं का रुझान पश्चिमी रहन-सहन, खान-पान और व्यवहार की ओर केंद्रित होता जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर देश प्रेम की भावना से ओत-प्रोत, कुछ ऐसे भी बच्‍चे-बच्चियां हैं जिनके भीतर अपने देश की सभ्यता, संस्कृति और मातृभाषा की जननी संस्कृत के प्रति अगाध श्रद्धा और समर्पण देखने को मिलती है। देवघर की आयुषी अनन्‍या भी ऐसे ही लोगों में से एक है। आयुषी डीएवी स्कूल में 9वीं क्लास की छात्रा है।

देवघर : आयुषी ने बहायी देश-प्रेम की गंगा, संस्‍कृत में गाया "ऐ मेरे वतन के लोगों" 

संस्कृत को लोकप्रिय बनाने का प्रयास

विलक्षण प्रतिभा की धनी ये बालिका, बॉलीवुड हो या फिर कोई पाश्‍चात्‍य गीत, सभी का न सिर्फ संस्कृत में अनुवाद करती है बल्कि उसे सस्‍वर खुद गाती भी है। आयुषी ने स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर लता मांगेशकर के गए गीत ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’ का संस्कृत में अनुवाद किया और खुद ही गाया भी। आयुषी को इस बात का गर्व है कि वह अपनी मातृभाषा की जननि संस्कृत को, गीतों के माध्‍यम से और भी ज्यादा लोकप्रिय बनाने की न सिर्फ एक छोटी से कोशिश कर रही है बल्कि संस्कृत से दूर हो रहे युवाओं को भी अपनी सभ्यता, संस्‍कृति और भाषा की ओर  वापस लौटने के लिए प्रेरित कर रही है।

स्कूल कैंप से मिली संस्‍कृत भाषा में गाने की प्रेरणा

आयुषी को संस्कृत भाषा में गीत गाने की प्रेरणा उसके स्कूल कैंप के दौरान मिली। जहां आयोजित की गई प्रतियोगिता को संस्कृत भाषा में ही पूरा करना था। जब इस प्रतियोगिता में आयुषी ने खुद को संस्कृत के करीब पाया तो फिर उसने पीछे मुड़कर नहीं देखा। फिर एक के बाद एक हिंदी गानों को संस्कृत में अनुवाद करना शुरू कर दिया। आयुषी ने कई कठिन गीतों का सरल संस्कृत में अनुवाद कर उसे अपनी स्‍वर में गाया भी है।

रांची : नन्‍हे देशभक्‍तों ने देश के लिए बलिदान देने का लिया संकल्‍प

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

रांची : नन्‍हे देशभक्‍तों ने देश के लिए बलिदान देने...

more-story-image

चंदनकियारी : हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस