ये है दुनिया की सबसे बूढ़ी महिला, यमराज भी भूला इनके घर का रास्ता

NewsCode | 18 May, 2018 4:53 PM
newscode-image

नई दिल्ली। आज हम आपको दुनिया की सबसे बूढ़ी महिला से मिलवाएंगे। महिला की उम्र 128 साल होने का दावा किया गया है। रूस की यह महिला जल्द ही अपना 129वां जन्मदिन मनाने वाली है, इस बात की जानकारी खुद रूसी सरकार ने दी है।

द सन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस महिला का नाम कोकू इस्तामबुलोवा है और वो कहती हैं, मेरी जिंदगी में एक भी दिन ऐसा नहीं रहा जब मैं खुश रही हूं। इसके बावजूद पता नहीं कैसे मैं इतने सालों से जीवत हूं।

उनकी उम्र को लेकर रुस सरकार ने भी माना है कि वह दुनिया कि सबसे उम्रदराज महिला है, सरकार के अनुसार पासपोर्ट में उनके जन्म की तारीख 1 जून 1889 लिखी गई है। उन्होंने बताया कि मुझे द्वितीय विश्व युद्ध याद है वह बहुत ही भयानक दौर था। नाजियों के टैंक हमारे घरों के पास से गुजरते थे।

अपनी उम्र के राज के सवाल पर इस्तामबुलोवा इसे भगवान की मर्जी बताती है। जहां लोग लंबे समय तक जीने के लिए खेलते-कूदते हैं, कुछ अच्छा खाते हैं उधर इस्तामबुलोवा ने इतने समय तक जिंदा रहने के लिए कुछ भी नहीं किया।

जहां लोग लंबे समय तक जीने के लिए खेलते-कूदते हैं, कुछ अच्छा खाते हैं उधर इस्तामबुलोवा ने इतने समय तक जिंदा रहने के लिए कुछ भी नहीं किया। अगर उनेक खाने पीने की बात करें तो वह शाकाहारी हैं और सिर्फ दूध पीती हैं।

इस उम्र में वह खुद खाना बनाती है। उनके सारे बच्चों की मौत हो चुकी है। उन्हें संभालने वाला कोई नहीं है।अपनी जवानी में वह गार्डन की खुदाई किया करती थी। अब तो उनसे वह भी नहीं होती। दरअसल कोको अपनी जिंदगी से पूरी तरह से थक चुकी हूं। उन्हें अब यह लगता है कि भगवान उन्हें सजा दे रहा है।

अजब-गजब: यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए पति के साथ मिलकर महिला करती थी ये घिनौना काम

उनके पासपोर्ट में उनके जन्म की तारीख 1 जून 1889 लिखी गई है। इस लिहाज से द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान उनकी उम्र 55 साल और सोवियत संघ के पतन के दौरान 102 साल रही होगी। याद हो सोवियत रूस का पतन 1991 में हो गया था।

अजब-गजब : बोर्ड परीक्षा में 4 विषयों में फेल हुआ बेटा फिर भी परिवार ने मनाया जश्न

भारतीय क्रिकेट टीम के अगले 5 साल का पूरा प्रोग्राम जारी, जानिए कब-कब होगी भारत की सीरीज़

NewsCode | 21 June, 2018 7:08 PM
newscode-image

नई दिल्ली। वनडे और टी-20 के बाद आईसीसी ने अब टेस्ट चैंपियनशिप के आयोजन की भी घोषणा कर दी है। आईसीसी ने बुधवार को 2018 से 2023 तक के 5 सालों के लिए अपने फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) का ऐलान किया। इसमें वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के अलावा 13 टीमों की वनडे इंटरनेशनल लीग भी शामिल है।

आईसीसी ने बताया कि डब्ल्यूटीसी के तहत भारत वेस्टइंडीज में दो टेस्ट सीरीज खेलेगा। 15 जुलाई 2019 से 30 अप्रैल 2021 तक चलने वाली टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सत्र में नौ शीर्ष टीमें भाग लेंगी। वेस्टइंडीज सीरीज 2019 मे विश्व कप के बाद खेली जाएगी। इस दौरे में टेस्ट के अलावा भारत मेजबान टीम से तीन वनडे और इतने ही टी-20 भी खेलेगा।

डोप टेस्ट में फेल हुआ यह पाकिस्तानी खिलाड़ी, गांजा पीने का है आरोप

भारत इस साल के अंत में वेस्टइंडीज की मेजबानी भी करेगा, जिसमें चार टेस्ट, पांच वनडे और तीन टी-20 खेले जाएंगे। विश्व चैंपियनशिप में भारत का अगला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से होगा, जिसकी वह तीन टेस्ट के लिए मेजबानी करेगा। यह सीरीज अक्टूबर 2019 में होगी, जिसके बाद बांग्लादेश दो टेस्ट और तीन टी-20 खेलने के लिए भारत का दौरा करेगा। चैंपियनशिप में इसके बाद भारत की अगली दो सीरीज 2020-21 में न्यूजीलैंड (दो टेस्ट) और ऑस्ट्रेलिया (चार टेस्ट) में होंगी। इसके बाद वह घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के साथ पांच टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगा।

माना जा रहा है कि चैंपियनशिप में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला नहीं होगा, हालांकि फाइनल में वे एक-दूसरे से भिड़ सकते हैं। भारत इस चैंपियनशिप में कुल 18 टेस्ट खेलेगा, जिसमें से 12 ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ होंगे।

वनडे लीग में भिड़ेंगी 13 टीमें

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के साथ ही वनडे लीग में विश्व क्रिकेट लीग चैंपियनशिप की विजेता नीदरलैंड्स के अलावा टेस्ट खेलने वाली सभी 12 टीमें भाग लेंगी। वनडे लीग एक मई 2020 से शुरू होकर 31 मार्च 2022 तक चलेगी। भारत वनडे लीग में अपनी शुरुआत जून 2020 में श्रीलंका दौरे से करेगा। यह लीग 2023 के वनडे विश्व कप में क्वालीफायर का भी काम करेगी। इस लीग में शीर्ष सात में रहने वाली टीमें और मेजबान भारत 2023 विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई करेंगे।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने कहा, ‘द्विपक्षीय क्रिकेट शुरू करना नई चुनौती नहीं है, लेकिन इस एफटीपी के जारी होने के साथ, हमारे सदस्यों को एक वास्तविक हल मिला है। इससे दुनिया भर के प्रशंसकों को लगातार क्रिकेट से जुड़े रहने का मौका मिलेगा।’

आईसीसी की वनडे और टी-20 महिला क्रिकेट टीम में एकता इकलौती भारतीय

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

लातेहार : डीसी ने योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की अपील की

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 8:21 PM
newscode-image

पुलिस पदाधिकारियों व आम जनों ने किया योग

लातेहार। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला खेल स्टेडियम में योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर उपायुक्त राजीव कुमार, पुलिस अधीक्षक प्रशांत आनंद  एवं उप विकास आयुक्त  अनिल कुमार सिंह समेत जिले के वरीय अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों, आमजनों व पंतजलि योग पीठ के सदस्यों ने योगाभ्‍यास किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने कहा कि स्वस्थ जीवन जीने के लिए योग जरूरी है। लगातार योग करने से तन-मन स्‍वस्‍थ रहता है जिससे जीवन जीने में मजा आता है। उन्होंने लोगों से प्रत्येक दिन योग को अपने दिनचर्या में शामिल करने की अपील की।

पुलिस अधीक्षक  प्रशांत आनंद ने कहा कि योग आज के भागदौड़ की जिंदगी में मानसिक शक्ति प्रदान करता है जो मनुष्य को ऊर्जावान बनाता है। योग करने से मानसिक एवं शारीरिक क्षमता में बृद्धि होती है।

लोहरदगा : किस्को इंटर कॉलेज में सात दिवसीय निःशुल्क योग शिविर का समापन

कार्यक्रम के दौरान पंतजलि योग समिति व आर्ट ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों ने योग शिविर में पहुंचे लोगों को योग कराया।

मौके अपर समाहर्ता नेलशम एयोन बागे, डीआरडीए निदेशक संजय भगत, आइटीडीए निदेशक चंद्रशेखर प्रसाद, जिले के अन्य वरीय पदाधिकारियों, पंतजलि योगपीठ के सदस्यों, ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जामताड़ा : बीजेपी सरकार राज्य संपदाओं को लूटने का काम की है- बाबूलाल मरांडी

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 8:10 PM
newscode-image

2019 चुनाव की तैयारी पर पार्टी की मजबूती पर चर्चा

जामताड़ा। बीजेपी सरकार हमेशा राज्य संपदाओं को लूटने का काम किया है। इसी का परिणाम है कि गत दिनों प्रकाशित मैट्रिक व इंटर के परीक्षा परिणाम खराब आया है, जो राज्य के विकास की दिशा में अशुभ संकेत है। उक्त बातें जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने गुरूवार को दुमका रोड स्थित पटौदिया धर्मशाला में संपन्न कार्यकर्ताओं की समीक्षा बैठक में कहा।

राज्य में बिजली,पानी,सड़क,स्वास्थ्य आदि की व्यवस्था चरमरा गई है। कार्यकर्ताओं से कहा गांव,समाज एवं राज्य का विकास चाहते हैं तो झारखंड प्रदेश से बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंकने की तैयारी आरंभ करें। भूमि अधिग्रहण कानून को रघुवर सरकार ने जबरदस्ती पारित किया है।

इसके विरोध में पार्टी गांव से जिला मुख्यालय तक विभिन्न माध्यमों से विरोध किया जायेगा। कार्यकर्ताओं से कहा कि 2019 चुनाव की तैयारी को हर क्षेत्रों में कार्यकर्ता सम्मेलन व चार-पांच पंचायतों के बीच छोटी-छोटी सभा का आयोजन कर बीजेपी सरकार के कारनामा को बताएं।

आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी झारखंड में जेवीएम एक मजबूत पार्टी बनकर उभरेगी। सारठ विधानसभा की चर्चा करते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में धोखा देने वाले को सबक सिखाया जाएगा। कार्यकर्ता इसकी तैयारी कर लें। बैठक की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष सुनील कुमार हांसदा ने की।

बैठक में केंद्रीय उपाध्यक्ष विनोद शर्मा,केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य अब्दुल मन्नान अंसारी, तापस भट्टाचार्य,पवित्र महता, विजय ठाकुर आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

रांची : महिलाओं को खादी से जोड़कर स्वावलंबी बनाना है,...

more-story-image

'गृहलक्ष्मी' की 'ब्रेस्टफीडिंग' के खिलाफ दायर याचिका रद्द, हाईकोर्ट ने...