सरायकेला: क्‍या कसूर था रीना का जो सरेआम डंडे से ससुरालवालों ने पीट डाला?

NewsCode Jharkhand | 3 January, 2018 11:25 AM

तमाशबीन बना था समाज

newscode-image

सरायकेला (पश्चिमी सिंहभूम)। एक महिला को बेटी जन्‍म देना कितना महंगा पड़ा इसका जीता-जागता उदाहरण आप देख सकते हैं। सरायकेला- खरसावां जिले के आदित्यपुर थाना क्षेत्र के चंपाईनगर में एक महिला की उसकी सास ने सरेआम सड़कों पर पिटाई कर डाला और घर से निकाल दिया।

वहीं इस अपराध में सास का भरपूर साथ महिला के पति ने दिया। वैसे कुछ महिला समाज सेविकाओं ने बीच-बचाव करते हुए किसी तरह से महिला को वहां से निकाला औऱ उसका मायके पहुंचाया।

बेटी हुई तो पति ने कर ली दूसरी शादी

मामला सरायकेला-खरसावां जिले के आदित्यपुर का है। जहां रीना सिंह नामक महिला के पति ने बेटा नहीं होने की वजह से दूसरी शादी कर ली। बता दूं कि जमशेदपुर के एग्रीको की रहनेवाली रीना की शादी  9 दिसंबर 2011 को आदित्यपुर मांझीटोला चंपाई नगर के राकेश कुमार सिंह के साथ हुई थी। वहीं रीना ने साल 2012 में एक बच्ची को जन्म दिया। जिसके बाद से रीना के ससुरालवालों ने उसपर जुल्म ढाहना शुरू कर दिया।  वहीं जुल्म का आलम ये हुआ कि रीना के पति ने  साल 2013 में दूसरी शादी कर ली।


Read more:- जमशेदपुर : बेटी को दिया जन्म, ससुराल वालों ने बहू को घर से निकाला बाहर

मामला है दर्ज, मगर अब तक नहीं मिला इंसाफ

उधर रीना के परिवारवालों ने परिवार न्यायालय में मामला दर्ज कराया। लेकिन आज तक इंसाफ नहीं मिला। वही रीना अपना कुछ जरूरी सामान लेने जब ससुराल पहुंची तो उसके साथ जो हुआ उसे देखकर पूरी मानवता ही शर्मसार हो गई। आप देख सकते हैं किस प्रकार महिला को उसके सास ने बीच सड़क पर डंडे से पीटना शुरू कर दिया। वहीं रीना के पति राकेश ने भी अपनी मां का पूरा साथ दिया। वहीं पूरा सभ्य समाज तमाशबीन बन देखता रहा। अब सवाल ये उठता है कि आखिर सरकार का बेटी बचाओ. बेटी पढ़ाओ औऱ न जाने कितने प्रकार के स्लोगन केवल बैनरों और पोस्टरों तक ही सिमटकर रह जाएंगे। क्या इसी प्रकार से रीना जैसी महिला दरिंदगी का शिकार होती रहेगी?

(न्यूज़कोड के मोबाइल ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

सरायकेलाः जिला पुलिस को मिली कामयाबी, चोर गिरोह के पांच सदस्य रंगे हाथ गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 9:43 PM
newscode-image

सरायकेला ।  आदित्यपुर थाना क्षेत्र में दिनदहाड़े एक घर में चोरी की नीयत से घुसे 5 लोगों को पुलिस ने रंगे हाथों धर दबोचा है।

बताया जा रहा है कि आदित्यपुर थाना क्षेत्र के आवासीय कॉलोनी रोड नंबर 11 में शनिवार शाम एक घर में चोरी की नीयत से घुसे पांच युवकों को पुलिस ने प्राप्त सूचना के आधार पर घेरकर पकड़ लिया।

जमशेदपुर :  पुलिसकर्मियों व उनके परिजनों  ने किया अनुलोम-विलोम

वहीं घटना की जानकारी देते हुए थाना प्रभारी विजय सिंह ने बताया कि इस गिरोह के सदस्यों द्वारा दिनदहाड़े घरों में घुसकर चोरी की घटना को अंजाम दिया जाता है।

वहीं कल भी इसी फिराक में इस गिरोह द्वारा रोड नंबर 11 के एक घर में चोरी का प्रयास किया जा रहा था। इसी बीच घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में सभी आरोपियों की तस्वीरें कैद हो गई जिसके बाद पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए मौके से चार युवकों को गिरफ्तार कर लिया।

जबकि एक युवक भागने में सफल रहा हालांकि टाईगर मोबाईल के जवानों ने घेरकर पकड़ लिया।हालांकि इससे पूर्व इस गिरोह द्वारा किन स्थानों पर चोरी की घटना को अंजाम दिया गया है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

चंदनकियारी : पीएम मोदी की सोच है स्वास्थ्य का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे- नोडल पदाधिकारी

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 9:41 PM
newscode-image

चंदनकियारी(बोकारो)। चंदनकियारी प्रखंड अंतर्गत बरमसिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को झारखंड सरकार की ओर से आयुष्मान भारत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में चयन किया गया है। जिसकी विधिवत उद्घाटन देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऑनलाईन द्वारा किया।

पीएम मोदी द्वारा लेपटॉप के के बटन दबाते ही बरमसिया स्वास्थ्य केंद्र में उपस्थित लोगों के तालियों  की गड़गड़ाहट से बरमसिया गुंजायमान हो उठा। मौके पर जिप अध्यक्ष सुषमा देवी ने कहा कि सौभाग्य कि बात है कि बरमसिया व राधानगर को चुना गया है। गरीब जो आर्थिक तंगी के कारण बेहतर इलाज नहीं कर पाते थे वो भी अब मुफ्त में पांच लाख तक का इलाज करा सकेंगे।

बोकारो : विनोद बाबू झारखंड के युगदृष्टा थे-सुदेश महतो

प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ श्रीनाथ- अतिरिक्त को उत्क्रमित कर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का नाम दिया गया है। विस्तृत परिमाण पर कार्यक्रम चलाया जाएगा। अब 12 बीमारियों का जांच एवं निदान किया जाएगा। यह प्रतिदिन योग प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जाएगा। कोई भी ग्रामीण यह प्रशिक्षण ले सकते है। लाल और पिला कार्ड धरियो को एक साल में पांच लाख तक स्वास्थ्य बीमा का लाभ ले सकेंगे।

चंदनकियारी : पीएम मोदी की सोच है स्वास्थ्य का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे- नोडल पदाधिकारी

गोल्डेन कार्ड मिलने पर भारतवर्ष के सभी निबंधित अस्पतालों में नि:शुल्क चिकित्सा के साथ-साथ दवा भी मुफ्त मिलेगा। रविवार को 6 लोगों को गोल्डेन कार्ड दिया गया। अगले एक माह आधी जनसंख्या को गोल्डेन कार्ड वितरण किया जाएगा। जिला नोडल पदाधिकारी डॉ. बीपी गुप्ता ने कहा कि रांची में प्रधानमंत्री राज्य के 10 अस्पताल एवं पीएचसी का ऑनलाइन शिलान्यास करेंगे।

गोमिया : गाड़ी कम होने पर महिला मंडल के सदस्यों ने किया सड़क जाम  

प्रधानमंत्री जी का सोच है स्वास्थ्य सेवा अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे । ग्रामीण स्वास्थ्य रहे तो तो उनके पारिवारिक जीवन रूप से निश्चित रूप से परिवर्तन होगा। इस अवसर पर उपस्थित अतिथियों ने प्रखंड के विश्वनाथ महतो, चपला देवी, राखोहरी बनर्जी, अधीर डोम, टिंकू लोहार समेत छह लोगों को गोल्डेन कार्ड दिया।

कार्यक्रम में मंत्री के निजी सचिव सुशांत मुख़र्जी, लोकेश साहनी, बीडीओ रविन्द्र कुमार गुप्ता, सीओ डॉ प्रमोद राम, प्रमुख हाशिरता रजवार, उपप्रमुख चंचला देवी, मुखिया संघ के अध्यक्ष देवाशीष सिंह, स्वास्थ्य कर्मी, सहिया, जनप्रतिनिधि, मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

निरसा : दिव्यांगों को दिया जाएगा कृत्रिम अंग, शिविर शुरू

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 9:38 PM
newscode-image

निरसा (धनबाद)। प्रेरणामय महिला समिति व महावीर सेवा सदन कोलकत्ता के संयुक्‍त तत्‍वाधान में दिव्यांगों के बीच सोनारडंगाल स्थित बंद पड़े एफसीआई गोदाम में निशुल्क कृत्रिम पैर, हाथ व कैलिपर्स बांटने को लेकर शिविर रविवार से शुरू हो गया है। यह शिविर 30 सितंबर तक चलेगा।

शिविर में जरूरत मंद दिव्‍यांगों को उपचार कर अंग दिए जाएंगे। इसके अलावा जरूरतमंदों को व्हीलचेयर व ट्राई साइकिल भी दी जाएगी। शिविर मे झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल समेत अन्‍य राज्‍यों के दिव्‍यांगों को इलाज कर कृत्रिम अंग प्रदान किया जायेगा।

धनबाद : बहनें अपने भाई की रक्षा का ली प्रण, हर्षोल्लास से मनाया गया प्रकृति पर्व

रविवार को 120 दिव्‍यांगों ने रिजस्‍ट्रशेन कराए। सभी के पैर व हाथ का माप ले लिए गए हैं। कोलकत्ता के प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ. स्वरूप आचार्य की टीम शिविर में मौजूद हैं।

समिति की अध्यक्षा रीता गढ़याण तथा शिविर संचालिका सुनीता अग्रवाल हैं।

समिति यह कैंप चिरकुंडा में तीसरी बार लगाई है। समिति दिव्‍यांगों की सेवा विगत 30 साल से करती आ रही है।

शिविर को सफल बनाने में जगदीश अग्रवाल, विनोद अग्रवाल,अमित अग्रवाल,विशाल अग्रवाल,कृष्ण लाल रुंगटा, पवन गढ़याण, प्रदीप अग्रवाल, सुशील गढ़याण, मधुर अग्रवाल, दिनेश अग्रवाल, निरंजन अग्रवाल समेत अन्‍य सक्रिय हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

चंदनकियारी : आजसू सिर्फ समझौते की राजनीति करती है- अमित...

more-story-image

जमशेदपुर : घरेलू विवाद में पति ने पत्‍नी को पीट...