पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव: हिंसा में 5 की मौत, पत्नी समेत जिंदा जलाया गया सीपीएम कार्यकर्ता

NewsCode | 14 May, 2018 1:08 PM

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव:  हिंसा में 5 की मौत, पत्नी समेत जिंदा जलाया गया सीपीएम कार्यकर्ता

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में वोटिंग के साथ-साथ राज्य में कई हिस्सों से हिंसा की खबरें आ रही हैं। अब तक की हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 20 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। मतदान सुबह 7 बजे चल रहा है जो कि शाम 5 बजे तक चलेगा।

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में सुबह 11 बजे तक 26.28 फीसदी हुई वोटिंग हुई है।

पश्चम बंगाल के उत्तरी 24 परगना में पिछली रातो को सीपीएम का एक कार्यकर्ता और उसकी पत्नी अपने घर में तब जिंदा जल गई , जह रात को उसके घर में आग लगा दी गई। सीपीएम का आरोप है कि इस हमले के पीछे भी टीएमसी का हाथ है।

कूचबिहार के बूथ संख्या 8/12 पर पश्चिम बंगाल सरकार के मंत्री रबिंद्र नाथ घोष ने बीजेपी के एक कार्यकर्ता को थप्पड़ मार दिया है। यह पूरी घटना कैमरे पर कैद हो गई है। कई इलाकों में बमबारी, मारपीट, मतदान पेटी जलाने और मारपीट जैसी हिंसक घटनाओं हुई हैं।

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में सोमवार सुबह नौ बजे तक 11 फीसदी मतदान हुआ. लेकिन राज्य के कई हिस्सों में हिंसा की घटनाओं में कई लोग घायल हो गए हैं। दक्षिण 24 परगना जिले के कुलताली क्षेत्र में एक टीएमसी कार्यकर्ता आरिफ गाजी की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

उधर, राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण दिनाजपुर जिले के तपन इलाके में एक मतदान केंद्र के बाहर बम फेंका गया जिसमें एक व्यक्ति की मौत और तीन अन्य के घायल होने की खबर है।

पंचायत चुनाव की कुल 58,692 सीटों में से तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पहले ही 20,163 सीटों पर निर्विरोध जीत चुकी हैं। जब से पंचायती राज शुरू हुआ है अब तक का यह एक रिकॉर्ड है। हालांकि, यह लड़ाई वामपंथी दल और कांग्रेस के लिए जिंदा रहने का संघर्ष है। जबकि, बीजेपी यह उम्मीद करती है कि वे अपने आपको विपक्षी पार्टी के तौर पर स्थापित कर सके।

हमले में घायल लोगों ने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर लगाया है। उन्होंने बताया, ‘हम वहां वोट करने गए थे लेकिन टीएमसी के लोगों ने लाठियों से हम पर हमला कर दिया।’ सभी घायलों को

इसके अलावा एर और वीडियो सामने आई है जिसमें कथित तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) कार्यकर्ता एक पोलिंग बूथ के बाहर लोगों को वोट डालने जाने से रोकते हुए दिख रहे हैं। वहीं, भांगर में टीएमसी पर बूथ कैप्चरिंग के आरोप लगे हैं। इसके अलावा इलाके के दिनाहाटा में देसी बम फटने से टीएमसी कार्यकर्ता को अपना हाथ गंवाना पड़ा है।

20 जिलों में चुनाव

राज्य में 621 जिला परिषदों , 6,157 पंचायत समितियों और 31827 ग्राम पंचायतों में चुनाव हो रहे हैं। चुनाव के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं और असम, ओडिशा, सिक्किम और आंध्र प्रदेश से लगभग 1,500 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।

आंधी-तूफान ने उत्तर भारत में मचाई तबाही, देशभर में 62 लोगों ने गंवाई जान, यहाँ अलर्ट जारी

इस बार पंचायत चुनाव में राज्य निर्वाचन आयोग, राज्य सरकार, सत्तारूढ़ टीएमसी और विपक्षी भाजपा, कांग्रेस तथा वाममोर्चा के बीच एक अभूतपूर्व कानूनी लड़ाई देखने को मिली।

ऐश्वर्या के साथ विवाह के बंधन में बंधे तेजप्रताप, देखें लालू के लाल की शाही शादी की तस्वीरें

कोडरमा : भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने पीएम और सीएम का पुतला फूंका

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 10:02 PM

कोडरमा : भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने पीएम और सीएम का पुतला फूंका

कोडरमाभाकपा माले कार्यकर्ताओं ने तिलैया शहर के झंड़ा चौक पर पीएम नरेन्द्र मोदी, सीएम रघुवर दास का पुतला फूंका और जनसभा की। जनसभा को श्यमादेव यादव मो. इब्राहिम, विरेन्द्र कुमार, इश्वरी राणा, रामधन यादव समेत कई नेताओं ने संबोधित किया। पार्टी कार्यकर्ता पेट्रोल-डीजल वृद्धि समेत अन्य सवालों को लेकर आंदोलन कर रहे थे।

कोडरमा : राजद का धरना, बीजेपी सरकार को जमकर कोसा

साथ ही 25 मई को धनवाद में पीएम द्वारा पार्टी नेताओं के द्वारा पूर्व में दी गई जानकारी के अनुसार करमा अस्पताल को मेडिकल कॉलेज बनाने के लिए इसकी आधारशिला नहीं रखे जाने का विरोध कर रहे थे। मौके पर धीरज कुमार समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

लोहरदगा : ज़िले के कराटेकारों ने झारखंड को दिलाये कई पदक

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 9:35 PM

लोहरदगा : ज़िले के कराटेकारों ने झारखंड को दिलाये कई पदक

लोहरदगा। ब्राजिलियन जुजुत्सू स्पोर्ट्स फैडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान में नवाब मनसूर अली खान पटौदी  में 20 मई  को नेशनल ओपेन ब्राजिलियन जुजुत्सू चैम्पियनशिप का आयोजन किया गया।

प्रतियोगिता में 500 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता में लोहरदगा जिले जे. एम. एस. इंग्लिश मीडियम स्कूल हरमू के लाल पृथ्वी राज नाथ शाहदेय ने अपने प्रतिद्वंदी को पछाड़ते हुए प्रथम स्थान प्राप्त करके झारखंड के झोली में गोल्ड मैडल डाला वहीं बी।एस। कॉलेज के दिव्याकाश साहु ने भी अपने प्रतिद्वंदी को हराकर तृतीय स्थान प्राप्त करके झारखंड को ब्राउन्ज मैडल दिलाया।

मालूम हो कि के फाईटर सिहान श्रवण साहु ब्लैक बेल्ट पांचवी डॉन, जोयन्ट सेक्रेटरी इन्टरनेशनल शोतोकाई कराटे फैडरेशन ऑफ इंडिया, मुख्य कराटे प्रशिक्षक झारखंड के द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।

बुंडू : मैथमेटिक्स ओलंपियाड में छात्रों को मिला गोल्ड मेडल

इस मौके पर जे. एम. एस. स्कूल के निर्देशिका श्रीमती सुष्मा सिंह ने दोनों फाईटरों एवं सिहान साहु को हार्दिक शुभकामनाएं दीं। और कहा कि मार्शल आर्ट आज की मांग है। तथा सेंसाई सुर्यावती साहु, सेंसाई क्यूम खान, सेंसाई जगनंदन पौराणिक, सेंसाई  संजय उरांव, सेंपाई अनमोल साहु, आदि ने भी शुभकामनाएं दी है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

धनबाद : नामदारों को कभी कामदारों की पीड़ा समझ में नहीं आती- प्रधानमंत्री 

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 9:24 PM

धनबाद : नामदारों को कभी कामदारों की पीड़ा समझ में नहीं आती- प्रधानमंत्री 

उर्वरक कारखाना खुलने से किसानों को मिलेगा फायदा

धनबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि नामदारों को कभी कामदारों की पीड़ा  समझ में नहीं आ सकती है। मोदी ने आज झारखंड के धनबाद जिले के बलियापुर में राज्य में करीब 27 हजार करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास के बाद उपस्थित विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि कहा कि आजादी के इतने वर्षों तक देश के 18 हजार गांवों में बिजली नहीं पहुंच पायी थी, उनकी सरकार ने समय से पहले इस लक्ष्य को पूरा किया है।

उन्होंने कहा कि नामदार अमीरों की बात करते नहीं थकते, पूर्व की सरकार उर्वरकों के लिए  करोड़ों रुपये की सब्सिडी देती थी, ताकि किसानों को फायदा मिल सके, लेकिन ये उर्वरक किसानों तक नहीं पहुंच पाते थे और अमीरों के कारखाने में चले जाते थे। इसके कारण किसानों को उर्वरकों के लिए लाइन में भी लगना पड़ता था और कभी-कभी पुलिस की लाठियां भी खानी पड़ती थी, परंतु उनकी सरकार ने सत्ता में आते ही इस चोरी को बंद करने का निर्णय लिया।

धनबाद : मोदी के नेतृत्व में आर्थिक शक्ति बन रहा भारत- सीएम

उर्वरक में नीम की ऐसी खली मिलायी गयी, जिसका उपयोग सिर्फ किसानों के खेत में ही संभव है। पिछले दो वर्षों में कहीं से भी ऐसी खबर नहीं आयी कि किसानों को उर्वरक के लिए लाइन में लगनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि 16 वर्ष बाद सिंदरी खाद कारखाना फिर से शुरू होने जा रहा है, इसके अलावा गोरखपुर और बरौनी खाद कारखाना में भी फिर से उत्पादन शुरू होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज झारखंड में करीब 27हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं की शुरूआत हुई, कई राज्यों की इतनी बड़ी बजट राशि भी नहीं होती है, जबकि लगभग 80 हजार करोड़ रुपये की लागत की अन्य परियोजनाएं भी झारखंड में केंद्र सरकार के सहयोग से चल रही है।

पांच बड़ी परियोजनाओं का हुआ शिलान्यास

आज पांच बड़ी परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया, उनमें सिंदरी का खाद कारखाना, पतरातु में पावर प्रोजेक्ट, देवघर में एम्स और एयरपोर्ट और रांची में पाइप लाइन के माध्यम से रसोई गैस की आपूर्ति योजना शामिल है।

250 औषधि केंद्र खोलने को लेकर हुआ एमओयू

प्रधानमंत्री की मौजूदगी में राज्य में 250 औषधि केंद्र खोलने को लेकर एमओयू भी किया गया। कार्यक्रम के दौरान  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लघु फिल्म के माध्यम से स्वाबलंबी महिलाओं के अनुभव को भी सुना।  जिसमें  सूरज देवी मीठी क्रांति पर अनुभव साझा की, वहीं उषा उराइन सौभाग्य योजना पर बात रखी। शंकुतला दास स्वच्छता के बारे में बताया और जतरी देवी प्रधानमंत्री आवास योजना पर अनुभव को प्रधानमंत्री के समक्ष रखा। जबकि तेतिया देवी पॉलिटरी पर बात रखी और और लाइमुन्नी सोरेन डेयरी पर अनुभव बांटी।

समारोह को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, केंद्रीय मंत्री आर.के.सिंह, अश्विनी चौबे, सुदर्शन भगत के अलावा सांसद पीएन सिंह और विधायक फूलचंद मंडल भी उपस्थित थे। इससे पहले राज्य के भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री अमर कुमार बाउरी ने स्वागत भाषण किया ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने