कलयुग के पांडव: पेंशन के लोभ में मां की मौत के बाद चार महीने तक घर में छिपाए रखी लाश

NewsCode | 24 May, 2018 6:06 PM
newscode-image

वाराणसी। उत्तर प्रदेश वाराणसी में पेंशन पाने के लिए कलयुगी बेटों के हैरान कर देने वाली घटना को अंजाम देने की खबर सामने आई है। यूपी पुलिस के अनुसार मां को मिलने वाली 13,000 रूपयों की पेंशन पाने के लिए पांच बेटों ने चार महीने तक उसके शव को छिपाए रखा और सरकारी पैसै खाते रहे।

वाराणसी के कबीरनगर में रहने वाली पांच बेटों की मां अमरावती देवी ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि उनके मरने के बाद, लाश के नाम पर भी बेटे-बहु पैसे वसूलेंगे। मामला भेलूपुर थाना क्षेत्र के दुर्गाकुंड स्थित आवास विकास कॉलोनी का है। जानकारी के मुताबिक, 70 वर्षीय अमरावती देवी का निधन करीब चार महीने पहले 13 जनवरी को हो गया था।

पड़ोसियों ने बताया कि वह अक्सर बेटों से उनकी मां के बारे में पूछते थे तो वह बीमारी की बात कहते थे। बेटों का कहना होता था कि मां बीमार हैं, इसलिए वह घर नहीं निकल रही हैं। लेकिन, मामले का खुलासा तब हुआ जब पिछले दो दिन से आ रही दुर्गंध से परेशान पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब जांच शुरू की तो पता चला कि यह कबीरनगर के आवास विकास कॉलोनी के फ्लैट संख्या 27/2 से आ रही है। घर में घुसने पर पुलिस ने महीनों पुराना शव देखकर भौंचक्की रह गई।

दरअसल, अमरावती देवी के पति दयाशंकर कस्टम विभाग में सुपरिटेंडेंट थे, जिनका निधन पहले ही हो चुका है। पति के निधन के बाद उन्हें पेंशन मिलती थी। अचानक से बूढ़ी महिला का निधन हो गया, जिसके बाद बेटे और बहुओं ने मिलकर अनोखा खेल रचा। पेंशन की लालच में मां की लाश पर केमिकल लगा कर रख दिया और चार महीने से पेंशन वसूल रहे थे।

ONGC पर विशेष टैक्स लगाकर तेल के दाम कम करने की तैयारी कर रही सरकार

पड़ोसियों ने बताया कि बेटे और बहुओं मिलकर उसपर बहुत अत्याचार किया। वे लोग इतने अमानवीय हो गए थे कि मरने के चार महीने बाद तक दाह संस्कार नहीं किया और उसके शव के नाम पेंशन उठाते रहे। पुलिस ने इस बारे में मामला दर्ज कर लिया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

कैराना उपचुनाव: बीजेपी की बढ़ीं मुश्किलें, सपा-बसपा-कांग्रेस के बाद निर्दलीय उम्मीदवार ने भी दिया RLD को समर्थन

हजारीबाग : एक करोड़ रूपए लेकर शख्‍स चंपत, दिया धरना

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 6:33 PM
newscode-image

हजारीबाग। पेलावल थाना क्षेत्र के फाहेमा एकेडमी स्कूल के पीछे स्थित एक बंगले में काफी चहल-पहल हो रहा था। इस बात की भनक जब आस-पड़ोस के लोगों को लगी तो वे सब बाहर निकले। बाहर निकलते ही देखा कि इस घर के बाहर कुछ लोग धरने पर बैठे है।

मामले की जानकारी लेने पर पता चला कि जाफर खान नाम का व्यक्ति जो बिहार के डेहरी ऑन सोन के निवासी है। वह इन दिनों हजारीबाग में अपने जीजा के घर के बगल में घर बनाकर रह रहे है।

धरने पर बैठे लोगों ने बताया कि लगभग 5 वर्षों से एक करोड़ रुपये जाफर खान लेकर चंपत हो गए है। किसी तरह पता लगाकर यहां आए लेकिन यहां भी उनसे मुलाकात नहीं हुई है और टालमटोल किया जा रहा है।

पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि टीवी, फ्रिज जैसे सामान देने के नाम पर ठगी की है। इस बावत दिलावल थाने में शिकायत की गई है। लेकिन छड़वा डैम पर विशाल मेले में पुलिस-प्रशासन व्यस्त है। जिस कारण से शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

हालांकि इस बावत जब बिलावल थाना प्रभारी से बात की गई तो उन्होंने भी यही कहा कि मोहर्रम के बाद ही कुछ किया जा सकता है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

कोडरमा : प्रबंधन समिति का प्रशिक्षण, बाल शोषण मुक्त ग्राम निर्माण का लिया संकल्प

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 9:40 PM
newscode-image

कोडरमा राष्ट्रीय झारखंड सेवा संस्थान एवं टीडीएच के संयुक्त तत्वाधान में विद्यालय प्रबंधन समिति का एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण के दौरान लगभग 15  गांव के विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्य एवं पदाधिकारी उपस्थित हुए। सभी ने अपने विद्यालय में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा बहाल करने के लिए समिति को सशक्त करने का निर्णय लिया और अपने गांव को बाल शोषण मुक्त ग्राम बनाने का निर्णय लिया।

कोडरमा : मुहर्रम में कई हिन्दू परिवार पूरी श्रद्धा से निकालते है ताजिया और निशान

प्रशिक्षण के दौरान आंध्र प्रदेश से आए हुए प्रशिक्षक दिनाबंधु ने अलग-अलग गतिविधि करके शिक्षकों के साथ तालमेल प्रशासन के साथ तालमेल विद्यालय प्रबंधन समिति का कार्य एवं दायित्व के बारे में बारीकी से बताया। साथ ही प्रशिक्षक अरुण शर्मा ने विद्यालय प्रबंधन समिति का गठन क्यों किया गया इसमें कितने पदाधिकारी होते हैं कौन पदाधिकारी होते हैं इसकी जानकारी लोगों को बारीकी से दिया। प्रशिक्षण के क्रम में प्रतिभागियों ने गीत नुक्कड़ का भी प्रस्तुत किया। प्रतिभागियों के अनुसार इस तरह का प्रशिक्षण की जरूरत लगातार है।

कार्यक्रम प्रभारी निर्भय कुल समन्वयक वैभव विकास पर्यवेक्षक जोसफिन एक्का, विपिन कुमार, नकुल कुमार के साथ साथ शिक्षक मित्र प्रशिक्षण में भाग लिए।  प्रशिक्षण में संस्था के सचिव मनोज दांगी, अध्यक्ष राम नंदन प्रसाद एवं कोषाध्यक्ष विजय कुमार ने भी भाग लिया। दांगी ने बताया कि इस तरह का प्रशिक्षण से सीधे सीधे  विद्यालय प्रबंधन समिति सशक्त होगा और अपने कर्तव्य एवं दायित्व का बोध होगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

चांडिल : तिरुलडीह पंचायत भवन में ग्राम विकास समिति पर कार्यशाला आयोजित

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 9:39 PM
newscode-image

चांडिल।  कुकडू प्रखंड के तिरुलडीह में शुक्रवार को तिरुलडीह पंचायत भवन में ग्राम विकास समिति का एक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसका विधिवत उद्घाटन सरायकेला जिला परिषद् उपाध्यक्ष अशोक कुमार साव ने किया I

मौके पर उपस्थित महिलाओं को संबधित करते हुए श्री साव ने कहा कि महिला शक्ति एक बहुत बड़ी शक्ति है I अगर परिवार के विकास में महिलाओं का भागीदारी होगी तो स्वत:  ग्राम, जिला व देश का विकास होगा I

नारी शक्ति जाग गई तो गाँव का व घर रौशन होगा I उपस्थित महिलाओं ने देश को आगे बढ़ने का संकल्प भी लिए I मौके पर कुकड़ू के प्रमुख संतोषी सिंह मुंडा, मुखिया, वार्ड  सदस्य सहित सैकड़ों महिलायेंं उपस्थित थे I

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

गिरिडीह : गौरव यात्रा निकालकर मनाया गया ओडीएफ उत्सव

more-story-image

चांडिल : पारगामा मेंं इंद मेला का आयोजन