गाड़ियों में सफर करने पर आती हैं उल्टियाँ…तो आजमाएं ये 7 घरेलू नुस्खे

NewsCode | 11 December, 2017 1:59 PM
newscode-image

घूमना-फिरना कौन नहीं चाहता है! लेकिन कई लोग ऐसे होते हैं जो यात्रा करने से सिर्फ इसलिए डरते हैं क्योंकि उन्हें गाड़ी में सफर करते हुए उल्टियां आती हैं।  इसे मोशन-सिकनेस या ट्रैवल-सिकनेस भी कहते हैं।

ऑटो, बस या फिर किसी भी चारपहिया वाहन में यात्रा करते वक्त अगर आप भी उल्टी आने के डर से परेशान रहते हैं या फिर आपको उल्टियां आ ही जाती हैं, तो आज हम आपको 7 ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको इस समस्या से पूर्णतः निजात दिला सकते हैं। इससे आप बेफिक्र होकर अपनी मनचाही जगहों पर अपने पसंद के वाहन से यात्रा कर सकते हैं।

आजमाएं ये 7 नुस्खे

1. सौंफ हमेशा रखें साथ – यात्रा पर जाते वक्त घर से सौंफ खाकर बाहर निकलें। इसके अलावा थोड़ी सौंफ अपने साथ भी रखें। जब भी आपको उल्टी महसूस हो आप थोड़ा सा सौंफ मुंह में डाल लें। इससे उल्टी से आराम मिलेगा।

2. ऐप्पल साइडर विनेगर से करें गरारे – घर से बाहर निकलने से पहले एप्पल साइडर विनेगर को एक कप पानी में मिलाकर गरारे करें। इससे जी मिचलाने की समस्या से निजात मिलती है।

3 . पुदीने और अदरक की चाय है कारगर – पुदीने और अदरक को चबाकर भी उल्टियों की समस्या से निजात पाया जा सकता है। इसके अलावा आप पुदीने या फिर अदरक की चाय बनाकर भी पी सकते हैं। इससे भी आपको रास्ते में उल्टियां नहीं आएंगी।

4. नींबू पानी – घर से निकलने से पहले नींबू पानी पी लें। इसके अलावा यात्रा के दौरान नींबू अपने साथ ही रखें। जब भी उल्टी जैसा महसूस हो तो तुरंत नींबू चाट लें। नींबू को पानी में मिलाकर पीने से भी लाभ मिलता है।

5. काली मिर्च और नींबू का मिश्रण – घर से निकलने से पहले आप एक कप गरम पानी में आधा नींबू निचोड़कर उसमें चुटकी भर काली मिर्च का पाउडर मिला लें। इस मिश्रण को पीकर ही घर से बाहर निकलें।

6. जीरा वाटर – जीरे को पीसकर पाउडर बना लें। अब इस पाउडर की एक चौथाई चम्मच मात्रा एक कप पानी में मिलाएं और यात्रा पर जाने से पहले पिएं। इससे रास्ते में उल्टी नहीं आएगी।

7. पिपरमिंट – मिंट भी आपके मोशन सिकनेस को कम कर सकता है। मिंट के तेल की कुछ बूंदे किसी रुमाल पर छिड़के और सफर के दौरान उसे सूंघते रहे। इससे आराम होगा। मिंट की चाय पीने से भी राहत मिलेगी।

पढ़ें : दांतों को चमकाने के लिए आजमाएं ये सस्ता और घरेलू उपाय

गिरिडीह : डायरिया नहीं फूड पॉइजनिंग से पीड़ित थे बिरने और मंझने के लोग

Basant Kumar Sinha | 18 September, 2018 7:46 PM
newscode-image

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच कर क्षेत्र में डायरिया होने से किया इनकार

गावां (गिरिडीह)। बिरने और मंझने पंचायत से उल्टी और दस्त की शिकायत को लेकर गावां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में लगातार पहुंच रहे मरीजों की स्थिति में सुधार आने लगा  है।

गावां सीएचसी में एमबीबीएस डॉक्टर की अनुपस्थिति में इन मरीजों का इलाज कर रहे आयुष चिकित्सक डॉ हबीबुल्लाह खान ने उल्टी और दस्त से पीड़ित मरीजों को डायरिया पीड़ित बताया था।

इसके बाद मीडिया में दो दिन लगातार प्रखंड में डायरिया फैल जाने की खबर आई और इस विपरित परिस्थिति में भी बगैर सूचना के सभी चिकित्सकों के गायब रहने की खबर  प्रकाशित हुई थी।

इसपर जिला प्रशासन ने संज्ञान लेते हुए गिरिडीह सदर अस्पताल के चिकित्सक  डॉ अशोक कुमार के नेतृत्व में एक चिकित्सीय टीम प्रभावित गांव में भेजी।

चिकित्सीय टीम में डॉ अशोक कुमार के अलावा कुंदन कुमार, गावां के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अरविंद कुमार, डॉ नवीन कुमार, डॉ सुनील बड़ाईक आदि शामिल थे।

इस दौरान मंझने व बिरने पंचायत के प्रभावित गांवों में जाकर लोगों का स्वास्थ्य जांच किया गया। जांच के बाद चिकित्सकों ने बताया कि गांव में डायरिया नहीं बल्कि फूड पॉइजनिंग के कारण एक खाश वर्ग के कुछ लोगों में उल्टी व दस्त की शिकायत देखी गई है।

बिरने के आलमपुर में एक जलशा हुआ था, जहां बिरयानी खाने से लोगों की तबियत बिगड़ गयी  थी  अब स्थिति नियंत्रण में है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

लातेहार : उपस्तिथि दर्शाने को लेकर नक्सलियों ने चिपकाये पोस्टर

Deepak Kumar Bharti | 18 September, 2018 10:02 PM
newscode-image

लातेहारनक्सली समाज में अपनी उपस्तिथि दर्ज कराने को लेकर हर संभव प्रयास कर रहे हैं। बीती रात लातेहार जिले के कई स्थानों पर नक्सलियों ने इसे लेकर पोस्टरबाजी की। 21 से 28 सितंबर तक लोगों को संगठन का  वर्षगांठ मनाने को कहा गया है।

सदर थाना क्षेत्र के बेंदी गांव, गारू थाना क्षेत्र के कई ग्रामीण इलाकों में  पोस्टर साटा गया है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के बाद सुरक्षा बल के जवानों ने नक्सली पोस्टर को जब्त कर लिया है।पोस्टरबाजी के बाद सभी संदिग्ध गांव में पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

टुण्डी : नक्‍सलियों की नकेल कसने के लिए हेलीपैड का उद्घाटन

Amit Kumar Gupta | 18 September, 2018 9:55 PM
newscode-image

टुण्‍डी (धनबाद)। नक्‍सलियों की नकेल कसने के लिए मनियाडीह स्थित सीआरपीएफ कैम्प में नव निर्मित हेलीपैड का उद्घाटन मंगलवार को किया गया। इस अवसर पर सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी, पुलिस इंस्पेक्टर किशोर तिर्की, टुंडी के थाना प्रभारी के साहू उपस्थित थे।

उद्घाटन के मौके पर सीआरपीएफ कैंप में एम्बुलेंस, वज्र वाहन के अलावा सुरक्षा के अन्‍य उपकरण तैयार रखे गए थे। आसमान में कई चक्कर लगाने के बाद हैलीकेप्‍टर ने हेलीपैड पर लैंड किया।

धनबाद : राष्ट्रीय लोक अदालत में दो हजार से ज्‍यादा मामले का निष्पादन

सीआरपीएफ के अधिकारियों ने बताया कि उद्घाटन के मौके पर इस नए हेलीपैड में हैलीकेप्‍टर को लैंड कराने का अभ्यास किया गया।

बताते चलें कि नक्सलियों पर नकेल कसने के लिए मनियाडीह में सीआरपीएफ कैंप बनाया गया है। टुंडी, तोपचांची एवं पीरटांड़ इलाके के जंगलों में निगरानी रखने के लिए हैलीकॉप्टर का उपयोग किया जाना है। इसी वजह से हैलीपैड का निर्माण किया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

जमशेदपुर : भारतीय जनता पार्टी की जिला कार्यसमिति की बैठक...

more-story-image

बड़कागांव : ति‍हरे हत्याकांड के विरोध में कैंडल मार्च, हत्यारों...