तेनुघाट : हत्या के आरोपियों को दस साल की श्रम कारावास

NewsCode Jharkhand | 13 June, 2018 7:32 PM
newscode-image

तेनुघाटतेनुघाट व्यवहार न्यायालय के जिला जज द्वितीय गुलाम हैदर ने दहेज हत्या के आरोप में  नावाडीह थाना अंतर्गत लहिया निवासी अयूब अंसारी को सिद्ध दोषी पाने के बाद दस साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई। बता दें कि नवाडीह थाना अंतर्गत सहरिया निवासी मो. मौला अंसारी ने नावाडीह थाना प्रभारी के पास 15 अगस्त 13 को व्यान दर्ज कराया कि उसकी बहन नुरेशा खातून की शादी आज से लगभग दो माह  पहले लहिया निवासीआयुब अंसारी के पुत्र अख्तर अंसारी साथ मुस्लिम रीति रिवाज से ग्राम सहरिया में हुई थी। शादी में 25000 रुपया नगद औऱ समान दिए थे।

बेरमो : देश के लिए शहीद हुए जवान के परिवार वालों को पेंशन तक मयस्सर नहीं

शादी के 15 दिन के बाद से ही नुरेशा खातून को उसके पति अख्तर अंसारी, ससुर अयूब अंसारी, सास फातमा बीबी, ननद सकीलुंन बीबी, हसीबुन बीबी सभी अभियुक्त दहेज की मांग को लेकर बुरी तरह प्रताड़ित करने लगे और बहन  गरीबी का इजहार करती रही लेकिन इन लोगों को कोई फर्क नही पड़ा। अंत में 14 अगस्त 2003 को दिन के करीब साढ़े 4 बजे किरासन डाल कर सभी अभियुक्त ने मिलकर उसका हत्या कर दिया। तेल डालने का काम उसकी सास फातमा बीबी ओर  माचिस मारने का काम ननद ने किया।

इसकी सूचना लहिया निवासी असलम अंसारी ने रात 8 बजे दिया।  सुबह गांव के कुछ व्यक्तियों के साथ जानकारी लेने लहिया जा रहे थे तो लहिया से एक किलो मोटर बाहर ट्रेक्टर पर बहन का लाश पड़ा था। पूछने पर पता चला कि अभियुक्तों ने लड़की को आग लगा कर बुरी तरह जला दिया है। इलाज के लिए ले जाने के क्रम में रास्ते  में मृत्यु हो गई। उक्त व्यान के आधार पर नावाडीह थाना में केस दर्ज किया गया।

आरोप पत्र समर्पित होने के बाद मामला स्थान्तरित होकर हैदर के न्यायालय में आया। जहां उपलब्ध साक्ष्य एवं उभय पक्ष के अधिवक्ता के बहस सुनने के बाद हैदर ने दहेज हत्या के मामले में अयूब अंसारी  को सिद्ध दोषी पाने के बाद दस साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई।अभियोजन पक्ष की ओर से अपर लोक अभियोजक संजय कुमार सिंह ने बहस की।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : उग्र भीड़ ने कार को फूंका, पुलिस ने महिला समेत चार को बचाया

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2018 11:25 AM
newscode-image

रांची। पतरातु की ओर से रांची आ रही एक कार कांके थाना क्षेत्र में नगड़ी गांव के निकट सड़क क्रॉस कर रहे ग्रामीण को बचाने में पलट गयी। हालांकि इस हादसे में ग्रामीण को भी मामूली रूप चोट लगी। लेकिन मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने सड़क पार करने के दौरान ग्रामीण द्वारा बरती गयी असावधानी की अनदेखी करते हुए कार चालक को ही दोषी करार देते हुए हंगामा किया।

इस हादसे में कार में सवार एक महिला और तीन अन्य पुरूष सदस्यों को भी हल्की चोटें आयी। इस बीच मौके पर पहुंची पुलिस की पीसीआर वैन ने कार सवार चारों लोगों को भीड़ से सुरक्षित बचाते हुए अपने कब्जे में लेकर अस्पताल ले गयी। दूसरी तरफ मौके पर मौजूद भीड़ ने दुर्घटनाग्रस्त कार में केरोसिन तेल छिड़क कर उसमें आग लगा दी।

चाईबासा : डकैती मामले का उद्भेदन, एक शख्स चढ़ा पुलिस के हत्थे

इस घटना के कारण काफी देर तक पतरातु-रांची मुख्य मार्ग पर आवागमन बाधित रहा। बाद में अग्निशमन विभाग की टीम ने आग पर काबू पाया और पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों के हस्तक्षेप से सड़क पर आवागमन को सामान्य करा दिया गया। पुलिस की ओर से कहा गया है कि कार में आग लगाने वाले को चिन्हित कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की हालत नाजुक, आडवाणी-राजनाथ के बाद विपक्षी नेता भी पहुंचे AIIMS

NewsCode | 16 August, 2018 11:21 AM
newscode-image

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत बिगड़ने की खबरों के बीच एम्स में उनको देखने पहुंच रहे लोगों का तांता लगा हुआ है। बीजेपी के साथ-साथ विपक्षी नेता भी वाजपेयी की सेहत पर पूरी नजर बनाए हुए हैं। वहीं एम्स मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया कि पिछले 36 घंटों में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बिगड़ी है।

पूर्व प्रधानमंत्री का हालचाल जानने के लिए आज सुबह उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू AIIMS पहुंचे। इसके अलावा सत्तापक्ष और विपक्ष के तमाम नेता ट्वीट कर वाजपेयी के दीर्घायु होने की कामना कर रहे हैं। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी वाजपेयी का हाल जानने एम्स पहुंचे। काफी समय तक वाजपेयी के साथ काम करने वाले बीजेपी के दिग्गज नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भी उनका हाल जानने एम्स पहुंचे।

सूत्रों के अनुसार कुछ ही देर में अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी का हाल जानने एम्स जाएंगे। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज शाम दिल्ली पहुंचेंगी, वह भी वाजपेयी का हाल जानने एम्स जाएंगी।

बुधवार शाम से मंत्रियों और नेताओं का एम्स में आना-जाना लगा हुआ है जो अब भी जारी है। कल देर शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, पीयूष गोयल और मीनाक्षी लेखी उन्हें देखने एम्स पहुंचे। पीएम मोदी ने करीब एक घंटे तक एम्स के डॉक्टरों से वाजपेयी के स्वास्थ्य पर चर्चा की।

VIDEO: अमित शाह के रस्सी खींचते ही नीचे गिरा तिरंगा, कांग्रेस ने कसा तंज

अटल बिहारी वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था। मधुमेह पीड़ित 93 वर्षीय भाजपा नेता का एक ही गुर्दा काम करता था। हालांकि, इन सबमें डिमेंशिया से भी अटल बिहारी वाजपेयी सबसे ज्यादा पीड़ित हैं।

हजारीबाग : वाजपेयी के स्वास्थ्य लाभ के लिए सदर विधायक ने ईश्वर से की कामना

हजारीबाग : वाजपेयी के स्वास्थ्य लाभ के लिए सदर विधायक ने ईश्वर से की कामना

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2018 11:17 AM
newscode-image

हजारीबाग। देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के स्वास्थ्य सुधार के लिए सदर विधायक मनीष जायसवाल ने ईश्वर से प्रार्थना की। उनके सेहत में अबिलंब सुधार के लिए समस्त देशवासी मर्माहत है। उनके  स्वास्थ्य लाभ की कामना कर रहे है। तमाम बीजेपी कार्यकर्ता उनके कुशल मंगल के लिए कामना कर रहे।

देवघर : आयुषी ने बहायी देश-प्रेम की गंगा, संस्‍कृत में गाया “ऐ मेरे वतन के लोगों” 

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

चाईबासा : डकैती मामले का उद्भेदन, एक शख्स चढ़ा पुलिस...

more-story-image

चाईबासा : सीआरपीएफ की स्कॉट गाड़ी और कार में भीषण...