तेनुघाट : हत्या के आरोपियों को दस साल की श्रम कारावास

NewsCode Jharkhand | 13 June, 2018 7:32 PM
newscode-image

तेनुघाटतेनुघाट व्यवहार न्यायालय के जिला जज द्वितीय गुलाम हैदर ने दहेज हत्या के आरोप में  नावाडीह थाना अंतर्गत लहिया निवासी अयूब अंसारी को सिद्ध दोषी पाने के बाद दस साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई। बता दें कि नवाडीह थाना अंतर्गत सहरिया निवासी मो. मौला अंसारी ने नावाडीह थाना प्रभारी के पास 15 अगस्त 13 को व्यान दर्ज कराया कि उसकी बहन नुरेशा खातून की शादी आज से लगभग दो माह  पहले लहिया निवासीआयुब अंसारी के पुत्र अख्तर अंसारी साथ मुस्लिम रीति रिवाज से ग्राम सहरिया में हुई थी। शादी में 25000 रुपया नगद औऱ समान दिए थे।

बेरमो : देश के लिए शहीद हुए जवान के परिवार वालों को पेंशन तक मयस्सर नहीं

शादी के 15 दिन के बाद से ही नुरेशा खातून को उसके पति अख्तर अंसारी, ससुर अयूब अंसारी, सास फातमा बीबी, ननद सकीलुंन बीबी, हसीबुन बीबी सभी अभियुक्त दहेज की मांग को लेकर बुरी तरह प्रताड़ित करने लगे और बहन  गरीबी का इजहार करती रही लेकिन इन लोगों को कोई फर्क नही पड़ा। अंत में 14 अगस्त 2003 को दिन के करीब साढ़े 4 बजे किरासन डाल कर सभी अभियुक्त ने मिलकर उसका हत्या कर दिया। तेल डालने का काम उसकी सास फातमा बीबी ओर  माचिस मारने का काम ननद ने किया।

इसकी सूचना लहिया निवासी असलम अंसारी ने रात 8 बजे दिया।  सुबह गांव के कुछ व्यक्तियों के साथ जानकारी लेने लहिया जा रहे थे तो लहिया से एक किलो मोटर बाहर ट्रेक्टर पर बहन का लाश पड़ा था। पूछने पर पता चला कि अभियुक्तों ने लड़की को आग लगा कर बुरी तरह जला दिया है। इलाज के लिए ले जाने के क्रम में रास्ते  में मृत्यु हो गई। उक्त व्यान के आधार पर नावाडीह थाना में केस दर्ज किया गया।

आरोप पत्र समर्पित होने के बाद मामला स्थान्तरित होकर हैदर के न्यायालय में आया। जहां उपलब्ध साक्ष्य एवं उभय पक्ष के अधिवक्ता के बहस सुनने के बाद हैदर ने दहेज हत्या के मामले में अयूब अंसारी  को सिद्ध दोषी पाने के बाद दस साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई।अभियोजन पक्ष की ओर से अपर लोक अभियोजक संजय कुमार सिंह ने बहस की।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : महिलाओं को खादी से जोड़कर स्वावलंबी बनाना है, दिया जाएगा ट्रेनिंग

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 7:52 PM
newscode-image

प्रशिक्षण शुल्क 150  लिए जाने का निर्णय, 2 माह मुफ्त  

झारखंड राज्य खादी बोर्ड  की तरफ से आधुनिक रेडीमेड गारमेंट सिलाई प्रशिक्षण केंद्र के पांचवे बैच का उदघाटन प्रधान कार्यालय रातू रोड स्थित उद्योग भवन में किया गया। यहां करीब 30 महिलाओं को निशुल्क 2 माह का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

उल्‍ल्‍ेाखनीय है कि खादी बोर्ड की तरफ से पहले महिलाओं को प्रशिक्षण शुल्क के रूप में प्रतिदिन 50 रुपये  मिलते थे।  लेकिन अब खादी बोर्ड की मीटिंग के बाद प्रशिक्षण शुल्क 150  किए जाने निर्णय लिया गया। दो  माह ट्रेनिंग के पश्चात 25 प्रतिशत मार्जिन लेकर प्रशिक्षणार्थियों को उपहार स्वरूप सिलाई मशीन दी जाएगी।

1 जुलाई को खेल गांव के टाना भगत स्टेडियम में कारीगर पंचायत का आयेाजन झारखंड खादी बोर्ड करेगा जिसमें  देशभर के आर्टिजन जुटेंगे। पंचायत में निर्णय लिया जाएगा कि खादी से बनी सामग्रियों को किस रूप में प्रदर्शित किया जाए।

जमशेदपुर : मंत्री सरयू राय ने सार्वजनिक पार्क का किया उद्घाटन    

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि  केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के अलावा खादी आयोग के अध्यक्ष भी शामिल होंगे। कार्यक्रम के लिए रांची उपायुक्त से 20 बसों की मांग खादी बोर्ड के अध्यक्ष संजय सेठ ने की है। उपायुक्‍त ने बस उपलब्‍ध कराने की हामी भर दी है।

मौके पर खादी बोर्ड के अध्यक्ष संजय सेठ ने कहा कि खादी बोर्ड की‍ तरफ से आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का मकसद महिलाओं को खादी से जोड़कर उन्हें स्वालंबी बनाना है। उन्‍होंने कहा कि दो तीन दिनों के बाद हटिया में दो प्रशिक्षण केंद्र और चुटिया में 1 का उदघाटन किया जाएगा। महिलाएं प्रशिक्षण प्राप्‍त कर आत्‍मनिर्भर बन पाएगी।

उपायुक्त राय महिपत रे ने कहा कि यहां से प्रशिक्षण लेने के बाद महिलाएं स्‍वावलंबी बनेगी। उन्‍होंने सभी प्रशिक्षणार्थियों के उज्‍जवल भविष्‍य की कामना की और कहा कि यहां जो भी महिलाएं प्राशिक्षण प्राप्‍त कर रही हैं वे दूसरे महिलाओं को भी प्रशिक्षण लेने के लिए प्रोरित करें।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

लातेहार : डीसी ने योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की अपील की

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 8:21 PM
newscode-image

पुलिस पदाधिकारियों व आम जनों ने किया योग

लातेहार। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला खेल स्टेडियम में योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर उपायुक्त राजीव कुमार, पुलिस अधीक्षक प्रशांत आनंद  एवं उप विकास आयुक्त  अनिल कुमार सिंह समेत जिले के वरीय अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों, आमजनों व पंतजलि योग पीठ के सदस्यों ने योगाभ्‍यास किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने कहा कि स्वस्थ जीवन जीने के लिए योग जरूरी है। लगातार योग करने से तन-मन स्‍वस्‍थ रहता है जिससे जीवन जीने में मजा आता है। उन्होंने लोगों से प्रत्येक दिन योग को अपने दिनचर्या में शामिल करने की अपील की।

पुलिस अधीक्षक  प्रशांत आनंद ने कहा कि योग आज के भागदौड़ की जिंदगी में मानसिक शक्ति प्रदान करता है जो मनुष्य को ऊर्जावान बनाता है। योग करने से मानसिक एवं शारीरिक क्षमता में बृद्धि होती है।

लोहरदगा : किस्को इंटर कॉलेज में सात दिवसीय निःशुल्क योग शिविर का समापन

कार्यक्रम के दौरान पंतजलि योग समिति व आर्ट ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों ने योग शिविर में पहुंचे लोगों को योग कराया।

मौके अपर समाहर्ता नेलशम एयोन बागे, डीआरडीए निदेशक संजय भगत, आइटीडीए निदेशक चंद्रशेखर प्रसाद, जिले के अन्य वरीय पदाधिकारियों, पंतजलि योगपीठ के सदस्यों, ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जामताड़ा : बीजेपी सरकार राज्य संपदाओं को लूटने का काम की है- बाबूलाल मरांडी

NewsCode Jharkhand | 21 June, 2018 8:10 PM
newscode-image

2019 चुनाव की तैयारी पर पार्टी की मजबूती पर चर्चा

जामताड़ा। बीजेपी सरकार हमेशा राज्य संपदाओं को लूटने का काम किया है। इसी का परिणाम है कि गत दिनों प्रकाशित मैट्रिक व इंटर के परीक्षा परिणाम खराब आया है, जो राज्य के विकास की दिशा में अशुभ संकेत है। उक्त बातें जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने गुरूवार को दुमका रोड स्थित पटौदिया धर्मशाला में संपन्न कार्यकर्ताओं की समीक्षा बैठक में कहा।

राज्य में बिजली,पानी,सड़क,स्वास्थ्य आदि की व्यवस्था चरमरा गई है। कार्यकर्ताओं से कहा गांव,समाज एवं राज्य का विकास चाहते हैं तो झारखंड प्रदेश से बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंकने की तैयारी आरंभ करें। भूमि अधिग्रहण कानून को रघुवर सरकार ने जबरदस्ती पारित किया है।

इसके विरोध में पार्टी गांव से जिला मुख्यालय तक विभिन्न माध्यमों से विरोध किया जायेगा। कार्यकर्ताओं से कहा कि 2019 चुनाव की तैयारी को हर क्षेत्रों में कार्यकर्ता सम्मेलन व चार-पांच पंचायतों के बीच छोटी-छोटी सभा का आयोजन कर बीजेपी सरकार के कारनामा को बताएं।

आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी झारखंड में जेवीएम एक मजबूत पार्टी बनकर उभरेगी। सारठ विधानसभा की चर्चा करते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में धोखा देने वाले को सबक सिखाया जाएगा। कार्यकर्ता इसकी तैयारी कर लें। बैठक की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष सुनील कुमार हांसदा ने की।

बैठक में केंद्रीय उपाध्यक्ष विनोद शर्मा,केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य अब्दुल मन्नान अंसारी, तापस भट्टाचार्य,पवित्र महता, विजय ठाकुर आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

'गृहलक्ष्मी' की 'ब्रेस्टफीडिंग' के खिलाफ दायर याचिका रद्द, हाईकोर्ट ने...

more-story-image

चक्रधरपुर : देश का सबसे बड़ा आई हॉस्पिटल का शिविर...