सोनिया गाँधी ने साधा मोदी पर निशाना, संसद के शीतकालीन सत्र को लेकर उठाये सवाल

NewsCode | 20 November, 2017 7:13 PM
newscode-image

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने संसद के शीतकालीन सत्र में बेवजह देरी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सोमवार को निशाना साधा और चेतावनी दी कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) सरकार ‘लोकतंत्र के मंदिर को बंद कर’ संवैधानिक जवाबदेही से नहीं भाग सकती। कांग्रेस कार्यकारिणी को संबोधित करते हुए सोनिया ने कहा, “वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में किए गए वादों को नहीं निभाने के बावजूद, वह लगातार ‘फर्जी वादे’ करते जा रहे हैं।”

पार्टी के अगले अध्यक्ष के चुनाव की तिथि के निर्धारण के लिए यहां कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक हो रही है।

सोनिया ने अपने संबोधन में कहा, “मोदी सरकार अपने घमंड में कमजोर आधार पर शीतकालीन सत्र में देरी कर भारतीय संसदीय लोकतंत्र पर काली छाया डाल रही है। मोदी सरकार अगर यह सोच रही है कि लोकतंत्र के मंदिर को बंद कर वह आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले संवैधानिक जिम्मेदारी से भाग जाएगी, तो वह भूल कर रही है।”

उन्होंने कहा कि संसद ऐसा मंच है, जहां सवाल पूछे जाने चाहिए। ऊंची जगहों पर भ्रष्टाचार, मौजूदा मंत्रियों के लाभ के पद व संदिग्ध रक्षा सौदे पर प्रश्न पूछे जाने चाहिए।

सोनिया ने कहा, “सरकार को इन सवालों के जवाब देने चाहिए, लेकिन गुजरात चुनाव के पहले इन सवाल-जवाब से बचने के लिए सरकार ने शीतकालीन सत्र नहीं कराने का विशेष तरीका अपनाया है।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “प्रधानमंत्री के पास आधीरात को संसद में बिना तैयारी के और दोषपूर्ण वस्तु एवं सेवा कर(जीएसटी) लागू कर खुशी मनाने का समय है, लेकिन उनके पास संसद का सामना करने का साहस नहीं है।”

प्रधानमंत्री के चुनावी वादे और आर्थिक मोर्चे पर निशान साधते हुए सोनिया ने सरकार पर ‘कुछ लोगों के भाग्य बनाने और गरीबों के भविष्य को बर्बाद करने का आरोप लगाया।’

उन्होंने कहा, “बेरोजगारी, महंगाई का बढ़ना, निर्यात में कमी और जीएसटी से लाखों लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। एक वर्ष पहले, नोटबंदी ने परेशान किसानों, छोटे व्यापारियों, गृहिणियों, दिहाड़ी मजदूरों के जख्मों पर नमक छिड़का। दबे-कुचलों और गरीबों के भविष्य को बर्बाद कर कुछ लोगों का भाग्य बनाया जा रहा है।”

सोनिया ने कहा, “इसके बावजूद प्रधानमंत्री बड़े ही जोश के साथ घोषणा, झूठे वादे करते हैं, जिनका जमीनी सच्चाई से कुछ लेना-देना नहीं है।”

सरकार बदलना चाहती है इतिहास

कांग्रेस अध्यक्ष ने मोदी सरकार पर प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के योगदान को जबरदस्ती बदलकर भारतीय आधुनिक इतिहास में बदलाव करने का आरोप लगाया।

सोनिया गांधी ने कहा, “स्कूलों की पाठ्यपुस्तकों को दोबारा लिखकर, दुर्भावनापूर्ण गलत सूचना, दुष्प्रचार या इंदिराजी की जन्मशती के महत्ता के तिरस्कार के साथ अनदेखी कर, यह सरकार आधुनिक भारत के इतिहास को बदलना चाहती है।”

कांग्रेस अध्यक्ष चुने जाने के लिए 18 माह चली लंबी चुनावी प्रक्रिया पर उन्होंने कहा,”पूरी प्रक्रिया पार्टी के जड़ों की पुष्टि करती है।”

सोनिया गांधी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा भाजपा को सबसे बड़ी पार्टी कहने और देश को ‘कांग्रेस-मुक्त’ बनाने पर निशाना साधते हुए कहा, “इससे पुष्टि होती है कि पार्टी की जड़ें देश के प्रत्येक जिलों में फैली हुई हैं और कोई भी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस पार्टी जैसी बहुलता और विविधता वाली पार्टी नहीं है।”

उन्होंने राहुल गांधी और उनकी टीम को गुजरात विधानसभा चुनाव में उनके प्रयासों के लिए शुभकामनाएं दी और उन्हें बेहतरीन प्रयास करने के लिए कहा।

सोनिया ने कहा, “हम यह साबित करने का प्रयास करें कि लोगों को बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता और वे सही निर्णय ले सकते हैं और वहां मौजूदा सरकार को हराया जा सकता है।”

(आईएएनएस)

कैसा रहेगा आज आपका दिन ? जानें आज दिनांक 14-10-2018 का अपना राशिफल

NewsCode | 14 October, 2018 9:01 AM
newscode-image

सुप्रभात मित्रों! परिवार में प्यार से लेकर तक़रार, व्यापार में मुनाफा से लेकर उधार, सेहत में बुखार से लेकर सुधार, करियर, रोजगार, कार इत्यादि के लिए कैसा रहेगा आज आपका दिन। पढ़ें अपना राशिफल :

मेष/Aries (मार्च 21-अप्रैल 20) – चोट-चपेट से बचना चाहिए, सेहत का भी ध्यान रखें, पारिवारिक समस्याओं के ऊपर ध्यान देना होगा, माता के सेहत का ध्यान रखें।

वृष/Taurus (अप्रैल 21–मई 21) – मानसिक रूप से भावुक रहेंगे, लंबी यात्रा के योग हो सकते हैं, कार्य व्यवसाय उत्तम है, परिवार के साथ समय गुजारना पसंद करेंगे।

मिथुन/Gemini (मई 22–21 जून) – दृढ़तापूर्वक कार्य करने का लाभ मिलेगा, पार्टनर के साथ मिलकर व्यापार बढ़ाने का प्रयास करेंगे, युवाओं के विवाह की बात होगी, नये कार्य की योजना भी बना सकते हैं।

कर्क/Cancer (जून 22–जुलाई 23) – क्रोध करने से बचें, कार्य व्यवसाय उत्तम है, साझेदारी में काम प्रारंभ न करें, दाम्पत्य जीवन में दबाव महसूस करेंगे।

सिंह/Leo (जुलाई 24–अगस्त 23) – परिवार की चिंता होगी, प्रोपर्टी से संबंधित खरीद-बिक्री सावधानी से करें, युवा अपने दोस्तों पर विशेष भरोसा करेंगे, विशिष्ट व्यक्तियों का सहयोग मिलेगा।

कन्या/Virgo (अगस्त 24–सितंबर 23) – सामर्थ्य का विकास होगा, अपने मन के अनुकूल घर लेने में सफल हो सकते हैं, पारिवारिक सदस्यों का सहयोग मिलेगा, कार्य व्यवसाय उत्तम है।

तुला/Libra (सितंबर 24–अक्टूबर 23) – धन निवेश की चिंता होगी, आगे नयी नौकरी की तलाश होगी, शारीरिक रूप से थकान महसूस करेंगे, कार्य व्यवसाय की चिंता होगी।

वृश्चिक/Scorpio (अक्टूबर 24–नवंबर 22) – कार्य क्षेत्र में निवेश की योजना होगी, निवेश पर ध्यान भी रखना होगा, कर्मचारियों का सहयोग नहीं मिलेगा, भाई के साथ मनमुटाव हो सकता है।

धनु/Sagittarius (नवंबर 23–दिसंबर 21) – मानसिक रूप से चिंताग्रस्त हो सकते हैं, वाणी पर नियंत्रण जरूरी है, जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा, ईश्वर भक्ति में मन लगेगा।

मकर/Capricorn (दिसंबर 22–जनवरी 20) – गुस्सा करने से बचें, कार्य व्यसाय पर ध्यान देना होगा, अचानक कार्य क्षेत्र में दबाव महसूस करेंगे, अति आत्मविश्वास में न रहें।

कुंभ/Aquarius  (जनवरी 20–फरवरी 19) – कार्य व्यवसाय उत्तम है, अपेक्षा के अनुकूल लाभ की संभावना है, अनुभवी लोगों का सहयोग मिलेगा, प्रेम संबध प्रगाढ़ होंगे।

मीन/Pisces (फरवरी 20–मार्च 20) – धार्मिक कार्य करने वाले के लिए समय अनुकूल है, घर खरीदने का सपना पूरा हो सकता है, कार्य व्यवसाय सामान्य है, दाम्पत्य सुख उत्तम है।


नवरात्रि में व्रत रखने वालों के लिए इन बातों पर ध्यान देना जरूरी

नवरात्र में भूलकर भी न करें ये काम, इन लोगों को नहीं रखना चाहिए उपवास

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

कैसा रहेगा आज आपका दिन ? जानें आज दिनांक 13-10-2018 का अपना राशिफल

NewsCode | 13 October, 2018 7:20 AM
newscode-image

सुप्रभात मित्रों! परिवार में प्यार से लेकर तक़रार, व्यापार में मुनाफा से लेकर उधार, सेहत में बुखार से लेकर सुधार, करियर, रोजगार, कार इत्यादि के लिए कैसा रहेगा आज आपका दिन। पढ़ें अपना राशिफल :

मेष/Aries (मार्च 21-अप्रैल 20) – वाहन सावधानी से चलाना होगा, अपव्यय से बचना चाहिए, कार्य के क्षेत्र में किसी से लड़ाई-झगड़े न करें, लाभ अपेक्षा के अनुकूल होगा।

वृष/Taurus (अप्रैल 21–मई 21) – भावुकता से बाहर निकल कर कार्य विशेष पर ध्यान देना होगा, यात्रा का लाभ मिलेगा, आसपास के लोगों से सतर्क रहें, ईश्वर भक्ति में आनंद मिलेगा।

मिथुन/Gemini (मई 22–21 जून) – दिनभर कार्य में व्यस्त रहेंगे, शाम को दोस्तों के साथ समय गुजारेंगे, युवाओं को नौकरी की तलाश होगी, कार्य व्यवसाय सामान्य है।

कर्क/Cancer (जून 22–जुलाई 23) – किसी के लिए बुरा न बोलें , माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें, कार्य व्यवसाय उत्तम है, जीवनसाथी की भावनाओं को समझें।

सिंह/Leo (जुलाई 24–अगस्त 23) – नये कार्य के ऊपर ध्यान केन्द्रित रहेगा, विशेष लोगों से मिलने का कार्यक्रम हो सकता है, सामर्थ्य में वृद्धि होगी, भाई–बहन का साथ मिलेगा।

कन्या/Virgo (अगस्त 24–सितंबर 23) – व्यस्त कार्यक्रम के बाद धन की चिंता होगी, खर्च की अधिकता से परेशान हो सकते हैं, अधिकारी वर्ग नाराज हो सकते हैं, युवाओं के विवाह में बाधा के संकेत हैं।

तुला/Libra (सितंबर 24–अक्टूबर 23) – व्यर्थ की चिंताओं से मन अशांत होगा, अपने उन्नति की बात सोचेंगे, धार्मिक कार्यों में रूचि लेंगे, पिता का सहयोग मिलेगा।

वृश्चिक/Scorpio (अक्टूबर 24–नवंबर 22) – निवेश के ऊपर ध्यान केन्द्रित होगा, सोच–समझ कर ही निवेश करना चाहिए, लाभ अपेक्षा के अनुकूल होगा, कार्य क्षेत्र में विशेष परिश्रम करने होंगे।

धनु/Sagittarius (नवंबर 23–दिसंबर 21) – चिंता से मुक्ति मिलेगी, मन प्रसन्न रहेगा, कार्य क्षेत्र में मजबूती से कार्य करेंगे, दाम्पत्य सुख उत्तम है।

मकर/Capricorn (दिसंबर 22–जनवरी 20) – अपने कार्य क्षमता पर विशेष भरोसा होगा, कार्य व्यवसाय उत्तम है, लाभ अपेक्षा से कम होगा, पत्नी बीमार हो सकती है।

कुंभ/Aquarius  (जनवरी 20–फरवरी 19) – बड़े व्यापारी नये कार्य का प्रारंभ करेंगे, सरकारी सहयोग नहीं मिलने से परेशानी होगी, अपने अधिकारियों के साथ मंत्रणा करेंगे, प्रेम करने वाले के लिए दिन अनुकूल है।

मीन/Pisces (फरवरी 20–मार्च 20) – कार्य व्यवसाय की चिंता होगी, नौकरी में परिवर्तन की बात सोचेंगे, वाहन सुख उत्तम है, परिवार का सहयोग मिलेगा।


नवरात्रि में व्रत रखने वालों के लिए इन बातों पर ध्यान देना जरूरी

नवरात्र में भूलकर भी न करें ये काम, इन लोगों को नहीं रखना चाहिए उपवास

चक्रधरपुर : नहीं रहे पूर्व रात्रि प्रहरी जीत बहादुर थापा

NewsCode Jharkhand | 12 October, 2018 4:06 PM
newscode-image

श्रद्धांजलि

चक्रधरपुर । गुदरी बाजार में रात्रि प्रहरी के रूप में कार्य कर चुके जीत बहादुर थापा का व्यक्तित्‍‍‍व अपने जीवन काल से ही संघर्षशील रहा। इन्‍‍‍‍‍‍‍‍होंने  जवानी वा बुढ़ापा गुदरी बाजार में  ही गुजार दी।

पूरी तरह से चरमरा गई थी आर्थिक स्थिति

करीब 30 साल की सेवा इन्‍होंने यहां दी। एक दुर्घटना में पीठ की कमर की हड्डी टूट गई। उसके बाद वो बाजार छोड़ चले गये। इस घटना ने इनकी आर्थिक स्थिति पूरी तरीके से चरमरा गई। इनकी सुध लेने वाला कोई नहीं था। लोगों से पैसे मांग कर अपना गुजर- बसर कर रहे थे।

2 अक्टूबर 2017 को गांधी जयंती के दिन मैं इनके पास पहुंचा, तो पता लगा सरकार से इनको कोई सुविधा नहीं मिल रही । तब हम लोगों ने वादा किया कि जब तक सरकार आपको आपका हक नहीं दे देती, तब तक  संगठन आप को सहायता प्रदान करेगी।

निरंतर प्रयास से  इनको सरकारी मदद दिलायी गई।  जब तक सरकारी मदद नहीं मिली, तब तक आर्थिक सहयोग भी करते रहे।

हम संतुष्ट हैंं कि हमने आखिरी समय में  इनकी आंखों में संतुष्टि का भाव देखा और हम लोगों ने इनसे कहा भी था कि आप जीवित रहेंं, हम आपसे वादा करते हैं कि आपको एक अपना घर सरकार से मुहैया कराने की कोशिश करेंगे।

आज से एक सप्‍ताह पहले इनका देहांत हो गया। आज उनकी सुध लेने के लिए इनके निवास पहुंचा तो वहां के आस -पड़ोस के लोगों ने बताया कि पिछले गुरुवार को उनका देहांत हो गया।अफसोस है कि जीत बहादुर थापा हमारे बीच नहीं रहे।

रामगोपाल जेना

चक्रधरपुर

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : व्‍यवसायी नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड का हुआ खुलासा

more-story-image

गिरिडीह : स्वच्छ भारत अभियान की उड़ी धज्जियाँ, सरकारी दफ्तर...