सिमडेगा : नियोजन के लिये 67 युवकों को भेजा गया सिकंदराबाद

NewsCode Jharkhand | 9 March, 2018 8:11 PM

 सिमडेगा : नियोजन के लिये 67 युवकों को भेजा गया सिकंदराबाद

सिमडेगा । कल्याण गुरूकुल में 45 दिनों  तक  राजमिस्त्री, सरिया मिस्त्री, शटरिंग, स्कैफोल्डिंग, फिटर, सीएनसी ऑपरेटर के का प्रशिक्षण लेने के बाद 67 युवकों को नियोजन हेतु शाहपूर पालनजी, सिकंदराबाद भेजा गया। इस अवसर पर उपायुक्त जटाशंकर चौधरी ने 67 युवकों की टोली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

बेंगाबाद: बेंगाबाद प्रीमियम लीग का शुभारंभ 12 मार्च से

प्रशिक्षित युवकों को नियोजन का नियुक्ति पत्र देने के बाद संबोधित करते हुये उपायुक्त ने रोजगार के लिये जा रहे युवकों को उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। अपने आचरण व आदतों पर विशेष ध्यान रखते हुये घर परिवार एवं अपने संबंधियों से हमेशा संपर्क में रहने की सलाह दी गयी। परिवार को अपनी आय का एक हिस्सा निश्चित रूप से बचत कर भेजने की सलाह दी। श्री चौधरी ने कहा कि अपने स्वास्थ्य व खान-पान पर विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा ईमानदारी और मेहनत सफलता का मूल मंत्र है। मेहनत कर राज्य, जिला एवं अपने परिवार का नाम रोशन करें।

गुरूकुल के प्राचार्य ने बताया कि वर्ष 2015 से अबतक कल्याण गुरूकूल  द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर एवं कम पढ़े लिखे बेरोजगार 791 युवकों को संस्थान में प्रशिक्षित कर उन्हें योग्यता के अनुसार विभिन्न प्रतिष्ठानों में नियोजित कराया जा चुका है। मौके पर गुरूकूल के प्राचार्य रूपण राय, ट्रेनर कृष्णा धान टीकाधर, सुभाष मंजूमधार, सोर्ससिंग कॉडिनेटर दुर्गेश ठाकुर, विकास कुमार के अलावे  युवक व उनके अभिभावक उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करेंआप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

झरिया : मोदी सरकार के स्किल डेवलपमेंट से महिलाओं का सपना हुआ साकार

NewsCode Jharkhand | 18 May, 2018 4:47 PM

झरिया : मोदी सरकार के स्किल डेवलपमेंट से महिलाओं का सपना हुआ साकार

रोजगार पाकर मिली खुशी

झरिया (धनबाद)। मोदी सरकार के द्वारा स्किल डेवलपमेंट के तहत रोजगार देने की मनसा अब साकार होते दिख रही है। झरिया में शहरी आजीविका मिशन, दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत स्वयं सहायता समूह का रोजगार उन्मुखी प्रशिक्षण दिलाने के बाद अब महिलाओं को रोजगार से जोड़ा जा रहा है।

महिलाएं चूड़ी, पेड़, सूत कातने का काम कर रही है, और इनको काम के हिसाब से पैसा मिल रहा है। महिलाएं पहले अपने वार्ड में 15 से 20 महिला का एक समूह बनायी, जो नगर-निगम की देख-रेख में कार्य कर रही है। महिला हर माह 100 रुपया समूह में जमा करती है। जिससे समूह के खाते में पैसे इकट्ठा होती है, जरूरत पड़ने पर कोई भी महिला ले सकती है।

दुमका : पांच दिवसीय अभियान दक्षता वर्ग संपन्न, ज्ञान को अनुभव के रूप में साझा

निगम प्रशिक्षण के बाद समुह की महिलाओं को रोजगार मुहैया करा रही है। अब महिलाएं अपने पैर पर खड़ी है। झरिया के जामाडोबा में महिलाएं पूरी लगन से चूड़ी बना रही हैं और काफी खुश भी हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

जमशेदपुर : बेरोज़गार युवाओं के लिए Gulf Training Institute एक वरदान

NewsCode Jharkhand | 12 May, 2018 3:44 PM

जमशेदपुर : बेरोज़गार युवाओं के लिए Gulf Training Institute एक वरदान

जमशेदपुर। बेरोज़गार युवाओं के लिए जमशेदपुर स्थित गल्फ ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट वरदान सिद्ध हुआ है। मात्र 3-4 माह की शिक्षा के बाद नौकरी की राह गल्फ ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट आसान बना रही है। गल्फ ट्रेनिग इंस्टीट्यूट पिछले 19 वर्षों से लगातार अशिक्षित और बेरोज़गार युवाओं का मार्गदर्शन करता आ रहा है।

इंस्टीट्यूट, झारखण्ड और उसके बहार से आये छात्रों को टेक्नीकल ट्रेड (सेफ्टी ऑफिसर, एसी टेक्नीशियन, क्वालिटी कंट्रोलर इंस्पेक्टर, लैंड सर्वेयर, कार ड्राईविंग) ऑपरेटिंग ट्रेड में (मोबाइल क्रेन, एक्सकवेटर, जेसीबी, फर्क लिफ्ट, ग्रेडर, लोडर ऑपरेटर, हैवी ड्राईविंग, कार ड्राईविंग), वेल्डिंग गैस कटिंग, ऑटो कैड, बेसिक कंप्यूटर जैसे करियर बनाने वाले कोर्सेस में ट्रेनिंग देकर उन्हें रोजगार के क्षेत्र में अग्रसर कर रहा है।

हैवी ड्राइविंग एवं कार ड्राइविंग मुफ्त में

छात्रों को नौकरी के लिये योग्य बनाने हेतु इंस्टीट्यूट द्वारा स्पोकन इंगलिश, हैवी ड्राइविंग एवं कार ड्राइविंग मुफ्त में सिखाया जाता है। इंस्टीच्यूट ने छात्रों के उज्जवल भविष्य को ध्यान में रखते हुये कई तरह के मल्टी/डबल कोर्स का आरंभ किया है जिससे कि छात्र आज के चुनौतिपूर्ण समय में कम खर्च में ज्यादा हुनरमंद हो सकें।

जमशेदपुर : बेरोज़गार युवाओं के लिए गल्फ ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट एक वरदान

शिक्षित युवाओं को भी रोजगार दिलाने में ये संस्थान काबिल बनाया है। ये संस्थान झारखंड राज्य में जमशेदपुर (पूर्वी सिंहभूम) के मानगो में स्थित है। गौरवपूर्ण बात है कि इस इंस्टीट्यूट को उच्चतम प्रशिक्षण के संपादन के लिये वर्ष 2007 में एक्सीलेंस अवार्ड (दिल्ली), 2017 में इंटरनेशनल ट्रेनिंग अवार्ड, ग्लोबल अचीवर्स फाउंडेशन (थाईलैंड) एवं 2017 में इंटरनेशनल एक्सीलेंस अवार्ड (गोआ) से सम्मानित किया गया है।

‘मेहनत…सफलता शोर मचा दे’

संस्था के निदेशक हाजी शेख फरिदुल्लाह आज के युवाओं को सफलता की टिप्स देते हुये कहते हैं कि मेहनत इतनी खामोशी से करो कि सफलता शोर मचा दे उच्चतम् श्रेणी की ट्रेनिंग प्रदान करने के लिये संस्थान के पास पर तरह की लेटेस्ट मशीनें, डिजिटल लैब और पारंगत शिक्षक उपलब्ध हैं।

चास : मध्य विद्यालय में पोशाक मिलने से छात्रों में बढ़ी पढ़ाई की ललक

संस्थान ने वर्ष 2017-18 में पूरे देश से आये हुये 418 छात्रों को प्रशिक्षित करके तकरीबन 233 छात्रों को देश और विदेश में रोजगार दिलाया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

सरकारी नौकरियों के लिए ऑनलाइन भर्तियां 34 फीसदी घटी

NewsCode | 9 May, 2018 7:03 AM

सरकारी नौकरियों के लिए ऑनलाइन भर्तियां 34 फीसदी घटी

नई दिल्ली| सरकारी सेवाओं के लिए ऑनलाइन भर्तियों की गतिविधियों में अप्रैल में साल-दर-साल आधार पर 34 फीसदी गिरावट दर्ज की गई, जिसमें सरकारी कंपनियों और रक्षा सेवाओं की भर्तियां भी शामिल हैं।

मोंसटर डॉट कॉम की रपट में मंगलवार को यह जानकारी दी गई। अप्रैल के मोंसटर इंप्लाई इंडेक्स में कहा गया है, “सरकार या पीएसयू या रक्षा (34 फीसदी की गिरावट) ने सभी निगरानी उद्योग क्षेत्रों में सबसे ज्यादा सालाना गिरावट दर्ज की है।”

रपट में कहा गया है कि अप्रैल में देश में सभी प्रमुख उद्योगों में भर्तियों में पिछले साल के अप्रैल की तुलना में औसतन 11 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।

रपट के मुताबिक, उत्पादन और विनिर्माण क्षेत्र में भर्तियों में समीक्षाधीन माह में सबसे अधिक तेजी दर्ज की गई है।

रपट में कहा गया है, “मोंस्टर इम्प्लायमेंट इंडेक्स अप्रैल 2018 में ऑनलाइन भर्ती गतिविधियों में साल-दर-साल आधार पर 11 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई, जिसमें उत्पादन और विनिर्माण क्षेत्र में सबसे अधिक 54 फीसदी की तेजी दर्ज की गई।”

इस देश में हुआ शिंजो आबे का अपमान, जूतों में परोसा खाना!

वहीं, दूरसंचार और इंटरनेट सेवा प्रदाताओं के क्षेत्र में ऑनलाइन भर्तियों में 28 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।

शर्मनाक! टॉफी देने के बहाने चाचा ने 6 साल की बच्ची से किया दुष्कर्म, गिरफ्तार

आईएएनएस

X

अपना जिला चुने