देश के मौजूदा माहौल में सभी खामोश : शत्रुघ्न सिन्हा

NewsCode | 12 November, 2017 7:02 PM

देश के मौजूदा माहौल में सभी खामोश : शत्रुघ्न सिन्हा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने मौजूद राजनीतिक हालात पर कहा कि देश में जो माहौल चल रहा है, उसमें सभी ‘खामोश’ हैं। अपने ‘खामोश’ डायलॉग पर सिन्हा ने कहा ‘अब लगता है कि हम सब खामोश हो गए हैं।’ साहित्य आजतक के तीसरे और अंतिम दिन शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, “मैंने अपनी किताब सबसे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसलिए नहीं दे सका, क्योंकि तब तक यह आई नहीं थी।”

शत्रुघ्न ने कहा कि वह लालकृष्ण आडवाणी के कहने पर राजनीति में आए और आडवाणी के आदेश पर ही मध्यावधि चुनाव में राजेश खन्ना के खिलाफ चुनाव लड़कर राजनीतिक पारी की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में हारने के बाद किन हालात में उन्होंने अशोक रोड स्थित भाजापा कार्यालय नहीं जाने की कसम खाई।

फिल्मों में खलनायकी की अपनी पहचान पर शत्रुघ्न ने कहा, “मैंने विलेन के रोल में होकर कुछ अलग किया। मैं पहला विलेन था, जिसके परदे पर आते ही तालियां बजती थीं। ऐसा कभी नहीं हुआ। विदेशों के अखबारों में भी यह आया कि पहली बार हिन्दुस्तान में एक ऐसा खलनायक उभरकर आया, जिस पर तालियां बजती हैं। अच्छे-अच्छे विलेन आए, लेकिन कभी किसी का तालियों से स्वागत नहीं हुआ। ये तालियां मुझे निर्माताओं-निर्देशकों तक ले गईं। इसके बाद निर्देशक मुझे विलेन की जगह हीरो के तौर पर लेने लगे।”

उन्होंने कहा, “एक फिल्म आई थी ‘बाबुल की गलियां’, जिसमें मैं विलेन था, संजय खान हीरो और हेमा मालिनी हीरोइन थीं। इसके बाद जो फिल्म आई ‘दो ठग’, उसमें हीरो मैं था और हीरोइन हेमा मालिनी थीं। मनमोहन देसाई को कई फिल्मों में अपना अंत बदलना पड़ा। भाई हो तो ऐसा, रामपुर का लक्ष्मण ऐसी ही फिल्में हैं।”

सिन्हा ने कहा, “मैंने रोल को कभी विलेन के तौर पर नहीं, रोल की तरह ही देखा। मैं विलेन में सुधरने का स्कोप भी देखा करता था। मैं यंग जनरेशन को एक मंत्र देता हूं कि अपने आप को सबसे बेहतर साबित करके दिखाओ, यदि ऐसा नहीं कर सकते तो सबसे अलग साबित करके दिखाएं। आज खामोश सिग्नेचर टोन बन गया है। पाकिस्तान जाता हूं तो बच्चे कहते हैं -एक बार खामोश बोलकर दिखाओ।”

उन्होंने कहा, “अपनी वास्तविकता को मत खोओ।”

सिन्हा ने कहा कि फिल्म ‘शोले’ और ‘दीवार’ ठुकराने के बाद ये फिल्में अमिताभ बच्चन ने कीं और वह सदी के महानायक बन गए। शत्रु ने कहा कि ये फिल्में न करने का अफसोस उन्हें आज भी है, लेकिन खुशी भी है कि इन फिल्मों ने उनके दोस्त को स्टार बना दिया।

शत्रुघ्न के मुताबिक, ये फिल्में न करना उनकी गलती थी और इस गलती को ध्यान में रखते हुए उन्होंने कभी भी इन दोनों फिल्मों को नहीं देखा।

साहित्य आजतक के तीसरे दिन तीसरे सत्र में शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व पत्रकार व लेखक भारती प्रधान ने शिरकत की। इस सत्र का संचालन पुण्य प्रसून वाजपेयी ने किया। भारती प्रधान ने शत्रुघ्न की किताब ‘एनीथिंग बट खामोश’ पर चर्चा की।

(आईएएनएस)

गिरिडीह : सरकार के चार साल पर कांग्रेस का विश्वासघात दिवस, दिया धरना

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:35 PM

गिरिडीह : सरकार के चार साल पर कांग्रेस का विश्वासघात दिवस, दिया धरना

गिरिडीहमोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटि के निर्देश पर जिले में कांग्रेसियों ने विश्वासघात दिवस के रूप में मनाया। इसको लेकर शनिवार को पार्टी नेताओं ने एक दिवसीय धरना दिया।

वादों को पूरी नहीं कर पाई सरकार

धरने को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद डॉ. सरफ़राज़ अहमद ने कहा कि चार साल पहले जो विश्वास जनता ने मोदी सरकार पर जताया था, वह पूरी तरह से गलत साबित हुआ है। कहा कि भाजपा सरकार ने जो भी वादे अपने घोषणा पत्र में किये थे, उनमें से किन्ही वादों को सरकार पूरा नहीं कर पाई।

बेंगाबाद : ससुराल में युवक की संदेहास्पद मौत, परिजनों ने जतायी हत्या की आशंका

सर चढ़ कर बोल रही महंगाई

जिला मीडिया प्रभारी सतीश केडिया ने कहा कि यह सरकार पूरी तरह से विश्वासघाती है। जिस लोकलुभावन वादों के बदौलत भाजपा ने जनता का समर्थन हासिल किया था उसे एक भी पूरा नहीं कर पाई है। कहा कि जिस महंगाई का रोना रोकर बीजेपी नेताओं ने किया, आज चार सालों में वह महंगाई सर चढ़कर बोल रही है।

धरने को जिलाध्यक्ष नरेश वर्मा, नरेंद्र सिन्हा (छोटन), डॉ. आजाद ने भी संबोधित करते हुए सरकार के इस चार साल के कार्यकाल को जनता से विश्वासघात बताया।

इस मौके पर शेखर सिंह, चंद्रशेखर सिंह, सब्बन खान, समीर राज चौधरी, धनंजय सिंह, उमेश तिवारी, महमूद अली खान, आलमगीर आलम, जैनुल अंसारी, गोकलदास, वरुण सिंह, संतोष  चौधरी, शमीम अंसारी, सहदेव तिवारी समेत कई पार्टी नेता व कार्यकर्ता शामिल हुए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

लोहरदगा : सत्ता की राजनीति करती है भाजपा- आलोक साहू

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:08 PM

लोहरदगा : सत्ता की राजनीति करती है भाजपा- आलोक साहू

लोहरदगा। केंद्र सरकार के 4 साल पूरे होने पर कांग्रेस पार्टी ने विभिन्न मुद्दों को लेकर समाहरणालय के समक्ष धरना देते हुए भाजपा और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि भाजपा झूठ के 4 साल होने पर उत्सव मना रही है। आम जनता जिस हालत में है उससे भाजपा को कोई लेना देना नहीं है।

भाजपा तो बस सत्ता की राजनीति करना चाहती है। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि यहां पर आम जनता पानी, बिजली सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि सुविधाओं से महरूम है और दूसरी ओर भाजपा के बड़े नेताओं को खुश करने को लेकर करोड़ों रुपए फुके जा रहे हैं। कांग्रेस के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष आलोक कुमार साहू ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पेट्रोल और डीजल की महंगाई आसमान छू रही है।

रांची : मोदी सरकार के चार वर्ष होने पर कांग्रेस ने मनाया विश्‍वासघात दिवस

गरीब आदमी को दो वक्त के लिए खाना नहीं मिल पा रहा है। जीएसटी के बहाने व्यवसायियों को परेशान किया जा रहा है। शिक्षा और स्वास्थ्य का वही हाल है। इसके विपरीत भाजपा सरकार बस अपना ही राग अलाप रही है। जनता सब कुछ समझ चुकी है। आने वाले समय में जनता भाजपा को जवाब देगी। कांग्रेसी नेताओं ने धरना प्रदर्शन के उपरांत विभिन्न मुद्दों को लेकर राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन डीसी को सौंपा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

देवघर : मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर कांग्रेसियों ने मनाया विश्‍वासघात दिवस

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:03 PM

देवघर : मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर कांग्रेसियों ने मनाया विश्‍वासघात दिवस

जनता के विश्‍वास को मोदी सरकार ने तोड़ा

देवघर। देवघर में आज स्थानीय टावर चौक पर मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर कांग्रेस पार्टी द्वारा पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस में मूल्य वृद्धि के विरोध में विश्‍वासघात दिवस मनाया गया। कांग्रेस पार्टी के जिला अध्यक्ष मुन्नाम संजय सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

विरोध कर रहे जिला अध्यक्ष मुन्नाम संजय ने बताया कि बीजेपी सरकार के चार साल पूरे हो गए, और जनता से किया गया वादा अभी तक पूरा नहीं किया गया। जिन वादों पर मोदी सरकार सत्ता में आयी उसमें से एक भी वादा पूरा नहीं किया गया। बीजेपी सरकार द्वारा नोटबंदी, जीएसटी जैसी मार जनता को सहनी पड़ी। इस सरकार की कार्यकाल में जनता त्राहिमाम कर रही है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में डीजल, पेट्रोल, घरेलू गैस, दलहन, साग-सब्जी सभी में मूल्य वृद्धि हो गयी। जिसका कारण डीजल-पेट्रोल महंगा होने से हुआ है, जिससे जनता काफी परेशान है। लोगों का रसोई प्रभावित हो गया है।

देवघर : मलमास की तेरस आज, बाबा के मंदिर में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

संजय ने कहा कि अभी नोटबंदी और जीएसटी से मां-बहनें उबर नहीं पायी थी कि डीजल-पेट्रोल में मूल्य वृद्धि हो गयी। कुल मिलाकर बीजेपी सरकार ने अपने चार साल के कार्यकाल में जनता को पीड़ा देने का काम किया है।

जनता ने जिस विश्‍वास से सत्ता पर बिठाया मोदी सरकार ने उसी विश्‍वास को तोड़ने का काम किया है। जिसके विरोध में आज हमलोग विश्‍वासघात दिवस मना रहे हैं। आने वाले समय में जनता इसका जवाब जरूर देगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

X

अपना जिला चुने