कांग्रेस नेता शशि थरूर का बयान- बीजेपी की जीत से देश बनेगा ‘हिंदू पाकिस्तान’

NewsCode | 12 July, 2018 4:30 PM

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस नेता पर हमला बोलते हुए राहुल गाँधी से माफी मांगने को कहा।

newscode-image

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और तिरुवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर ने मंगलवार को कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में जीतती है तो वह ‘हिंदू पाकिस्तान’ बनने जैसे हालात पैदा करेगी। अपने संसदीय क्षेत्र तिरुवनंतपुरम में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही। थरूर ने आगे कहा कि बीजेपी नया संविधान लिखेगी जो भारत को पाकिस्तान जैसे मुल्क में बदलने का रास्ता साफ करेगा, जहां अल्पसंख्यकों के अधिकारों का कोई सम्मान नहीं होगा।

थरूर ने कहा, ‘अगर वे (बीजेपी) दोबारा लोकसभा चुनाव जीतते हैं तो हमारा लोकतांत्रिक संविधान खत्म हो जाएगा क्योंकि उनके पास भारतीय संविधान की धज्जियां उड़ाने और एक नया संविधान लिखने वाले सारे तत्व हैं।’ थरूर ने कहा, “उनका लिखा नया संविधान हिंदू राष्ट्र के सिद्धांतों पर आधारित होगा जो अल्पसंख्यकों के समानता के अधिकार को खत्म कर देगा और देश को ‘हिंदू पाकिस्तान’ बना देगा। महात्मा गांधी, नेहरू, सरदार पटेल, मौलाना आजाद और स्वतंत्रता संग्राम के महान सेनानियों ने ऐसे मुल्क के लिए लड़ाई नहीं लड़ी थी।”

भाजपा संविधान पर बड़े हमले की तैयारी में : थरूर

थरूर के इस बयान पर बीजेपी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। बीजेपी ने इसके लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से माफी की मांग की है। एएनआई से बातचीत में बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘शशि थरूर ने जो कुछ भी कहा है, उसके लिए राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए। इसी कांग्रेस पार्टी ने अपने स्वार्थ के लिए पाकिस्तान को जन्म दिया। पाकिस्तान आज टेररिस्तान है, जिसकी हिंदुस्तान से तुलना नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बार-बार हिंदुस्तान को नीचा दिखाने का प्रयास किया है। साथ ही हमेशा हिंदुओं को गाली देने का काम किया है।

बीजेपी ने बोला हमला

कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए पात्रा ने कहा था कि इससे पहले राहुल गांधी ने हिंदुओं को भगवा आतंकवादी कहा था। अब उनके नेता शशि थरूर ने हिंदुओं को गाली दी है। लिहाजा राहुल गांधी को इस के लिए माफी मांगनी चाहिए। यह पहली बार नहीं है, जब कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी पर हमला किया है।

बीजेपी प्रवक्ता ने ट्विटर पर भी कांग्रेस पर हमला बोला। पात्रा ने ट्वीट किया कि कांग्रेस भारत को नीचा दिखाने और हिंदुओं को बदनाम करने का कोई मौका नहीं खोती है। पात्रा ने लिखा, ‘थरूर कहते हैं कि अगर बीजेपी 2019 में फिर सत्ता में आती है तो भारत हिंदू-पाकिस्तान बन जाएगा! बेशर्म कांग्रेस भारत को नीचा दिखाने और हिंदुओं को बदनाम करने का कोई भी मौका नहीं गंवाती है। ‘हिंदू आतंकवादियों’ से लेकर ‘हिंदू-पाकिस्तान’ तक…कांग्रेस की पाक को खुश करने वाली नीतियों का कोई जवाब नहीं है!’


वहीं, सियासी हमले तेज होने के बाद कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने कहा है कि वह अपने उस बयान पर कायम हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि 2019 में बीजेपी की जीत से हमारा देश ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा। थरूर ने कहा है कि उनका इस बयान से पीछे हटने का कोई इरादा नहीं है और वह इसे बार-बार दोहराते रहेंगे।

कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने गुरुवार को ट्विटर और फेसबुक पर अपने बयान को लेकर सफाई जारी की है। थरूर ने ट्वीट में कहा है कि कई जगहों पर उनके बीजेपी की जीत से भारत के ‘हिंदू पाकिस्तान’ बनने के बयान को तोड़ा-मरोड़ा गया है। इसलिए वह अपने बयान को फिर से स्पष्ट कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट का लिंक दिया है।


फेसबुक पर उन्होंने लिखा, ‘मैंने यह पहले भी कहा है और फिर से कहूंगा। पाकिस्तान का निर्माण बहुसंख्यकों के धर्म के आधार पर हुआ था। इससे धार्मिक अल्पसंख्यकों से भेदभाव होता है और उन्हें समान अधिकार नहीं मिलते। भारत ने यह तर्क कभी स्वीकार नहीं किया जिससे देश का विभाजन भी हुआ।’

थरूर ने आगे लिखा है, ‘बीजेपी/आरएसएस के हिंदू राष्ट्र का विचार देश को पाकिस्तान जैसा बनाने का है। ऐसा देश जहां अल्पसंख्यकों के धर्म को बहुसंख्यकों का धर्म के अधीन समझा जाता है। ऐसा करने से देश ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा और हमारा स्वाधीनता संग्राम इसलिए नहीं लड़ा गया था। न ही ऐसे देश का विचार हमारे संविधान में संकलित है।’

इससे पहले इसी साल जनवरी में थरूर ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि मोदी देश के संविधान को पवित्र तो कहते हैं, लेकिन वह हिंदुत्व के पुरोधा पंडित दीन दयाल उपाध्याय को नायक के तौर पर सराहते भी हैं। एक ही समय में उपाध्याय और संविधान की तारीफ नहीं की जा सकती है।

सुनंदा पुष्कर मर्डर केसः कांग्रेस नेता शशि थरूर को कोर्ट से मिली जमानत

किसान कल्याण रैली में बोले पीएम मोदी- किसान चैन से सो जाए, ये कांग्रेस को मंजूर नहीं

रांची : बीजेपी पर बरसे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, लगाए कई आरोप

NewsCode Jharkhand | 19 September, 2018 8:46 PM
newscode-image

रांचीआयुष्मान भारत का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 सितंबर को झारखंड आ रहे हैं । इसके लिए तैयारियां जोरो-शोरो से चल रही हैं । वहीं दूसरी तरफ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डॉक्टर अजय कुमार ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

प्रेस को संबोधित करते हुए डॉक्टर अजय ने कहा कि आयुष्मान भारत का उद्घाटन 13 अप्रैल 2018 को छत्तीसगढ़ में हो चुका है, तो फिर दोबारा उसका उद्घाटन 23 अप्रैल 2018 को झारखंड से कैसे करेंगे प्रधानमंत्री?

आयुष्मान भारत और कुछ नहीं बल्कि भाजपा सरकार की आयु बढ़ाने वाली योजना है। चुनाव का मौसम है।  चुनाव सर पर है और इलेक्शन से ठीक 7 महीने पहले ऐसी योजनाओं को लाना जाहिर तौर पर चुनावी हथकंडा है।

भोले- भाले जनता को गुमराह कर रही है सरकार 

ऐसी बहुत सारी योजना है जो मोदी सरकार ने भोली भाली जनता को गुमराह  करने के लिए बनाई है। इसका कुछ उदाहरण मैं आपको देता हूं।  2016 में जेटली जी ने संसद में कहा था कि 10 करोड़ परिवार को 1 लाख देंगे  पर  यह  स्कीम सिर्फ 40 हजार लोगों तक हीं  पहुंचा।

दूसरा, आवासीय योजना में 5 करोड़ मकान देने का वादा था जबकि सरकारी रिपोर्ट के अनुसार अभी तक सिर्फ 3 लाख 90 हजार ही मकान बन पाए हैं। तीसरा,सरकार एक प्राइमरी सेंटर बनाने के लिए 80  हजार खर्च कर रही है, मैं पूछना चाहता हूं कि 4 हजार स्क्वायर फिट का प्राइमरी सेंटर 80 हजार में कैसे बनेगा?

उसी तरह अटल पेंशन योजना में दो करोड़ लोगों को फायदा पहुंचाना था जबकि अभी तक सिर्फ 8% लोगों को इसका लाभ मिल पाया है। स्वच्छ भारत की आप बात ही छोड़ दें। स्मार्ट सिटी को लेकर केवल दो परसेंट तक ही काम हो पाया है।

नमामि गंगे पर हुआ है  0% काम

अभी तक,  नमामि गंगे में 0% काम हुआ है। सरकार केवल स्कीम पर स्कीम ला रही है लेकिन धरातल पर अभी तक इनका काम शून्य है।

अगर मैं अपराध की बात करूं तो राज्यभर में बलात्कार, मर्डर ,लूट ,डकैती, चेन स्नेचिंग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। प्रशासन  की ओर से अभी तक कोई गिरफ्तारी या  कार्रवाई  नहीं हुई है। सरकार इसका जवाब दें क्योंकि डीजीपी साहब तो सिर्फ कोर्ट की फटकार खाने और CM हाउस के चक्कर लगाने में व्यस्त हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

धनबाद : डीसी कार्यालय के सामने दो पक्षों में हुई नोंक-झोंक

NewsCode Jharkhand | 19 September, 2018 10:03 PM
newscode-image

धनबाद। डीसी कार्यालय के समक्ष दो पक्षों के बीच बुधवार को जमकर नोंक-झोंक हुई। लड़की से मिलने नहीं देने तथा उन्हें बताये बगैर न्यायालय में लड़की का बयान दर्ज कराए जाने को लेकर लड़की के परिजन हंगामे पर उतारू हो गए।

बीच सड़क पर दो पक्षों के बीच बढ़ते नोक -झोक को लेकर पुलिस को भी उन्हें शांत कराने में भारी मशक्कत करनी पड़ी। लड़की पक्ष के गुस्से को शांत कराकर तोपचांची पुलिस लड़की के साथ लड़का पक्ष को महिला थाने पहुंचाई।

धनबाद : एटीएम गार्डों ने बिना वेतन व नोटिस के काम से हटाने का किया विरोध

तोपचांची थाना क्षेत्र के दुमदुमी निवासी जगन्‍नाथ पांडेय पिछले 8 तारीख को अपने ही गांव के युवक व उसके साथियों पर पुत्री का अपहरण कर लेने की शिकायत तोपचांची थाने में दर्ज कराई थी। दर्ज बयान में उन्‍होंने कहा था कि पुत्री सुबह में शौच के लिए घर से निकली तभी उपरोक्त युवकों ने पुत्री का अपहरण कर फरार हो गया।

पुलिस की छानबीन में परिजनों को जानकारी मिली की उनकी पुत्री को युवक व उसका साथी अपहरण कर दिल्ली ले गया है। बुधवार को तोपचांची पुलिस युवक-युवती को धनबाद न्यायालय लेकर पहुंची।

सूचना पाकर लड़की के परिवार वाले भी कोर्ट पहुंचे। यहां उन्हें पता चला की लड़की का बयान कोर्ट में दर्ज करा दिया गया है। बयान दर्ज कराने से पूर्व लड़की से भेंट नहीं कराये जाने को लेकर गुस्साए परिजन युवक के घरवालों से नोक-झोंक करने लगे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

बड़कागांव : जनता दरबार की जानकारी नहीं दिए जाने पर भड़के जनप्रतिनिधि

NewsCode Jharkhand | 19 September, 2018 9:54 PM
newscode-image

बड़कागांव(हजारीबाग)। आम लोगों की समस्याओं के समाधान हेतु राज्य सरकार द्वारा प्रखंड स्तर पर लगाए जा रहे जनता दरबार का महत्व उस समय समाप्त हो गया, जब बड़कागांव प्रखंड मुख्यालय में आयोजित जनता दरबार में ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति नगण्य देखी गई। वहीं नियमित रूप से प्रखंड व अंचल में अपने व्यक्तिगत काम को लेकर पहुंचे ग्रामीण व जनप्रतिनिधियों ने जमकर अपनी भड़ास निकाली और इस पर नाराजगी जाहिर की। लगता है जैसे जनता दरबार महज कोरम पूरा करने की चीज बनकर रह गयी है।

जनप्रतिनिधियों के अनुसार उन्‍हें या ग्रामीणों को जनता दरबार के आयोजन के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई ओर गुपचुप तरीके से इसका आयोजन करके खानापूर्ति की जा रही है। लोगों ने कहा कि बड़कागांव की स्थिति दयनीय इसलिए है क्‍योंकि यहां कार्यरत पदाधिकारी, कर्मचारी के साथ-साथ जिले के पदाधिकारियों का भी रवैया उदासीन है। कोई भी कार्य जमीनी स्तर पर नहीं करके महज कागजों तक ही सीमित रखा जा रहा है।

कटकमसांडी : छुरेबाजी की घटना में युवक घायल, गंभीर हालत में रिम्‍स रेफर

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

जमशेदपुर : गौरी सबर की स्मृति में समाधान संस्था ने...

more-story-image

दुमका : किराना स्टोर में पुलिस ने किया छापेमारी, डुप्लिकेट...