सरिया : रामनवमी जुलूस में महावीरी झंडा घुमाने के मार्ग को लेकर बैठक

NewsCode Jharkhand | 13 March, 2018 10:05 PM

सरिया : रामनवमी जुलूस में महावीरी झंडा घुमाने के मार्ग को लेकर बैठक

पूर्व से चल रहा विवाद

सरिया (गिरिडीह)। अनुमंडल सभागार सरिया में मंगलवार को एक आवश्यक बैठक की गई। बैठक की अगुवाई एसडीओ पवन कुमार मंडल तथा एसडीपीओ दीपक कुमार शर्मा ने संयुक्त रूप से किया। बैठक में सरिया प्रखंड के मोकामो गांव में रामनवमी जुलूस में महावीरी झंडा घुमाने के मार्ग पर संभावित विवाद पर चर्चा की गई। बैठक में गांव के दोनों समुदाय से पूर्व गठित 11 सदस्यीय टीम के लोग व कई प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में एक पक्ष द्वारा शिकायत की गई कि गांव में जब-जब धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन होता है। उस वक़्त दूसरे संप्रदाय के लोगों द्वारा  जानबूझकर विवाद खड़ा किया जाता है।

वहीं शवयात्रा, अस्थि प्रवाह आदि में भी रोक लगाकर पूर्व में विवाद किया जा चुका है। गांव में वर्षों से अर्धनिर्मित विश्वकर्मा मंदिर को बनाने का निर्णय लिया तो उसमें भी दूसरे समुदाय के लोगों ने मंदिर निर्माण कार्य पर रोक लगा दिया था। जिसका निपटारा अभी तक नहीं हुआ। लोगों ने कहा कि इनसब कारणों से हमेशा टकराव की स्थिति बनी रहती है।

बोकारो : उपायुक्त ने कार्यालय से बाहर निकल कर सुनी मल्हार समुदाय की समस्या

एक पक्ष के लोगों ने कहा कि वर्ष 1978 में  रामनवमी  त्योहार में महावीरी झंडा घुमाने को लेकर दोनों संप्रदाय के बीच बनी सहमति को कायम किया जाए। जबकि दूसरे पक्ष के लोगों ने प्रशासनिक अधिकारियों से मांग की है कि वर्ष 1994 में रामनवमी झंडा घुमाने पर तत्कालीन उपायुक्त कृष्णा प्रसाद तथा आरक्षी अधीक्षक ताज हसन द्वारा कराए गए समझौते को बरकरार रखा जाए।

उसी रास्ते से रामनवमी झंडा घुमाया जाए जिसमें दोनों संप्रदाय के बीच गांव में शांति और सद्भाव पूर्ण वातावरण बनी रहे। दोनों पक्षों को सुनने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा निर्णय लिया गया कि बुधवार को अधिकारियों द्वारा स्थल निरीक्षण किया जाएगा इसके बाद जुलूस को लेकर निर्णय लिया जाएगा।

बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारी शशि भूषण वर्मा, अंचलाधिकारी सुनीता कुमारी ,अंचल पुलिस निरीक्षक रामनारायण चौधरी, जिप सदस्य अर्जुन आर्य ,स्थानीय मुखिया अनवर हुसैन, नेमचंद पंडित ,गुलाब सिंह ,मनोज वर्मा, सलीम अख्तर, सिराज अंसारी, इकबाल अंसारी, दौलत सिंह, गणेश पंडित सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

धनबाद : मनमुताबिक रिजल्ट नहीं आने पर छात्र ने पानी टंकी से कूदकर दे दी जान

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 7:07 PM

धनबाद : मनमुताबिक रिजल्ट नहीं आने पर छात्र ने पानी टंकी से कूदकर दे दी जान

परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

धनबाद। सीबीएसई ने बारहवीं परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिया, लेकिन एक ऐसे परिवार है जहां खुशी के जगह मातम में बदल गयी। सरायढेला थाना अंतर्गत सुगियाडीह बैंक कॉलोनी के रहने वाले  प्रियांशु रंजन नामक छात्र ने खराब रिजल्‍ट आने से इतना आहत हुआ की पानी टंकी से कूदकर अपनी जान दे दी। पुलिस ने उसका शव घर के पास से बरामद किया है।

मृतक का पिता धनबाद प्रखंड कार्यालय में प्रोग्राम ऑफिसर के पद पर कार्यरत है। बताया जा रहा है कि मृतक जसीडीह पब्लिक स्कूल में 12वीं साइंस का छात्र था।

मृतक के पिता यहां धनबाद में भाड़े के मकान में रहते हैं। छात्र की मौत संदेहहस्पद बनी हुई है। आसपास के लोगों की नजर जब मृतक पर पड़ी तो मामला प्रकाश में आया। छात्र की मौत को लेकर कई तरह की चर्चा हो रही है। घर के पास की पानी टंकी से कूदकर आत्महत्या करने की बात सामने आ रही है। शनिवार को सीबीएसई का रिजल्ट भी जारी हुआ है।

मृतक की मौत की वजह परीक्षा में खराब रिजल्ट आना भी बताया जा रहा है। फिलहाल कोई इस मामले में स्पष्‍ट जानकारी नहीं दे पा रहे हैं। पुलिस भी मामले की पूर्ण जांच पड़ताल से पूर्व कुछ भी कहने से बच रही है। पुलिस मौके पर पहुंचकर शव की शिनाख्त के बाद पीएमसीएच पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

झरिया : धमाकेदार आवाज के साथ धंसी जमीन, कई घरों में पड़ी दरारें

इधर घर के पास छात्र का शव पाये जाने के बाद भारी संख्या में आसपास के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। स्थानीय लोगों के द्वारा ही मृतक की पहचान हुई। जिसके बाद उसके घरवालों को घटना की खबर दी गई। मृतक के पिता इस घटना से सदमे में है। जवान बेटे की मौत ने एक पिता को अंदर से हिला दिया है।

पुलिस की तहकीकात के बाद ही यह पूर्ण रूप से स्पष्‍ट हो पायेगा की यह आत्महत्या है या फिर हत्या तथा इसके पीछे की वजह क्या है। फिलहाल परिजन भी कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Read Also

बोकारो : झारखंड सरकार के आदेश के बिना जमीन का सर्वे नही- योगेन्द्र कुमार

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:59 PM

बोकारो : झारखंड सरकार  के आदेश के बिना जमीन का सर्वे नही- योगेन्द्र कुमार

बोकारो। मुखिया संघ नावाडीह प्रखंड के कार्यकारी अध्यक्ष सह कंजकीरो पंचायत के मुखिया ने कहा  झारखंड सरकार के आदेश के बिना प्रखंड में कहीं भी जमीन का सर्वे नही होने दिया जायेगा।

योगेन्द्र कुमार रंजन ने कहा कि गत 24 मई को अंचल अधिकारी नावाडीह ने सर्वे विभाग के अमीनों के द्वारा जमीन सर्वे का काम करने में सहयोग करने को कहा था।

लेकिन प्रखंड के मुखिया गण द्वारा झारखण्ड राज्य सरकार के किसी प्रकार के हालिया आदेश या दिशा निर्देश के बिना सहयोग करने से इंकार कर दिये। बिहार सरकार के  पैतीस-चालीस साल पुराने आदेश के आलोक में जमीन सर्वे के किसी प्रकार के काम में सहयोग नही किया जा सकता है। इसमें किसी तरह की जन समस्या खड़ी होने पर कोई जवाबदेही नही लेगा।

पाकुड़ : गुणवत्ता को लेकर लपारवाही बरतने पर होगी कार्रवाई – उपायुक्त

इस लिए यहां के सांसद, विधायक, प्रमुख, उप प्रमुख, जिप सदस्य, मुखिया गण, पंचायत समिति के सदस्य गण और अन्य गणमान्य लोगों से राय परामर्श लिया जायगा। हो सकता है उपायुक्त बोकारो या माननीय मंत्री भू राजस्व विभाग झारखंड सरकार से दिशा-निर्देश लेने के बाद ही जमीन का सर्वे का कार्य आगे बढ़ाया जा सकेगा।

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

लोहरदगा : अब नहीं हो सकती है राजस्‍व की चोरी – उपायुक्‍त

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:17 PM

लोहरदगा : अब नहीं हो सकती है राजस्‍व की चोरी – उपायुक्‍त

लोहरदगा। अब कोई भी राजस्व की चोरी नहीं कर पाएगा। इसे लेकर खनन टास्क फोर्स ने कमर कस ली है। लोहरदगा में उपायुक्त विनोद कुमार ने अवैध खनन को लेकर कड़े तेवर अख्तियार करते हुए खनन टास्क फोर्स के अधिकारियों का स्पष्ट निर्देश दिया है कि कहीं पर भी अवैध खनन की जानकारी मिलती है तो तुरंत छापेमारी कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करें।

किसी भी हाल में राजस्व का नुकसान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। डीसी ने स्पष्ट तौर पर कहा कि लीज एरिया से ज्यादा क्षेत्र में किसी भी प्रकार का खनन करना अवैध है। इस मामले में यदि किसी सरकारी पदाधिकारी या कर्मचारी की संलिप्तता भी पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

रांची : राजकीयकृत मध्य विद्यालय के समर कैंप में बच्चों ने की जमकर मस्ती

बालू के अवैध उठाव को लेकर भी डीसी ने सख्ती दिखाया, उन्होंने कहा कि जब तक बालू का लिज निर्धारण नहीं होता है तब तक अवैध रूप से बालू का उठाव नहीं होना चाहिए। साथ ही शिकायतें मिल रही है कि बॉक्साइट माइंस में जंगली औऱ वन क्षेत्र से बॉक्साइट का खनन किया जा रहा है।

इन मामलों पर संज्ञान लेते हुए तत्काल जांच कर कार्रवाई करें। पत्थर के अवैध खनन को लेकर भी डीसी ने स्पष्ट निर्देश दिए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

X

अपना जिला चुने