सरायकेला : गुप्त सूचना के आधार पर लाखों का गांजा जब्त, तस्कर भागने में सफल

NewsCode Jharkhand | 17 June, 2018 8:40 PM
newscode-image

सरायकेलाखरसावां जिले के राजनगर थाना क्षेत्र के रांजड़ गांव के नेहरू कुमभकार के घर से राजनगर थाना पुलिस ने अवैध गांजा का जखीरा बरामद किया है। वहीं गांजा तस्कर नेहरू कुंभकार पुलिस की आंखों मे धूल झोककर भागने में सफल रहा। वहीं पुलिस ने नेहरू कुम्भकार के घर से करीब 51 किलो सील पैक गांजा और करीब दो किलो खुला गांजा जब्त किया है।

सरायकेला : अधिवक्ता संघ की बैठक, जल संकट पर जताई चिंता

वहीं पुलिस कप्तान ने बताया कि काफी दिनों से राजनगर थाना क्षेत्र में अवैध गांजा की खेप आने की सूचना मिल रही थी, जिसके बाद उन्होंने बड़ा डील होने का मौका देखा उसके बाद गुप्त सूचना के आधार पर टीम का गठन कर छापेमारी की। वहीं छापेमारी के दौरान इतना भारी मात्रा में गांजा पकड़ा गया।

जिले के एसपी ने इसे बड़ी सफलता बताई और छापेमारी दल में शामिल सभी पुलिसकर्मियों को पारितोषिक देने की बातें कहीं। वही पकड़े गए गांजे का बाजार मूल्य करीब पांच लाख बताया जा रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : जय हो सेवा संस्था के अध्यक्ष पर युवती ने लगाया रेप का आरोप

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 8:57 PM
newscode-image

घटना के बाद युवती की हुई मेडिकल जांच

रांची। बुंडू में एक युवती के साथ बलात्कार की सनसनीखेज घटना सामने आई है। ‘जय हो सेवा संस्था’ बुंडू के अध्यक्ष सह समाज सेवक राजकिशोर कुशवाहा पर युवती ने रेप का आरोप लगाया है।

राजकिशोर कुशवाहा ने युवती को फंसाया प्रेम जाल में

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि राजकिशोर कुशवाहा ने युवती को पहले दोस्ती बढ़ायी, उसके बाद युवती के साथ रेप किया। जब युवती ने इसका विरोध किया तो राजकिशोर कुशवाहा ने युवती को जान से मारने की धमकी भी दी है। डरी सहमी युवती ने इस बात की जानकारी किसी को नहीं दी।

युवती के अनुसार राजकिशोर कुशवाहा दोस्ती का नाजायज फायदा उठाते हुए एक वर्ष तक उसका यौन शोषण करता रहा। जान के भय का हवाला देते हुये इस बात की जानकारी पीड़िता ने अपने परिवार तक को नहीं दी। युवती बुंडू में किराये के एक मकान में रहकर ग्रेजुएशन में पढ़ाई करती है। इंसाफ पाने के लिए युवती ने पुलिस के पास पहुंचकर गुहार लगाई है।

माननीयों की लड़ाई सदन से लेकर सड़क तक, जिम्मेदार कौन ?

युवती की हुई मेडिकल जांच

बुंडू थाने में एफआईआर के बाद शुक्रवार 20 जुलाई को युवती का मेडिकल जांच कराया गया। इधर आरोपी को अब तक गिरफ्तार नहीं की गई है।

क्या कहते हैं थाना प्रभारी ?

हालांकि इस मामले में ‘न्यूज़कोड’ जब बुंडू थाना प्रभारी संचमान तमांग से बातचीत की तो उन्होंने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया और बचते दिखे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

बोकारो : जिले के चयनित ग्रामों में महत्वपूर्ण योजनाओं को शत-प्रतिशत पूरा करें- मुख्य सचिव

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:16 PM
newscode-image

बोकारो। मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी एवं विकास आयुक्त डीके तिवारी ने सभी जिला उपायुक्तों के साथ ग्राम स्वराज अभियान फेज-2 एवं एस्प्रेशनल डिस्ट्रीक से संबंधित वीडियो मे संवाद किया। बोकारो से उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बरणवाल ने वीडियो संवाद में भाग लिये।

मुख्य सचिव त्रिपाठी ने उपायुक्त बरणवाल को निर्देश दिया कि ग्राम स्वराज अभियान फेज-2 के लिए जिले के चयनित 367 ग्रामों में 15 अगस्त तक केन्द्र सरकार की 07 महत्वपूर्ण योजनाओं का शत-प्रतिशत आच्छादन कराना सुनिश्चित करें।

बेरमो : विभाग के रोक बावजूद चल रहा है अवैध बालू का कारोबार

 

उन्होंने विशेषकर प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना एवं उजाला योजना को विशेष रूप से प्राथमिकता के आधार पर आच्छादित करने का निदेश दिया। एस्प्रेशनल डिस्ट्रीक की समीक्षा करते हुए विकास आयुक्त डीके तिवारी ने उपायुक्त बोकारो को निर्देश दिया कि एस्प्रेशनल डिस्ट्रीक हेतु निर्धारित 49 बिन्दुओं पर प्रतिमाह अद्यतन करते हुए ससमय लक्ष्य को पुरा करें।

गोमिया : खाद्य आपूर्ति व सार्वजनिक वितरण के अंडर सेक्रेटरी पहुंचे बिरहोर टोला

 

वीडियो संवाद के दौरान उप विकास आयुक्त रवि रंजन मिश्रा, जिला पंचायती राज पदाधिकारी  मेनका, उपाधीक्षक सदर अस्पताल डॉ. अर्जुन प्रसाद, जिला कृषि पदाधिकारी राजीव कुमार मिश्रा, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी  सुमन गुप्ता, वरीय लेखा पदाधिकारी पंकज दुबे सहित अन्य उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गिरिडीह : छात्राओं  से छेड़छाड़ के आरोपियों  की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सड़क जाम

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:13 PM
newscode-image

गांवा (गिरिडीह)।दलित छात्राओं के साथ छेड़छाड़ और बेरहमी से पिटाई के विरोध में भाकपा माले के नेतृत्व में सड़क जाम कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की गई। बतला दें कि गुरूवार को सेरूआ पंचायत के चेरवा की चार दलित छात्राएंट्यूशन पढ़ कर लौट रही थी। तभी शाम के करीब छह बजे सुनसान इलाका कुरची मोड़ के समीप उनलोगों के साथ कुछ दबंगों ने छेड़छाड़ शुरू कर दी।

विरोध करने पर दबंगों ने छात्राओं को लात-घूंसों से बेरहमी से पिटाई कर दी। इस पिटाई में एक छात्रा गंभीर रूप से घायल हो गई और कई बार बेहोश भी हुईं। फिलहाल उक्त छात्रा का गिरिडीह के सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। बताया जाता है कि छात्रा की हालत अब भी ठीक नहीं हुई है और बार-बार बेहोश हो जा रही है।

पुलिस की कार्यशैली पर उठे सवाल

मामले को लेकर जब छात्राओं के साथ ग्रामीण गांवा थाना पहुंचे तो वहांपुलिस का रवैया सहयोगात्मक नहीं रहा। ग्रामीणों की मानें तो थानेदार रंजीत रौशन ने ग्रामीणों व छात्राओं के अभिभावकों को भी बाहर कर दिया और पीड़ित छात्राओं से जैसे-तैसे आवेदन लिखवाकर एफआईआर दर्ज किया।

गिरिडीह : अफगानिस्तान में फंसे मजदूरों के प्रति सरकार संवेदनहीन- विनोद 

आरोप है कि थानेदार ने जानबुझ कर आवेदन कमजोर लिखवाया ताकि आरोपियों की मदद की जा सके। इसका परिणाम है कि दर्ज एफआईआर में दलित प्रताड़ना का दफा नहीं लग सका है। यहां तक कि लोगों ने रात में आरोपियों के घर में छापामारी कर उनको गिरफ्तार करने की मांग की तो थानेदार ने जांच की बात कह तुरंत एक्शन लेने से इनकार कर दिया। इस कारण आरोपियों को भागने का मौका मिल गया। गिरफ्तारी की मांग पर चार घंटे सड़क जाम घटना से आक्रोशित लोगों ने भाकपा माले के नेतृत्व में गावां-गिरिडीह मुख्य पथ को लगभग चार घंटे तक जाम कर प्रशासन व सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आंदोलनकारी घटना के विरोध में कड़ी धूप में भी लगभग तीन घंटे तक बीच सड़क पर बैठकर सड़क जाम रखा।

डीएसपी से वार्ता के बाद खत्म हुआ आंदोलन सड़क जाम की सूचना पर खोरीमहुआ डीएसपी प्रभात रंजन बरवार मौके पर पहुंचकर आंदोलनकारियों से वार्ता की। इस दौरान डीएसपी ने घटना के तुरंत बाद गांवा  पुलिस के एक्टिव नहीं होने पर गावां थानेदार से स्पष्टीकरण मांगे जाने की बात कही।

इसके अलावा डीएसपी ने एफआईआर में सभी जरूरी धाराओं को जोड़ने का भी आश्वासन दिया। इसके अलावा 24 घंटे में आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। इसके बाद आंदोलनकारियों ने आंदोलन को समाप्त कर दिया। ये थे मौजूद पैदल मार्च व सड़क जाम में झाविमो प्रखंड अध्यक्ष श्रीराम यादव, रंधीरचौधरी, जयराम यादव, पिंटू रविदास, उमेश रविदास, संदीप रविदास, भरत यादव,आनंदी यादव, सदानंद यादव, पंकज दास समेत सैकड़ों की संख्या में महिला व
पुरूष मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

सिमडेगा : भूमि अधिग्रहण बिल के विरोध में झामुमो ने...

more-story-image

बोकारो : नगर विकास मंत्री का युवा काँग्रेस ने किया...