चांडिल : दो शिक्षक के भरोसे से चल रहा है हाई स्कूल, पठन-पाठन प्रभावित, छात्र परेशान

NewsCode Jharkhand | 12 July, 2018 8:09 AM

सरायकेला जिले के कुकड़ू प्रखंड के तिरुलडीह राजकीयकृत उच्च विद्यालय का मामला

newscode-image

चांडिल (सरायकेला) । सरायकेला जिले के कुकड़ू प्रखंड के तिरुलडीह राजकीयकृत उच्च विद्यालय मात्र दो शिक्षक के भरोसे चल रहा है। शिक्षक नहीं रहने के कारण छात्र-छात्राओं को पठन-पाठन में काफी कठिनाई का सामना पड़ रहा है। स्कूल में पदस्थापित सत्यविचार सिंह संस्कृत विषय एवं प्रशांत सिंह मुरा बंगला विषय के शिक्षक है। इन दोनों शिक्षकों को ही सभी विषयों की क्लास लेनी पड़ रही है।

इस विद्यालय में 206 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। इसमें कक्षा नौ में 170 और कक्षा दस में 136 छात्र-छात्राएं पढ़ रहे हैं। शिक्षकों की कमी के कारण रोज यहां पठन-पाठन प्रभावित हो रही है। साल दर साल यहां नामांकन कराने वाले छात्रों की संख्या घट रही है। स्कूल में हिंदी,अंग्रेजी,विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, इतिहास, भूगोल आदि के एक भी शिक्षक नहीं हैं। संस्कृत के शिक्षक सत्यविचार सिंह ही स्कूल के प्रभारी प्राचार्य हैं।

झरिया : वाट्सएप से मिले आइएसएल के पूर्ववर्ती छात्र, यादें हुईं ताजा

ऐसे में समझा जा सकता है कि स्कूल में पठन-पाठन की स्थिति क्या होगी? कार्यालय के काम भी उन्हीं को करना पड़ता है। लंबे समय से यहां शिक्षकों के पदस्थापना की मांग हो रही है, परंतु अब तक शिक्षकों की पदस्थापना नहीं हो सकी है। स्कूल में दो शिक्षक के आलावे एक पियून टिपरु मुंडा पदस्थापित हैं। प्रभारी प्राचार्य सत्यविचार सिंह को सरायकेला या अन्य कहीं जाने की स्थिति में स्कूल में पठन पाठन डमाडोल हो जाती है।

वही पदस्थापित प्रभारी प्राचार्य सत्यविचार सिंह भी जून 2019 में सेवानिवृत्त हो जाएंगे। वही शिक्षकों की कमी के कारण इस स्कूल में अब तक प्लस टू (इंटरमीडिएट) की पढ़ाई शुरू नहीं की गई है। वर्ष 2016-17 में यहां प्लस टू की पढाई के लिए भवन भी बनाया गया है। इस साल से यहां इंटर की पढ़ाई शुरू करने का विभागीय निर्देश दिया गया है परंतु अबतक शिक्षकों की पदस्थापना नहीं की गई है। जिसके कारण छात्र-छात्राए नामांकन लेने से किनारा कर रहे हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

झरिया : गर्म ओबी से झुलसे बच्चे की स्थिति गंभीर, BCCL के एरिया 9 की घटना

Rajnish Sinha | 20 July, 2018 2:23 PM
newscode-image

झरिया (धनबाद) । बीसीसीएल के एरिया 09 के राजापुर परियोजना में आउट सोर्सिंग कम्पनी के द्वारा किया जा रहा ओबी डंप की चपेट में आने से 12 वर्षीय कलका सागर भुइयां झुलस गया। सागर सौच के लिए गया था।  लौटने के दौरान कोयला उत्खनन में निकला गर्म ओबी को डंप किया गया था। जिसकी चपेट में बालक आ गया और आधा शरीर जल गया ।

देवरी : स्कूल प्रबंधन समिति के पुनर्गठन की बैठक में हुई मारपीट

आनन-फांनन में इलाज के लिए पीएमसीएच ले जाया गया। बच्चे की स्थिति गंभीर बनी हुई है। इधर ओबी डंप में अनियमितता को लेकर स्थानीय लोगों ने विरोध कर कार्य को बंद करा दिया। लोगो का कहना है की मनमाने तरिके से गर्म ओबी डंप किया जाता है। बच्चा डंप स्थल से दूर रास्ते से आ रहा था। फिर भी ओबी के चपेट में आ जान से घायल हो गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

देवघर : दरिंदे बाप की खौफनाक करतूत, 35 दिन की नवजात का घोंटा डाला गला 

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 1:59 PM
newscode-image

देवघर । देवघर के उपरी सिंघवा इलाके में एक बाप ने महज 35 दिन की नवजात को सिर्फ इसलिए मौत की नींद सुला दिया। क्योंकि, वो उसकी मनचाही औलाद नहीं थी यानि, वो बेटा नहीं बेटी थी। दरअसल, देवघर के उपरी सिंघवा मोहल्ले की रहने वाली एक युवती की शादी बिहार के चांदन थाना इलाके के रहने वाले प्रसादी पंडित के साथ हुई थी।

देवघर : श्रावणी मेले को लेकर रंग-रोगन का काम तेज, रास्‍ता-घाट केसरियामय आएगा नजर

 शादी के बाद से ही पति समेत ससुराल वालों की चाहत थी। कि, उनकी बहू एक पोते को जन्म दे लेकिन, एक महीने पहले युवती ने अपने मायके में एक बेटी को जन्म दिया। बेटी के जन्म लेने की खबर मिलने के बाद वो जालिम बाप अपनी पत्नी और बच्ची को देखने बीच बीच मे आया करता था।

लेकिन बीती रात अचानक प्रसादी पंडित कत्ल की साजिश को अंजाम देने की नीयत से अपने ससुराल पहुंचा। जहां उसकी खूब खातिरदारी की गई। लेकिन, ससुराल वाले अपने दामाद की खौफनाक साजिश से बेखबर थे।

देवघर : युवा किसान खेती का प्रशिक्षण लेने इजराइल जाएंगे

 

 फिर क्या था, रात के वक्त प्रसादी पंडित अपनी पत्नी और नवजात बच्ची के साथ सोने के लिए अपने कमरे में चला गया । और आधी रात के वक्त उस दरिंदे ने मासूम बच्ची की गला घोंटकर हत्या कर दी। इतना ही नहीं अपनी साजिश को अंजाम देने के बाद वो कातिल बाप आधी रात के वक्त ही मौके से फरार भी हो गया। और जब अंधेरा छटा तो सूरज की पहली किरण के साथ ही उस घर में कोहराम मच गया।

 फिलहाल पुलिस ने उस बेरहम दरिंदे प्रसादी पंडित के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है। लेकिन, एक बेटे की चाह में महज 35 दिन की नवजात बेटी के कत्ल की इस खौफनाक वारदात ने एक बार फिर सभ्य समाज पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है।

देवघर : शातिर मोबाइल चोर लड़की पुलिस हिरासत में

 

 वहीं स्थानीय जोनल चेयरमेन नारायन सुमन की माने तो ऐसे कुरीतियो को अंजाम देने वाले लोगो को समाज मे रहने लायक नही है। और ये घटना बहुत ही शर्मनाक है जहां लोग कहती है बेटी बचाओ बेटी बढ़ाओ जहां बेटी शांति है बेटी समृद्धि है और एक तरफ पिता ही बेटी का गला घोट रहा है ऐसे व्यक्ति को समाज मे रहने की कही जगह नहीं है ।

​(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

लातेहार : प्रशिक्षण से आती है दक्षता : प्रशिक्षण शिविर में बोले उपायुक्त

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 1:48 PM
newscode-image

लातेहार । भारतीय निर्वाचन प्रणाली के अंतर्गत समाहरणालय सभागार में एक दिवसीय निर्वाचन पाठशाला को लेकर एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का उदघाटन उपायुक्त  राजीव कुमार एवं उप विकास आयुक्त अनिल कुमार सिह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया।

कार्यक्रम को संबाधित करते हुए उपायुक्त  ने कहा कि प्रशिक्षण से कार्य में दक्षता आती है। उन्होंने कहा कि निर्वाचन का कार्य काफी जिम्मेवारी भरा है इस कार्य को पूरी ईमानदारी से करें ताकि देश में निष्पक्ष एवं मजूबत शासन का निर्माण हो सके। कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त ने मतदाताओं में जागरूकता लाने को लेकर भी पदाधिकारी एवं बीएलओ  को प्रेरित किया। इस दौरान उन्होंने जिले के 18 वर्ष के आयू के सभी लोगों को जोड़ने की बात कही।

चाईबासा : प्रचंड गर्मी और अनियमित पेयजल आपूर्ति से शहर की जनता हलकान

उप विकास आयुक्त अनिल कुमार सिंह ने कहा कि मतदाताओं में जागरूकता लाने से ही मतदान का प्रतिशत बढ़ेगा। उन्होंने सभी निर्चाचन अधिकारियों एवं कर्मियों पूरी ईमानदारी से कार्य कर आने वाले लोकसभा एवं विधान सभा चुनाव में मतदान का प्रतिशत बढ़ाएं।

इस दौरान प्रिंस गोडविन कुजूर ने निर्वाचन संबंधित कई महत्वपूर्ण बातों को बताया। उन्होंने विद्यालय स्तर पर चुनाव पाठशाला का आयोजन कर मतदान के महत्व को बता कर बच्चों को जागृत करने की बात कही। मौके पर एसडीओ जयप्रकाश झा, महुआडांड़ एसडीओ सुधीर दास समेत नोडल पदाधिकारी एवं बीएलओ  उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

चास : कृषि विभाग द्वारा  मूंगफली बीज का वितरण

more-story-image

लातेहार : लंबित योजनाओं को दें गति : उपायुक्त, ITDA...