रांची : स्थानीय विस्थापितों को मत्स्य पालन में प्राथमिकता

NewsCode Karnataka | 17 October, 2017 5:11 PM
newscode-image

राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में सात प्रस्तावों को मंजूरी

रांची। राज्य सरकार ने सभी जलाशयों में स्थानीय विस्थापितों को स्वरोजगार से जोड़ने और उनके आर्थिक उन्नयन के लिए मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए टोकन राशि पर जलाशयों की बंदोबस्ती करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री रघुवर दास की अध्यक्षता में आज संपन्न राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी गयी।

बैठक समाप्त होने के बाद मंत्रिमंडल सचिवालय एवं समन्वय विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे ने बताया कि स्थानीय विस्थापितों को मछली पालन के माध्यम से स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए 100 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से मत्स्य पालन समिति या स्वयं सहायता समूहों के नाम पर जलाशयों की बंदोबस्ती की जाएगी। अभी खुले डाक के माध्यम से मछली पालन के लिए जलाशयों की बंदोबस्ती होती थी।

मध्याह्न भोजन के लिए डोर स्टेप डिलीवरी योजना स्वीकृत

बैठक में मध्याह्न भोजन योजना के तहत डोर स्टेप डिलीवरी सिस्टम को मंजूरी दी गयी है। पूर्व में मध्याह्न भोजन के लिए अनाज राज्य खाद्यान्‍न निगम से प्रखंडों तक पहुंचाया जाता था और फिर संबंधित स्कूलों की सरस्वती वाहिनी समिति या संयोजिका द्वारा अनाज को स्कूल ले जाने का काम किया जाता था, लेकिन अब डोर स्टेप डिलीवरी व्यवस्था को लागू करने का निर्णय लिया गया है,ताकि मध्याह्न भोजन व्यवस्था में कोई बाधा न उत्पन्न हो।

ग्रामीण क्षेत्रों के लिए बिल्डिंग बॉयलॉज

राज्य सरकार ने शहरी क्षेत्रों की तरह ही ग्रामीण क्षेत्रों के लिए भी बिल्डिंग बॉयलॉज 2016 को घटनोत्तर मंजूरी दे दी है। इसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों में बनने वाले मकानों को यूनीफार्म करने और रेगुलेट करने के लिए बिल्डिंग बॉयलॉज को मंजूरी दी है। इसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों में भी 5000 वर्गफीट से अधिक के बनने वाले पक्के मकान के लिए भवन निर्माण के प्रस्ताव की स्वीकृति लेनी होगी। इसके अलावा अमृत जलापूर्ति योजना के लिए मॉडल बिड डॉक्यूमेंट को मंजूरी दी, जबकि स्वर्णरेखा बहुउद्देश्यीय परियोजना के लिए 75 करोड़ रुपये झारखंड आकस्मिकता निधि से अग्रिम निकासी और चारा घोटाले मामले में बर्खास्त एक चिकित्सा पदाधिकारी को जीवन निर्वाह भत्ता की तिथि में बदलाव के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी।

दुमका : लाभुकों के बीच मुख्य न्यायाधीश ने परिसंपति का किया वितरण

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:01 PM
newscode-image

दुमका। जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में आउटडोर स्टेडियम दुमका में राज्य स्तरीय चतुर्थ विशेष विधिक सशक्तिकरण शिविर का आयोजन शनिवार को किया गया। शिविर का आयोजन नालसा, दिल्ली एवं झालसा, रांची के निर्देशानुसार आयोजित हुई।

शिविर में मुख्य अतिथि कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश, हाईकोर्ट डीएन पटेल, विशिष्ट अतिथि न्यायाधीश, हाईकोर्ट सह लीगल सर्विसेज अध्यक्ष एच सी मिश्रा, हाई कोर्ट प्रशासनिक न्यायाधीश, दुमका न्यायमंडल अनिल कुमार चौधरी उपस्थित थे। इस अवसर पर कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल ने शिविर को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार द्वारा समाज के हर व्यक्ति को सशक्त बनाने के लिए कई सारी योजनाएं चलायी जा रही हैं।

दुमका : अबोध नन्ही अर्पिता ने चीत्कार भर शहीद पिता परमानंद चौधरी को मुखग्नि देकर अंतिम विदाई दी

केन्द्र सरकार और राज्य सरकार की सभी योजनाएं तभी सफल हो पायेंगी जब हर जरूरत मंद को सरकार की योजनाओं का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में लोगों में सरकार की योजनाओं की जानकारी का आभाव है। सरकार स्वास्थ्य, शिक्षा, आवास जैसी कई कल्याणकारी योजनाएं चला रही है। ऐसी योजनाओं का लाभ अगर हर जरूरतमंद को मिले तो उसे किसी के पास हाथ फैलाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। सरकार के पैसों को सही कार्य में खर्च कर हम समाज में खुशहाली लाने का कार्य कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि आज का दिन दुमका जिले के लिए ऐतिहासिक दिन है। शिविर के माध्यम से 75.76 करोड़ रुपये की लागत से योजनाओं से संबंधित परिसंपति वितरण की जा रही है। लीगल सर्विस ऑथरिटी के द्वारा एक बुकलेट प्रिंट कराया गया है।

दुमका : सहकारिता सह प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी को घूस लेते ACB ने दबोचा

 

जिसमें केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार की सभी योजनायों का लाभ तथा उनसे लाभ लेने की प्रक्रिया के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई है,लोगों में जागरूकता फैलाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं का लाभ लेने के लिए अधिक से अधिक आवेदन देने का अपील किया। निश्चित रूप से प्रक्रिया के तहत सभी को लाभ मिलना सुनिश्चित है।

उन्होंने कहा कि सभी का दायित्व है कि मिलकर वंचितों को ऊपर उठाना है। उनके जीवन स्तर को एक ऊचाई देने के लिए उन्हें लाभ पहुंचाना सभी का दायित्व है। उन्होंने कहा कि लीगल एवेयरनस सभी के लिए आवश्यक है। सभी को कानून की जरूरी जानकारियां एवं उनका हक उन्हें पता होना चाहिये। इस अवसर पर विभिन्न लाभुकों के बीच समाज कल्याण द्वारा ट्राई साईकिल, बैसाखी वितरित किया गया।

दुमका : नवनिर्मित एडीआर भवन का उद्घाटन मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल ने किया

 

लक्ष्मी लाडली योजना के तहत छः हजार रुपये का नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट का वितरण किया गया। लाभुकों के बीच परिसंपति मत्सय बीज के पूरक आहार, जिला शिक्षा कार्यालय दुमका के द्वारा छात्राओं के बीच स्कूली किट, श्रम विभाग द्वारा पारिवारिक पेंशन योजना, साईकिल योजना के तहत प्रमाण पत्र का वितरण, सामाजिक सुरक्षा विभाग द्वारा पेंशन योजना के तहत लाभुक को प्रमाण पत्र, जेएसएलपीएस की तरफ से एक करोड़ एक लाख रूपये सखी मंडल की महिलाओं को स्वरोजगार के लिए, गव्य विकास की तरफ से 10 हजार रूपये के अनुदान की राशि लाभुकों के बीच वितरित की गई।

दुमका : लाभुकों के बीच मुख्य न्यायाधीश ने परिसंपति का किया वितरण

लाभुकों को मेडिकेटेड नेट दिया गया। इस दौरान उन्होंने लाभुकों से बात की एवं उनकी परेशानियों को भी जाना। कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न विभागों द्वारा स्टॉल भी लगाये गये थे। जहां विभाग द्वारा चलायी जा रही योजनाओं की जानकारी उपलब्ध करायी जा रही थी। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल ने सभी से कहा कि इन स्टॉल पर जाने एवं सरकार की योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर योजनाओं का लाभ लेने को प्रेरित किया।

दुमका : अवैध शराब के साथ दो लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

इस दौरान सरकार के विभिन्न योजनाओं के लाभुकों ने अपने अनुभव को साझा किया। इस अवसर पर डीसी मुकेश कुमारए डीडीसी वरूण रंजन, प्रशिक्षु आईएएस शशि प्रकाश ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया। इससे पूर्व कार्यक्रम स्थल पर परांपरितक रिति-रिवाज लोटा पानी से अतिथियों का स्वागत किया गया। अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत किया। पुष्पगुच्छ देकर अतिथियों का स्वागत किया गया। कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन डीसी मुकेश कुमार ने किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

राँची : मुख्यमंत्री ने जूस पिलाकर तुड़वाया विधायक शिवपूजन मेहता का अनशन

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:18 PM
newscode-image

राँची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विधायक शिवपूजन मेहता को जूस पिलाकर उनका अनशन तुड़वाया। मुख्यमंत्री, विधायक सुखदेव भगत के साथ सदन के बाहर पहुंचे और शिवपूजन मेहता को जूस पिलाया। आपको बता दें कि शिवपूजन मेहता जपला सीमेंट फैक्ट्री को पुनर्स्थापित करने की मांग को लेकर, झारखंड विधानसभा के मुख्य गेट पर विगत 3 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे थे।

रांची : भाजयुमो के खेलो भारत दिल्ली में हिस्सा लेंगे झारखंड के 65 खिलाड़ी

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

धनबाद : सगे भाई-बहन ने किया रक्‍तदान, पेश की मिसाल  

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:09 PM
newscode-image

धनबाद। पीएमसीएच के रक्त अधिकोष में सगे भाई-बहन ने थैलीसीमिया रोग से पीड़ित दो बच्चों के लिए रक्तदान कर मानवता की मिसाला पेश की। समाजसेवी शालिनी खन्ना के कहने पर पीएमसीएच के थैलीसिमिया वार्ड में भर्ती करीब 3 साल की बच्‍ची आराध्या के लिए पल्‍लवी पायल ने रक्‍तदान किया। वे बीएसएस कॉलेज की पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रह चुकी है।

रक्‍तदान करने जैसे की वह सामाजिक कार्यकर्ता सौरभ सिंह के साथ पीएमसीएच के रक्त अधिकोष  में रक्तदान के लिए  पहुंची वहां पहले से मौजूद थैलीसीमिया से ग्रस्‍त लगभग 5 वर्ष के मोहित कुमार महतो की मां उषा देवी ने भी पल्लवी से अपने बच्चे के लिए रक्त उपलब्ध कराने का आग्रह किया।

झरिया : आजसू पार्टी की बैठक, महिला सशक्तिकरण पर जोर

पल्लवी ने उस महिला की बात सुनकर अपने बड़े भाई राकेश रंजन को फोन कर रक्‍तदान करने पीएमसीएच आने को कहा। कुछ ही समय में राकेश भी वहां पहुंच गए और दोनों भाई-बहन ने दोनों बच्‍चों के लिए रक्‍तदान किया।

रक्‍तदान करने पर शालिनी खन्‍ना ने दोनों भाई-बहन की प्रशंसा और धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने कहा कि पल्लवी की तरह बेटियां व महिलाएं भी रक्‍तदान करने आगे आएगी तो कई लोगों की जान बचायी जा सकेगी। सौरभ सिंह ने भी युवाओं से अपील की है कि वो अधिक से अधिक रक्तदान करें  ताकि जरूरतमंदों को समय पर खून मिल सके।

रक्त अधिकोष में रक्त की कमी को देखते हुए इस बार स्वतंत्रता दिवस पर शिविर लगाकर रक्‍तदान करने का निर्णय लिया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

कोलेबिरा : लचरागढ़ में संदिग्ध हालत में मिला नाबालिग बच्ची...

more-story-image

पलामू : बिहार ले जा रहे थे शराब , पुलिस...