रांची : ICSE परीक्षा में एक बार फिर रांची की बेटियों ने मारी बाजी

12वीं के साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स तीनों में अपना परचम लहराया

NewsCode Jharkhand | 15 May, 2018 7:32 AM

रांची : ICSE परीक्षा में एक बार फिर रांची की बेटियों ने मारी बाजी

रांची । आईसीएसई की परीक्षा में एक बार फिर रांची की बेटियों ने बाजी मारी है। 12वीं के साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स तीनों में अपना परचम लहराया है।

दसवीं में सेंट फ्रांसिस के आदित्य राज 98.4 प्रतिशत अंक लाकर शहर के टॉपर बने, जबकि 12वीं साइंस में सेवेंथ डे एडवेंटिस्ट की रितु रानी और रूपम ने 97 प्रतिशत अंक लाकर यह उपलब्धि हासिल की। दोनों सगी बहनें हैं। कॉमर्स की टॉपर सेंट जेवियर्स स्कूल की एलिजाबेथ थॉमस रहीं। वहीं, लॉरेटो स्कूल की छात्रा अनुश्री आर्ट्स की टॉपर बनीं।

दोपहर तीन बजे जैसे ही रिजल्ट जारी हुआ, स्कूलों में छात्र-छात्राओं की भीड़ उमड़ पड़ी। मोबाइल, कंप्यूटर पर रिजल्ट देख बच्चे अपने अभिभावकों के साथ स्कूलों की ओर निकल पड़े। कई छात्र स्कूल से ही अपने घरवालों को रिजल्ट की जानकारी दे कर खुशियां बांट रहे थे।

रांची : ऑक्सफोर्ड स्कूल के 47 विद्यार्थी जेईई मुख्य परीक्षा में सफल

स्कूल के प्राचार्य, शिक्षक भी उनकी खुशी में शामिल थे। शिक्षकों ने छात्रों की मेहनत को सफलता का श्रेय दिया तो छात्र शिक्षक और अपने अभिभावकों को यह श्रेय दे रहे थे। हालांकि सफल कई छात्रों ने बताया कि उन्हें और बेहतर रिजल्ट आने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। यह रिजल्ट अंतिम नहीं है और भविष्य में इसमें और बेहतर करने का प्रयास करेंगे।

आईसीएसई दसवीं की परीक्षा में रांची के टॉप टेन में 20 विद्यार्थियों ने अपना स्थान बनाया। इसमें 11 लड़के और नौ लड़किया हैं। लेकिन 12वीं में लड़कियों ने बाजी पूरी तरह पलट दी। 12 वीं साइंस के टॉप टेन में 15 विद्यार्थियों ने जगह बनायी। इसमें 11 लड़कियों ने बाजी मारी, जबकि लड़कों की संख्या चार तक ही सिमट कर रह गई। कॉमर्स के टॉप-10 में छह छात्राएं और आर्ट्स के टॉप-5 सिटी टॉपरों में सभी छात्राओं ने अपनी जगह बनायी।

दसवीं बोर्ड की परीक्षा में राज्य के 103 स्कूलों से 11,131 विद्यार्थी शामिल हुए थे। जिनमें छात्रों की संख्या- 5,973 (56.66%) और छात्राओं की संख्या 5,158 (46.34%) रही। 12वीं बोर्ड में राज्य के 50 स्कूलों से 4,525 विद्यार्थी शामिल हुए। जिनमें छात्रों की संख्या-2,230 (49.28%) और छात्राओं की संख्या- 2,295 (50.72%) रही। दसवीं में 5,101 (98.89%) छात्राएं उत्तीर्ण हुईं और 5,879 (98.43%) प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

लोहरदगा : ज़िले के कराटेकारों ने झारखंड को दिलाये कई पदक

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 9:35 PM

लोहरदगा : ज़िले के कराटेकारों ने झारखंड को दिलाये कई पदक

लोहरदगा। ब्राजिलियन जुजुत्सू स्पोर्ट्स फैडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान में नवाब मनसूर अली खान पटौदी  में 20 मई  को नेशनल ओपेन ब्राजिलियन जुजुत्सू चैम्पियनशिप का आयोजन किया गया।

प्रतियोगिता में 500 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता में लोहरदगा जिले जे. एम. एस. इंग्लिश मीडियम स्कूल हरमू के लाल पृथ्वी राज नाथ शाहदेय ने अपने प्रतिद्वंदी को पछाड़ते हुए प्रथम स्थान प्राप्त करके झारखंड के झोली में गोल्ड मैडल डाला वहीं बी।एस। कॉलेज के दिव्याकाश साहु ने भी अपने प्रतिद्वंदी को हराकर तृतीय स्थान प्राप्त करके झारखंड को ब्राउन्ज मैडल दिलाया।

मालूम हो कि के फाईटर सिहान श्रवण साहु ब्लैक बेल्ट पांचवी डॉन, जोयन्ट सेक्रेटरी इन्टरनेशनल शोतोकाई कराटे फैडरेशन ऑफ इंडिया, मुख्य कराटे प्रशिक्षक झारखंड के द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।

बुंडू : मैथमेटिक्स ओलंपियाड में छात्रों को मिला गोल्ड मेडल

इस मौके पर जे. एम. एस. स्कूल के निर्देशिका श्रीमती सुष्मा सिंह ने दोनों फाईटरों एवं सिहान साहु को हार्दिक शुभकामनाएं दीं। और कहा कि मार्शल आर्ट आज की मांग है। तथा सेंसाई सुर्यावती साहु, सेंसाई क्यूम खान, सेंसाई जगनंदन पौराणिक, सेंसाई  संजय उरांव, सेंपाई अनमोल साहु, आदि ने भी शुभकामनाएं दी है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

धनबाद : नामदारों को कभी कामदारों की पीड़ा समझ में नहीं आती- प्रधानमंत्री 

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 9:24 PM

धनबाद : नामदारों को कभी कामदारों की पीड़ा समझ में नहीं आती- प्रधानमंत्री 

उर्वरक कारखाना खुलने से किसानों को मिलेगा फायदा

धनबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि नामदारों को कभी कामदारों की पीड़ा  समझ में नहीं आ सकती है। मोदी ने आज झारखंड के धनबाद जिले के बलियापुर में राज्य में करीब 27 हजार करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास के बाद उपस्थित विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि कहा कि आजादी के इतने वर्षों तक देश के 18 हजार गांवों में बिजली नहीं पहुंच पायी थी, उनकी सरकार ने समय से पहले इस लक्ष्य को पूरा किया है।

उन्होंने कहा कि नामदार अमीरों की बात करते नहीं थकते, पूर्व की सरकार उर्वरकों के लिए  करोड़ों रुपये की सब्सिडी देती थी, ताकि किसानों को फायदा मिल सके, लेकिन ये उर्वरक किसानों तक नहीं पहुंच पाते थे और अमीरों के कारखाने में चले जाते थे। इसके कारण किसानों को उर्वरकों के लिए लाइन में भी लगना पड़ता था और कभी-कभी पुलिस की लाठियां भी खानी पड़ती थी, परंतु उनकी सरकार ने सत्ता में आते ही इस चोरी को बंद करने का निर्णय लिया।

धनबाद : मोदी के नेतृत्व में आर्थिक शक्ति बन रहा भारत- सीएम

उर्वरक में नीम की ऐसी खली मिलायी गयी, जिसका उपयोग सिर्फ किसानों के खेत में ही संभव है। पिछले दो वर्षों में कहीं से भी ऐसी खबर नहीं आयी कि किसानों को उर्वरक के लिए लाइन में लगनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि 16 वर्ष बाद सिंदरी खाद कारखाना फिर से शुरू होने जा रहा है, इसके अलावा गोरखपुर और बरौनी खाद कारखाना में भी फिर से उत्पादन शुरू होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज झारखंड में करीब 27हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं की शुरूआत हुई, कई राज्यों की इतनी बड़ी बजट राशि भी नहीं होती है, जबकि लगभग 80 हजार करोड़ रुपये की लागत की अन्य परियोजनाएं भी झारखंड में केंद्र सरकार के सहयोग से चल रही है।

पांच बड़ी परियोजनाओं का हुआ शिलान्यास

आज पांच बड़ी परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया, उनमें सिंदरी का खाद कारखाना, पतरातु में पावर प्रोजेक्ट, देवघर में एम्स और एयरपोर्ट और रांची में पाइप लाइन के माध्यम से रसोई गैस की आपूर्ति योजना शामिल है।

250 औषधि केंद्र खोलने को लेकर हुआ एमओयू

प्रधानमंत्री की मौजूदगी में राज्य में 250 औषधि केंद्र खोलने को लेकर एमओयू भी किया गया। कार्यक्रम के दौरान  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लघु फिल्म के माध्यम से स्वाबलंबी महिलाओं के अनुभव को भी सुना।  जिसमें  सूरज देवी मीठी क्रांति पर अनुभव साझा की, वहीं उषा उराइन सौभाग्य योजना पर बात रखी। शंकुतला दास स्वच्छता के बारे में बताया और जतरी देवी प्रधानमंत्री आवास योजना पर अनुभव को प्रधानमंत्री के समक्ष रखा। जबकि तेतिया देवी पॉलिटरी पर बात रखी और और लाइमुन्नी सोरेन डेयरी पर अनुभव बांटी।

समारोह को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, केंद्रीय मंत्री आर.के.सिंह, अश्विनी चौबे, सुदर्शन भगत के अलावा सांसद पीएन सिंह और विधायक फूलचंद मंडल भी उपस्थित थे। इससे पहले राज्य के भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री अमर कुमार बाउरी ने स्वागत भाषण किया ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

धनबाद : मोदी के नेतृत्व में आर्थिक शक्ति बन रहा भारत- सीएम

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 9:13 PM

धनबाद : मोदी के नेतृत्व में आर्थिक शक्ति बन रहा भारत- सीएम

भारत की ओर नजर उठा कर दिखने वालों को मोदी ने दिया करारा जवाब

धनबाद। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि भारत की युवा किसान, गरीब महिला सशक्तिकरण के समग्र विकास के लिए प्रयासरत प्रधानमंत्री का झारखंड में अभिनंदन है। हमारे लिए यह गौरव का छन है। सुशासन और विकास के 4 साल पूरे हुए। इस अवसर पर प्रधानमंत्री द्वारा झारखंड को 30 हजार करोड़ की विकास योजना की सौगात देने के लिए धन्यवाद।

दास कहा कि आजादी के बाद से लाल किला से अब तक देश की किसी प्रधानमंत्री ने झारखंड के वीर सपूत भगवान बिरसा मुंडा को नमन नहीं किया था, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले से उनका नाम लेकर झारखंड को गर्व की अनभूति कराई। प्रधानमंत्री लगातार देश की प्रतिष्ठा को बढ़ाने में योगदान दे रहे हैं। अब भारत की ओर नजर उठा कर दिखने वालों को करारा जवाब दिया जाता है।

धनबाद : मोदी के नेतृत्व में आर्थिक शक्ति बन रहा भारत- सीएम

आर्थिक पावर बन रहा भारत

सरकार की नीतियों का ही प्रतिफल है कि हम आर्थिक पावर बन रहे हैं। केंद्र सरकार ने देश के लोगों को सम्मान के साथ जीवन देने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

झारखंड को पहले कम मिलता था अनुदान

मुख्यमंत्री ने बताया कि मोदी सरकार से पूर्व 2013-14 में झारखण्ड को 4 हजार 64 करोड़ का अनुदान मिलता था। लेकिन अब उस अनुदान के प्रतिशत में 82 प्रतिशत कई वृद्धि हुई है। 2017-18 में केंद्र सरकार द्वारा 13,400 करोड़ की राशि दी गई। 16 साल से सिंदरी का खाद कारखाना बंद पड़ा था। अब उस स्थिति में बदलाव आयेगा।

धनबाद : प्रधानमंत्री ने चार वर्ष पूर्ण होने पर झारखण्ड को दी 27 हजार करोड़ की सौगात

मोदी सरकार ने 4 साल के कार्यकाल में दिये 10 यूनिवर्सिटी

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ झारखण्ड के 68 लाख परिवारों में 57 लाख परिवारों को मिलेगा। केंद्र सरकार के कार्यों का प्रतिफल है कि 40 साल में राज्य में 3 मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया। केंद्र सरकार ने गुणवत्ता पूर्ण उच्च व तकनीकी शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से 4 साल के कार्यकाल में 10 यूनिवर्सिटी देने का कार्य किया है। धनबाद के ही शिक्षा के प्रति समर्पित श्री बिनोद बिहारी महतो जी के नाम से यूनिवर्सिटी की स्थापना की गई।

पर्यटन, कला संस्कृति, युवा कार्य एवं खेल मंत्री अमर कुमार बाउरी ने अपने स्वागत संबोधन में कहा कि यह ऐतिहासिक पल है। प्रधानमंत्री ने सिंदरी का कारखाना पुनः प्रारम्भ करा कर किसानों का कल्याण व रोजगार सृजन के नव द्वार खोला है। कर्मशील प्रधानमंत्री को हृदय से धन्यवाद व जोहार।

इन लोगों को मिला नियुक्ति पत्र

प्रधानमंत्री ने सीसीएल की परियोजनाओं से प्रभावित लोगों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया। नियुक्ति पत्र पाने वालों में ज्योति कुमारी, रितेश उरांव, बाबूराम मांझी, सुनील कुमार पासवान और आफताब आलम को सांकेतिक तौर पर नियुक्ति पत्र सौंपा।

इस अवसर पर  राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू , मुख्यमंत्री रघुवर दास, केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे, केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री आर के सिंह केंद्रीय राज्यमंत्री जनजातीय मामले सुदर्शन भगत झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी, झारखंड सरकार के  कला संस्कृति पर्यटन मंत्री अमर कुमार बाउरी, सांसद पी एन सिंह झारखंड विधान मंडल के विधायक फूलचंद मंडल मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी सहित बड़ी संख्या में राजनीतिक दलों के नेता सांसद विधायक अधिकारी उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने