रांची : ‘मौका मिले तो छोड़ेंं नहीं, आत्मविश्वास के बल पर ही पा सकते हैं सफलता’

Sanjiv Sinha | 2 May, 2018 5:12 PM

रांची : ‘मौका मिले तो छोड़ेंं नहीं, आत्मविश्वास के बल पर ही पा सकते हैं सफलता’

इन टीवी सीरियल में कर चुकी हैं काम

रांची। अनुष्का सेन मायानगरी मुम्बई में अपने डांस और एक्टिंग से सभी को दीवाना बनाई है। हर हर महादेव सीरियल में बाल पार्वती की भूमिका निभाने वाली अनुष्का का झारखंड से गहरा नाता है। हर हर माहादेव के अलावा बाल वीर, यहां मैं घर घर खेली जैसे टीवी सीरियल में भी नजर आ चुकी हैं।

परिवार का रांची से जुड़ाव

अनुष्का के पापा अनिर्वाण सेन रांची में पढ़ाई लिखाई किया और मम्मी राजरूपा सेन जमशेदपुर की है। मुंबई से रांची आई अनुष्का सेन की न्‍यूज़कोड के रिपोर्टर संजीव सिन्हा ने की खास बातचीत।

सवाल : एक्टिंग के क्षेत्र  में रुझान कैसे हुआ?

अनुष्का : बचपन से ही डांस का शौक था और घर पर भी मम्मी का संगीत से जुड़ाव था। मेरे डांस के प्रति शौक को देखते हुए मुझे फेमस कोरियोग्राफर शियामक डावर डांस एकेडमी में डांस सीखने को भेजा गया। इसी दौरान रंग दे बसंती और भाग मिल्खा भाग के डायरेक्टर राकेश ओम प्रकाश मेहरा से मुलाक़ात हुई जो एक म्यूजिक एल्बम बनाने जा रहे थे। उन्होंने मुझे आशा म्यूजिक वीडियो में मौका दिया। मेरा काम सभी को बहुत अच्छा लगा और मुझे फिल्मों में एक्टिंग के लिए प्रोत्साहित किया। धीरे धीरे मुझे पहले कुछ विज्ञापन मिलना शुरू हुआ उसके बाद टीवी सीरियल के लिए भी ऑफर आने लगे।

सवाल : महेंद्र सिंह धौनी के साथ काम करने का मौका कैसे मिला ?

अनुष्का : अनुष्का बताती है कि न्यू ईयर के दिन हम सभी लोग शॉपिंग कर रहे थे तभी मम्मी को फोन आया कि धौनी के साथ ऐड सूट होना है इसके लिए लुक टेस्ट देने है। अनुष्का ने कहा कि पहले तो हमलोगों को विश्वास ही नहीं हुआ और फोन को नजर अंदाज कर दिया लेकिन फिर दोबारा कॉल आया कि आप आए। हमलोग गये हमारा टेस्ट हुआ और फिर मैं सेलेक्ट हो गई।

और पढ़े:- 10 साल बाद बनी सलमान और प्रियंका की जोड़ी, इस फिल्म में आएंगे नज़र

दो तीन दिन बाद सूट शुरू हुआ और जब हम सेट पर पहुंचे तो डायरेक्टर सर ने कहा कि आप जाकर धोनी से मिल लो। पहली बार जब धोनी चाचू से मिली तो बहुत अच्छा लगा क्योंकि  वो मेरे फेवरेट क्रिकेटर हैं।

धोनी के साथ 4 साल में 14 विज्ञापन

अनुष्का ने कहा कि जब माही चाचू को पता चला की मैं भी रांची से हूं वो बहुत खुश हुए और देखते देखते हमलोग सेट पर खूब मस्ती और धमाल करने लगे। माही चाचू के साथ चार साल में चौदह ऐड किया। माही चाचू से हमे सीखना चाहिए कि कितने भी बड़े सेलेब्रिटी होकर भी डाउन टू अर्थ है, मेरी भी कोशिश होगी कि मैं भी उन्हीं की तरह बनू।

सवाल : पढ़ाई के साथ काम कैसे करती मैनेज ?

अनुष्का : काम के साथ पढ़ाई करने में कोई दिक्कत नहीं होती है। इसके लिए मेरे पेरेंट्स और स्कूल के टीचर ने बखूबी मेरा साथ दिया। मेरे टीचर हर वक्त मुझे समय देने के लिए तैयार रहते थे और पेरेंट्स ने कहा कि पढ़ाई के समय पढ़ाई पर ध्यान और काम से समय काम पर पूरा फोकस करना है, इसलिए कभी कोई परेशानी नहीं आई।

सवाल : झारखंड के कलाकार को क्‍या संदेश देना चाहती हैं?

अनुष्का : सबसे पहले अपने पसंद के अनुसार अपना कैरियर का चुनाव करना और मेहनत, लगन और पूरी तैयारी के साथ ही मुंबई जाना चाहिए क्योंकि मुम्बई बहुत बड़ी है। जो भी मौका मिले उसे मिस नहीं करें। मौका को आत्मविश्वास के साथ पूरी हिम्मत से पूरा करने की कोशिश करनी चाहिए।

फिल्‍म भी होगी रिलीज  

हालांकि सोलह वर्षीय अनुष्का अभी कुछ तमिल और तेलगु प्रादेशिक भाषाओं की फिल्मों के साथ राहत काजमी की हिंदी फिल्म में भी काम कर रही है। जल्द ही अनुष्का की फिल्में रिलीज़ होगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : ठेका कर्मचारी की कंपनी परिसर में ही संदिग्‍ध अवस्था में मौत

NewsCode Jharkhand | 27 May, 2018 5:29 PM

जमशेदपुर : ठेका कर्मचारी की कंपनी परिसर में ही संदिग्‍ध अवस्था में मौत

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप, पुलिस कर रही जांच

जमशेदपुर। टाटा स्टील कंपनी के भीतर सुनील एंटरप्राइजेज के अंतर्गत कार्य कर कर्मचारी की मौत हो गई। वे बारीडीह बागुन्हातु के रहने वाले 40 वर्षीय ठेका कर्मचारी पुरणु मंडल की कंपनी परिसर में ही संदिग्‍ध अवस्था में मौत हो गयी। मृतक के परिजनों ने कंपनी परिसर में पुरणु मंडल की हत्या किए जाने का आरोप लगाते हुए सिदगोड़ा थाना में प्राथमिकी दर्ज करवाया है।

पुरणु मंडल की मौत की जानकारी देने उसके घर पहुंचे सुनील एंटरप्राइजेज के सुपरवाइजर को आक्रोशित मृतक के परिजनों और स्थानीय लोगों ने बंधक बना लिया। उसके साथ हाथापाई भी की गई। मृतक के परिजनों का आरोप था कि कंपनी परिसर में पुरणु मंडल की हत्या कर दी गई है।

जमशेदपुर : एमजीएम अस्पताल में आमरण अनशन पर बैठा परिवार

मृतक के परिजनों ने बताया कि बीती रात पुरणु मंडल ने उन्हें फोन कर कुछ लोगों द्वारा उसे घेर कर पिटाई किए जाने के संबंध में जानकारी दी थी। इसके बाद फोन बंद हो गया और पुरणु का उनके परिजनों से संपर्क टूट गया। सुबह पुरणु मंडल के मौत की खबर उन्हें मिली।

फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है, और यह हत्या है या हादसा उस बारे में पता लगा रही है। भारी हो हंगामे के बीच ठेकेदार खुद मृतक के घर पहुंचे और पुलिस व मृतक के आश्रितों के बीच हुई त्रिपक्षीय वार्ता के दौरान ठेकेदार ने 350,000 रुपए मुआवजा दिया, जिसके बाद मामला शांत हो गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

सरायकेला : भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष को नहीं मिला मंच पर स्थान

NewsCode Jharkhand | 27 May, 2018 3:08 PM

सरायकेला : भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष को नहीं मिला मंच पर स्थान

मिशन 2019 की तैयारियों में जुटी भाजपा

सरायकेला। मिशन 2019 की तैयारियों में भाजपा पूरी तरह से जुट गई है। सरायकेला विधानसभा स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन में ऐसा ही नजारा देखा गया। सरायकेला सामुदायिक भवन परिसर में आज विधानसभा स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष समेत भाजपा के सभी प्रकोष्ठों के अध्यक्षों के अलावा कार्यकर्ताओं ने शिरकत की।

 

वहीं एक बार फिर से सरायकेला-खरसावां महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष राजमणि देवी को मंच पर स्थान नहीं दिया गया, जो कार्यकर्ताओं के बीच चर्चा का विषय रहा। इस संबंध में महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया।

जमशेदपुर : भाजपा महिला मोर्चा ने निकाली कैंसर जागरुकता रैली, किया जागरूक

गौरतलब है कि आदित्यपुर नगर निगम के मेयर और भाजपा के कोल्हान प्रभारी के साथ तल्खी के कारण कई बार महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष को मंच पर स्थान नहीं दिया गया है। वहीं  पार्टी की ओर से सरायकेला विधानसभा के प्रत्याशी रह चुके जिला महामंत्री गणेश महाली ने कार्यकर्ताओं से मिशन 2019 की तैयारी में जुट जाने का आह्वान किया। साथ ही गणेश महाली ने समाज के अंतिम व्यक्ति तक केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं को पहुंचाने के लिए कार्यकर्ताओं को प्रेरित भी किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

पश्चिमी सिंहभुम : समर क्रिकेट कैंप का क्रिकेटर सौरभ तिवारी ने किया उद्घाटन

NewsCode Jharkhand | 27 May, 2018 11:44 AM

पश्चिमी सिंहभुम : समर क्रिकेट कैंप का क्रिकेटर सौरभ तिवारी ने किया उद्घाटन

जुनियर क्रिकेटरों के सवालों के दिये जवाब

चाईबासा(पश्चिमी सिंहभुम)। बिरसा मुंडा क्रिकेट स्टेडियम में सब जूनियर क्रिकेटरों के लिए आयोजित समर क्रिकेट कैंप का उद्घाटन क्रिकेटर सौरभ तिवारी ने  किया। जिला क्रिकेट संघ द्वारा आयोजित इस क्रिकेट कैंप में क्रिकेटर सौरभ तिवारी ने अंडर 14 के क्रिकेटरों को क्रिकेट के टिप्स दिए और क्रिकेट में हमेशा फिट रहने का गुर भी सिखाया।

सौरभ ने खुद गेंदबाजी और बल्लेबाजी कर सब जूनियर क्रिकेटरों को प्रेरित किया। सौरभ ने जिला क्रिकेट संघ को पिच के बारे में कई जानकारियां दी, ताकि वे सब जुनियर क्रिकेटरों को गेंदबाजी और बल्लेबाजी करने का अच्छा अभ्यास करने का मौका मिल सकें। अपने बीच क्रिकेट स्टार को देख कर सब जुनियर क्रिकेटरों में काफी उत्साह भी देखा गया।

सौरभ ने भी किसी सब जुनियर स्तर के क्रिकेटर को निराश भी नहीं किया, उनके मासूम भरे सभी सवालों का जबाब सौरभ ने दिया। सौरभ तिवारी ने कहा कि झारखंड में क्रिकेट का भविष्य काफी अच्छा है और झारखंड के 7-8 खिलाड़ी आईपीएल में अपना प्रतिभा दिखा रहे हैं, जबकि राष्ट्रीय टीम धोनी के आलावा कई खिलाडी है मौजूद हैं। कई राष्ट्रीय टीम में शामिल होने दलहीज पर खडे है।

सौरभ ने कहा कि आईपीएल की वजह से पूरी दुनिया में टी-20 क्रिकेट को एक नया दिशा मिला है, सभी देश के क्रिकेट में काफी बदलाव आया है, अब बंगलादेश की टीम भी आस्ट्रेलिया जैसी टीम को कडी टक्कर देती है।

गोमिया : आइइएल गवर्नमेंट कॉलोनी में आरती प्रतियोगिता, प्रतिभागी हुए पुरस्कृत

सौरभ ने आईपीएल के बारे में सबसे बात यह कही कि आईपीएल की वजह से क्रिकेटरों का आर्थिक स्थिति काफी अच्छी हुई है, सिर्फ रणजी खेल कर किसी क्रिकेटर का परिवार चलाना मुश्किल था, लेकिन आईपीएल से प्रतिभा दिखाने के साथ-साथ आर्थिक स्त्रोत का माध्यम भी देश-विदेश के सभी खिलाडियों को मिल रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने