रांची : बजट में छह पिछड़े जिलों के विकास पर फोकस- मुख्यमंत्री रघुवर दास

NewsCode Jharkhand | 10 January, 2018 4:23 PM

रांची : बजट में छह पिछड़े जिलों के विकास पर फोकस- मुख्यमंत्री रघुवर दास

देश के 30 पिछड़े जिलों में छह झारखंड के

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि झारखंड को देश का एक विकास मॉडल बनाना है, इस दिशा में सरकार प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद देश के 30 पिछड़े जिलों में छह झारखंड के है, आजादी के बाद से इन जिलों पर फोकस नहीं दिया गया, लेकिन राज्य सरकार बजट में इन छह जिलों पर खास जोर देने जा रही है।

बैंक और नाबार्ड SHG को मिलने वाले ऋण में करें बढ़ोत्तरी

गरीब जनता के लिए किये जा रहे कार्यां में नाबार्ड का योगदान सराहनीय है। नाबार्ड और बैंक भी इस पर खास ध्यान दे।  मुख्यमंत्री आज रांची में नाबार्ड द्वारा आयोजित स्टेट क्रेडिट सेमिनार को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री न्यू इंडिया की बात करते है, नया भारत तभी पूरा होगा, जब न्यू झारखंड बनेगा। उसके लिए हमें ग्रामीण विकास पर जोर देना होगा। असली भारत और असली झारखंड गांवों में है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बैंक और नाबार्ड स्वयं सहायता समूह को मिलने वाले ऋण में बढ़ोत्तरी करें। राज्य सरकार गांव की जनता पर विश्वास करती है। सरकार कई छोटी योजनाओं को सीधा गांव तक ले जाने की कोशिश में जुटी है। उन्होंने कहा कि योजनाओं का पैसा भी उन गांव वालों के खाते में जाएगा। हमें गरीब किसानों की क्रय शक्ति को बढ़ाना है।

सरकार का फोकस गरीब किसान और महिलाएं

उन्होंने कहा कि सरकार पूरे राज्य में हस्तकला का पंजीकरण कराने जा रही है। प्रखड स्तर पर मॉर्डन हाट लगायेंगे। सरकार का फोकस गरीब किसान और महिलाएं हैं। बैंकिंग सेवा को और बढ़ाने की ज़रूरत है, इसके लिए डिजिटल इंडिया और डिजिटल झारखंड पर ज़ोर देना है। उन्होंने कहा कि अधिकारी हर साल तय करें कि कितने गाँवों को डिजिटल बनाना है।

देश और राज्य के प्रति जुनून पैदा करें। हमें तेजी से विकास करना है। इतने समृद्ध राज्य में गरीबी और बेरोजगारी कैसे हटे, इसपर चिंतन करें। हम जो कर रहे हैं देश के लिए कर रहे हैं, इस भावना से काम करें।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

डुमरी : कुरमी समाज ने निकाला मशाला जुलूस, एसटी में शामिल करने की मांग

23 अप्रैल को झारखंड बंद का किया एलान

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 10:01 PM

डुमरी : कुरमी समाज ने निकाला मशाला जुलूस, एसटी में शामिल करने की मांग

डुमरी (गिरिडीह)। रविवार शाम अपने बहुप्रतीक्षित मांग कुरमी जाति को अनुसूचित जाति में शामिल करने के को लेकर कुरमी विकास मोर्चा ने मशाल जुलूस निकाला। मशाल जुलूस डुमरी वनांचल चौक से लेकर इस्री बाजार का नगर वरली बाजार नगर भ्रमण करते हुए सभा में तब्दील हो गई।

इस दौरान अगुआई कर रहे कुरमी समाज के नेता रामचंद्र महतो ने बताया कि  झारखंड सरकार कुरमी जाति के साथ छल कपट कर रही है। संवैधानिक रूप से सरकार से कुरमी जाति को अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए कई बार मांग की गई, लेकिन राज्य सरकार ने इसमें तत्परता नहीं दिखाई। अगर राज्‍य सरकार तत्‍परता दिखाई होती तो केंद्र सरकार द्वारा अनुशंसा करवा कर अब तक कुरमी जाति को अनुसूचित जाति का दर्जा मिल चुका होता। हमारी मांगों पर राज्य सरकार कोई ठोस निर्णय नहीं ले रही है।

रांची : एसटी में शामिल करने की मांग को लेकर कुरमी समाज गोलबंद

अगुवाओं ने कहा कि‍ जो कुरमी हितों को ध्यान रखेगा वही पार्टी झारखण्ड में राज करेगा। अगर राज्य की रघुवर सरकार हमारी मांग को तरजीह नहीं देती है तो इसका खमियाज़ा अगला चुनाव में भाजपा को भुगतना पड़ेगा।

सड़क से सदन तक बुलंद करेंगे आवाज

सड़क से सदन तक अपनी मांग के संदर्भ में आवाज बुलंद करने के लिए 23 अप्रैल को झारखण्ड बन्द रहेगा। इसके लिए डुमरी में कुरमी समाज के लोगों ने बन्दी को सफल बनाने हेतु जनता से  सहयोग की अपील की है।

मौके पर  कुरमी समाज के वरिष्ठ नेता बैजनाथ महतो, कुरमी विकास मोर्चा के गिरिडीह जिला अध्यक्ष थानेश्वर महतो, रूपलाल महतो, कैलाश महतो, निरंजन महतो, भोला महतो, खेमलाल महतो, अर्जुन महतो, सुरेश महतो, डीलचन्द महतो, अमृत महतो, सहित दर्जनों कुरमी समाज के लोग शामिल थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

पलामू : पुलिस ने अगवा किसान को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:59 PM

पलामू : पुलिस ने अगवा किसान को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया

पलामू। पुलिस ने अपहर्ताओं के साथ मुठभेड़ के बाद किसान को मुक्त कराया है। इस सिलसिले में 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने बताया कि किसान कृष्णा प्रजापति को पांकी थाना अंतर्गत केरकी गांव से 14 अप्रैल की सुबह अगवा किया गया था।

जिसके बाद पांकी इन्स्पेक्टर जय प्रकाश सिंह के नेतृत्व में पांकी थाना प्रभारी ललित कुमार व लेस्लीगंज थाना प्रभारी राणा जंगबहादुर सिंह के साथ सशस्त्र बल को शामिल करते हुए छापेमारी टीम गठित की गई।

रांची : व्यवसाय के दीर्घकालीन लाभ आध्‍यात्‍म से ही संभव- स्वामी माधवानंद

संभावित स्थानों पर छापेमारी करते हुए अपह्रत किसान कृष्णा प्रजापति को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया गया। इस घटना में अपहर्ताओं ने पुलिस की टीम पर फायरिंग भी की जिसपर पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। पुलिस बल द्वारा फायरिंग करते देख अपराधी भागने लगे। घेराबंदी करते हुए तीन राईफल, एक देशी कट्टा व 6 जिंदा गोली व मोबाइल के साथ अपराधियों को धर-दबोचा गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : पर्यावरण को दूषित होने से बचाना है तो पेड़ लगाएं

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:59 PM

जमशेदपुर : पर्यावरण को दूषित होने से बचाना है तो पेड़ लगाएं

स्कूली बच्चों ने ली शपथ 

जमशेदपुर। विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर जमशेदपुर में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। वन विभाग ने एक शपथ कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें स्कूली बच्चों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक करने के लिए शपथ दिलाई गयी।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में जमशेदपुर के सांसद विद्युत वरण महतो शामिल हुए। इस मौके पर उपस्थित स्कूली छात्र- छात्राओं को पर्यावरण के बारे में जानकारी दी गई। बताया गया कि अगर पर्यावरण को दूषित होने से बचाना है तो वृक्ष लगाएं।

जमशेदपुर : जरूरतमंदों को नहीं होगी खून की कमी, युवाओं ने किया रक्‍तदान

सांसद विद्युत वरण महतो ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत के प्रधानमंत्री और झारखंड के मुख्यमंत्री के सपनों को साकार करने और पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए वृक्ष लगाने की जरुरत है। ताकि सरकार की योजना सफल हो सके। पृथ्वी को बचाया जा सके एवं पर्यावरण दूषित ना हो।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

© Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved.