रांची : सीएम आवास घेराव करने जा रहे सेविका-सहायिकाओं को पुलिस ने रोका

NewsCode Jharkhand | 5 February, 2018 7:56 PM
newscode-image

रांची। अपनी मांगों के समर्थन मे मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने सोमवार को पूरे राज्‍य से हजारों की संख्‍या में सेविका-सहायिका रांची पहुंची। नारा लगाते हुए सभी महिलाएं बिरसा चौक से हिनू होते हुए मुख्‍यमंत्री आवास की ओर बढ़ने लगी। पुलिस ने भी इनसे निपटने की पूरी तैयारी कर रखी थी। जगह-जगह पुलिस द्वारा इन्‍हें रोक दिया गया। पुलिस द्वारा रोके जाने से महिलाओं में काफी आक्रोश था। उनका कहना था कि वह शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बातों को रखने आई हैं। महिलाओं को भड़कता देख सिटी एसपी अमन कुमार और एडीएम लॉ एन ऑडर गिरजा प्रसाद उन्‍हें समझाने लगे। काफी मशक्‍कत के बाद सभी सेविका-सहायिकाओं को समझा बुझा कर वापस फिर से बिरसा चौक भेजा गया। अब सीएम आवास में वार्ता के बाद आगे की रणनीति तैयार करेंगे रसोईया/ संयोजिका संघ के लोग।

क्या है मामला

राज्य के 38,682 आंगनबाड़ी केंद्रों की करीब 80 हज़ार सेविकाएं और सहायिका अपनी 11 सूत्री मांगों को लेकर बेमियादी हड़ताल पर है। इनकी प्रमुख्‍ मांग है- सेविकाओं को 21 हजार, सहायिकाओं को 15 हज़ार वेतन मिले और पोषण सखी के लिए नियमावली बने, सेविका-सहायिका को सरकारी कर्मचारी घोषित करते हुए वेतनमान निर्धारित किया जाय, आंगनवाड़ी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता, चिकित्सा भत्ता, यात्रा भत्ता व मोबाईल भत्ता दिये जायें।

रांची : सीएम आवास घेराव करने जा रहे सेविका-सहायिकाओं को पुलिस ने रोका

चरमराई शहर की ट्रैफिक व्‍यवस्‍था

सेविका-सहायिकाओं के घेराव कार्यक्रम से श‍हर की ट्रैफिक व्‍यवस्‍था पूरी तरह से चरमरा गई। पूरे शहर में जाम की स्थिती हो गई थी। राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। कहीं-कहीं तो एंबुलेंस भी जाम में फंस गया था। उसे किसी तरह जाम से निकाला गया। जाम हटवाने में ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को काफी मेहनत करनी पड़ी।

सुबोधकांत का मिला समर्थन

पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने आंगनबाड़ी सेविका सहायिकाओं की सभी मांगों को जायज बताते हुए उनका सम‍र्थन किया है। सुबोधकांत ने कहा कि राज्य में सभी आंगनबाड़ी सहायिका सेविकाओं को सही तरीके से मेहनताना नहीं मिल पाता है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गिरिडीह : रवीन्द्र राय धमकी देने के बजाए पत्र की जांच करायें – झाविमो

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 7:07 PM
newscode-image

गावां(गिरिडीह)। भाजपा सांसद रवीन्द्र राय को झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पर एफआईआर
दर्ज करवाने की धमकी देने के बजाए पत्र की जांच की मांग की जानी चाहिए। ताकि दुध का दुध और पानी का पानी हो जाए। बाबूलाल मरांडी द्वारा झाविमो विधायकों की खरीद-फरोख्त संबंधित पत्र राज्यपाल को सौंपने के बाद भाजपा में हड़कंप मचा हुआ है।

गिरिडीह : कुशवाहा संघ ने नव चयनित दारोगाओं को किया सम्मानित  

अगर उक्त पत्र की सीबीआई द्वारा जांच करवाई जाए तो मुख्यमंत्री समेत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी जेल जाएंगे। उक्त बातें झाविमो के केन्द्रीय सचिव सुरेश साव गावां पार्टी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा। उन्होंने कहा कि बाबूलाल धमकियों से डरने वाले नही हैं। इसलिए रवीन्द्र राय पत्र प्रकरण पर बाबूलाल जी को धमकी देना बंद कर अपने बारें में सोंचे कि अगर पत्र की सच्चाई सामने आई तो उनका ठिकाना कहां होगा।

गिरिडीह : माध्यमिक शिक्षक संघ जिला शाखा का चुनाव संपन्न

कहा कि इस मामले को लेकर झाविमो जल्द राष्ट्रपति से मिलकर इसकी सीबीआई जांच की मांग करेगी। उसके बाद भी पत्र की जांच कर करवाई  नहीं की गयी गई तो झाविमो अदालत का दरवाजा खटखटाएगी। इसके अलावे उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के सत्ता में आते ही विधायक खरीद-फरोख्त मामले की जांच करा इसमें संलिप्त भाजपा नेताओं को तिहाड़ जेल भेजने का काम करेगी। मौके पर झाविमो प्रखंड अध्यक्ष श्रीराम यादव, केन्द्रीय कार्यसमिति सदस्य अमरदीप निराला, सोशल मीडिया जिलाध्यक्ष मनोज मौर्य,  अनिल यादव, मुन्ना सिंह आदि भी मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

पलामू : बिजली के तार की चपेट में आने से तीन की मौत

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 8:04 PM
newscode-image

पलामू। पहला मामला हुसैनाबाद प्रखंड का है जहाँ बेलबीघा गाँव निवासी जुगेश सिंह का निधन बिजली की तार के चपेट में आने से हो गई । जानकारी के अनुसार मृतक जुगेश सिंह मोटर स्टार्ट करने गए थे ,उसी क्रम में वह  बिजली के तार की चपेट में आ गए । ग्रामीणों की मदद  से आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हुसैनाबाद ले जाया गया जहाँ डॉक्टर ने उन्हें मृत घोसित कर दिया ।

वहीं दूसरा मामला सतबरवा प्रखंड के चेतमा की है जहाँ अपने खेत में काम कर रहे दंपती किसान की मौत बिजली प्रवाहित तार की चपेट में आने से हो गयी है । पुलिस मौके पर पहुँच कर दम्पति के शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए दलतीनगंज सदर अस्पताल भेज दिया है । इस घटना से पूरा गाँव शोकाकुल है , वहीं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

धनबाद : जिला डेकोरेटर्स एसोसिएशन का 40 वां वार्षिक अधिवेशन 9 सितम्बर को 

NewsCode Jharkhand | 22 July, 2018 8:02 PM
newscode-image

धनबाद। जिला डेकोरेटर्स एसोसिएशन का 40 वां वार्षिक अधिवेशन आगामी माह 9 सितम्‍बर को आयोजित किया जाएगा। आयेाजन को सफल बनाने को लेकर होटल प्रियांशु में रविवार को एसोसिएशन ने बैठक की। इसमें भाग लेने के लिए जिले के विभिन्न शाखाओं से एसोसिएशन के पदाधिकारी आए थे।

बैठक में यह निर्णय लिया गया कि इस बार वार्षिक अधिवेशन के जरिए समाज को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, स्वच्छ भारत मिशन, साक्षरता मिशन एवं नारी सशक्तिकरण का सन्देश दिया जाएगा।

धनबाद : कलियासोल में महिला मोर्चा का गठन

इसके साथ ही  जिले में बेहतर कार्य करनेवाले डेकोरेटर्स को भी सम्मानित करने का निर्णय लिया गया। वार्षिक अधिवेशन के अवसर पर मुख्य अतिथि धनबाद नगर निगम के मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल और धनबाद एसएसपी मनोज रतन चौथे होंगे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

रांची : अखिल भारतीय  बीएसएनएल शतरंज टूर्नामेंट एआरटीटीसी सभागार में ...

more-story-image

गिरिडीह : क्लीनिक का उद्घाटन, निशुल्क होगा गरीब महिलाओं का...