रांची : विज्ञान प्रदर्शनी में शामिल हुए 300 छात्र, पेश किये कई रोचक मॉडल

NewsCode Jharkhand | 14 November, 2017 8:51 PM
newscode-image

रांची। एमएमके हाई स्कूल बरियातू में आज अन्सरी नाज़ मेमोरियल विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस मौके पर विद्यालय के लगभग 300 छात्रों ने इस विज्ञान प्रदर्शनी में लिया। इस दौरान बच्‍चों ने पर्यावरण, ज्वालामुखी, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, ग्लोबल वार्मिंग, सिल्क, एग्रीकल्चर कल्टीवेशन, आधुनिक कृषि, स्मार्ट सिटी आदि से सम्बंधित मॉडल को प्रदर्शित किया।
इस मौके पर अंजुमन इस्लामिया के अध्यक्ष इबरार अहमद, ब्लू मिशन फाउंडेशन के अध्यक्ष पंकज सोनी, समेत डॉक्टर अबु रेहान आदि लोगों ने बच्चों की मेहनत और इस तरह की एक्टिविटी के लिए सराहा।
प्रदर्शनी की जानकारी विद्यालय के निदेशक डॉक्टर तनवीर अहमद ने दी। प्रदर्शनी में शामिल स्टूडेंट्स में सीनियर ग्रुप से फर्स्ट प्राइज आफरीन प्रवीण को और जूनियर ग्रुप से फर्स्ट प्राइज मीनू प्रवीण को दिया गया।

झरिया : “इंटरनेट के चीजों” विषय पर कार्यशाला आयोजित

NewsCode Jharkhand | 23 June, 2018 10:35 AM
newscode-image

झरिया (धनबाद) । “इंटरनेट के चीजों” विषय पर, एनकेएन (वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग) के माध्यम से एनआईटी पटना और एनआईटी वारंगल के सहयोग से बीआईटी सिंदरी, धनबाद द्वारा संकाय विकास कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

बीआईटी सिंदरी के 20 संकाय इस कार्यक्रम में भाग लिया और उन्होंने हमें बताया है कि इस कार्यक्रम से उन्होंने कई नई चीजें सीखी हैं और वे कॉलेज में आईओटी की उच्च गुणवत्ता वाली प्रयोगशाला स्थापित करने में सक्षम हैं।

चतरा : नक्सली संगठन टीपीसी समर्थक वीरेंद्र गंझू गिरफ्तार

निदेशक बीआईटी ने कहा है कि यह कार्यक्रम सभी के लिए फायदेमंद है क्योंकि यह है नवीनतम तकनीक और हमें बीआईटी सिंदरी में इस कोर्स को करने के लिए अवसर मिला है जो अब भारत सरकार के ई और आईसीटी अकादमी का हिस्सा है।

उन्होंने इस कार्यक्रम के लिए भारत सरकार की भी सराहना की है। बीआईटी सिंदरी प्रोफेसर राजीव रंजन और प्रोफेसर रघुनाथन ने समन्वयक के रूप में कार्य करने की सराहना की और बताया कि भविष्य में ऐसा कार्यक्रम बीआईटी सिंदरी में किया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

कोडरमा : कला की धरा पर कलाकृतियों की बारीकियां बच्चों को सिखा रहे हैं अमर घोष

NewsCode Jharkhand | 24 June, 2018 5:47 PM
newscode-image

कोडरमा। कला की धरा पर कलाकृतियां बिखेरना 68 वर्षीय अमर घोष की खासियत है। अब तक कोडरमा जिले के तकरीबन 500 बच्चों (छात्र-छात्राओं) को ये पेंटिंग, ड्राइंग, मूर्तिकला, पेपरमसवर्क, थर्मोकोल वर्क, पलास्टर ऑफ़ पेरिस, हैंडीक्राफ्ट के क्षेत्र में सभी स्तर की बारिकियों से परिपूर्ण बना उस क्षेत्र में दक्ष बना चुके है। इनका यह अभियान अनवरत जारी है।

कोडरमा : प्रतिदिन सड़क दुर्घटना में जा रही है लोगों की जान, यह है कारण

मौजूदा समय में कला क्षेत्र के धनी अमर घोष तिलैया शहर में रेलवे क्रांसिग के निकट मधुबन काप्लेक्स परिसर में चित्रलिपि के नाम से एक प्रशिक्षण संस्थान चला रहे है। जहाँ सप्ताह में तीन दिन बच्चों को आर्ट क्लास के दौरान उन्हें जानकारियां देकर गढने का काम करते हैं। जिले के कई निजी स्कूलों में भी वे बतौर आर्ट शिक्षक बच्चों को जानकारी देते हैं। ये छात्रों को रिजेक्टेड वाटर बोतल से घर सजाने के हैंडीक्राफ्ट की जानकारी भी देते हैं।

बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि बचपन से ही उनके भीतर आर्ट की बारिकियों को समझने की ललत थी। इस सफर के दौरान उन्होंने इंडियन आर्ट कालेज पश्चिम बंगाल के गोल्ड मेडल प्राप्त प्रध्यापक अजय दास से भी इसके गुर सीखे, बाद के दिनों में 1974-75 में रविन्द्र भारती बंगीय संगीत परिषद धनबाद से उन्होंने आर्ट में डिप्लोमा भी प्राप्त किया है।

मौजूदा समय में उनकी इच्छा है वे ज्यादा से ज्यादा बच्चों को आर्ट की बारिकियां सिखा सके। वे कहते है खासतौर पर छोटे-छोटे नौनिहालों की प्रतिभा निखारने में उन्हें ज्यादा खुशी मिलती है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

धनबाद : पानी-बिजली की किल्‍ल्‍त से परेशान ग्रामीण उतरे सड़क पर

Baidyanath Jha | 24 June, 2018 5:45 PM
newscode-image

धनबाद। जिले में पानी व बिजली की समस्या से परेशान आम लोग अब सड़क पर उतरकर प्रशासन का विरोध करने लगे हैं। ताजा मामला धनबाद केंदुआ का है जहां लोगों ने आज एनएच 32 को घंटों जाम कर पानी व बिजली की मांग की।

मिली जानकारी के अुनसार एनएच 32 सड़क का निर्माण कार्य चल रहा है, जिसके कारण रोड निर्माण कंपनी द्वारा पाईप लाइन क्षतिग्रस्त कर दिए जाने के कारण केंदुआ, करकेंद और कुसुंडा क्षेत्र में घोर पानी की किल्लत कई दिनों से बनी हुई है।

धनबाद : क्विक रिस्पांस टीम करेगी बिजली व पानी की समस्‍या का समाधान

पानी नहीं मिलने से परेशान स्‍थानीय महिलाओं ने हाथ में बर्तन लेकर एनएच 32 को जाम कर पानी देने की मांग करने लगे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

दिल्ली : सेना के अफसर की पत्नी की हत्या, आरोपी...

more-story-image

दुमका : ताइक्‍वांडो व कुश्‍ती प्रतियोगिता आयोजित, प्रतिभागियों ने दिखाया...