रांची : सिल्ली विस उपचुनाव के लिए 10 उम्मीदवार मैदान में डटे

NewsCode Jharkhand | 14 May, 2018 8:42 PM

रांची : सिल्ली विस उपचुनाव के लिए 10 उम्मीदवार मैदान में डटे

रांची। झारखंड में गोमिया और सिल्ली विधानसभा उपचुनाव के लिए आज नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि खत्म हो गयी। रांची जिले के उपायुक्त सह जिला निर्वाची पदाधिकारी राय महिमापत रे ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सिल्ली विधानसभा उपचुनाव के लिए किसी भी प्रत्याशी ने नामांकन वापस नहीं लिया।

इस तरह अब कुल दस उम्मीदवार चुनाव मैदान में रह गये है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय और राज्यस्तरीय दल के रूप में मान्यता प्राप्त दलों के अलावा अन्य उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि मुख्य रूप से झारखंड मुक्ति मोर्चा की सीमा देवी और आजसू पार्टी के सुदेश कुमार महतो के अलावा राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के ज्योति प्रसाद, जनाधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के संजय प्रसाद यादव और झारखंड दिशुम पार्टी के सीताराम मुंडा के अलावा पांच अन्य निर्दलीय प्रत्याशी शामिल है।

रांची : पैरोल खत्‍म होने पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद रांची पहुंचे

इसमें से सीमा देवी नाम की एक अन्य निर्दलीय प्रत्याशी भी चुनाव मैदान में है, जिनका चुनाव चिन्ह जंजीर छाप है। उपायुक्त ने बताया कि इस बार वीवीपैट का इस्तेमाल होगा, 206 भवनों में 278 मतदान केंद्र बनाये गये है, जिसमें सभी 206 भवनों में एक-एक माइक्रो ऑबजर्वर मौजूद रहेंगे। वहीं चुनाव में कुल 1.95 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे।

चुनाव कार्य में 1700 मतदान कर्मियों व 207 माइक्रो ऑबजर्वर समेत कुल 8000 चुनाव कर्मियों को ड्यूटी पर लगाया जाएगा। वहीं चुनाव कार्य के लिए 190 वाहनों की जरूरत होंगे, जिसमें 120 बड़े और 50 छोटे वाहनों की जरूरत होगी। खेलगांव से ही सभी मतदान वाहनों को डिस्पैच किया जाएगा, जिससे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था पर कोई अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ेगा। वहीं राजस्थान कैडर के भाप्रसे के अधिकारी इंद्र सिंह राव को पर्यवेक्षक बनाया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

हजारीबाग : एसपी अनीश गुप्ता ने जिले के कई थाना प्रभारी का किया ट्रांसफर – पोस्टिंग

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 1:16 PM

हजारीबाग : एसपी अनीश गुप्ता ने जिले के कई थाना प्रभारी का किया ट्रांसफर – पोस्टिंग

हजारीबाग । एसपी अनीश गुप्ता ने जिले के कई थानेदारों को स्थांतरित कर किया है ट्रांसफर-पोस्टिंग । इस संबंध में बुधवार को देर शाम आदेश जारी कर दिया गया है।

लोहरदगा : फिल्म फेस्टिवल का शुभारंभ होगा फीचर फिल्म लोहरदगा से

स्थानांतरित थाना प्रभारी  में मुफस्सिल थाना प्रभारी सुमन कुमार को बड़कागांव थाना,कटकमदाग के थाना प्रभारी समीर तिर्की को पेलावल थाना, पेलावल थाना के थाना प्रभारी अजीत कुमार को कटकमदाग, बड़कागांव थाना प्रभारी अकील अहमद को ईचाक थाना, ईचाक के थाना प्रभारी सुरेश राम को गिद्दी थाना, गिद्दी थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह को बदली करते हुए मुफस्सिल थाना का प्रभारी बनाया गया है ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Read Also

देवघर : मधुपुर नगर परिषद अध्यक्ष लतिका मुर्मू और उपाध्यक्ष जियाउल हक हुए सख्त

कहा नहीं बनेगी सड़क, जनता के पैसे का होता है दुरुपयोग। पूर्व नप अध्यक्ष द्वारा कराया गया था टेंडर

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 12:56 PM

देवघर : मधुपुर नगर परिषद अध्यक्ष लतिका मुर्मू और उपाध्यक्ष जियाउल हक हुए सख्त

देवघर । मधुपुर नगर परिषद के वार्ड नंबर 12 में पीसीसी सड़क का टेंडर पूर्व नप अध्यक्ष द्वारा कराया गया था जबकि सड़क की स्थिति बिल्कुल सही है। आज फिर से शिलापट लगाकर विधिवत आधारशिला रखा गया था और सड़क बनाने का काम शुरू होना था।

नवनिर्वाचित नप अध्यक्ष लतिका मुर्मू ओर उपाध्यक्ष जियाउल हक द्वारा इसका विरोध किया गया और काम को बंद करा दिया गया। वही इनका कहना है कि मधुपुर की शहर के सौंदर्यीकरण के लिए प्लान बनाया गया है और जहां जर्जर सड़क है वहां कालीकरण किया जाएगा । फिजूल में सड़क पर सड़क नही बनने दिया जाएगा।

जिस सड़क की स्थिति बिल्कुल सही है उसमें सड़क पर सड़क बना कर जनता के पैसे का दुरुपयोग नहीं होने दिया जाएगा। वही स्थानीय लोग भी सड़क पर सड़क बनाने का विरोध किया। शिलापट लगा का लगा ही रह गया और नप अध्यक्ष लतिका मुर्मू ओर उपाध्यक्ष जियाउल हक द्वारा काम बंद करा दिया गया ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

चाईबासा : जिले में 13 फीसदी बच्चे अति गंभीर कुपोषण का शिकार

NewsCode Jharkhand | 24 May, 2018 12:48 PM

चाईबासा : जिले में 13 फीसदी बच्चे अति गंभीर कुपोषण का शिकार

केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग और यूनिसेफ की संयुक्त टीम ने प. सिंहभूम जिले का किया दौरा

चाईबासा (पश्चिमी सिंहभूम)। केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग और यूनिसेफ की संयुक्त टीम पश्चिमी सिंहभूम जिला के दौरे पर है। केंद्रीय और यनिसेफ की एक टीम सारंडा के विभिन्न गांवों का दौरा कर रही है तो दूसरी टीम सदर अस्पताल के कुपोषण उपचार केंद्र का निरीक्षण कर रही है। टीम मुख्य रूप से जिले में कुपोषित बच्चों के उपचार, रख-रखाव और उनके स्वास्थ्य का डाटा तैयार कर रही है। अपने दौरे के क्रम में टीम के अधिकारियों ने कुपोषण उपचार केंद्र के डाक्टर, नर्स और अन्य कर्मियों को कई दिशा -निर्देश भी दिए।

चाईबासा कुपोषण उपचार केंद्र में इलाजरत बच्चों को देखने के बाद टीम संतुष्ट दिखी, लेकिन उपचार केंद्र से जाने के बाद कुपोषित बच्चों के मां से सप्ताह में एक बार बच्चे के स्वास्थ्य की जानकारी लेकर डाटा तैयार करने का निर्देश दिया।

Read More:- गढ़वा : कुपोषण उपचार केंद्र में कर्मियों की मनमानी, राशि का करते बंदरबांट

वहीं सारंडा का दौरा कर रही टीम गांवों के आंगनबाडी केंद्रों में बच्चों के रहन-सहन, खाने-पीने और परिवेश का जानकारी हासिल कर रही है। गौरतलब है कि प सिंहभूम जिला में 1 से पांच साल के बच्चों की कुल संख्या का 13 फीसदी बच्चे अति गंभीर कुपोषण का शिकार है, जबकि हजारों की संख्या में बच्चे कुपोषण से ग्रसित है।

रांची : हार रही जिंदगी के बीच बदलाव की बयार, मासूम जीत रहे कुपोषण की जंग

कुपोषण के कारण जिले बच्चों का मानसिक, शारीरिक और बौद्धिक विकास रूक गया है। केंद्र और राज्य सरकार  इसे गंभीरता से लेते हुए जिले में कुपोषित बच्चों को बचाने की अपनी मुहिम तेज कर दी। कुपोषण के लिए अलग से फंड जारी किया गया। केंद्र और युनिसेफ टीम का दौरा इसी क्रम का हिस्सा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने