रामगढ़ : रोटरी दामोदर वैली ने चलाया सड़क सुरक्षा सप्ताह

NewsCode Jharkhand | 17 February, 2018 5:14 PM

बिना हेलमेट पहने लोगों को दिया गुलाब

newscode-image

रामगढ़। रोटरी दामोदर वैली एवं  रोट्रेक्ट के संयुक्त तत्वधान में शनिवार को सुभाष चौक के समक्ष सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया। इस दौरान क्लब के अध्यक्ष धीरज सिंह व क्लब के अन्य सदस्यों ने बिना हेलमेट पहने व वैसे लोग जो बाइक में ट्रीपल राईडिंग कर रहे थे,  वैसे लोगों को गुलाब का फूल देकर हेलमेट पहनने का आग्रह किया गया। साथ ही आसपास के लोगों में जागरूकता अभियान चलाया गया।

रामगढ़ : बच्चों के लिए पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद भी जरूरी- नीरू

मौके पर क्लब के अध्यक्ष धीरज सिंह ने कहा कि आए दिन अधिकांश सड़क दुर्घटना में हेलमेट नहीं पहनने के कारण कई लोग की जाने जा चुकी है। अगर हम सभी इसके लिए थोड़ी सी सावधानी बरतें तो दुर्घटना को टाला जा सकता है। उन्होंने कहा कि अगर आप सुरक्षित है तो आपके परिवार भी सुरक्षित रहेंगे। कहा कि अगर आप ट्रैफिक नियमों का पालन करते है तो दुर्घटना से बच सकते हैं।

इस अवसर पर यातायात पुलिस के एएसआई असलम खान, सचिव देवांशु साहा, कार्यक्रम के प्रोजेक्ट चेयरमैन निलेश गुप्ता, अमित साहू, आलोक कुमार, नीरज चौधरी, अंशु कुमार, गोपाल कुमार, रुपेश अग्रवाल, आनंद सर्राफ, रवि साहू सहित क्लब के सदस्य उपस्थित थे।

माइक्रोसॉफ्ट ने समुद्र में 117 फीट नीचे छुपाया गुप्त डेटा, जानें वजह

NewsCode | 21 June, 2018 5:30 PM
newscode-image

नई दिल्ली। टेक्नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने स्कॉटलैंड के करीब ऑर्कने आइलैंड पर अपना पहला अंडरवाटर डेटा सेंटर लॉन्च किया है। इसे समुद्र में करीब 117 फीट गहराई में उतारा गया है।

माइक्रोसॉफ्ट, गूगल, एप्पल जैसी तमाम सॉफ्टवेयर डेवलपिंग कंपनियां और क्लाउड डाटा सेवा प्रदान करने वाली कंपनियां अपने यूजर्स के डाटा को सेव करने के लिए एक बड़े क्षेत्र में डाटा स्टोरेज सेंटर बनाती है। इन डाटा सेंटर में दुनियाभर के यूजर्स के डाटा को स्टोर किया जाता है, जिसे यूजर्स कभी भी एक्सेस कर सकते हैं।

कम्प्यूटर को ओवरहीटिंग से बचाने के लिए ज्यादा तर लिक्विड कूलिंग सिस्टम का उपयोग होता है। डाटा सैंटर्स को ठंडा करने के लिए भी यही तकनीक उपयोग में लाई जाती है जिसमें काफी पैसे खर्च होते हैं। माइक्रोसॉफ्ट ने इसका एक विकल्प निकाला है। कम्पनी ने डाटा सैंटर्स से युक्त वटरटाइट सिलैंड्रिकल सैल बनाया है जिसे स्कॉटलैंड के तट पर पानी के नीचे तैनात किया गया है।

माइक्रोसॉफ्ट ने समुद्र में 117 फीट नीचे छुपाया गुप्त डेटा, जानें वजह

कम्पनी ने 12 मीटर लम्बे प्रोटोटाइप को बनाया है जिसमें 864 सर्वर्स लगाए गए हैं जिन्हें 12 सर्वर रैक्स में लोड किया गया है। यह रिन्युएबल ऊर्जा से चलेगा। पानी के अंदर डेटा सेंटर होने से तटीय इलाकों में डटा ट्रैवल का दायरा छोटा होगा, इससे तेज स्पीड मिलेगी और सर्फिंग आसान होगी। पानी में रहने की वजह से सेंटर की कूलिंग पर होने वाला खर्च भी कम होगा।

Flipkart Sale: 70 हजार कीमत के इस स्मार्टफोन को 10,999 रुपये में ले जाएं घर

माइक्रोसॉफ्ट के रिसर्चर बेन कटलर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि समुद्रतल में डाटा सर्वर को रखने के पीछे कई कारण हैं। समुद्र के आस-पास के 200 किलोमीटर के दायरे में दुनियाभर की बड़ी आबादी रहती है। कटलर ने आगे कहा कि माइक्रोसॉफ्ट के क्लाउड स्ट्रेटेजी के मुताबिक डाटा सेंटर को घनी आबादी के पास रखना सही कदम होगा।

वैज्ञानिकों ने बनाई एक खास तरह की स्किन, करेगी खुद का इलाज

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

चतरा : सीसीटीवी लगाने को लेकर प्रशासन करेगी व्यवसायियों के साथ बैठक

NewsCode Jharkhand | 22 June, 2018 6:38 PM
newscode-image

चतरापुलिस कप्तान अखिलेश वी वारियर के निर्देश पर शनिवार को सदर थाना में शहर के प्रतिष्ठित व्यवसाई एवं पेट्रोल पंप के मालिकों के साथ एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि जिला अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ज्ञानरंजन होंगे।

इस आशय की जानकारी देते हुए सदर थाना प्रभारी राम अवध सिंह ने कहा कि शहर में चल रहे प्रतिष्ठानों के मालिकों से आग्रह किया गया है कि वह अपने दुकानों में एवं दुकान के बाहर सीसीटीवी कैमरा लगाएं इसको लेकर उन्हें कई बार संपर्क साधा गया।

चतरा : भूमि विवाद में मुखिया समेत छह पर प्राथमिकी दर्ज

इसके बावजूद शहर के कई दुकानदारों को नोटिस भेजी गई है। इसी को धरातल में उतारने को लेकर शहर के तमाम व्यवसायियों से आग्रह किया गया है कि वह निर्धारित समय पर  सदर थाना पहुंच कर आवश्यक दिशा निर्देश दें एवं सीसीटीवी कैमरा लगाने का कार्य करें।

इन दिनों शहर में हुई कई गोली कांड घटना को लगाम लगाने में शहर के  कुछ जगहों पर लगाए गए सीसीटीवी कैमरा  के सहयोग से भी उदभेदन  किया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

चतरा : भूमि विवाद में मुखिया समेत छह पर प्राथमिकी दर्ज

NewsCode Jharkhand | 22 June, 2018 6:31 PM
newscode-image

चतरा। सदर थाना क्षेत्र के डाढ़ा पंचायत में शुक्रवार को भूमि विवाद में हुई मारपीट में एक गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल किसन तुरी का पुत्र प्रमोद तुरी है। इस बाबत प्रमोद ने सदर थाना में लिखित आवेदन देकर मुखिया रमेश कक्षप समेत छह पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्राथमिकी दर्ज में प्रमोद ने कहा है कि गांव में अपना मकान बना रहा था।

चतरा : नक्सली संगठन टीपीसी समर्थक वीरेंद्र गंझू गिरफ्तार

तभी मुखिया रमेश कक्षप, भोला यादव, काली यादव, प्रदीप यादव, सुरेंद्र यादव व कोमल यादव आकर लाठी व डंडे से मारपीट करने लगे। आसपास के ग्रामीणों की मदद से मामला को शांत कराया गया। उसके बाद घायल व उसके परिजनों ने सदर थाना में आकर आपबीती सुनाई।

थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर रामअवध सिंह ने मामले को संज्ञान में लेते हुए उक्त सभी पर प्राथमिकी दर्ज की है। उन्होंने बताया कि मामले में संलिप्त आरोपियो की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी किया जा रहा है। जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा। उन्होंने घायल को उपचार व इंजुरी तैयार कराने के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

चतरा : नक्सली संगठन टीपीसी समर्थक वीरेंद्र गंझू गिरफ्तार

more-story-image

दुमका : 11 हजार हाई टेंशन तार की चपेट में...