मैं हिंदू नहीं, मोदी विरोधी हूं : प्रकाश राज

NewsCode | 19 January, 2018 9:00 AM

प्रकाश राज ने कहा कि पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद मोदी समर्थकों के जश्न मनाने पर उन्होंने मोदी से प्रतिक्रिया मांगी थी तब प्रधानमंत्री शांत थे।

newscode-image

हैदराबाद| अभिनेता प्रकाश राज ने कहा कि वह हिन्दू विरोधी नहीं हैं, वह केवल मोदी का विरोध करते हैं। आलोचकों ने उन पर गलत आरोप लगाए हैं।

इंडिया टुडे के साउथ कॉन्क्लेव में आए अभिनेता ने कहा, “आलोचक कहते हैं कि मैं हिन्दू विरोधी हूं जबकि मैं कहता हूं कि मैं मोदी, शाह और हेगड़े विरोधी हूं।”

वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह और भाजपा नेता तथा केन्द्रीय मंत्री अनन्त कुमार हेगड़े की तरफ इशारा कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कातिलों का समर्थन करने वाले खुद को हिन्दू नहीं बोल सकते।

उन्होंने कहा कि पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद मोदी समर्थकों के जश्न मनाने पर उन्होंने मोदी से प्रतिक्रिया मांगी थी तब प्रधानमंत्री शांत थे।

पूर्व पत्रकार के दोस्त प्रकाश राज ने कहा कि एक सच्चा हिन्दू ऐसे कामों का समर्थन नहीं कर सकता।

फिल्म अभिनेता के बयान के बाद श्रोताओं के बीच बैठे तेलंगाना के भाजपा प्रवक्ता कृष्णा सागर राव ने प्रतिरोध किया।

इस पर अभिनेता ने अपना पक्ष रखते हुए उनसे कहा कि अगर वह उन्हें हिन्दू विरोधी बोल सकते हैं तो वे भी उन्हें बोल सकते हैं कि वे हिन्दू नहीं हैं।

 आईएएनएस

UGC का फरमान- 29 सितंबर को यूनिवर्सिटी मनाएं ‘सर्जिकल स्ट्राइक दिवस’, कांग्रेस ने की आलोचना

NewsCode | 21 September, 2018 5:34 PM
newscode-image

नई दिल्ली। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने देशभर के विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षण संस्थानों को 29 सितंबर को ‘सर्जिकल स्ट्राइक दिवस’ के तौर पर मनाने का आदेश दिया है। UGC ने सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाने के लिए सशस्त्र बलों के बलिदान के बारे में पूर्व सैनिकों से संवाद सत्र, विशेष परेड, प्रदर्शनियों का आयोजन और सशस्त्र बलों को अपना समर्थन देने के लिए उन्हें ग्रीटिंग कार्ड भेजने समेत अन्य गतिविधियां आयोजित करने का सुझाव भी दिया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आयोग ने सभी कुलपतियों को गुरुवार को भेजे एक लेटर में कहा, ‘सभी विश्वविद्यालयों की एनसीसी की इकाइयों को 29 सितंबर को विशेष परेड का आयोजन करना चाहिए जिसके बाद एनसीसी के कमांडर सरहद की रक्षा के तौर-तरीकों के बारे में उन्हें संबोधित करें।’

यूजीसी ने कहा कि विश्वविद्यालय सशस्त्र बलों के बलिदान के बारे में छात्रों को संवेदनशील करने के लिए पूर्व सैनिकों को शामिल करके संवाद सत्र का आयोजन कर सकते हैं।

पत्र में कहा गया है, ‘इंडिया गेट के पास 29 सितंबर को एक मल्टीमीडिया प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। इसी तरह की प्रदर्शनियों का आयोजन राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों, अहम शहरों, समूचे देश की छावनियों में किया जा सकता है। इन संस्थानों को छात्रों को प्रेरित करना चाहिए और संकाय सदस्यों को इन प्रदर्शनियों में जाना चाहिए।’

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने की आलोचना

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने ट्विटर पर यूजीसी के इस निर्णय की आलोचना की है। उन्होंने लिखा है, ‘यूजीसी ने सभी यूनिवर्सिटीज को 29 सितंबर को सर्जिकल स्ट्राइक डे के रूप में मनाने का आदेश दिया है। यह लोगों को शिक्षित करने के लिए बना है या बीजेपी के राजनीतिक हित साधने के लिए? क्या यूजीसी 8 नवंबर (नोटबंदी) को गरीबों का निवाला छीनने के सर्जिकल स्ट्राइक दिवस के रूप में मनाने की हिम्मत कर पाएगा? यह एक और जुमला है!

वहीं, मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि यूनिवर्सिटीज सर्जिकल स्ट्राइक दिवस को मनाने के लिए बाध्य नहीं हैं। जावड़ेकर ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक को समर्पित इस कार्यक्रम को मनाने का सुझाव हमें कई शिक्षकों और विद्यार्थियों से मिला था, इसलिए हमने इसके आयोजन का फैसला किया है।

गौरतलब है कि भारत ने 29 सितंबर 2016 को PoK में नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादियों के सात अड्डों पर लक्षित कर हमले किए थे। सेना ने कहा था कि विशेष बलों ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से घुसपैठ की तैयारी में जुटे आतंकवादियों को भारी नुकसान पहुंचाया है।

18 सितंबर 2016 को पाकिस्तान से आए आतंकियों ने भारत के उरी कैंप पर हमला किया और भारत के 19 जवान शहीद हुए थे। उरी हमले के करीब दस दिन बाद 28-29 सितंबर 2016 की रात भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को तहस-नहस कर दिया था।


सर्जिकल स्ट्राइक के नए वीडियो पर भड़की कांग्रेस, कहा-बलिदान को वोट में बदलने की कोशिश कर रही BJP

अब झूठ नहीं बोल पाएगा पाकिस्तान, पहली बार सामने आया PoK में टेरर कैंपों पर सर्जिकल स्ट्राइक का Video

जम्मू-कश्मीर: 3 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद 7 SPO का इस्तीफा, गृह मंत्रालय ने बताया- अफवाह

इमरान के खत पर बदला भारत का रुख, UN बैठक के दौरान पाक विदेश मंत्री से मिलेंगी सुषमा

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

हजारीबाग : आरंभ वैक्वेंट में शराब के नशे में चाकूबाजी, एसपी का बॉडीगार्ड निलंबित

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 10:10 PM
newscode-image

हजारीबाग। नेशनल हाईवे पर स्थित आरंभ वैंंक्वेट रिसोर्ट में गुरूवार की रात आयोजित आर्केस्ट्रा पार्टी में हंगामा हो गया। पार्टी के दौरान शराब के नशे में हुई मार-पीट और चाकूबाजी की घटना में तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मार-पीट करने का आरोप एसपी कोठी के गार्ड नितेश कुमार सिंह व होटल संचालक प्रफुल्ल सिंह व उसके भाई पर लगा है। इस बाबत फर्द बयान के आधार पर लोहसिंघना थाने में प्राथमिकी दर्ज करने की कवायद की गयी थी। फर्द बयान में होटल संचालक प्रफुल्ल सिंह ने हंटरगंज चतरा के मंटू सिंह नामक व्यक्ति द्वारा होटल आर्केस्ट्रा के लिए बुक कराने की बात कही।

हजारीबाग : आरंभ वैक्वेंट में शराब के नशे में चाकूबाजी, एसपी का बॉडीगार्ड निलंबित

इस दौरान वहां बार गर्ल से डांस भी करवाया गया। डीजे बंद कराने को लेकर अहले सुबह उसके भाई और स्वयं के साथ एसपी के बॉडीगार्ड ने मारपीट की। वही एसपी कोठी का गार्ड नितेश कुमार सिंह ने अपने फर्द बयान में होटल संचालक द्वारा पार्टी के नाम पर रात करीब साढ़े नो बजे फोन कर बुलाने की बात कहीं गई। इस दौरान पार्टी में शराब पीने को लेकर उसके साथ प्रफुल्ल सिंह, उसका भाई पुष्कल सिंह व उनके कर्मियों ने चाकू, रड व छोलनी से हमला कर दिया। हजारीबाग सदर डीएसपी मंगल सिंह जामुदा के अनुसार SP के बॉडीगार्ड नितेश सिंह को निलंबित कर दिया गया है। मामले की गहन जांच की जा रही है।

कटकमसांडी : गगनचुंबी आलम और रंग-बिरंगे ताजिया ने लोगों को किया आकर्षित

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

चाईबासा : राज्य सरकार ने हाईटेक प्रखंड कार्यालय का शुरू किया निर्माण 

NewsCode Jharkhand | 21 September, 2018 10:07 PM
newscode-image

हाईटेक नवनिर्मित कार्यालय का उद्घाटन भाजपा सांसद और प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने किया।

चाईबासा। प सिंहभूम जिला के सुदूरवर्ती गांवों के विकास को गति देने के लिए राज्य सरकार  ने हाईटेक प्रखंड कार्यालय का निर्माण कराना शुरू कर दिया है। इसी के तहत आज जिले के मंझारी प्रखंड के नये और हाईटेक नवनिर्मित कार्यालय का उद्घाटन भाजपा सांसद और प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने किया।

चक्रधरपुर : ‘झारखंड संघर्ष यात्रा’ पर 27 को निकलेंगे हेमंत सोरेन, खरसावां में होगा भव्य स्वागत

इस मौके पर मझगांव के झामुमो विधायक निरल पूर्ति, जिला परिषद अध्यक्ष लालमुनि पूर्ति सहित विभिन्न गांवों के मुखिया, मुंडा और स्थानीय लोग मौजूद रहे, भारी बारिश के बावजूद नये और हाईटेक प्रखंड कार्यालय के उद्घाटन समारोह में लोग बेहद खुश दिखे।

मंझारी प्रखंड के नये कार्यालय में बीडीओ, सीओ, सीडीपीओ,पंचायत सेवक, प्रखंड प्रमुख सहित अन्य कर्मियों के बैठने के लिए पर्याप्त कमरे बनाए गए।

एक बड़े मीटिंग हॉल के साथ हर सुविधा इस नये कार्यालय में मौजूद है। भव्य और हाईटेक कार्यालय को देख कर विपक्षी विधायक निरल पूर्ति भी राज्य सरकार की तारीफ करने में कंजूसी नहीं की। विधायक ने कहा कि सरकार चाहे जिसकी हो वे विकास  के समर्थक हैं।

भाजपा सांसद ने कहा कि मंझारी प्रखंड का पुराना कार्यालय वर्षों से जर्जर था और अधिकारियों -कर्मियों केे लिए बैठने की पर्याप्त जगह नहीं थी, ऐसे राज्य सरकार ने सभी की परेशानियों को देखते हुए नये कार्यालय बनाने का सिलसिला शुरू किया है, जिससे एक ही छत के नीचे काम कराने में सुविधा होगी। जिप अध्यक्ष ने भी कहा कि मंझारी प्रखंड के 50 हजार ग्रामीणों को इसका सीधा लाभ मिलेगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

चांडिल : घायल को झावियुमो प्रखंड उपाध्यक्ष ने पहुँचाया अस्पताल

more-story-image

गिरिडीह : चोरों ने किराने दुकान पर किया हाथ साफ़,...