राधे मां को कुर्सी पर बिठाने वाला थानाध्यक्ष निलंबित, 6 पुलिसवाले लाइन हाजिर

NewsCode | 6 October, 2017 1:27 PM
newscode-image

नई दिल्ली।  एसएचओ की कुर्सी पर राधे मां को बैठाकर खुद परम भक्त की मुद्रा में खड़े एसएचओ संजय शर्मा की करनी से पूरा पुलिस डिपार्टमेंट शर्मिंदा है। सोशल मीडिया पर उनकी इस वीडियो के वायरल होने के बाद बृहस्पतिवार देर रात विवेक विहार थानाध्यक्ष संजय शर्मा व एएसआई ब्रजभूषण को निलंबित कर दिया गया। वहीं इस मामले में शामिल 6 पुलिसकर्मियों को जीटीबी एन्क्लेव थाने से जिला लाइन भेज दिया गया है।

वायरल हुईं तस्वीरों में राधे मां विवेक विहार थानाध्यक्ष की कुर्सी पर बैठी नजर आ रही हैं तो एक अन्य वीडियो में वह रामलीला आयोजन में पुलिसकर्मियों के साथ थिरकती नजर आ रही हैं। शाहदरा जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त को मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं।

कौन हैं राधे मां

राधे मां के बारे में कहा जाता है कि इसका जन्म पंजाब के गुरदासपुर जिले के एक सिख परिवार में हुआ था। इसकी शादी सरदार मोहन सिंह से हुई थी। लेकिन शादी के बाद इसकी मुलाकात एक महंत से हुई और इसने आध्यात्मिक जीवन अपना लिया और वो मुंबई आ गई। मुंबई में आने के बाद ये राधे मां के नाम से मशहूर हो गई।

हाथ में त्रिशूल लेकर अपने भक्तों के बीच अजब-गजब मुद्रा को लेकर चर्चित राधे मां हमेशा ही सुर्खियों में रहतीं हैं। राधे मां के खिलाफ कई राज्यों में केस दर्ज किए जा चुके हैं। मुख्य रूप से मुंबई, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात में अलग-अलग केस दर्ज हो चुके हैं। दहेज के मामले में भी उससे पुलिस पूछताछ कर चुकी है। इस पर यौन उत्पीड़न और धमकाने के भी केस दर्ज है।

हाल ही में संतों की एक संस्था ने उन्हें फर्जी संत घोषित किया है। ऐसे में सवाल उठता है कि एक थाने में राधे मां के प्रति इतनी श्रद्धा कहां तक उचित है? उन्हें दारोगा की कुर्सी पर बिठाने की क्या जरुरत थी? हर कुर्सी की एक मर्यादा होती है, क्योंकि ये कुर्सी किसी व्यक्ति की नहीं है, बल्कि दिल्ली पुलिस के एक जिम्मेदार अफसर की है।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 4:51 PM
newscode-image

रांची। सुगम और सस्ती स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए भारत ने रविवार को ऐतिहासिक और एक बड़ा कदम उठाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को झारखंड की राजधानी रांची में दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत की शुरुआत की।

प्रधानमंत्री ने बिरसा मुंडा की धरती से दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ बीमा योजना, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की शुरुआत पांच परिवारों को गोल्डन कार्ड देकर किया।  साथ ही देश के 26 राज्यों में भी उन राज्यों के मुख्यमंत्री, राज्यपाल इस योजना की शुरुआत की। इसके अलावा 51 केंद्रीय मंत्रियों ने भी अलग-अलग जगहों पर योजना की शुरुआत की।


रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

प्रधानमंत्री ने कोडरमा, चाईबासा मेडिकल कॉलेज का किया शिलान्यास

प्रधानमंत्री ने रांची से झारखंड मे 10 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के अलावा चाईबासा और कोडरमा के मेडिकल कॉलेज का भी शिलान्यास किया। कोडरमा में करीब 328करोड़ और चाईबासा में 272करोड़ की लागत से मेडिकल कॉलेज बनेगा।

राजधानी रांची के प्रभात तारा मैदान में आयुष्मान भारत के उद्घाटन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि काम कैसे होता है, कितने बड़े पैमाने में होता है, यह झारखण्ड में देखा जा सकता है।

उन्होंने कहा कि इस योजना की शुरुआत उनके लिये दरिद्र नारायण की सेवा करने का अवसर है, छह महीने के भीतर इस योजना का आना बहुत बड़ा अजूबा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीबों के नाम पर राजनीति करने के बजाय गरीबों के विकास पर ध्यान दिया गया होता तो आज देश का स्वरूप कुछ और ही होता।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

धांधली रोकने के लिए पुख्ता व्यवस्था- प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत देश के 10 करोड़ से अधिक परिवारों को सालाना 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा कवर मिलेगा। इसके दायरे में देश की 40 फीसदी आबादी आएगी और करीब 50 करोड़ लोगों को फायदा होगा। ये पूरी तरह से पेपरलेस और कैशलेस होगी।

इस योजना के तहत 1,350 से ज्यादा प्रोसीजर (बीमारी) और 23 गंभीर बीमारियों यानि कैंसर, दिल, हड्डी, दांत, मानसिक बीमारी, लेप्रोसी जैसी बीमारियों का भी मुफ्त इलाज होगा।

अस्पताल में भर्ती होने के 3 दिन पहले और 15 दिन बाद तक मरीज को मुफ्त दवा मिलेगी। किसी भी तरह की धांधली रोकने के लिए पुख्ता व्यवस्था की गई है।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

प्रधानमंत्री ने काफिला रोककर आंगनबाड़ी और सहिया बहनों से की मुलाकात

इससे पहले राजधानी रांची पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीच रास्ते अपना काफिला रोककर आंगनबाड़ी और सहिया बहनों से मुलाकात की। सहिया बहनों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का स्थानीय गीत से स्वागत किया।

आंगनबाड़ी दीदी से मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री  ने पोषण माह के बारे में जानकारी ली। साथ ही ये भी पूछा कि किस तरह के पौष्टिक भोजन को लेकर वो जागरुकता फैलाती हैं। प्रधानमंत्री  ने सहिया बहनों के प्रयासों की तारीफ करते हुए उनसे भी संवाद किया।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

इस योजना से 50-55 करोड़ आबादी होगी लाभान्वित- जेपी नड्डा

समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड से इसकी आज शुरुआत कर रहे हैं।  आयुष्मान भारत के तहत पूरे देश के 10 करोड़ 74 लाख परिवार को इसका लाभ मिलेगा जिसके तहत लगभग देश की 50 से 55 करोड़ आबादी लाभान्वित होगी। झारखण्ड के 57 लाख परिवार को इसका लाभ मिलेगा। यह पूरी तरह डिजिटल, कैशलेस और पेपरलेस है।

रांची : प्रधानमंत्री ने रांची से की आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

भ्रष्टाचारियों के लिए मोदी सरकार काल बनकर आयी है- रघुवर दास

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि भ्रष्टाचारियों के लिए मोदी सरकार काल बनकर आयी है। मोदी सरकार ने पिछले चार साल में भारत की जो विकास गाथा लिखी है, उससे विपक्ष घबरा गया है।

विपक्ष को समझ नहीं आ रहा है कि वो कैसे मोदी सरकार के विकास कार्यों का मुकाबला करे। इसलिए पूरा विपक्ष महागठबंधन बनाकर भ्रष्टाचार में डुबे लोग दुष्प्रचार में लगे हैं। लेकिन जनता सब जानती है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

धनबाद : आयुष्मान भारत योजना की उपायुक्त ने की शुरूआत

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:35 PM
newscode-image

धनबाद। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा रांची में आयुष्‍यमान भारत योजना को हरी झंडी दिखाने के बाद धनबाद में भी इस योजना की शुरूआत हो गई है। उपायुक्‍त ए डोड्डे ने इसकी शुरूआत की।

जिले के पीएमसीएच समेत 28 अस्पतालों को इसके लिए अब तक सूचीबद्ध किया गया है। इसके अलावा कई अन्य अस्पतालों से भी जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की बातचीत चल रही है। जल्दी ही और कई अस्पतालों को आयुष्मान भारत के तहत जोड़ा जाएगा। इन अस्‍पतालों के सूचीबद्ध होते ही लोग स्वास्थ्य सुविधाएं ले पाएंगे।

जिले में सबसे पहले पीएमसीएच से इस योजना की शुरुआत हुई। लोगों ने कतार  बद्ध होकर रजिस्ट्रेशन कराए और गोल्ड कार्ड लिए।

बाघमारा : स्वच्छ भारत हमारा संकल्प एवं स्वच्छता हमारा कर्तव्य- प्रखंड प्रमुख

उपायुक्त ने पत्रकारों से कहा कि इस योजना के तहत 5 लाख रुपये तक का इलाज  उन  सभी परिवारों के लोग करा पाएंगे जिनका सामाजिक व आर्थिक जनगणना  में नाम शामिल है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

घाटशिला : 42 वां दो दिवसीय फुटबॉल महाकुंभ संपन्न, विक्रम स्पोर्टिंग आदित्यपुर बना विजेता

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 6:34 PM
newscode-image

घाटशिला ।  झारखंड स्पोर्ट्स क्लब नूतनडीह, घाटशिला के तत्वावधान में 42 वां दो दिवसीय फुटबॉल महाकुंभ  संपन्न हुआ ।

इस अवसर पर विक्रम स्‍पोर्टिंग आदित्यपुर की टीम ने चेन्नई एक्सप्रेस को हराकर टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया।

घाटशिला : लाभुकों में गैस कनेक्‍शन का वितरण

विजेता टीम को ₹50000 और ट्रॉफी तथा उप विजेता टीम को ₹30000 और ट्रॉफी देखकर सम्मानित किया गया।

इस  टूर्नामेंट में कुल 52 टीम ने हिस्सा लिया था। इस अवसर पर पूर्व विधायक रामदास सोरेन, घाटशिला के जिला परिषद सदस्य देवयानी मुर्मू, मुखिया कृटी सिंह, डॉ अमित सिंह, डॉक्टर सुनीता सोरेन, जगदीश भगत  समेत अनेक लोग उपस्थित थे l

टूर्नामेंट को सफल बनाने में डोमन चंद्र मुरमू, मोनो सामंत, सुकलाल टूडू, बलराम मुर्मू, विनय मुर्मू, हितेश भगत, रायसेन सोरेन, मनोज रवानी, का सराहनीय योगदान रहा ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

चतरा : जुआ खेल रहे सात जुआरी गिरफ्तार, पैसे व...

more-story-image

पाकुड : अभाविप ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का फूंका पुतला