पितृ पक्ष: श्राद्ध क्रिया में इन खास बातों का रखें ख्याल

NewsCode | 6 September, 2017 12:57 PM
newscode-image

हिंदू कर्मकांड में श्रद्धा और मंत्र के मेल से पूर्वपुरुषों (पितरों) की आत्मा की तृप्ति के निमित्त जो विधि होती है उसे श्राद्ध कहते हैं। हमारे जिन सगे-संबंधियों का देहांत हो गया है, वे पितृलोक में या यत्र-तत्र विचरण करते हैं, उनके लिए पिण्डदान किया जाता है। बच्चों एवं संन्यासियों के लिए पिण्डदान नहीं किया जाता। आज से पितृ पक्ष प्रारंभ हो गया है।

अगर पंडित से श्राद्ध नहीं करा पाते तो सूर्य नारायण के आगे अपने दोनों हाथ ऊपर करके ये बोलें : “हे सूर्य नारायण ! मेरे पिता (नाम), अमुक (नाम) का बेटा, अमुक जाति (नाम), (अगर जाति, कुल, गोत्र नहीं याद तो ब्रह्म गोत्र बोल दें) को आप संतुष्ट/सुखी रखें। इस निमित्त मैं आपको अर्घ्य व भोजन करता हूं।” इसके पश्चात् आप भगवान सूर्य को अर्घ्य दें और भोग लगायें।

 इन बातों का रखें खास ख्याल –

  • श्राद्ध में कपड़े और अनाज दान करना ना भूलें। इससे पूर्वजों की आत्मा को शांति मिलती है।
  • बताया जाता है कि श्राद्ध दोपहर उपरांत ही किया जाना चाहिए। जानकारों के अनुसार जब सूर्य की छाया पैरों पर पड़ने लगे तो श्राद्ध का समय हो जाता है। दोपहर या सुबह में किये गए श्राद्ध का कोई मतलब नहीं होता है।
  • जिस दिन श्राद्ध करना हो उससे एक दिन पूर्व ही उत्तम ब्राह्मणों को निमंत्रण दे दें। परंतु श्राद्ध के दिन कोई अनिमंत्रित तपस्वी ब्राह्मण घर पर पधारें तो उन्हें भी भोजन कराना चाहिए।  ब्राह्मण भोज के वक्त खाना दोनों हाथों से परोसें, एक हाथ से खाने को पकड़ना अशुभ माना जाता है।
  • श्राद्ध के दिन घर में सात्विक भोजन ही बनना चाहिए। इस दिन खाने में लहसुन और प्याज का इस्तेमाल  नहीं होना चाहिए। गौर करने वाली बात यह भी है कि पितरों को जमीन के नीचे पैदा होने वाली सब्जियां नहीं चढ़ाई जाती हैं। इनमें अरबी, आलू, मूली, बैंगन और अन्य कई सब्जियों शामिल हैं।
  • पूरे विधान में मंत्र का बड़ा महत्व है। श्राद्ध में आपके द्वारा दी गयी वस्तु कितनी भी बेशकीमती क्यों न हो, आपके द्वारा यदि मंत्र का उच्चारण ठीक न हो तो काम व्यर्थ हो जाता है। मंत्रोच्चारण शुद्ध होना चाहिए और जिसके निमित्त श्राद्ध करते हों उसके नाम का उच्चारण भी शुद्ध करना चाहिए।
  • श्राद्ध के दिन अपने पितरों के नाम से ज्यादा से ज्यादा गरीबों को दान करें।

100 रु. के नए नोट आप तक पहुँचाने के लिए सरकार को खर्च करने पड़ेंगे 100 करोड़

NewsCode | 20 July, 2018 7:11 PM
newscode-image

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने 100 रुपये के नए नोट की तस्वीर जारी कर दी है। गुरुवार को तस्वीर जारी करने के साथ ही केंद्रीय बैंक ने कहा कि इन नोटों को बैंक‍िंग चैनल के माध्यम से लोगों के बीच पहुंचाया जाएगा। 100 रुपये के नये नोटों की खातिर देशभर के 2.4 लाख एटीएमों को तैयार करने में काफी समय लगने वाला है। एटीएम इंडस्ट्री का कहना है कि एटीएम रिकैलिब्रेशन में काफी ज्यादा समय और पैसा खर्च होगा।

हिताची पेमेंट सर्विसेज मैनेजिंग डायरेक्टर के लोनी एंटोनी कहते हैं, ”हमें लगता है कि देश में 2.4 लाख एटीएम हैं। इन्हें 100 रुपये के नये नोट की खातिर तैयार करने के लिए 100 करोड़ रुपये तक खर्च करने पड़ सकते हैं। इस काम को पूरा करने में 12 महीने लग सकते हैं।”

एंटोनी कहते हैं कि देश के सभी एटीएम को 200 रुपये के नये नोट की खातिर तैयार करने का काम अभी पूरा नहीं हुआ है। ऐसे में अगर 100 रुपये के नये नोट के लिए एटीएमों को तैयार करने के लिए बेहतर योजना नहीं बनाई गई, तो इसमें समय लगना तय है। कंफेड्रेशन ऑफ एटीएम इंडस्ट्री (CATMi) के निदेशक और मोबाइल पेमेंट्स सर्विस एफएसएस के प्रेस‍िडेंट वी. बालासुब्रमण्यन कहते हैं कि किसी भी नोट के आकार में जब कोई बदलाव होता है, तो उसके लिए एटीएम को रिकैलिब्रेट करना पड़ता है।

वह कहते हैं कि 100 रुपये का नया नोट आने की सूरत में यह सवाल उठता है कि आख‍िर हम एटीएम को दोनों के लिए रिकैलिब्रेट कैसे करेंगे? ऐसे में पुराने नोटों को जारी रखना और नये नोटों की उपलब्धता इस पर न‍िर्भर करेगी कि क्या इनके लिए एटीएम को रिकैलिब्रेट किया जाए या नहीं।

वहीं, यूरोनेट सर्विसेज इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर 100 रुपये का नया नोट लाने का स्वागत करते हैं। लेकिन इसके साथ ही वह कहते हैं कि नये नोट के आकार में बदलाव किया गया है। ऐसे में इनके लिए एटीएम को रिकैलिब्रेट करना होगा, जिसमें काफी ज्यादा वक्त लगता है। इससे पहले ही नुकसान झेल रही एटीएम इंडस्ट्री पर और दबाव बढ़ेगा।

जल्द बदलने वाला है 100 रुपए का नोट, जानें नए ‘बैंगनी’ नोट की खासियत

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

जमशेदपुर : छायानगर और चंडीनगर के मामले में बस्तियाँ उजाड़े जाने वाली अफवाह फैलाने वाले नेताओं पर कार्यवाई की माँग

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:27 PM
newscode-image

जमशेदपुर : जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा के छायानगर एवं चंडीनगर के आशय से झारखण्ड विकास मोर्चा एवं कांग्रेस पार्टी द्वारा बस्तियां उजाड़े जाने की अफवाहें फ़ैलाने के मामले में भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने उपायुक्त अमित कुमार से मिलकर ज्ञापन सौंपा। भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार ने नेतृत्व में भाजपा नेताओं ने शुक्रवार शाम उपायुक्त से मिलकर अफ़वाह फ़ैलाने वाले दलों के नेताओं पर उचित धाराओं के तहत क़ानूनी कार्यवाई करने की माँग की। वहीं ड्रोन कैमरा उड़ाकर बस्तीवासियों भयभीत करने के मामले को भी भाजपा ने गंभीरता से उपायुक्त के समक्ष रखते हुए इसकी जाँच करने की माँग की है।

भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार ने कहा कि स्थानीय जेवीएम नेता द्वारा ही ड्रोन कैमरा उड़वाया गया ताकि बस्तीवासियों को सरकार एवं भाजपा के विरुद्ध भड़काया जा सके। उन्होंने जेवीएम नेता अभय सिंह पर पलटवार करते हुए कहा कि राजनीतिक रोटियाँ सेंकने हेतु वे डर्टी पॉलिटिक्स कर रहे हैं। इससे परहेज़ करनी चाहिए। जनता को डराकर वोट हासिल करने की मंशा पाले नेताओं की नहीं चलने वाली। भाजपा जिलाध्यक्ष ने  उपायुक्त कार्यालय के समक्ष जेवीएम द्वारा किये गए प्रदर्शन को फ़्लॉप करार दिया। कहा कि छायानगर और चंडीनगर की जनता ने जेवीएम और कांग्रेस द्वारा फैलाए गए अफवाहों की सच्चाई जानकर ख़ुद को प्रदर्शन से दूर रखा।

बस्तियों के हज़ारों की भीड़ जुटाने का दावा करने वाले सौ का आंकड़ा भी न छू सकें। भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि बस्तीवासियों का यह रुख साफ़ करता है कि वे जेवीएम के झाँसे में नहीं आने वाले। लोग विकास के संग हैं। भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि उपायुक्त द्वारा यह स्पष्ट किया जा चुका है कि फ़िलहाल इन बस्तियों को लेकर सरकार अथवा जिला प्रशासन द्वारा कोई प्रस्तावित प्रोजेक्ट नहीं है। अतः बस्ती के लोगों को डरने की कोई ज़रूरत नहीं।

उपायुक्त अमित कुमार से मिलने पहुँचें भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने अपने ज्ञापन के माध्यम से अफ़वाह उड़ाने वालों से सख़्ती से निबटने की माँग की है। भाजपाईयों ने कहा कि विपक्षी दलों द्वारा क्षेत्र को अशांत करने का यह सुनियोजित षड्यंत्र है। उपायुक्त से मिलने पहुँचें प्रतिनिधिमण्डल में जमशेदपुर महानगर भाजपा के जिला

जमशेदपुर : जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा के छायानगर एवं चंडीनगर के आशय से झारखण्ड विकास मोर्चा एवं कांग्रेस पार्टी द्वारा बस्तियां उजाड़े जाने की अफवाहें फ़ैलाने के मामले में भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने उपायुक्त अमित कुमार से मिलकर ज्ञापन सौंपा।

भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार ने नेतृत्व में भाजपा नेताओं ने शुक्रवार शाम उपायुक्त से मिलकर अफ़वाह फ़ैलाने वाले दलों के नेताओं पर उचित धाराओं के तहत क़ानूनी कार्यवाई करने की माँग की। वहीं ड्रोन कैमरा उड़ाकर बस्तीवासियों भयभीत करने के मामले को भी भाजपा ने गंभीरता से उपायुक्त के समक्ष रखते हुए इसकी जाँच करने की माँग की है।

भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार ने कहा कि स्थानीय जेवीएम नेता द्वारा ही ड्रोन कैमरा उड़वाया गया ताकि बस्तीवासियों को सरकार एवं भाजपा के विरुद्ध भड़काया जा सके। उन्होंने जेवीएम नेता अभय सिंह पर पलटवार करते हुए कहा कि राजनीतिक रोटियाँ सेंकने हेतु वे डर्टी पॉलिटिक्स कर रहे हैं। इससे परहेज़ करनी चाहिए।

जनता को डराकर वोट हासिल करने की मंशा पाले नेताओं की नहीं चलने वाली। भाजपा जिलाध्यक्ष ने  उपायुक्त कार्यालय के समक्ष जेवीएम द्वारा किये गए प्रदर्शन को फ़्लॉप करार दिया। कहा कि छायानगर और चंडीनगर की जनता ने जेवीएम और कांग्रेस द्वारा फैलाए गए अफवाहों की सच्चाई जानकर ख़ुद को प्रदर्शन से दूर रखा। बस्तियों के हज़ारों की भीड़ जुटाने का दावा करने वाले सौ का आंकड़ा भी न छू सकें। भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि बस्तीवासियों का यह रुख साफ़ करता है कि वे जेवीएम के झाँसे में नहीं आने वाले। लोग विकास के संग हैं।

भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि उपायुक्त द्वारा यह स्पष्ट किया जा चुका है कि फ़िलहाल इन बस्तियों को लेकर सरकार अथवा जिला प्रशासन द्वारा कोई प्रस्तावित प्रोजेक्ट नहीं है। अतः बस्ती के लोगों को डरने की कोई ज़रूरत नहीं। उपायुक्त अमित कुमार से मिलने पहुँचें भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने अपने ज्ञापन के माध्यम से अफ़वाह उड़ाने वालों से सख़्ती से निबटने की माँग की है।

भाजपाईयों ने कहा कि विपक्षी दलों द्वारा क्षेत्र को अशांत करने का यह सुनियोजित षड्यंत्र है। उपायुक्त से मिलने पहुँचें प्रतिनिधिमण्डल में जमशेदपुर महानगर भाजपा के जिला पदाधिकारीयों समेत पूर्वी विधानसभा के आला नेता मौजूद थें।

इस दौरान विशेष रूप से भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार, अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष गुरदेव सिंह राजा,विधायक प्रतिनिधि पवन अग्रवाल, पूर्व जिला अध्यक्ष रामबाबू तिवारी,चंद्रशेखर मिश्रा,नंदजी प्रसाद, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मिथलेश सिंह यादव, प्रदेश 20 सूत्री सदस्य संजीव सिंह, प्रदेश अनुसाशन समिति सह संयोजक खेमलाल चौधरी, युवा मोर्चा प्रदेश महामंत्री गुंजन यादव, जिला पदाधिकारी भूपेंद्र सिंह, अनिल मोदी, राकेश सिंह, बिमल जालान, अंकित आनंद,  अमरजीत सिंह राजा समेत रमेश नाग, संतोष ठाकुर, ध्रुव मिश्रा, प्रकाश जोशी, बोलटु सरकार,हेमेंद्र जैन, बंटी अग्रवाल, सुशांतो पांडा, सुरेश शर्मा, महेंद्र प्रसाद, रामविलाश शर्मा, अमित संघी,जितेंद्र मिश्रा, जीवन साहू, नागेंद्र राय, विकास  दास के अलावा  अन्य भाजपाई मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बोकारो : जिले के चयनित ग्रामों में महत्वपूर्ण योजनाओं को शत-प्रतिशत पूरा करें- मुख्य सचिव

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:16 PM
newscode-image

बोकारो। मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी एवं विकास आयुक्त डीके तिवारी ने सभी जिला उपायुक्तों के साथ ग्राम स्वराज अभियान फेज-2 एवं एस्प्रेशनल डिस्ट्रीक से संबंधित वीडियो मे संवाद किया। बोकारो से उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बरणवाल ने वीडियो संवाद में भाग लिये।

मुख्य सचिव त्रिपाठी ने उपायुक्त बरणवाल को निर्देश दिया कि ग्राम स्वराज अभियान फेज-2 के लिए जिले के चयनित 367 ग्रामों में 15 अगस्त तक केन्द्र सरकार की 07 महत्वपूर्ण योजनाओं का शत-प्रतिशत आच्छादन कराना सुनिश्चित करें।

बेरमो : विभाग के रोक बावजूद चल रहा है अवैध बालू का कारोबार

 

उन्होंने विशेषकर प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना एवं उजाला योजना को विशेष रूप से प्राथमिकता के आधार पर आच्छादित करने का निदेश दिया। एस्प्रेशनल डिस्ट्रीक की समीक्षा करते हुए विकास आयुक्त डीके तिवारी ने उपायुक्त बोकारो को निर्देश दिया कि एस्प्रेशनल डिस्ट्रीक हेतु निर्धारित 49 बिन्दुओं पर प्रतिमाह अद्यतन करते हुए ससमय लक्ष्य को पुरा करें।

गोमिया : खाद्य आपूर्ति व सार्वजनिक वितरण के अंडर सेक्रेटरी पहुंचे बिरहोर टोला

 

वीडियो संवाद के दौरान उप विकास आयुक्त रवि रंजन मिश्रा, जिला पंचायती राज पदाधिकारी  मेनका, उपाधीक्षक सदर अस्पताल डॉ. अर्जुन प्रसाद, जिला कृषि पदाधिकारी राजीव कुमार मिश्रा, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी  सुमन गुप्ता, वरीय लेखा पदाधिकारी पंकज दुबे सहित अन्य उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

गिरिडीह : छात्राओं  से छेड़छाड़ के आरोपियों  की गिरफ्तारी की...

more-story-image

सिमडेगा : भूमि अधिग्रहण बिल के विरोध में झामुमो ने...