पलामू : सामूहिक दुष्कर्म के तीन आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

NewsCode Jharkhand | 9 October, 2017 1:36 PM
newscode-image

पलामू। पलामू जिले के छतरपुर में एक निजी लॉज में सगी बहनों के साथ हुये सामूहिक दुष्‍कर्म के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरफ्तारी पुलिस के लिये बहुत बड़ी कामयाबी है। गिरफ्तार आरोपी छोटू यादव, मिहिर सिंह और गोल्डी सिंह है। ये तीनों छतरपुर के इलाके के रहने वाले हैं।

एसपी इंद्रजीत माहथा ने कहा कि इस घटना के बाद पीड़ित लड़की और परिजनों को सुरक्षा उपलब्ध करवाई है। सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने आरोपियों को सजा के लिए कोर्ट से स्पीडी ट्रायल के माध्यम से मुकदमे की सुनवाई का आग्रह करेगा। दुष्कर्म की शिकार बहनों को जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत पांच-पांच लाख रुपए दिया जाएगा।

सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने छतरपुर के लॉज मालिक को नोटिस जारी किया है। लॉज मालिक बिहार के औरंगाबाद के इलाके का रहने वाला है। जारी नोटिस में कहा गया कि एक ही लॉज में लड़कियों और लड़कों को किस आधार पर कमरे दिए गए थे।

ज्ञात हो कि जिले के छतरपुर में एक निजी लॉज में सगी बहनों के साथ हथियार के बल पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। दुष्कर्म की शिकार छोटी बहन को गंभीर हालत में मेदिनीनगर सदर अस्पताल में भर्ती किया गया था। दोनों बहन छतरपुर में रह कर पढ़ाई के साथ-साथ सिलाई बुनाई का काम सीखती थी। इस घटना के बाद छतरपुर के इलाके में कई राजनितिक और सामाजिक संगठन के लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की थी।

बेरमो : सांप्रदायिक सौहार्द के लिए मिशाल होगा नावाडीह-प्रमुख

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:08 PM
newscode-image

बेरमो(बोकारो)। शनिवार को नावाडीह थाना परिसर में बकरीद तथा मनसा पूजा को लेकर शांति समिति की बैठक हुई। प्रमुख पूनम देवी ने कहा कि पूर्व की तरह फिर नावाडीह प्रखंड सांप्रदायिक सौहार्द के लिए पूरे बोकारो जिला में मिशाल कायम करेगा। हिन्दू भाई मनसा पूजा और मुस्लिम समुदाय के लोग बकरीद का त्योहार शांति तथा सौहार्द पूर्ण माहौल में मनायेंगे।

बोकारो : बाईक सवार दो युवको ने किया मैनजर से डेढ़ लाख रूपये की छिनतई

पिछले साल की बीती बातों को भूलकर सूरही, जूनोडीह आदि गांव के लोगों ने विश्वास दिलाया है कि गांव समाज और प्रशासन को बकरीद ही नहीं आने वाले हर त्योहार में सांप्रदायिक सद्भाव तथा शांति व्यवस्था को कायम रखेंगे। इस दौरान किसी भी समुदाय की ओर से गड़बड़ी करने वाले शरारती तत्वों के बारे में तत्काल पुलिस प्रशासन को सूचित करेंगे।

बोकारो : अस्पताल का आधारभूत संरचनाओं का करें विकास-उपायुक्त

वहीं प्रशासन की ओर से थाना प्रभारी लक्ष्मीकांत ने कहा कि शरारती तत्वों पर पुलिस की कड़ी निगाह होगी, जरूरत पर त्वरित कार्यवाही की जायेगी। बीडीओ शंकराचार्य सामद ने कहा कि हमारे पर्व त्योहार आपसी सद्भाव और भाईचारे को बढ़ाने का संदेश देते हैं। एक दूसरे का मान सम्मान का ख्याल रखेंगे और सांप्रदायिक सौहार्द को मजबूत बनाते हुए क्षेत्र की परंपरा को कायम रखेंगे।

गोमिया : गोमिया विधानसभा क्षेत्र का विकास ही मेरी प्राथमिकता- विधायक

 बैठक को उप प्रमुख विश्व नाथ महतो, पूर्व प्रमुख मोहन महतो, बीस सूत्री अध्यक्ष सह मुखिया रणविजय सिंह, ललिता देवी, लालजी प्रसाद, गौरी शंकर महतो, राम पुकार प्रसाद, कुमार दास, इमरान अंसारी, ईश्वर ठाकुर, अमीन अंसारी, इदरीश अंसारी, गणेश महतो आदि उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

दुमका : बेकाबू ट्रैक्टर ने दो लोगों को रौंदा,एक की मौत, पांच घंटे तक सड़क जाम

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:08 PM
newscode-image

मुआवजा के आश्वासन पर माने लोग

दुमका। जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र के रामगढ़-गोड्डा मुख्य मार्ग पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से करीब 5 सौ गज की दूरी पर एक बेकाबू ट्रैक्टर ने दो लोगों को रौंद दिया। जिसमें से गंभीर रूप से घायल थाना क्षेत्र के कुशमाहा गांव निवासी सरजन सोरेन ने इलाज के दौरान अस्पताल में ही दम तोड़ दिया।

दुमका : लूट की योजना बना रहे अंतर्राज्‍यीय गिरोह के सात अपराधी गिरफ्तार

जबकि जरमुंडी थाना क्षेत्र के नोनीहाट निवासी सुखदेव दास गंभीर जख्मी इलाजरत है। घटना के बाद ग्रामीणों की मदद से आनन-फानन में दोनों व्यक्ति को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, रामगढ़ में भर्ती कराया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल नोनीहाट के सुखदेव दास को सदर अस्पताल, दुमका रेफर कर दिया गया।

श्राद्ध में शामिल होने रामगढ़ आया था सुखदेव

सुखदेव दास अपनी सास के श्राद्ध में शामिल होने रामगढ़ आया था। सरजन सोरेन को डॉक्टर ने जीवित बताकर दुमका रेफर कर रहे थे, लेकिन उसकी सांस चलता नहीं देख परिजन समझ गए कि सरजन की मौत हो चुकी है।

रेफर करनेे को तैयार नहीं थे परिजन

प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी संजय कुमार मिश्रा परिजन को बार-बार समझा रहे थे कि युवक कोमा में है, उसे रेफर करना जरूरी है। परिजन किसी की बात सुनने को तैयार नहीं हुए। किसी तरह से सरजन को एंबुलेंस में भी चढ़ाया गया, लेकिन परिजनों ने उसे एंबुलेंस से जबरन उतार लिया।

थोड़ी देर के बाद सरजन को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इधर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में हंगामा कर रहे परिजन तथा कुशमाहा गांव के ग्रामीणों ने मृतक के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अंदर रख मुआवजे की मांग को लेकर रामगढ़-गोड्डा मुख्य मार्ग को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने जाम कर दिया।

मौके पर पहुंची रामगढ़ थाना पुलिस  शव को कब्जे में लेना चाह रही थी। लेकिन ग्रामीणों ने पुलिस को शव लेने नहीं दिया। इधर दुर्घटना कर भाग रहे ट्रैक्टर को पुलिस ने जब्त कर लिया है।

ग्रामीणों ने बताया कि सरजन शनिवार को रामगढ़ बाजार से राशन का चावल लेकर वापस अपने घर जा रहा था। जबकि विपरीत दिशा से बाइक पर सवार होकर सुखदेव दास आ रहा था। सुखदेव को बचाने के प्रयास में ट्रैक्टर चालक ने उसे रौंद दिया।

5 पांच घंटे रहा रामगढ़-गोड्डा मुख्य मार्ग जाम

सड़क दुर्घटना में युवक की मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने करीब 5 घंटे तक रामगढ़-गोड्डा मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। मौके पर हंसडीहा एवं काठीकुंड सर्किल इंस्पेक्टर सीओ रामा रविदास ने ग्रामीणों को समझाने तथा सरकारी नियमानुसार मुआवजा देने का आश्वासन देकर जाम हटवाया। गौर तलब है कि मृतक के दो छोटे छोटे बच्चे हैं। घटना के बाद से मृतक की पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

गुमला : कुएं में डूबने से युवक की मौत, हसुआ बनाने के दौरान हुआ हादसा

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:08 PM
newscode-image

गुमला। घाघरा थाना क्षेत्र के कुंदो ग्राम में एक युवक की कुएं में डूबने से मौत हो गई। सुबोध भुईयां (28 वर्ष) अपने घर से कुछ दूरी पर, बारी में पशुओं के लिए घास काट रहा था। इसी दौरान हसुआ खराब हो गया जिसे बनाने के लिए वह, पास के कुआँ पर जा कर हसुआ को बनाने लगा। इसी दौरान पैर फिसल जाने से वह कुएं मे जा गिरा। कुएं मे गिरने से उसके सिर व अन्य जगहों पर गंभीर चोट आई। जब तक उसे कुएं से बाहर निकला गया, उसकी मौत हो चुकी थी। मृतक हिंडाल्को कंपनी बिमला में दैनिक मजदूरी पर काम करता था। घटना के बाद घाघरा थाना को इसकी सूचना दी गई। पुलिस ने घटनास्थल से शव को कब्जे में कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

गुमला : ज्‍यादा वृक्षारोपण से ही होगा ग्रामीणों का विकास – अशोक भगत

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

बेंगाबाद : दो पक्षों में उत्पन्न विवाद सुलझाने को लेकर...

more-story-image

रांची : सलमान, शाहरुख और अक्षय बिकने को तैयार, बाजारों...