पलामू : कड़ी सुरक्षा के बीच शांतिपूर्ण तरीके से हुआ मतदान

डीसी और एसपी ने सभी बूथों का किया निरीक्षण

NewsCode Jharkhand | 16 April, 2018 4:37 PM

पलामू : कड़ी सुरक्षा के बीच शांतिपूर्ण तरीके से हुआ मतदान

पलामू। जिले में कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच नगर निकाय चुनाव का मतदान शांतिपूर्ण तरीके से जारी है। इसके लिए जिले के उपायुक्त अमित कुमार और एसपी इंद्रजीत माहथा लगातार जिले के सभी बूथों पर निरीक्षण करते नजर आ रहे हैं।

आपको बता दें की नगर निकाय चुनाव में मेदिनीनगर नगर-निगम के लिए महापौर व उप महापौर के लिए छतरपुर और हुसैनाबाद अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के लिए वहीं विश्रामपुर में वार्ड पार्षद के पदों के लिए मतदान जारी है। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त अमित कुमार ने कहा कि‍ जिले 188 मतदान केंद्रों पर शांतिपूर्ण ढंग से मतदान जारी है। शाम पांच बजे तक मतदाता अपने मत का प्रयोग कर सकते हैं।

पलामू : उपायुक्त की मौजूदगी में मतदान दलों को दिया गया ईवीएम मशीन

वहीं एसपी इंद्रजीत माहथा ने बताया की सुरक्षा की दृष्टि से सभी जगह मतदान केंद्रों पर पुलिस मुस्तैद है। वाहनों की जांच लगातार की जा रही है। हर एक घंटे के अंदर हर बूथ से रिपोर्टिंग के द्वारा नजर बनाये हुए हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गढ़वा : हवलदार की गोली मारकर हत्या, छुट्टी नहीं मिलने से नाराज जवान ने दिया अंजाम

NewsCode Jharkhand | 21 April, 2018 10:10 AM

गढ़वा : हवलदार की गोली मारकर हत्या, छुट्टी नहीं मिलने से नाराज जवान ने दिया अंजाम

गढ़वा। जिले में आज एक लोमहर्षक घटना घटित हुई। एक पुलिस जवान ने खुद के कंपनी के हवलदार की गोली मार कर हत्या कर दी। घटना के बाबत आपको बताएं कि निकाय चुनाव कराने आये आईआरबी की एक कंपनी जो नामधारी कॉलेज स्थित मतगणना केंद्र की सुरक्षा में तैनात थी।

हवलदार अफ़रोज़ शमद की गई जान

कल मतगणना समाप्त होने के साथ आज कंपनी यहां से कूच करने की तैयारी में थी कि अहले सुबह सभी को गोली चलने की आवाज सुनायी देती है। सभी उस आवाज की दिशा में दौड़ते हैं तो वहां देखते हैं कि उनके कंपनी का हवलदार मुंगेर निवासी अफ़रोज़ शमद मृत पड़े हुए हैं।

पलामू : अपराधी हुए बेखौफ, एक घंटे के भीतर दो जगहों पर की गोलीबारी

IRB जवान गोली मारकर फरार

जवान और अधिकारियों ने मालूम किया तो जानकारी मिली कि मझिआंव थाना क्षेत्र निवासी आईआरबी जवान मुक्ति नारायण सिंह द्वारा उक्त हवलदार को गोली मारी गयी है और उसे हथियार ले कर भागते देखा गया है।

छुट्टी नहीं मिलने से नाराज था मुक्ति नारायण

एक जवान द्वारा हत्या क्यों कि गयी इसका कारण बताया गया कि उक्त जवान द्वारा लगातार छुट्टी मांगा जा रहा था। छुट्टी नहीं मिलने से नाराज जवान द्वारा हवलदार की हत्या जैसी घटना को अंजाम दिया गया।

 

Read Also

रांची : बैंकों द्वारा छोटे नोट/सिक्के नहीं लेने से व्यापारी परेशान

NewsCode Jharkhand | 21 April, 2018 8:17 AM

रांची : बैंकों द्वारा छोटे नोट/सिक्के नहीं लेने से व्यापारी परेशान

रांची।  बैंकों द्वारा छोटे नोट व सिक्के स्वीकार नहीं किये जाने से व्यापारियों के बीच उत्पन्न समस्याओं को देखते हुए चेंबर ने आरबीआई के क्षेत्रीय कार्यालय से कार्रवाई का आग्रह किया। चैंबर के एफएमसीजी ट्रेड उप समिति चेयरमेन संजय अखौरी ने पत्र में कहा कि रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया के अधिकारिक निर्देश के बाद भी बैंकों द्वारा छोटे नोट व सिक्के स्वीकार नहीं किये जा रहे हैं। सार्वजनिक एवं निजी बैंकों द्वारा केवल सीमित संख्या में ही सिक्के एवं छोटे नोट स्वीकार किये जाते हैं। जबकि मार्केट में कलेक्शन के रूप में काफी सिक्के व छोटे नोट व्यापारियों द्वारा अपने ग्राहकों से स्वीकार किये जाते हैं।

रांची : एक पखवाड़े में दाल पांच रुपये महंगी, चीनी और घी में नरमी

पूंजी की समस्या

बैंकों द्वारा सीमित मात्रा में सिक्के/छोटे नोट ही स्वीकार करने के कारण राजधानी में व्यवसायियों के पास सिक्कों व छोटे नोटों की संख्या अधिक हो गई है। जिससे परेशानी हो रही है। यह भी कहा कि इस संबंध में आरबीआई को कई पत्राचार किये गये किंतु आरबीआई की ओर से कार्रवाई नहीं होने से व्यापारियों के बीच कठिनाईयां बनी हुई हैं। उन्होंने यह भी कहा कि एफएमसीजी व्यवसाय में हर दिन काफी संख्या में सिक्के छोटे-छोटे व्यापारियों से कलेक्ट किये जाते हैं। जिस कारण से इन व्यापारियों की पूंजी ब्लॉक हो गई है। उनके समक्ष पूंजी की समस्या भी बनी हुई है। आरबीआई को इस ओर त्वरित कार्रवाई की आवश्यकता है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

डुमरी : पिता का हत्यारा सलाखों के पीछे, शक की सूई ने बना डाला निर्मोही

निर्मोही पुत्र ने कुल्हाड़ी से पिता पर किया था वार, चढ़ा डुमरी पुलिस के हत्थे

NewsCode Jharkhand | 21 April, 2018 7:50 AM

डुमरी : पिता का हत्यारा सलाखों के पीछे, शक की सूई ने बना डाला निर्मोही

डुमरी (गिरिडीह)। कुल्हाड़ी से वार कर अपने पिता का हत्या करने वाले पुत्र को डुमरी पुलिस ने शुक्रवार को न्यायलय के समक्ष पेश कर गिरिडीह जेल भेज दिया। वहीं शव को पोस्टमार्टम के बाद परिवारवालों को सौप दिया गया।

कुल्हाड़ी से प्रहार कर हत्या

डुमरी थाना क्षेत्र के खुरजियो निवासी पुत्र महेन्द्र दास अपने पिता जगरनाथ दास उर्फ एतवारी दास की हत्या टांगी से वार कर दिया था। पुलिस ने हत्यारा महेन्द्र दास के भतीजा मिठू दास के आवेदन के आधार पर कारवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

दुमका : कैदी की मौत पर परिजनों ने जेल प्रशासन पर लगाया लापरवाही का आरोप

शक की सूई में पुत्र बना निर्मोही

मिठू दास ने पुलिस को बताया कि उसका चाचा महेन्द्र दास अपनी पत्नी पर शक करता था।  उसकी पत्नी का नाजायज संबंध पिता जगरनाथ दास से था । इसी बात को लेकर पिता पुत्र मे विवाद होता रहता था। बराबर जान मारने की धमकी मेरे चाचा महेन्द्र दास देते रहते थे।

पिता को मार डाला

मिठु दास ने कहा है कि मेरे चाचा महेन्द्र दास ने ही अपनी पत्नी के साथ अवैध संबंध के शक को लेकर मेरे दादा जी जगरनाथ दास को रात्री मे मौका पाकर टांगी मार कर हत्या कर दी।

डुमरी पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी

इस बाबत डुमरी थाना प्रभारी दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि मृतक के पोते मिठू दास के द्वारा दिये गये आवेदन पर मामला दर्ज किया गया है। हत्या का आरोपी महेंद्र दास को गिरफ्तार कर गिरिडीह जेल भेज दिया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

© Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved.