नीति आयोग का सर्वे : देश के 110 पिछड़े जिलों में पलामू 60वें स्थान पर

NewsCode Jharkhand | 31 March, 2018 2:41 PM
newscode-image

पलामू। नीति आयोग ने देश के 101 जिलों को पिछड़े क्षेत्र के रूप में चिह्नित किया है। इसमें पूर्व में उपलब्ध डाटा के अनुसार पलामू जिला 60वें स्‍थान पर है। केंद्रीय गृह मंत्रालय व नीति आयोग इन जिलों को विकास के राष्ट्रीय औसत के समान लाने के लिए एक योजनागत तरीकों पर कार्य कर रहा है। यह जानकारी जिले में नीति आयोग के प्रभारी पदाधिकारी एसएन प्रधान ने दी है।

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य, कौशल विकास, कृषि, आधारभूत संरचना, पेयजल के इंडिकेटर में सुधार के लिए अतिरिक्त फंड मुहैया कराकर वर्ष 2022 तक विकास के राष्ट्रीय औसत के समान करेगी। सरकार की मंशा नंबर एक व अंतिम पायदान के अंतर को पाटने की है। इसके लिए टाटा ट्रैक्स कंपनी को नए सिरे से सर्वे की जिम्मेदारी दी गई है।

उन्होंने बताया कि सर्वे के बाद पलामू की रैंकिंग के सुधार होने की उम्मीद है। नीति आयोग ने देश के 25 व गृह मंत्रालय को 35 नक्सल प्रभावित पिछड़े जिलों में इंडिकेटर के सुधार के लिए जिम्मेदारी दी गई है। इसमें पलामू भी शामिल है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में जहां मातृ मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर में सुधार व कुपोषण पर नियंत्रण सहित अन्य कमियों को दूर किया जाना है।

उपायुक्त व एसपी करेंगे योजनाओं का क्रियान्वयन

उन्होंने बताया कि इसके लिए जिले के उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक स्तर से योजनाओं का क्रियान्वयन किया जाना है। सुरक्षा के साथ विकास को धरातल पर पहुंचाया जाएगा। प्रभारी अधिकारी ने माना कि पलामू में कई क्षेत्रों में बेहतर कार्य हुए हैं। नए सर्वे के बाद ही स्थिति साफ हो सकेगी।

रांची : मंत्री अमर बाउरी ने की विभागीय समीक्षा, योजनाओं को धरातल पर उतारने पर हुई चर्चा

बैठक में भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु आईएएस चंदन कुमार, डीडीसी बिंदु माधव, सिविल सर्जन डॉ. कलानंद मिश्रा, जिला कल्याण पदाधिकारी सुभाष कुमार, डीपीओ अरविंद कुमार, डीईओ मीना कुमारी राय सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची। गुरुनानक देव जी समाज के पथ प्रदर्शक एवं सच्चे आध्यात्मिक गुरु- द्रौपदी मुरमु

Rakesh Kumar | 21 November, 2018 8:04 PM
newscode-image

रांची। गुरुनानक देव जी समाज के पथ प्रदर्शक एवं सच्चे आध्यात्मिक गुरु थे। मुझे सिक्खों के प्रथम गुरु एवं सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व पर आयोजित इस कार्यक्रम में शामिल होकर अपार प्रसन्नता हो रही है। वाहे गुरु की खालसा वाहे गुरु की फतह। माननीया राज्यपाल डॉ द्रोपदी मुरमु ने  रातू रोड रांची कृष्णा नगर काॅलोनी में आयोजित सत्संग में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रही थी।
माननीया राज्यपाल ने कहा कि गुरु नानक जी द्वारा स्थापित सिख धर्म जीवन दर्शन का आधार, मानवता की सेवा, कीर्तन, सत्संग एवं एक सर्वशक्तिमान ईश्वर के प्रति विश्वास है। गुरुनानक देव जी ने हमें जीने की कला सिखाई। एक समाज सुधारक के रुप में गुरु नानक साहब जी ने महिलाओं की स्थिति, गरीबों एवं दलितों की दशा सुधारने के कार्य किये। मैं गुरु जी को नमन करती हंू।
आज के कार्यक्रम में नगर विकास मंत्री श्री सी0पी0 सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री श्री अर्जुन मुंडा एवं बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची: स्वस्थ बच्चे व स्वस्थ मां सामाजिक अर्थव्यवस्था की बुनियाद-ऋचा संचिता 

NewsCode Jharkhand | 21 November, 2018 7:56 PM
newscode-image

रांची। झारखंड आई.ए.एस.ऑफिसर्स  वाइब्स एसोसिएशन (जेसोवा) की सचिव श्रीमती रिचा संचिता ने कहा कि स्वस्थ बच्चे और स्वस्थ मां सामाजिक अर्थव्यवस्था की बुनियाद हैं. इन्हें कुपोषण से बचाने तथा शैक्षिक संस्कार देने के लिए आंगनवाड़ी केंद्र की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है. जेसोवा एक सामाजिक संगठन है जो झारखंड के सामाजिक तथा आर्थिक विकास के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है.

आज जेसोवा के सदस्यों ने अरगोड़ा आंगनवाड़ी केंद्र का भ्रमण किया. जेसोवा के सदस्यों ने आंगनबाड़ी के बच्चों के बीच स्वेटर, टोपी और स्टेशनरी इत्यादि सामग्रियों का वितरण किया. अरगोड़ा आंगनबाड़ी केंद्र पर ही मधुकम आंगनवाड़ी केंद्र की सेविका- सहायिका को वहां के बच्चों के लिए गर्म कपड़े एवं स्टेशनरी आदि वितरित करने हेतु उपलब्ध कराए गए. जेसोवा द्वारा अरगोड़ा आंगनवाड़ी केंद्र को एक वॉल फैन भी दिया गया.

इस अवसर पर जेसोवा की ओर से श्रीमती ऋचा संचिता, श्रीमती मिली सरकार, श्रीमती अमिता खंडेलवाल, श्रीमती मनु झा, श्रीमती स्टेफी टेरेसा मुर्मू तथा रांची जिला के विभिन्न सीडीपीओ और आंगनवाड़ी केंद्रों की सेविका सहायिका सहित आंगनबाड़ी के बच्चे उपस्थित थे.

 

रांची: ईद मिलादुन्नबी पर समाजसेवियों ने लगाया शिविर

NewsCode Jharkhand | 21 November, 2018 7:47 PM
newscode-image

रांची। झारखंड मुस्लिम युवा मंच एवम सर्वधर्म समभाव युवा मंच के संयुक्त तत्वाधान में ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर राजेंद्र चौक पर शिविर लगाया गया । इस दौरान अकीदतमंदों को माला व पगड़ी पहनाकर स्वागत किया गया। साथ ही वहां से गुजर रहे जुलूस के दौरान लोगों को पानी पिलाया गया।

झारखंड मुस्लिम युवा मंच के केंद्रीय अध्यक्ष मोहम्मद शाहिद ने कहा इस शिविर के आयोजन का  मुख्य उद्देश्य जुलूस ए मोहम्मदी में शामिल तमाम अकीदतमंदों का इस्तकबाल करना था। उन्होंने कहा कि मंच पिछले कई वर्षों से इस तरह के शिविर का आयोजन करता आ रहा है और भविष्य में हमेशा करता रहेगा। अध्यक्ष मोहम्मद शाहिद ने कहा कि हजरत मुहम्मद सल्ला अलैही वसल्लम सबसे आखरी पैगंबर हैं अल्लाह ने आपको सारी मानव जाति के लिए रहमत बनाकर भेजा है । आज दुनिया में जो भी तरक्की और तहजीब नज़र आ रहा है वह उसी इंकलाब का नतीजा है जो आपने बताया। अल्लाह ने आपको तमाम मानव जाति के लिए आदर्श बनाया आप की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि आपका जीवन और आपके जीवन का एक-एक पल इतिहास के पन्नों में सुरक्षित है जो सारे इंसानियत के लिए है। आप का सबसे बड़ा विशेषता यह है कि आपने इंसानों को हर तरह की गुलामी से आजादी दिलाई। मौके पर उपस्थित सर्वधर्म समभाव युवा मंच के कार्यकारी अध्यक्ष आदर्श कुमार ने कहा कि इस दौरान मंच के तरफ से जुलूस ए मोहम्मदी में शामिल लोगों में शांति प्रेम व सद्भावना बनाए रखने की एक पहल की गई जिसमें  तमाम शहर वासियों ने भरपूर साथ दिया एवं हिंदू मुस्लिम भाइयों ने मिलकर जुलूस का स्वागत किया व समाज में एक अनोखा मिसाल पेश किया इस दौरान मुख्य अतिथि के तौर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री सुबोध कांत सहाय व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विनय सिन्हा दीपू उपस्थित थे। रांची की एसडीओ गरिमा सिंह ने मंच पर आकर मंच के तमाम पदाधिकारियों को इस आयोजन के लिए बधाई दी एवं मंच के इस कार्य की काफी सराहना अदालत सरिया  नाजीमें आला मंच पर उपस्थित होकर आप सल्लल्लाहू अलैहि वसल्लम की विशेषताएं और खूबियां बयान  किए।

कार्यक्रम में मुख्य तौर पर झारखंड मुस्लिम युवा मंच के  अध्यक्ष मोहम्मद शाहिद ,झारखंड विकास मोर्चा के वरिष्ठ नेता राजीव रंजन मिश्रा ,सर्वधर्म समभाव युवा मंच के कार्यकारी अध्यक्ष आदर्श कुमार, समाजसेवी दीपक ओझा, गुलाम जावेद ,सेंट्रल मोहर्रम कमेटी के अकील उर रहमान , डोरंडा थाना प्रभारी आम जनता हेल्पलाइन के संस्थापक एजाज गद्दी ,नदीम इकबाल, शाहबाज हुसैन इमाम अहमद , मो लतीफ आलम, मो अंजर, मो हसन वारिस, सोनू हिमांशु नवाब चिश्ती तौफीक खान आदि उपस्थित थे।

More Story

more-story-image

रांची: गुरु गोविंद सिंह के प्रकाश पर्व पर गुरूद्वारा में...

more-story-image

रांची: रेलवे अधिकारियों के साथ सीएम ने की बैठक में...

X

अपना जिला चुने