पाकुड़ : ग्रामीणों के समक्ष इकरारनामा बनेगा फिर होगा कोयले का उत्खनन-लुईस मरांडी

NewsCode Jharkhand | 27 February, 2018 8:38 AM
newscode-image

विस्थापितों की समस्याओं से हुई अवगत

पाकुड़। पचुवाड़ा नॉर्थ कोल ब्लॉक चालू करने से पूर्व त्रिस्तरीय वार्ता के तहत जिला प्रशासन की मौजूदगी में ग्रामीणों व कंपनी के बीच पहले इकरारनामा होगा फिर कोयले का उत्खनन किया जा सकेगा। ग्रामीणों के विस्थापन से पूर्व उनका पुर्नवास करना होगा। सरकार ग्रामीणों के साथ है और एक भी ग्रामीण के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। उक्त बातें सूबे की समाज कल्याण मंत्री डॉ. लुईस मरांडी ने जिले के अमड़ापाड़ा के विशुनपुर गांव में आयोजित विस्थापित होने वाले ग्रामीणों के साथ बैठक में कही।

पाकुड़ : ग्रामीणों के समक्ष इकरारनामा बनेगा फिर होगा कोयले का उत्खनन-लुईस मरांडी

उपायुक्‍त को सौंपा था मांग पत्र

इससे पूर्व विस्थापित होने वाले कुल 10 गांव के ग्रामीणों ने अपनी समस्याओं व मांगों को लुईस मरांडी व पश्चिम बंगाल पावर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड के निदेशक अमलेश कुमार के समक्ष रखा। 17 फरवरी को विशुनपुर में जिला प्रशासन द्वारा आयोजित त्रिस्तरीय बैठक में ग्रामीणों ने 21 सूत्री मांग पत्र उपायुक्त को सौंपा था। जिसमें जमीन का नए दर से मुआवजा देने, 18 वर्ष से अधिक युवक-युवातियों को नियुक्ति पत्र देना, सड़क, बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं आदि की मांग की थी।

वर्तमान जमीन का आंकलन कर मिलेगा मुआवजा-हेमलाल मुर्मू

भाजपा नेता सह पूर्व मंत्री हेमलाल मुर्मू ने कहा कि 1932 के खतियान के बजाय नया सर्वे कराकर ग्रामीणों को मुआवजा मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि 1932 में जो जमीन बंजर थी उस जमीन को  आज किसान ने यदि अपने मेहनत से उर्वर बना दिया है तो वर्तमान जमीन का आंकलन कर ही मुआवजा तय होना चाहिए। हेमलाल ने कहा कि विस्थापित ग्रामीण के बच्चों के लिए डीएवी या डीपीएस जैसी स्कूल, युवाओं के लिए कौशल विकास केन्द्र आदि की सुविधा मिलनी चाहिए।

ग्रामीणों की मांगें पूरी करने का दिया भरोसा

डायरेक्टर अमलेश कुमार ने ग्रामीणों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि उनके द्वारा सौंपी गई 21 सूत्री मांगों में से लगभग 90 फीसदी मांगों को अक्षरशः माना जाएगा। उन्होंने कहा कि झारखण्ड सरकार द्वारा पारित नियमों के अनुसार सीएसआर और आर एण्ड आर पॉलिसी को लागू किया जाएगा। पूर्व के बकाया के बारे में अमलेश कुमार भरोसा दिलाते हुए कहा कि जिले के उपायुक्त के समक्ष बकायेदारों के साथ बैठक कर प्रमाणित कागजातों को देखकर भुगतान का निर्णय लिया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

सरिया : बैठक आयोजित कर किया पैक्स कमिटी का गठन 

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 5:00 PM
newscode-image

सरिया(गिरिडीह)। सरिया प्रखंड पैक्स कमिटी का गठन रविवार को सर्वसम्मति से किया गया। कमिटि गठन को लेकर सबसे पहले ठाकुरबाड़ी मंदिर परिसर में एक बैठक की गई। बैठक की अध्यक्षता जिला लैंप/पैक्स के अध्यक्ष अभिनंदन प्रताप सिंह द्वारा किया गया ।

मौके पर उन्होंने कहा कि किसी भी संस्था के लिए संगठन का होना जरूरी है।जिसके सहयोग से हम सुरक्षित रह कर अपने कार्य का निर्भीकता पूर्वक संपादन कर सकें और अपनी मांगों को सरकार तक पहुंचाने में संगठन की मदद ले सके।

बैठक में सर्वसम्मति से बलदेव नायक को अध्यक्ष, प्रहलाद सिंह तथा इनामुल हक को उपाध्यक्ष, ओमप्रकाश सिंह को महामंत्री एवं सुरेश भारती का कोषाध्यक्ष बनाया गया। वहीं सरिया प्रखंड के सभी 23 पैक्स अध्यक्ष व प्रबंधकों को  समिति का कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया।

इस बैठक में नावाडीह, केसवारी, परसिया, मोकामो, सरिया, बागोडीह, चीचाकी, अमनारी इत्यादि जगहों से विकास कुमार, भीमसेन चौधरी, योगेश गुप्ता, मोहम्मद जुबेर अंसारी, अजीत कुमार सहित अन्य पैक्स प्रबंधक अध्यक्ष उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गोड्डा : पुलिस ने 59 गाय को किया बरामद, 7 तस्कर गिरफ्तार

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 5:43 PM
newscode-image

गोड्डा। गो वंशीय पशुओं की तस्करी के रोकने के लिए पुलिस जोर शोर से लगी हुई है। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए, पुलिस ने 59 गाय समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

गोड्डा :  बिजली विभाग की लापरवाही, जमीन पर पड़े नंगे तार से महिला झुलसी

सदर एसडीपीओ रवि भूषण ने बताया कि राजाभीठा थाना क्षेत्र में गाय की तस्करी किया जा रही है। शनिवार को सदर बाजार स्थित बंका हॉट से गो वंशीय पशुओं की खरीदारी करके पड़ोसी जिले पाकुड़ के हिरणपुर स्थित हाट में सोमवार को बेचे जाने की योजना थी।

गो वंशीय पशुओं की तस्करी का खेल लगातार चल रहा था और तस्करी में शामिल लोगों को 700 से लेकर 1400 रुपये तक की मजदूरी दिया जाता था। सदर एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार तस्करों से सघन पूछताछ की जा रही है, मामले में 6 अभियुक्तों का नाम भी सामने आ चुका है। अधिकांशतः तस्कर पाकुड़ जिले से ताल्लुक रखते हैं तथा कुछ तस्कर पड़ोसी जिले साहेबगंज के हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

देवघर : रसोइया संघ की हुई बैठक, चार अक्‍टूबर को देंगे धरना

NewsCode Jharkhand | 23 September, 2018 5:39 PM
newscode-image

देवघर। पुराने सदर अस्पताल परिसर में देवघर जिला रसोइया संघ की बैठक में स्‍कूलों के समायोजन के नाम पर रसोइयों को कार्य से हटाए के खिलाफ आगामी चार अक्‍टूबर को डीएसई कार्यालय के समक्ष धरना देने का निर्णय लिया गया।

बैठक की अध्‍यक्षता करते हुए संघ अध्यक्षा गीता मण्डल ने कहा कि झारखंड सहित देवघर में एक स्‍कूल का दूसरे विद्यालय में समायोजन करने पर रसोइयों के समक्ष भुखमरी की समस्‍या पैदा हो गई है।

देवघर : धूमधाम से मनाया गया पर्यटन पर्व

उन्‍होंने कहा कि समायोजित किए गए स्‍कूलों के शिक्षकों समेत छात्र-छात्राओं को दूसरे विद्यालयों में भेज दिया गया है। उन स्‍कूलों में कार्यरत रसोइयों को काम से हटा दिया गया है। इनलोगों का मानदेय भी बन्द कर दिया गया है। संघ ने सरकार के इस कदम की कड़े शब्‍दों में विरोध किया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

पितृ पक्ष 2018: श्राद्ध क्रिया में इन खास बातों का...

more-story-image

चक्रधरपुर : हावड़ा से मुंबई जा रही गीतांजलि सुपरफास्ट ट्रेन...