नई होंडा अमेज़ Vs फोर्ड एस्पायर Vs टाटा टिगॉर Vs फॉक्सवेगन एमियो

NewsCode | 10 May, 2018 7:28 PM
newscode-image

होंडा की नई अमेज़ सेडान लॉन्चिंग के लिए तैयार है। भारत में इसे 16 मई 2018 को लॉन्च किया जाएगा। इसका मुकाबला फोर्ड एस्पायरटाटा टिगॉर और फॉक्सवेगन एमियो से होगा। यहां हमने कई मोर्चों पर नई अमेज़ की तुलना मुकाबले में मौजूद कारों से की है, तो क्या रहे इस तुलना के नतीजे जानेंगे यहां…

कीमत

  • नई होंडा अमेज़: 5.39 लाख से 8.75 लाख रूपए (संभावित)
  • टाटा टिगॉर: 4.84 लाख से 7.19 लाख रूपए
  • फोर्ड एस्पायर: 5.71 लाख से 8.08 लाख रूपए
  • फॉक्सवेगन एमियो: 5.50 लाख से 9.99 लाख रूपए

कद-काठी

नई होंडा अमेज़ टाटा टिगॉर फोर्ड एस्पायर फॉक्सवेगन एमियो
लंबाई 3995 एमएम 3992 एमएम 3995 एमएम 3995 एमएम
चौड़ाई 1695 एमएम 1677 एमएम 1695 एमएम 1682 एमएम
ऊंचाई 1501 एमएम 1537 एमएम 1525 एमएम 1483 एमएम
व्हीलबेस 2470 एमएम 2450 एमएम 2491 एमएम 2470 एमएम
ग्राउंड क्लीयरेंस 170 एमएम 170 एमएम 174 एमएम 165 एमएम
बूट स्पेस 420 लीटर 419 लीटर 359 लीटर 330 लीटर

New Honda Amaze 2018 vs Ford Aspire vs Tata Tigor vs VW Ameo: Spec Comparison

इंजन और परफॉर्मेंस

पेट्रोल

नई होंडा अमेज़ टाटा टिगॉर फोर्ड एस्पायर फॉक्सवेगन एमियो
इंजन क्षमता 1199 सीसी 1199 सीसी 1196सीसी/1499सीसी 998 सीसी
पावर 90 पीएस 85 पीएस 88पीएस/112पीएस 76 पीएस
टॉर्क 110 एनएम 114 एनएम 112एनएम/136एनएम 95 एनएम
गियरबॉक्स 5-स्पीड एमटी/सीवीटी 5-स्पीड एमटी 5-स्पीड एमटी/6-स्पीड एटी 5-स्पीड एमटी
माइलेज 19.5/19 किमी प्रति लीटर 20.3 किमी प्रति लीटर 18.2/17 किमी प्रति लीटर 19.44 किमी प्रति लीटर

डीज़ल

नई होंडा अमेज़ टाटा टिगॉर फोर्ड एस्पायर फॉक्सवेगन एमियो
इंजन क्षमता 1498 सीसी 1047 सीसी 1498 सीसी 1498 सीसी
पावर 100पीएस/80पीएस 70 पीएस 100 पीएस 110 पीएस
टॉर्क 200एनएम/160एनएम 140 एनएम 215 एनएम 250 एनएम
गियरबॉक्स 5-स्पीड एमटी/सीवीटी 5-स्पीड एमटी 5-स्पीड एमटी 5-स्पीड एमटी/7-स्पीड डीएसजी
माइलेज  27.4/23.8 किमी प्रति लीटर 24.7 किमी प्रति लीटर 25.83 किमी प्रति लीटर 21.66 किमी प्रति लीटर

New Honda Amaze 2018 vs Ford Aspire vs Tata Tigor vs VW Ameo: Spec Comparison

टॉप वेरिएंट के फीचर

नई होंडा अमेज़ के टॉप वेरिएंट में एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले सपोर्ट करने वाला 7.0 इंच फ्लोटिंग डिजिपैड 2.0 इंफोटेंमेंट सिस्टम, एलईडी पोजिशन लाइटें, एलईडी टेल लाइटें, 15 इंच अलॉय व्हील, रियर कैमरा, पार्किंग सेंसर, इलेक्ट्रिक एडजस्टेबल और फोल्डेबल बाहरी शीशे, हाइट एडजस्टेबल फ्रंट सीट, ऑटो क्लाइमेट कंट्रोल, क्रूज़ कंट्रोल और पुश स्टार्ट-स्टॉप दिया गया है। नई अमेज़ में ड्यूल एयरबैग, एबीएस, ईबीडी और आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट एंकर जैसे काम के फीचर सभी वेरिएंट में स्टैंडर्ड मिलेंगे।।

फीगो एस्पायर सेगमेंट में सबसे ज्यादा फीचर वाली कार है। इस में छह एयरबैग, टेलिस्कॉपिक एडजस्टेबल स्टीयरिंग व्हील और रेन-सेंसिंग वाइपर जैसे फीचर दिए गए हैं।

टाटा टिगॉर सेगमेंट में सबसे अफॉर्डेबल कार है। इस में प्रोजेक्टर हैडलैंप्स, हारमन का 5.0 इंच कनेक्टनेक्स्ट इंफोटेंमेंट सिस्टम, 8-स्पीकर्स, वीडियो प्लेबैक, क्लाइमेट कंट्रोल और कूल्ड ग्लोवबॉक्स दिया गया है।

Source: कार देखो 

PHOTOS: मन से भावुक कवि, कर्म से राजनेता अटल बिहारी वाजपेयी की ये दुर्लभ तस्वीरें नहीं देखी होंगी आपने

NewsCode | 16 August, 2018 6:29 PM
newscode-image

पूर्व प्रधानमंत्री और बीजेपी के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी अब इस दुनिया में नहीं रहे। नई दिल्ली के एम्स में लंबे इलाज के दौरान 93 साल की उम्र में उनका निधन हो गया है। वाजपेयी के निधन की खबर के साथ ही पूरे देश में शोक की लहर है। भारतीय जनता पार्टी ने देश में अपने सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है।

12 नवंबर 1973 में अटल बिहारी वाजपेयी बैलगाड़ी से संसद पहुंचे थे। वो पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने का विरोध कर रहे थे इसलिए वो बैलगाड़ी से पहुंचे।


2. यह तस्वीर जनता पार्टी के शपथ ग्रहण समारोह की है। जिसे जयप्रकाश नारायण संबोधित कर रहे हैं। इस तस्वीर में भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी भी नजर आ रहे हैं।


3. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को कुत्तों से बेहद लगाव था। वह अक्सर पालतू कुत्तों के साथ खेलते नजर आ जाते थे।


4. सोशल मीडिया पर ये तस्वीर काफी वायरल हो रही है। जिसमें वो प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से बात करते नजर आ रहे हैं।


5. यह तस्वीर 8 जनवरी 1978 की है जब अटल बिहारी वाजपेयी जनता पार्टी की सरकार में विदेश मंत्री थे। वह ताजमहल में ब्रिटेन के तत्कालीन प्रधानमंत्री जेम्स कलाहन के साथ मौजूद हैं।


6. माधव सदाशिव गोलवालकर, पंडित दील दयाल उपाध्याय और अटल बिहारी वाजपेयी एक साथ बैठे नजर आ रहे हैं। ये तस्वीर भी काफी शेयर की जा रही है।


7. एक आंदोलन के दौरान सुषमा स्वराज और मदनलाल खुराना के साथ सड़कों पर उतरे अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर।


8. ये दुर्लभ तस्वीर भी काफी शेयर की जा रही है। इस तस्वीर में अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी और भैरों सिंह शेखावत नजर आ रहे हैं। ये तस्वीर जन संघ दिनों की है।


बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी बीते 11 जून से एम्स में भर्ती थे। बुधवार को उनकी हालत गंभीर हो गई और उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया था। वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था। मधुमेह पीड़ित 93 वर्षीय भाजपा नेता का एक ही गुर्दा काम करता था।


नहीं रहे पूर्व पीएम अटलबिहारी वाजपेयी, 93 साल की उम्र में निधन

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी के निधन से पूरे देश में शोक की लहर, मोदी बोले- निःशब्द हूँ

रांची : वाजपेयी राजनीति के अजातशत्रु, अपराजेय वक्ता- रघुवर दास

अटल जी की इन 5 कविताओं को पढ़कर जीवन में उतार लिया तो हर मैदान फ़तह कर लेंगे आप

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

गावां (गिरिडीह) : विभिन्न विभागों में झंडोत्‍तोलन को लेकर तालमेल का दिखा अभाव

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2018 7:12 PM
newscode-image

 स्वतंत्रता दिवस समारोह पर दिखी अनुशासनहीनता

गावां गिरिडीह। गावां में स्वतंत्रता दिवस समारोह में इस बार पूर्वाभ्यास की पूरी कमी देखी गई। नतीजतन विभिन्न विभागों में झंझोत्‍तोलन को लेकर तालमेल का अभाव दिखा। इस कारण प्रखंड मुख्यालय में झंडोत्‍तोलन के वक्त झंडे को सलामी देने के लिए पुलिस जवान मौजूद नहीं रहे।

जबकि बीडीओ मोनी कुमारी सलामी दल को बुलाने के लिए थाना में फोन करती रहीं। वहीं गावां थाना द्वारा निर्गत आमंत्रण पत्र में दिये गये समय सारणी से एक घंटा पूर्व ही ध्‍वजारोहण कर दिया गया।

बोकारो : खेल के मामले में सरकार का रवैया उदासीन : मयूर शेखर झा

इस कारण थाना परिसर में झंडोत्‍तोलन देखने से लोग चूक गये। बता दें कि थानेदार द्वारा निर्गत आमंत्रण पत्र में झंडोत्‍तोलन का समय दिन के 10:10 बजे निर्धारित था, लेकिन तय समय से एक घंटा 4 मिनट पूर्व ही 09:06 बजे ही थाना में झंडोत्‍तोलन कर दिया गया। इस कारण तय समय पर थाने में झंडोत्तोलन में शामिल होने पहुंचे लोगों को मायूस होना पड़ा।

बैंक प्रबंधक को झंडोत्‍तोलन के बजाय घर भागना आया रास

वैसे तो तिरंगा फहराना गर्व की बात मानी जाती है और इसके लिए लोग लालायित भी रहते हैं, लेकिन समाज में कुछ ऐसे भी लोग हैं, जो स्वतंत्रता दिवस को महज एक सरकारी बंदिशों वाला कार्यक्रम मान लेते हैं। ऐसा ही नजारा गावां के इलाहाबाद बैंक में देखने को मिला।

प्रबंधक ने झंडोत्‍तोलन करने के बजाए 15 अगस्त को घर भागना ज्यादा मुनासिब समझा। फलत: गावां इलाहाबाद बैंक में एक आम सीनियर सिटीजन उमाशंकर अवस्थी ने झंडोत्‍तोलन किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

चाईबासा : जिले के चार प्रखंडों में लगाए गए जनता दरबार

NewsCode Jharkhand | 16 August, 2018 7:01 PM
newscode-image

 चाईबासा । पश्चिमी सिंहभूम के उपायुक्त अरवा राजकमल के निदेशानुसार गुरूवार को जिले के चार प्रखण्डों में जनता दरबार का अयोजन किया गया। नोवामुंडी प्रखण्ड मुख्यालय जनता दरबार में विभिन्न विभागों के द्वारा शिविर का लगाया गया।

जिसमें मुख्य रूप से वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन,विकलांग पेंशन, दिव्यांग पेंशन, जाति, आवासीय, आय प्रमाण पत्रों, स्वास्थ्य, चिकित्सा, कृषि, पशुपालन, समाज कल्याण सहित अन्य विभागों के प्रखण्ड स्तरीय पदाधिकारियों ने लोगों के समस्या का समाधान किया।

जनता दरबार में बच्चों का आधार पंजीकरण भी कराया गया। जनता दरबार का आयोजन प्रखण्ड विकास पदाधिकारी नोवामुण्डी समरेश प्रसाद भण्डारी, तथा अंचलाधिकारी गोपी उरॉव के निर्देशन में सम्पन्न हुआ। वहीं जगन्नाथपुर प्रखंण्ड कार्यालय में लगे जनता दरबार में सूचना के अभाव में लोग नहीं पहुंचे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

More Story

more-story-image

पाकुड़ : अज्ञात वाहन की चपेट में आने एक की...

more-story-image

धनबाद : एनडीए सरकार में श्रम मंत्री रही रीता वर्मा...