ठिठका मानसून, दिल्ली समेत इन राज्यों में देरी से पहुंचेगा

NewsCode | 12 June, 2018 6:37 PM
newscode-image

नई दिल्ली। तय समय से पहले देश में एंट्री करने वाला मानसून अब कमजोर पड़ गया है। इसकी रफ्तार काफी तेज थी। लेकिन अब मानसून कमजोर पड़ने लगा है। इसके कमजोर पड़ने की वजह से इस हफ्ते दिल्ली-एनसीआर में बारिश की संभावना नहीं है।

मानसून के अगले एक सप्ताह तक सुस्त रहने की आंशकाओं के चलते पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, यूपी में भी इसके देरी से पहुंचने की संभावनाएं बढ़ गई है। इस हफ्ते बारिश होने के आसार कम हो गये हैं। इस पीरियड के बाद मॉनसून की रफ्तार कुछ बढ़ने की उम्मीद है। इसके बाद ही मॉनसून के दिल्ली पहुंचने की स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। फिलहाल यह अनुमान है कि मॉनसून 27 से 28 जून के बीच दिल्ली को भिगो सकती है।

तय समय से दो दिन पहले केरल से प्रवेश करने वाले मानसून ने अब तक पूरे दक्षिणी भारत को राहत की बूंदों से भिगो दिया है। दक्षिण भारत के केरल, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश और तमीलनाडु में अब तक अच्छी बारिश हो चुकी है।

मौसम विभाग के अनुसार, मॉनसून ने कई जगहों पर समय से पूर्व ही दस्तक दे दी थी। अब एक हफ्ते तक मॉनसून का कमजोर फेज चलेगा। अगले हफ्ते तक मॉनसून के फिर से रफ्तार पकड़ने की संभावना है। इसी महीने मॉनसून देश के ज्यादातर हिस्सों को कवर कर लेगा। अभी मध्य, उत्तर, पूर्वी और उत्तर पश्चिमी इलाकों के कई राज्यों को मॉनसून का इंतजार है। मॉनसून महाराष्ट्र तक पहुंच चुका है। नॉर्थ-ईस्ट के कुछ क्षेत्रों में भी मॉनसून आ चुका है।

मानसून फिलहाल मराठवाड़ा, विदर्भ, छत्तीसगढ, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा और असम से गुजर रहा है। लेकिन महाराष्ट्र के कई हिस्सों में जोरदार बारिश करने के बाद अब मानसून कमजोर पड़ चुका है। इस वजह से मानसून की रफ्तार धीमी होने लगी है। ऐसे में उत्तर-पश्चिम भारत में मानसून के जल्द सक्रिय होने की उम्मीदें कम हो गई हैं।

स्काइमेट के चीफ मेटिऑरलजिस्ट महेश पलावत के अनुसार 14 से 20 जून तक मॉनसून की चाल कमजोर पड़ेगी। इस दौरान मॉनसून आगे नहीं बढ़ेगा। ऐसे में 22 से 24 के बीच मॉनसून के दिल्ली पहुंचने के आसार अब नहीं हैं। 29 जून के आसपास ही मॉनसून दिल्ली आ पाएगा।

रीजनल वेदर फोरकास्ट सेंटर के साइंटिस्ट डॉ. कुलदीप श्रीवास्तव के अनुसार, दिल्ली समेत पंजाब हरियाणा, यूपी के ज्यादातर हिस्सों में 16 जून तक बारिश के कोई आसार नहीं हैं। मॉनसून की गति धीमी होने की वजह से इस हफ्ते बारिश नहीं होगी।

किसानों के लिए अच्छी खबर, इस साल सामान्य रहेगा मानसून, जानें किस माह में कितनी होगी बारिश

जमशेदपुर : लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हो- रघुवर दास

NewsCode Jharkhand | 8 November, 2018 4:15 PM
newscode-image

जमशेदपुर। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ होने चाहिए। जमशेदपुर में पत्रकारों से बातचीत में रघुवर दास ने एक बार फिर विपक्षी दलों के गठबंधन को महाठगबंधन बताया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 नवंबर को रांची के रिनपास में टाटा कैंसर अस्पताल की आधारशिला रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी गरीबों को घर मुहैय्या कराने का वायदा 2022 में ही पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में कोई जनता बेघर नहीं रहे, इस संकल्प को लेकर सरकार निरंतर आगे बढ़ रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में भी यह फैसला लिया गया कि शहरी क्षेत्र में झुग्गी-झोपड़ी  एवं स्लम बस्ती में रहने वाले गरीब परिवारों को भी मकान उपलब्ध कराया जाए, इसके तहत राज्यभर में करीब डेढ़ लाख मकान बनाये जाएंगे। सिर्फ जमशेदपुर के ही शहरी क्षेत्र में 27 हजार मकान बनाये जाएंगे।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान के क्षेत्र में भी झारखंड में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। चार वर्ष पहले जब उन्होंने कार्यभार संभाला था, तो सिर्फ 18प्रतिशत घरों में ही शौचालय की सुविधा था, अब यह 99 प्रतिशत से अधिक घरोंतक पहुंच गयी है, दिसंबर 2018 तक सभी घरों में शौचालय की सुविधा उपलब्ध करा दी जाएगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची : राजकीय कार्यक्रम में हंगामा करने पर 216 पारा शिक्षक बर्खास्त

NewsCode Jharkhand | 15 November, 2018 7:20 PM
newscode-image

600 अन्य की बर्खास्तगी को लेकर कार्रवाई, गिरफ्तार कर पारा शिक्षकों को कैंप जेल में रखा गया

रांची। झारखंड राज्य स्थापना दिवस के दिन पूरे राज्य भर से राजधानी रांची में आए पारा शिक्षकों ने सरकारी कार्यक्रम को बाधा पहुंचाने की कोशिश की। साथ ही विधि व्यवस्था को अपने हाथ में लेकर पत्थरबाजी भी की।

विधि व्यवस्था में लगे  पुलिस प्रशासन के पदाधिकारियों, वरीय पुलिस अधीक्षक, सिटी पुलिस अधीक्षक  एवम् ड्यूटी पर तैनात पदाधिकारियों पर  पारा शिक्षकों  ने  हमला किया जिससे कई पुलिसकर्मी और  पदाधिकारी गंभीर रूप से जख्मी हुए।

पारा शिक्षकों द्वारा सरकारी कार्यक्रम में व्यवधान डालने, विधि व्यवस्था को तोड़ने एवम् सरकारी लोगो पर हमला करने की घटना को बेहद अशोभनीय एवम् गंभीर रूप से लेते हुए  वीडियो रिकॉर्डिंग एवम् कार्यक्रम स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरा से  लिए फुटेज एवम् अन्य प्रमाणों के आधार पर  16 प्रखंड के कुल 216 पर शिक्षकों को बर्खास्त किया गया।

साथ ही लगभग 600 पारा शिक्षकों को जिला प्रशासन द्वारा बनाई गई खेलगांव एवम् रेड क्रॉस अस्थायी जेल में गिरफ़्तार कर रखा गया है। जिन पर सीसीटीवी कैमरा एवम्  वीडियो रिकॉर्डिंग से मिले प्रमाण के आधार पर बर्खास्त करने की कारवाई चल रही है।

अन्य जिलों के जिलाधिकारियों को भी यहां शामिल पारा शिक्षकों की सूची भेजी जा रही है जिसके आधार पर  चिन्हित कर अनुशासनात्मक कारवाई की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है।  स्थापना दिवस एक राजकीय दिवस है जी सम्पूर्ण राजवसियो के लिए सम्मान एवम् गौरव  का दिन है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

रांची : झारखंड स्थापना दिवस- संपूर्ण झारखंड खुले में शौच मुक्त घोषित, करीब 2100 को मिला नियुक्ति पत्र

NewsCode Jharkhand | 15 November, 2018 7:02 PM
newscode-image

रांची। झारखंड राज्य स्थापना दिवस मना रहा है। राज्य स्थापना दिवस के मौके पर राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री ने संपूर्ण झारखंड को खुले में शौच से मुक्त किये जाने की घोषणा की। समारोह में राज्य के तीन जिलों देवघर, हजारीबाग और लोहरदगा को पूर्ण विद्युतीकृत किये जाने की घोषणा की गयी।

इस मौके पर अरबों रुपये की योजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन के साथ ही परिसंपत्तियों का वितरण भी किया गया। समारोह में करीब 2100 लोगों को नियुक्ति पत्र का भी वितरण किया गया।

झारखंड स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य की जनता को कई सौगात दी। रांची में आयोजित मुख्य समारोह में उन्होंने राज्य को खुले में शौच से मुक्त किये जाने की घोषणा की।  उन्होंने कहा कि स्वच्छता को लेकर लोगों की आदतों में भी अब बदलाव आया है।

मुख्यमंत्री ने हर घर तक बिजली पहुंचाने के अपने वायदों को पूरा करते हुए राज्य के तीन जिलों देवघर, लोहरदगा और हजारीबाग को पूर्ण रूप से विद्युतीकृत होने का भी ऐलान किया। इस दौरान श्री दास ने कहा कि वर्तमान सरकार  पूरी तरह से पारदर्शी तरीके से काम कर रही  है और अब तक इस पर एक भी भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगे है।

इस दौरान राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि देश के विकास में झारखंड का अहम योगदान है। उन्होंने कहा कि जनता को चुनी हुई सरकार से आकांक्षाएं होती है , जिसे पूरा करने में सरकार लगी है।

समारोह के दौरान अरबों रुपये की परिसंपत्तियों का वितरण किया गया और कई नई परियोजनाओं का शिलान्यास और उदघाटन भी हुआ। करीब 2100 लोगों के बीच नियुक्ति पत्र का वितरण और झारखंड और देश के विकास में अपनी भूमिका निभाने वाले लोगों को सम्मानित भी किया गया। जिला मुख्यालयों में भी परिसंपत्तियों का वितरण हुआ।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

विधानसभावार बूथ स्तर तक प्रोजेक्ट शक्ति में लोगों को जोड़ने...

more-story-image

रांची : आम आदमी पार्टी ने निकाली झारखंड नवनिर्माण संकल्प...

X

अपना जिला चुने