लोहरदगा : ट्रक ने खलासी को रौंदा, मौत

NewsCode Jharkhand | 31 May, 2018 2:46 PM
newscode-image

लोहरदगा। सदर थाना क्षेत्र के पतराटोली  में 10 चक्का ट्रक के नीचे आने से ट्रक के खलासी की मौत हो गई है। जानकारी अनुसार 10 चक्का लाइन ट्रक  संख्या JH01X 0890 को बैक करने समय गाड़ी के चपेट में  आने से उसी गाड़ी की खलासी किस्को थाना के केरार गांव  निवासी 25 वर्षीय युवक की  मौत घटनास्थल पर ही हो गई है।

रांची : सिल्ली विधानसभा उपचुनाव की मतगणना शुरू , 14 राउंड में होगी वोटों की गिनती

जबकि मौके से ड्राइवर ट्रक छोड़ कर फरार हो गया  है। ट्रक चुटिया रांची के अजय साहू की  है।  खलासी के सर पर ट्रक का पिछला टायर चढ़ने से उसकी मौत हुई है। सदर थाना पुलिस ने घटना की पड़ताल करते हुए शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

जमशेदपुर : अनियंत्रित पिकअप वैन पलटने से 15 मजदूर घायल, 6 की हालत नाजुक

NewsCode Jharkhand | 24 June, 2018 3:03 PM
newscode-image

गंभीर हालात में जख्‍मी घायलों को किया TMH रेफर

जमशेदपुर। चांडिल थाना क्षेत्र के दलमा पहाड़ियों के पास मजदूरों से भरी पिकअप वैन अनियंत्रित होकर पलट गई। इस दुर्घटना में पिकअप वैन में सवार 15  मजदूर घायल हो गए। सभी को इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल लाया गया है।

घटना उस वक्त हुई जब चांडिल नीमडीह से जमशेदपुर कदमा की ओर 40 मजदूर पिकअप वैन में सवार होकर मजदूरी करने आ रहे थे। इसी दौरान सामने से आ रही एक गाड़ी को बचाने के क्रम में वैन अनियंत्रित होकर पलट गई।

बरकट्टा : स्कॉर्पियो और ऑटो की टक्कर में एक की मौत, आठ घायल

सड़क किनारे खाई में वैन पलट जाने से वैन सवार सभी को चोटें आई। आनन फानन में स्थानीय राहगीरों ने घायलों को एमजीएम अस्पताल में भर्ती करवाया। इधर सभी का इलाज अस्पताल में चल रहा है। जिसमें से छह की हालत गंभीर बनी हुई है। गंभीर हालात में घायलों को TMH रेफर किया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

धनबाद : झरिया के अस्तित्‍व को बचाने के लिए फिर होगा आंदोलन

NewsCode Jharkhand | 24 June, 2018 7:48 PM
newscode-image

झरिया को उजाडने की सरकारी मंसूबे को जनता कामयाब नहीं होने देगी

धनबाद (झरिया)। झरिया के अस्तित्व को बचाने के लिए एक बार फिर आंदोलन होगा। इसबार आंदोलन की मुख्‍य भूमिका में पूर्व मंत्री समरेश सिंह रहेंगे। आंदोलन की रुपरेखा तैयार करने के बावत आज झरिया प्रेस क्लब में समरेश सिंह की अगुवाई में बैठक हुई जिसमें पूर्व में हो चुके झरिया आंदोलन से जुड़े कई लोगों ने भाग लिया।

बैठक में निर्णय लिया गया कि झरिया को बचाने के लिए यह आखिरी आंदोलन होगा। इस आंदोलन में झरिया की जनता पूरी ईमानदारी से लड़ेगी।

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि बंद आर एस पी कॉलेज को उसी जगह चालू किया जाएगा जहां वह है। इसके लिए कोर्ट जाना पड़े या कहीं और लेकिन बंद कॉलेज को खुलवाया जाएगा। बैठक में भाग ले रह लोगों ने एकसुर से कहा कि केंद्र व राज्य सरकार झरिया के अस्तित्व को खत्म करना चाहती है जिसे यहां की जनता सफल नहीं होने देगी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गिरीडीह : सुरीली आवाज से जिले के साथ गांव का नाम रौशन करना चाहती है नाजिया

NewsCode Jharkhand | 24 June, 2018 7:36 PM
newscode-image

उदित नारायण के साथ मंच साझा कर चुकी है

गिरीडीह। अपनी सुरीली आवाज से संगीत की दुनिया में धूम मचानेवाली नाजिया परवीन अपने गृह जिले गिरीडीह व गांव का नाम रौशन कर रही है। वह इस जिले के पिहरा गांव की रहनेवाली है। मशहूर बॉलीवुड गायक उदित नारायण के साथ वह मंच साझा कर चुकी है।

हाल ही में उनकी मेरी आवाज ही मेरी पहचान है एलबम रिलीज हुई है। एलबम में वह पर्दे पर गाती नजर आती है। आवाज में तो वाकई जादू है। ईद के मौके पर अपने घर पहुंची नाजिया ने बताया कि झारखंड की नक्सली घटना पर चिलखारी एक दर्द नामक सिनेमा बन रही है जिसमें उन्‍हें उदित नारायण के साथ गाने का मौका मिला।

गिरीडीह : युवती को लेकर युवक फरार, परिजनों ने थाने में लगाई गुहार

नाजिया इससे पहले तू लौट के आजा एलबम में एक गीत को आवाज दे चुकी है। नाजिया के पिता मोहम्‍मद मोइनुद्दीन पेशे से एक किसान हैं व मां जैनब खातून आंगनबाड़ी सेविका है।

 गिरीडीह : सुरीली आवाज से जिले के साथ गांव का नाम रौशन करना चाहती है नाजिया

मैट्रिक तक की पढ़ाई कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय गावां से पूरी करने के बाद नाजिया रांची में रहकर एमए करने के साथ-साथ संगीत भी सीख रही है। कस्‍तूरबा विद्यालय में पढ़ने के दौरान नाजिया स्‍कूल में आयोजित गीत-संगीत व नृत्‍य प्रतियोगिता में भाग लेती थी और दर्शकों का वाहवाही बटोरती थी।

नाजिया का सपना अपनी आवाज के जरिये पिछडे जिले में शुमार गिरीडीह तथा अपने गांव पिहरा गावां को पहचान दिलाना है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

दिल्ली में 14,000 से ज्यादा पेड़ों की कटाई के विरोध...

more-story-image

रांची : नाबालिग लड़की से दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार