नाइट क्लब का उद्धाटन करने पहुंचे BJP सांसद साक्षी महाराज, लोगों ने उड़ाई खिल्ली

NewsCode | 16 April, 2018 6:42 PM
newscode-image

लखनऊ। अपने विवादित बयानों से हमेशा सुर्खियां बटरोने वाले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद साक्षी महाराज एक बार फिर चर्चा में हैं। रविवार को साक्षी महाराज लखनऊ में एक नाइट क्लब का उद्घाटन करने पहुंच गए। इस दौरान बीजेपी के कार्यकर्ताओं का विरोध भी उन्हें झेलना पड़ा।

हालांकि, मामले में खुद की खिल्ली उड़ते देख साक्षी महाराज ने अपने बचाव में बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जब उन्हें इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने खुद नाराजगी जाहिर की और उन्हें नाइट क्लब का लाइसेंस भी दिखाने को कहा। साक्षी महाराज ने कहा कि वह सिर्फ सांसद ही नहीं, बल्कि एक साधु भी हैं। साधु इस तरह की चीजों से वैसे भी दूर रहते हैं।

बता दें कि रविवार रात BJP सांसद साक्षी महाराज ने लखनऊ के एक नाइट क्लब ‘लेट्स मीट’ का उदघाटन किया। यह नाइट क्लबब लखनऊ के अलीगंज में है। यह एक नाईट लाउंज बार है। यहां डांस और अल्कोहल का इंतजाम रहेगा। भगवा कपड़ों में उद्घाटन करने पहुंचे साक्षी महाराज का विरोध खुद उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ही किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सांसद (साक्षी महाराज) की शिकायत यूपी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय से भी की है।

एयरसेल-मेक्सिस सौदा: कार्ति चिदंबरम को 2 मई तक गिरफ्तारी से राहत

वहीं इस पर लोगों का कहना है कि भगवा चोला व सिद्धांतों की बात करने वाले यह नेता किसी ना किसी बहाने जनता के सामने अपने असली रुप में आ ही जाते हैं।


इससे पहले पिछले साल यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार में मंत्री स्वाति सिंह बीयर बार का उद्धाटन कर विवादों में फंस गई थीं। विवाद बढ़ने पर राज्य सरकार ने इस बारे में स्वाति सिंह से स्पष्टीकरण मांग लिया था। बीजेपी विधायक और मंत्री स्वाति सिंह के एक बीयर बार के उदघाटन की तस्वीरें सोशल मीडिया और समाचार चैनलों पर वायरल हो गयीं थीं, जिसके बाद विपक्षी दलों ने योगी सरकार पर निशाना साधा है।

मक्का मस्जिद ब्लास्ट: ओवैसी ने NIA की जांच पर उठाए गंभीर सवाल, बोले- न्याय नहीं पक्षपात हुआ

राफेल डील: पीएम मोदी और रक्षा मंत्री के खिलाफ कांग्रेस देगी विशेषाधिकार हनन का नोटिस

NewsCode | 23 July, 2018 4:26 PM
newscode-image

नई दिल्ली। शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव के दौरान बहस में पीएम मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन की ओर से राफेल डील के मुद्दे पर दिये गयान बयान को कांग्रेस ने झूठ करार दिया है। कांग्रेस पार्टी ने राफेल डील मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के खिलाफ लोकसभा में विशेषाधिकार हनन का नोटिस देने का फैसला किया है।

सोमवार को पूर्व रक्षामंत्री एके एंटनी के साथ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री ने संसद को गुमराह किया है, ये विशेषाधिकार का हनन है। कांग्रेस इसको लेकर लोकसभा में नोटिस भी देगी।

बीजेपी भी लाएगी विशेषाधिकार हनन

वहीं, दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी भी इस मुद्दे पर राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव लाने की बात कह चुकी है। बीजेपी का ये नोटिस लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन के दफ्तर भी पहुंच गया है, हालांकि अभी इस पर अंतिम फैसला होना है।

सदन में राहुल ने कही थी ये बातें

बता दें कि सदन में राहुल गांधी ने कहा था कि रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल फाइटर जेट्स का मूल्य बताने से यह कहकर मना कर दिया था कि इसकी वजह से देश की सुरक्षा को खतरा पहुंच सकता है। लेकिन बाद में दसॉ एविएशन ने अपनी 2016-17 की वार्षिक रिपोर्ट में बताया कि उसने 1,670 करोड़ रुपए प्रति एयरक्राफ्ट की दर से 36 एयरक्राफ्ट बेचे हैं।

कांग्रेस अध्‍यक्ष ने आगे कहा कि यही एयरक्राफ्ट 11 महीने पहले मिस्र और कतर को 1,319 करोड़ रुपए प्रति एयरक्राफ्ट के हिसाब से कंपनी ने बेचा था। इससे पता चलता है कि इस डील की वजह से देश को 12,632 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

मुजफ्फरपुर रेप केस: बच्ची को मारकर दफनाने के शक में शेल्टर होम परिसर में खुदाई शुरू

केंद्र सरकार और कांग्रेस आमने-सामने

राफेल सौदे पर केंद्र सरकार और कांग्रेस पार्टी आमने-सामने राहुल गांधी ने रविवार को ट्विटर पर लिखा कि, “हमारी रक्षामंत्री ने कहा कि वह खुलासा करेंगी लेकिन अब कह रही हैं कि नहीं करेंगी। वह गोपनीय है और गोपनीय नहीं है के बीच फंसी हुई हैं। जब प्रधानमंत्री से राफेल की कीमत के बारे में पूछा जाता है तो वह घबराते हैं और मेरी आंखों में आंख डालकर नहीं देख पाते। निश्चित तौर पर घोटाले की गंध आ रही है।”

कार्ति चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से राहत, 23 से 31 जुलाई तक विदेश जाने की इजाजत

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

तेनुघाट : झारखंड यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट की बैठक संपन्न

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 4:36 PM
newscode-image

तेनुघाट(बोकारो)। बेरमो अनुमंडल मुख्यालय तेनुघाट में झारखंड यूनियन ऑफ जॉर्नलिस्ट की बैठक किया गया। जिसका मुख्य अतिथि एनयूजे के राष्ट्रीय महासचिव शिव अग्रवाल ने पत्रकारों की एकता को लेकर कई बातें बताये।

बोकारो : निलंबित फार्मासिस्ट का निलंबन वापस लेने सहित छह सूत्री मांगों पर चर्चा

आज पत्रकार अपने कलम की ताकत पर अपनी पहचान बनाने में सफल हो रहे हैं। पत्रकार की हित को लेकर संगठन के द्वारा कई कदम उठाए गए हैं, और सरकार का ध्यान पत्रकार के हित में करने में कामयाब हुई है। बेरमो के पत्रकारों की एकता की भी मिसाल दी जाती है कि किसी भी प्रकार की समस्या में हमेशा वे एकजुट नजर आते हैं।

बोकारो : बंगाली समाज ने सावन के प्रथम सोमवारी पर किया जलाभिषेक

एनयूजे के सदस्य मनोज मिश्रा ने भी सभा को संबोधित किया। स्वागत भाषण जेयूजे के बेरमो महासचिव मो. शाबिर अंसारी, मंच संचालन तथा धन्यवाद ज्ञापन जेयूजे के बेरमो अध्यक्ष सुभाष कटरियार ने किया। मौके पर टिल्लू पांडेय, ओम प्रकाश सहगल, ददन श्रीवास्तव, मिथलेश कुमार, पप्पू चौहान, जीवन सागर, मुकेश कुमार, जीतू चौहान, पंकज सिन्हा, संजय रवानी, सन्तोष रविदास, महावीर कुमार, सुभाष कुमार, राकेश कुमार सहित कई पत्रकार मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

धनबाद : जीएम ने रेलवे अस्‍पताल का किया निरीक्षण, डासलिसिस मशीन लगाने का दिया आदेश

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 4:28 PM
newscode-image

धनबाद। अब रेलवे कमियों को डायलिसिस की सुविधा रेलवे अस्पताल में ही उपलब्‍ध होगी। पूर्व मध्‍य रेलवे के जीएम एलसी त्रिवेदी ने इसके आदेश दे दिए हैं। शनिवार को अस्‍पताल का निरीक्षण करने के बाद उन्‍होंने ये आदेश दिए। किडनी के मरीज रेलवे कर्मियों को अस्‍पताल में ये सुविधा बहाल होने के बाद सुविधा होगी। निरीक्षण के दौरान जीएम के साथ डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा सहित रेलवे के अन्‍य अधिकारी थे।

धनबाद : जिला डेकोरेटर्स एसोसिएशन का 40 वां वार्षिक अधिवेशन 9 सितम्बर को 

इस रलवे अस्‍पताल में पीपीपी अर्थात् पब्लिक-प्राइवेट (पीपीपी) पार्टनरशिप के आधार पर डायलिसिस मशीन लगाया जाएगा, इसके आदेश जीएम ने दे दिए हैं। उन्‍होंने अस्पताल में उपलब्‍ध सुविधाओं पर खुशी व्‍यक्‍त करते हुए पुरस्‍कार देने की भी घोषणा की।

निरीक्षण के दौरान जीएम ने अल्‍ट्रासोनिक वेब मशीन का उद्घाटन किया। इसके अलावा उन्‍होंने सुरक्षा की दृष्टि से रेलवे हॉस्पिटल में सीसीटीवी कैमरा लगाने का भी आदेश दिया। जीएम के आदेश पर उक्‍त अस्‍पताल में इनफर्मेशन मैनेजमेंट सर्विस भी बहाल किया जाएगा।

 (अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

रांची : रिम्स के कैदी वार्ड में सुरक्षा के नए...

more-story-image

हजारीबाग : जेडीयू प्रदेश महासचिव ने किया अयोध्या मेहता इंटरप्राइजेज...