लातेहार : अधिकारी पंचायत स्तर पर करें समस्या का समाधान- उपायुक्त

NewsCode Jharkhand | 6 March, 2018 6:01 PM

लातेहार : अधिकारी पंचायत स्तर पर करें समस्या का समाधान- उपायुक्त

लातेहार। समाहरणालय के पोटिको में मंगलवार को जनता दरबार लगाया गया। जनता दरबार में उपायुक्त राजीव कुमार ने विभिन्न प्रखंडों से आएं ग्रामीणों की समस्या को सून समस्या समाधान के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। जनता दरबार में उपायुक्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सरकारी अधिकारी एवं कर्मी ईमानदारी से कार्य गांव स्तर पर ही समस्या समाधान करें। ताकि ग्रामीणों को अपने समस्या को लेकर जिला नहीं आना पड़े।

उपायुक्त ने स्पष्ट कहा कि सरकारी योजना के प्रति संवेदनशील बन योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाएं। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों को भी जागरूक होने की बात कही। जनता दरबार में बरवाडीह प्रखंड कार्यालय में कार्यरत कम्प्युटर आपरेटर सुदेश्वर राम के पिता पुरन राम ने उपायुक्त को आवेदन देकर अपने बेटे को साजिस के तहत फंसाने का आरोप लगाया।

लातेहार : उपायुक्त ने किया बांध का निरीक्षण, कहा ग्रामीणों की मेनहत नहीं जाएगी बेकार

उन्होंने बताया कि उनका मात्र एक बेटा है जो कमता है और इसी के सहारे पूरे परिवार का भरण पोषण होता है। उपायुक्त ने मामले को गंभरीता से लेते हुए उप विकास आयुक्त को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। सदर प्रखंड के इचाक गांव के दर्जनों ग्रामीणों ने उपायुक्त को गाय पालने को लेकर सरकारी लाभ दिलाने को लेकर आवेदन दिया। जिस पर उपायुक्त ने जिला गब्य विकास पदाधिकारी को गांव में जाकर पूरे मामले जांच कर महिलाओं को गाय दिलाने को लेकर निर्देशित किया।

सदर प्रखंड के मननचोटाग निवासी मुंशी साव ने उपायुक्त को आवेदन देकर सरकारी अमीन अजय विश्वकर्मा पर गलत तरीके से जमीन मापने का आरोप लगाया। उसने बताया कि अमीन विश्वकर्मा ने बिचैलियों से मिलकर मेरे जमीन का गलत तरीके से सीमांकन कर दिया गया। उपायुक्त ने मामले की जांच अपर समाहर्ता को करने का निर्देश दिया। साथ ही दोषी पाएं जाने पर अमीन पर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

गारू प्रखंड निवासी बेबी देवी ने उपायुक्त को आवेदन देकर कम मानदेय दिए जाने की बात बताई। बेबी ने बताया कि मै धांगरटोला पंचायत सचिवालय में तीन वर्ष से झाडु लगाने का कार्य कर रही हूं। जिसके लिए मुझे दो हजार मानेदय दिया जाता था। लेकिन वर्तमान समय में अचानक पांच सौ रूपये दिया जा रहा है।

उपायुक्त ने मामले पर त्वरीत कार्रवाई करते हुए गारू बीडीओ से दूरभाष पर बात कर जांच करने का आदेश दिया। साथ ही सरकारी नियम के तहत राशि दिलाने को लेकर निर्देशित किया। जनता दरबार में बीमारी के ईलाज के लिए अनुदान राशि, प्रधानमंत्री आवास योजना, सड़क निर्माण करवाने, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में नामांकन करवाने समेत दर्जनों मामले आएं जिस पर उपायुक्त ने के द्वारा संबंधित विभाग के अधिकारियों को मामले के निष्पादन को लेकर निर्देशित किया गया।

मौके पर एसी नेलएम एयोन बागे, डीएसओ शैलप्रभा कुजूर, जिला कल्याण पदाधिकारी रमेश चैबे, जिला शिक्षा अधीक्षक मसूदी टुडू, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी शिवनंदन बड़ाईक, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी निलिशा कुमारी, अमीना उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

पलामू : पुलिस ने अगवा किसान को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:59 PM

पलामू : पुलिस ने अगवा किसान को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया

पलामू। पुलिस ने अपहर्ताओं के साथ मुठभेड़ के बाद किसान को मुक्त कराया है। इस सिलसिले में 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने बताया कि किसान कृष्णा प्रजापति को पांकी थाना अंतर्गत केरकी गांव से 14 अप्रैल की सुबह अगवा किया गया था।

जिसके बाद पांकी इन्स्पेक्टर जय प्रकाश सिंह के नेतृत्व में पांकी थाना प्रभारी ललित कुमार व लेस्लीगंज थाना प्रभारी राणा जंगबहादुर सिंह के साथ सशस्त्र बल को शामिल करते हुए छापेमारी टीम गठित की गई।

रांची : व्यवसाय के दीर्घकालीन लाभ आध्‍यात्‍म से ही संभव- स्वामी माधवानंद

संभावित स्थानों पर छापेमारी करते हुए अपह्रत किसान कृष्णा प्रजापति को अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया गया। इस घटना में अपहर्ताओं ने पुलिस की टीम पर फायरिंग भी की जिसपर पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। पुलिस बल द्वारा फायरिंग करते देख अपराधी भागने लगे। घेराबंदी करते हुए तीन राईफल, एक देशी कट्टा व 6 जिंदा गोली व मोबाइल के साथ अपराधियों को धर-दबोचा गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

लातेहार : प्रत्येक गांव में पानी की समूचित व्यवस्था सुनिश्चित करें- अराधना पटनायक

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:40 PM

लातेहार : प्रत्येक गांव में पानी की समूचित व्यवस्था सुनिश्चित करें- अराधना पटनायक

लातेहार। पेयजल स्वच्छता विभाग की सचिव अराधना पटनायक ने परिसदन भवन में पेयजल विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में अराधना पटनायक ने स्पष्ट निर्देश दिए कि किसी भी गांव एवं टोले में पानी की समस्या नहीं हो। उन्होंने पेयजल विभाग के कार्यपालक अभियंता को मुखिया से समन्वय बनाकर चौदहवें वित्त की राशि से खराब पड़े चापाकल की मरम्मति एवं निर्माण कार्य करवाने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान उन्होंने विभागीय नंबर जारी करने का भी निर्देश दिया ताकि कोई  भी ग्रामीण अपने गांव की पानी समस्या को लेकर उनसे संपर्क कर सके। उन्होंने प्रत्येक गांव के टोले में पानी की समूचित व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए कि सिर्फ कागज में ही शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण नहीं हो बल्कि उसे धरातल पर उतारें एवं उसके उद्देश्य की सार्थकता को भी सिद्ध करें।

लातेहर : सचिव केके सोन और आराधना पटनायक ने किया निरिक्षण, अधिकारियों को फटकारा

बैठक में अन्य कई मुद्दों पर भी चर्चा किया गया। जिसके बाद श्री मति पटनायक के द्वारा विभागीय पदाधिकारियों को निर्देशित किया गया। मौक पर पेयजल के कार्यपालक अभियंता रंजीत कुमार ठाकुर, प्रशांत शाहदेव, राहुल कुमार सिंह समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : सोमवार को वन्यजीवों का शिकार करेंगे सेंदरा वीर, तराई में की पूजा

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 9:38 PM

जमशेदपुर : सोमवार को वन्यजीवों का शिकार करेंगे सेंदरा वीर, तराई में की पूजा

सैकड़ों युवक हथियार से लैस

 

मशेदपुर। सेंदरा पर्व पर वन्य जीवों का शिकार करने के लिए आदिवासी दलमा जंगल पर सोमवार तड़के चढ़ाई करेंगे। इससे पूर्व सेंदरा वीरो ने सेंदरा की तराई में पूजा अर्चना की। देर रात से ही आदिवासी समुदाय के लोग हथियार से लैस होकर दलमा पर चढ़ने लगे हैं। इससे पूर्व रविवार की शाम को हथियारबंद आदिवासी युवकों का जमावड़ा पारडीह काली मंदिर के पास लगा। वैसे सोमवार दोपहर के करीब 12 बजे शिकारियों का जत्था शिकार लेकर दलमा से उतरेगा।

दलमा राजा राकेश हेम्ब्रम सेंदरा दल का नेतृत्व कर रहे हैं। हेम्ब्रम के मुताबिक दलमा जंगल में सेंदरा करने के लिए करीब 3000 आदिवासी युवक हथियारों से लैस होकर चढ़े हैं। 196 वर्ग किमी में फैले दलमा जंगल में रविवार शाम सेंदरा पर्व का आगाज हुआ। पहली पूजा शाम में हुई, फिर आधी रात को। मध्य रात्रि की पूजा के बाद दलमा कूच का फरमान जारी हुआ।

रांची : पर्यावरण की पूजा ही गोवर्धन की पूजा- उमेश भाई जानी

वन विभाग ने लगाया चेक नाका

हालांकि इस बार वन विभाग ने कई जगह पर चेक नाका लगाया है। इधर पारंपरिक ढोल नगाड़ों के साथ इन लोगों ने वन देवी की पूजा अर्चना की। दलमाजंगल में जाने वाले हर शिकारी के घर पर पारंपरिक पूजा होती है। इस दौरान कांसा के कलश में पानी भरकर उसे पूजा कक्ष में रखा जाता है। वहीं, सेंदरा वीर के सेंदरा से आने के बाद उस कलश को उठाया जाएगा। मान्यता है कि अगर कलश में पानी घट जाता है तो यह शुभ नहीं होता है। वैसे इस पूजा पर सेंदरा वीर अपने लिए सुरक्षा और अच्छे शिकार की मांग करते है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

© Copyright 2017 NewsCode - All Rights Reserved.