कोडरमा : बलात्कार की घटना के खिलाफ निकाली रैली, आरोपियों को फांसी देने की मांग

NewsCode Jharkhand | 22 April, 2018 8:51 PM

कोडरमा : बलात्कार की घटना के खिलाफ निकाली रैली, आरोपियों को फांसी देने की मांग

कोडरमा। मध्य जिला परिषद सदस्य पवन सिंह, मुखिया प्रतिनिधि चुरन खान उर्फ कौशर खान सहित कई ग्रामीणों के नेतृत्व में कैंडल मार्च जयनगर पूर्वी पंचायत में आसिफा के बलात्कारियों और आसिफा के हत्यारों के खिलाफ कैंडल मार्च पेठियाबागी बाजार चौक से निकाला गया और मस्जिद मोहल्ला थाना मोहल्ला से होकर थाना मोड के तरफ से झंडा चौक पर समाप्त हुआ। सरकार के खिलाफ नारा लगाकर आसिफा के बलात्कारियों को फांसी की सजा देने की मांग की,  और भारत में बलात्कार करने वालों को फांसी का सजा दिया जाए।

कोडरमा : सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाएं- धर्मवीर झा

साथ ही साथ उन्नाव में भी हुए बलात्कार पर बलात्कारियों के खिलाफ भी फांसी की मांग किया गया। मौके पर वार्ड सदस्य प्रकाश सिंह, राजकुमार दास, निसार खान, मनौवर खान सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : कांग्रेस 26 मई को सभी जिला मुख्यालयों में विश्वासघात दिवस मनाएगी

NewsCode Jharkhand | 23 May, 2018 8:23 PM

रांची : कांग्रेस 26 मई को सभी जिला मुख्यालयों में विश्वासघात दिवस मनाएगी

रांची।  25 मई को मोदी सरकार के चार वर्ष पूरा होने पर कांग्रेस पार्टी 26 मई को विश्वाघात दिवस के रुप में हर जिला मुख्यालयों पर कार्यक्रम आयोजित करेगी। कांग्रेस का यह मानना है कि मोदी सरकार ने देश की जनता के साथ विश्वासघात है और जनता का विश्वास खो दिया है।

 पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने आज कांग्रेस मुख्‍यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वर्ष 2009-10 में अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत लगभग एक दशक में सर्वाधिक 140 डॉलर प्रति बैरल थी तब भी देश में तेल इतना महंगा नहीं हुआ था, जितना आज है।

रांची : कांग्रेस ओबीसी विभाग के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष पहुंचे रांची

आज तो कच्चे तेल की कीमत 80 डॉलर प्रति बैरल के आस-पास ही है फिर भी इतना महंगा क्यों हैं? उन्होंने कहा कि मोदी राज में अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम 26-27 डॉलर प्रति बैरल तक कम हुए है लेकिन जनता को इसका फायदा नहीं दिया गया। 2014 के बाद मोदी सरकार तेल के कीमतों में बढ़ोत्तरी करके मुनाफा खा रही है और जनता पर बोझ लाद रही है।

साथ ही साथ तेल कंपनियों के मुनाफे भी लगातार बढ़ रहे  हैं। तेल कंपनियों के भी अपने मुनाफा में महंगाई के भार को शामिल करना चाहिए। सरकार तेल के दाम कम कराकर अविलम्ब जनता को राहत दें। इस मौके पर प्रदेश प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव एवं प्रदेश महिला कांग्रेस कमिटी की अध्यक्ष आभा सिन्हा भी उपस्थित थीं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

कोडरमा : पहले गरीबों का केरोसिन बंद किया, अब बिजली दर बढ़ाई- भाकपा

NewsCode Jharkhand | 23 May, 2018 8:22 PM

कोडरमा : पहले गरीबों का केरोसिन बंद किया, अब बिजली दर बढ़ाई- भाकपा

भाकपा ने विद्युत विभाग कार्यालय के समक्ष किया धरना-प्रदर्शन

कोडरमा। भाकपा जिला परिषद कोडरमा द्वारा विद्युत विभाग कार्यालय झुमरीतिलैया के समक्ष बुधवार को धरना-प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के पूर्व पूर्णिमा टॉकिज से जुलूस निकाला गया। जुलूस में शामिल कार्यकर्ता बिजली की दर में की गई वृद्धि वापस लेने, 22 घंटे बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करने की मांग के समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे।

जुलूस बिजली ऑफिस पहुंचकर धरना प्रदर्शन में तब्दील हो गई। धरना अध्यक्षता अंचल मंत्री रमेश यादव ने की। धरना को संबोधित करते हुए भाकपा राज्य परिषद सदस्य सह चंदवारा जिप सदस्य महादेव राम ने कहा कि अच्छे दिन वाली सरकार में बिजली बिल, केरोसिन, पेट्रोल, डीजल के मूल्यों में बेतहासा वृद्धि की गई है। गरीब परिवार का केरोसिन पहले ही छीन लिया गया है, अब बिजली भी छिन ली गई है।

गरीबों के पास आंदोलन के सिवाय कोई दूसरा रास्ता नहीं है। रघुवर सरकार के कुशासन में गरीबों का जीना दूभर हो गया है। कोडरमा जिला में ग्रामीण क्षेत्रों में मात्र 4.5 घंटा ही बिजली रहती है। अगर बिजली बिल में वृद्धि वापस नहीं ली गई तो आंदोलन तेज किया जाएगा।

भाकपा जिलामंत्री प्रकाश रजक ने कहा कि रघुवर सरकार बिजली को निजीकरण करने कि साजिश कर रही है। कोडरमा जिला में 60 मेगावाट बिजली आपूर्ति करने की आवश्यकता है तभी कोडरमा जिलावासियों को नियमित बिजली मिल पाएगी। बिल नहीं भुगतान करने पर गरीबों का कनेक्शन काट दिया जाता है। वहीं बड़े-बड़े उद्योगपतियों को बिल में राहत दी जाती है।

उप प्रमुख वीरेन्द्र यादव ने कहा कि अधिकारियों की लापरवाही से प्रत्येक माह घाटा हो रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में कनीय अभियंता की मिलीभगत से अवैध कनेक्शन से आटा चक्की मिल चल रहा है। कोडरमा जिला में लोड शेडिंग हटाने की जरूरत है।

बेंगाबाद : कमजोर तबके को अधिकार विहीन करना चाहती है भाजपा सरकार- माले

सोनिया देवी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सिंचाई कार्य के लिए नि:शुल्क बिजली देने की आवश्यकता है। पुरुषोत्तम यादव एवं अंचल मंत्री अर्जुन यादव ने कहा कि देश में संपन्न लोगों को नियमित बिजली मिलती है, गरीब बल्ब जलाने के लिए तरसते हैं। इस विषमता को समाप्त करने की जरूरत है।

सभा को धनपत यादव,कुलेश्वर पंडित, उमा देवी, काली सिंह, सुदामा यादव, रामेश्वर चौधरी, महेंद्र प्रसाद, कामेशवर राणा, राजेश कुमार सिंह, रफिक मियां, बालकिशुन ठाकुर, बलवा देवी ने भी संबोधित किया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : पोल-खोल, हल्ला- बोल अभियान के तहत भाकपा ने किया राजभवन मार्च

NewsCode Jharkhand | 23 May, 2018 6:27 PM

रांची : पोल-खोल, हल्ला- बोल अभियान के तहत भाकपा ने किया राजभवन मार्च

रांची। भाकपा द्वारा बुधवार को राज भवन मार्च का आयोजन किया गया। मार्च जयपाल सिंह मुंडा स्‍टेडियम से निकल कर राजभवन तक गया। राजभवन के समक्ष मार्च जनसभा में बदल गया। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए वक्‍ताओं ने कहा कि कुशासन के खिलाफ पोल-खोल, हल्ला- बोल अभियान के तहत मार्च का आयोजन किया गया है।

रांची: झारखंड में बनी फिल्‍म लोहरदगा का प्रदर्शन 25 मई को

मार्च में बड़ी संख्या में किसान -मजदूर छात्र ,युवा महिलाएं भी शामिल थी। जनसभा के बाद एक शिष्टमंडल द्वारा 23 सूत्री मांगों पर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा। जनसभा का संबोधित करते हुए वक्‍ताओं ने केन्‍द्र और राज्‍य सरकार पर जमकर वार किया।

उन्‍होंने कहा कि मोदी सरकार ने युवाओं को 2 करोड़ नौकरी देने के नाम पर छलने का काम किया है। कार्यक्रम में काफी संख्‍या में लोग उपस्थित थें।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

X

अपना जिला चुने