केरल: अमित शाह की अगुवाई में शुरू हुई बीजेपी की ‘जन रक्षा यात्रा’

NewsCode | 3 October, 2017 5:55 PM
newscode-image

कन्नूर। बीजेपी ने आज से अपने मिशन केरल की जोर-शोर से शुरुआत कर दी है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह आज से अपनी 15 दिन की केरल यात्रा की शुरुआत कर दी है। केरल में आरएसएस-बीजेपी के कार्यकर्ताओं की हो रही हत्याओं के खिलाफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज से जनसुरक्षा यात्रा शुरू कर दी है। इधर, राज्य के मुख्यमंत्री पी विजयन ने भी मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने कहा है कि केन्द्र सरकार के बड़े मंत्री और आरएसएस से जुड़े लोग केरल की छवि को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं, जिसका विरोध होना चाहिए।

अमित शाह की यह यात्रा सबसे पहले कन्नूर के पयन्नुर में शुरू हुई। यात्रा में भारी संख्या में उनके समर्थक बीजेपी के झंडे और बैनर लिए हुए नजर आ रहे हैं। शाह ने कन्नूर जिले के तालीपरम्बा में प्रसिद्ध राजराजेश्वर मंदिर में आज पूजा-अर्चना की। शाह जिले के पय्यान्नूर में भाजपा की जनरक्षा यात्रा का शुभारंभ करने के लिए यहां आए हैं। पूजा अर्चना करने के बाद शाह राज्य में 15 दिवसीय रैली का शुभारंभ करने के लिए पय्यान्नूर गए।

बीजेपी प्रमुख अमित शाह ने उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ सीपीएम की हिंसा के खिलाफ कल से सभी राज्यों की राजधानियों में दो सप्ताह की ‘पदयात्रा’ की घोषणा की है। केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन के गृह नगर और सीपीएम के गढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि राज्य में हिंसा के लिए विजयन जिम्मेदार हैं। बीजेपी कार्यकर्ता ‘राजनीतिक हत्याओं’ के पीड़ित हैं।

गौरतलब है कि शाह एक पखवाड़े तक चलने वाली जन रक्षा यात्रा का शुभारंभ करने कन्नूर पहुंचे थे. राज्य में वाम दल की कथित राजनीतिक हिंसा के विरोध में पार्टी इस यात्रा का आयोजन कर रही है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में वाम दल के शासन से लड़ने के लिए लोकतांत्रिक तरीकों का इस्तेमाल करेगी। इस मौके पर शाह ने आरोप लगाते हुए कहा, “सीपीएम नेता और केरल के मुख्यमंत्री विजयन राज्य में सभी राजनीतिक हत्याओं के लिए प्रत्यक्ष रूप से जिम्मेदार हैं।”

आपको बता दें कि बीजेपी ने सोमवार को कहा था कि राज्य में वर्ष 2001 के बाद से 120 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या की जा चुकी है जिनमें से 84 लोग केवल कन्नूर में मारे गए। पिछले साल सीपीएम के सत्ता में आने के बाद से कन्नूर में 14 लोग मारे जा चुके हैं।

आम आदमी पार्टी का एक दिवसीय उपवास सह धरना प्रदर्शन

Om Prakash | 18 November, 2018 4:42 PM
newscode-image

रांची: 15 नवंबर को झारखंड स्थापना दिवस समारोह के दौरान पारा शिक्षकों पर लाठीचार्ज, मुकदमा और बर्खास्तगी के विरोध में तथा मीडियाकर्मियों पर लाठी चार्ज की घटना की न्यायिक जांच कराने, दोषी पुलिस कर्मियों और अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई और झारखंड में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांगों को लेकर आम आदमी पार्टी ने मोराबादी स्थित गाँधी प्रतिमा के समक्ष  एकदिवसीय उपवास रखा और धरणा दिया।

मौके पर पार्टी के प्रदेश संयोजक जयशंकर चौधरा ने कहा कि  अमर शहीद बिरसा मुंडा की पुण्यतिथि और झारखंड राज्य के स्थापना दिवस के दिन राज्य के पारा शिक्षकों के आंदोलन पर पुलिस द्वारा बर्बरता पूर्वक दमन, लाठीचार्ज, अश्रुगैस फायरिंग किया जाना राज्य की रघुवर सरकार का तानाशाही होने का परिचायक है। ये सरकार जन आंदोलनों-शिक्षक-कर्मचारियों के आंदोलनों और कई तरह के न्यायपूर्ण मांगो को लेकर आंदोलनरत संगठनों को लाठी गोली से दबाना चाहती है। उन्होंने कहा कि एक कमजोर, डरपोक, अलोकप्रिय , जनविरोधी सरकार ही ऐसा कर सकती है। उन्होंने कहा कि सरकार संवेदनहीन हो गयी है इसलिए संवाद के बजाय संगीनों के साये में शासन चला रही है। यह घोर अलोकतांत्रिक कदम है। यह कॉर्पोरेटों कि सरकार है। पारा शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज करना और उनको बर्खास्त करना काफि दुर्भाग्यपूर्ण है तथा रघुवर सरकार के निम्ममेपन और तानाशाही का जीता जागता उदाहारण है। यह सरकार कहती है कि उनके पास शिक्षकों को द़ेने के लिए पैसे नहीं है किन्तु झुठी और भ्रष्ट सरकार बाहर के कलाकारों से नाच गाना करवाने के लिए कई करोड़ देती है और यह झारखंड कि माटी और यहाँ के कलाकारों का अपमान है।

पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण मुंडा ने कहा कि पारा शिक्षकों और घटना क़ो कवर कर रहे मीडिया के साथियों पर लाठीचार्ज करवाना नाकाम रघुवर सरकार कि कायरतापूर्ण व घिन्नौनी  हरकत है। पारा शिक्षकों की न्यायोचित माँगों को पुरा करने की जगह उन पर लाठीचार्ज करवाना रघुवर सरकार कि असंवेनशीलता का परिचायक है। प्रदेश उपाध्यक्ष  पवन पांडे ने कहा कि रघुवर सरकार ने हक व विरोध कि आवाज को दबाने के लिए डंडे व पुलिस को अपना हथियार बना लिया है। अपना हक व अधिकार माँग रहे पारा शिक्षकों पर पुलिस द्वारा लाठीचार्ज किया जाना काफि दुर्भाग्यपूर्ण व शर्मनाक है।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रदेश सचिव राजन कुमार सिंह, हरदयाल यादव, अविनाश नारायण, आलोक शरण,  यास्मिन लाल,  संचारी सेन,जाबिर हुसैन, पियूष झा, मनोज चौरसिया, राहूल कुमार, पुनम कुमारी, रवि टोप्पो, कृष्ण किशोर,  संतोष विश्वकर्मा,अश्विनी कुमार, अनिर्बान सरकार, नवीन प्रभाकर, अमन साहू, विकास पाठक, अंजन वर्मा, सोमा लिंडा, राशिद जामिल व अन्य उपस्थित रहे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

sun

320C

Clear

Jara Hatke

Read Also

रांची: रेलवे अधिकारियों के साथ सीएम ने की बैठक में दिया निर्देश, योजनाओं को जल्द पूरा करें

NewsCode Jharkhand | 21 November, 2018 3:46 PM
newscode-image

रांची।    झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य में चल रही रेल परियोजनाओं और रेल ओवरब्रिज के कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के तर्ज पर राज्य सरकार और रेलवे के बीच एक कारपोरेशन का गठन किया जाए। इसके माध्यम से रेलवे से जुड़े कार्य किए जाएं। इससे कार्य में तेजी आएगी और प्रोजेक्ट समय पर पूरे हो सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने चुटिया आरओबी, नामकुम कांड्रा आरओबी, केतारी बागान आरओबी, धनबाद स्थित गया पुल समेत सभी रेल ओवरब्रिज के कार्यों को यथाशीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया। इसके साख-साथ रांची-नई दिल्ली राजधानी और एलटीटी सुपरफास्ट को प्रतिदिन करने, पूरी-नई दिल्ली पुरुषोत्तम एक्सप्रेस को जयपुर तक करने, रांची-लखनऊ-देहरादून के लिए ट्रेन समेत अन्य ट्रेनों के फेरे में वृद्धि करने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड में भेजने को कहा।

बैठक में नगर विकास मंत्री सी पी सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल, पथ निर्माण सचिव श्री के के सोन, परिवहन सचिव श्री प्रवीण टोप्पो, साउथ ईस्टर्न रेलवे के महाप्रबंधक श्री पूर्णेन्दु मिश्रा, एडीआरएम रांची श्री विजय कुमार, सीनियर डीसीएम अविनाश, श्री नीरज कुमार समेत रेलवे अधिकारी उपस्थित थे।

धनबाद: खादान से काले हीरे की बढ़ी चोरी, इलाके में जवानों को किया गया तैनात

NewsCode Jharkhand | 21 November, 2018 3:23 PM
newscode-image

धनबाद । अब तक तो आपने सुना होगा कि हीरे जेवरात की चोरी हो जाती है। लेकिन आपको यह सुनकर थोड़ा अटपटा लगेगा क्योकि धनबाद इलाके में खादान से अब कोयले की चोरी हो रही है।आपके सामने जो तस्वीर दिखाई पड़ रही है वह आपको चौका देगी। इस तस्वीन से आप यह तो समझ गए होंगे कि यह इलाका कोयला यानी कि काले हीरे का इलाका है। लेकिन जब आपको पता चलेगा कि रात में इस खादान में लोग कोयले की चोरी करने लगे हैं तब आप चौक जरुर जाएंगे। दरअसल अभी तक तो चोरी बड़ी गाड़ियों से की जाती रही है लेकिन अब चोर सीधे खादान से खुद ही चोरी करने लगे हैं।

चोरों का आतंक इस कदर हावी है की चोर अब चोरी करने बीसीसीएल के गहरे खदान में खुश कर चोरी की घटना अंजाम दे रहे हैं। ताजा  मामला धनबाद के भौरा ओपी क्षेत्र में पड़ने वाले बीसीसीएल की भौरा दक्षिण 37/38 खदान में चोरों के घुसाने की सुचना के बाद खदान के ऊपर सीआईएसफ और जिला पुलिस के जवान चोरो को पकड़ने के लिए पुरे खदान के चारो और पुलिस तैनात कर दिया है जिसके बाद लगभग 500 मीटर गहरे खदान के अंदर सर्च सीआईएसफ कर रही है वही कर्मियों का कहना है की आज सुबह जब ड्यूटी पर आकर खदान के अंदर पम्प चालू करने गए तो अन्दर से तीन चार टोर्च की रोशनी दिखाई दी जिसके बाद हमने इसकी सूचना अपने वरीय अधिकारी को दी।

 

 

 

More Story

more-story-image

रांची: भापुसे के 17 अधिकारियों का तबादला,कई जिलों के एसपी...

more-story-image

रांची: अन्तराष्ट्रीय व्यापार मेले में भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा...

X

अपना जिला चुने