वर्ल्ड रेड क्रॉस डे विशेष : क्यों इसे ‘अन्तर्राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस’ के रूप में भी मनाया जाता है, जानिये…

NewsCode Jharkhand | 8 May, 2018 12:23 PM

वर्ल्ड रेड क्रॉस डे विशेष : क्यों इसे ‘अन्तर्राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस’ के रूप में भी मनाया जाता है, जानिये…

रांची। विश्व रेडक्रॉस दिवस अन्तर्राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस के रूप में मनाया जाता है। लगभग 150 वर्षों से पूरे विश्व में रेडक्रॉस के स्वयंसेवक असहाय एवं पीड़ित मानव को चिकित्सा के दौरान खून देकर (ब्लड डोनेट) सहायता के लिए काम करते आ रहे हैं। भारत में वर्ष 1920 में पार्लियामेंट्री एक्ट के तहत भारतीय रेडक्रॉस सोसाइटी का गठन हुआ जो निरंतर अक्षम लोगों को  कर रहा है।

विश्व का पहला ब्लड बैंक ‘रेडक्रॉस’

इस संस्था की पहचान के लिए सफेद पट्टी पर लाल रंग के क्रॉस चिह्न को मान्यता दी गई। आज यह चिह्न पूरे विश्व में पीड़ित मानव की सेवा का प्रतीक बन गया है। इसके साथ यह भी अति महत्त्वपूर्ण है कि विश्व का पहला ब्लड बैंक रेडक्रॉस की पहल पर अमेरिका में 1937 में खुला।

आज विश्व के अधिकांश ब्लड बैंकों का संचालन रेडक्रॉस एवं उसकी सहयोगी संस्थाओं के द्वारा किया जाता है। रेडक्रॉस द्वारा चलाए गए रक्तदान जागरूकता अभियान के कारण ही आज थैलेसिमिया कैंसर, एनीमिया (खून की कमी) जैसी अनेक जानलेवा बीमारियों से हजारों लोगों की जान बच रही है।

‘Memorable smiles from around the world’

रेडक्रॉस के स्वंय सेवक विभिन्न प्रकार के आपदाओं में निरंतर निस्वार्थ भावना से अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय रेडक्रॉस का ‘Memorable smiles from around the world’ का थीम है। विश्व के लगभग दो सौ देश किसी एक विचार पर सहमत हैं तो वह है रेडक्रॉस का विचार। युद्ध के मैदान में घायल सैनिकों की चिकित्सा के साथ प्रकृति के महाविनाश के बीच फंसे लोगों की मदद के लिए हमेशा डटा रहता है रेडक्रॉस।

हेनरी ने दिया योगदान

बिना भेदभाव के पीड़ित मानव की सेवा करने का विचार देने वाले तथा रेडक्रॉस अभियान को जन्म देने वाले महान मानवता के प्रेमी हेनरी डयूनेन्ट का जन्म 8 मई, 1828 में हुआ था। वह एक स्विस बिजनेसमैन और महान समाज सेवक थे। उनके जन्म दिन 8 मई को ही विश्व रेडक्रॉस दिवस के रूप में पूरे विश्व में मनाया जाता है। इसे हम अंतर्राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस के रूप में मनाते हैं।

हेनरी ने समाज सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया और पूरे विश्व के लोगों को मानवतावादी सेवक के रूप में स्थापित करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने मानव सेवा के लिए लोगों के दिलों में संवेदना पैदा की। इसके लिए उन्होंने कई तरह के अभियान को भी छेड़ा।

सेवा कार्य के लिए उनके द्वारा गठित सोसायटी को रेडक्रॉस का नाम दिया गया। हेनरी के इसी असाधारण योगदान को देखते हुए वर्ष 1901 में उन्हें मानव सेवा के कार्यों के लिए पहला नोबेल शांति पुरस्कार भी मिला।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

गिरिडीह : दंपत्ति की हत्या से दहल उठा पारसनाथ प्रक्षेत्र, इलाके में सनसनी

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 10:04 AM

गिरिडीह : दंपत्ति की हत्या से दहल उठा पारसनाथ प्रक्षेत्र, इलाके में सनसनी

गिरिडीह। दो लोगों की जघन्य हत्या से दहल उठा गिरिडीह का नक्सल प्रभावित पारसनाथ प्रक्षेत्र। यहां मधुबन और निमियाघाट की सीमावर्ती क्षेत्र में दो लोगों की गला काट कर निर्मम हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान मधुबन थाना क्षेत्र के डोक्वाटाण्ड निवासी किशुन राय और उसकी पत्नी के रूप में की गई है।

घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। कोई इसे नक्सली घटना बता रहा था तो कोई इसे आपसी रंजिश से जोड़कर देख रहा था। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

गिरिडीह : दंपत्ति की हत्या से दहल उठा पारसनाथ प्रक्षेत्र, इलाके में सनसनी

लातेहार : सड़क किनारे झाड़ी में मिला महिला का शव

हालांकि पुलिस ने इसे नक्सली घटना मानने से इनकार कर दिया है। पुलिस का कहना आपसी रंजिश में दम्पति की हत्या कर उसे नक्सली कार्रवाई का रूप दिया गया है। जांच की जा रही है जल्द ही इसका खुलासा कर लिया जाएगा।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Read Also

रामगढ़ : गंगा दशहरा के अवसर पर मुख्यमंत्री ने दामोदर महोत्सव की शुरुआत की

खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय के साथ दामोदर नदी के तट पर गंगा महाआरती की

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 9:36 AM

रामगढ़ : गंगा दशहरा के अवसर पर मुख्यमंत्री ने दामोदर महोत्सव की शुरुआत की

रामगढ़ । युगांतर भारती दामोदर बचाओ आंदोलन के बैनर तले दामोदर महोत्सव का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि सीएम रघुवर दास और विशिष्ट अतिथि के रुप में मंत्री सरयू राय उपस्थित हुए। गंगा दशहरा के अवसर पर मुख्यमंत्री ने दामोदर महोत्सव की शुरुआत की। खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय के साथ दामोदर नदी के तट पर गंगा महाआरती की।

सीएम ने कहा कि सरकारी और निजी कंपनियों की फैक्ट्रियों  का कचरा दामोदर नदी में बहने से पानी प्रदूषित हो गया है। जब तक सरकारी और निजी कंपनियां अपना गंदा कचरा पानी दामोदर नदी में बहाना बंद नहीं करेगी तब तक दामोदर नदी को प्रदूषण मुक्त करना बहुत ही मुश्किल है।

लोहरदगा : राज्यपाल ने किया दामोदर  महोत्सव का शुभारम्भ  

सीएम ने सरयू राय की तारीफ करते हुए कहा कि सरयू राय और उनके समिति के द्वारा जो प्रयास किया जा रहा है उसमें उनको जो जानकारी दी गई है उसमें 90% निजी और सरकारी कंपनियों ने अपना कचरा नदी में बहना बंद कर दिया है। अगर यह बात सही है तो इसके लिए यह तारीफ के काबिल है।

सरयू राय ने कहा कि  गंगा नदी के पहले दामोदर नदी का जन्म हुआ है और पूरी दामोदर नदी को प्रदूषण से मुक्त करना उनका पहली प्राथमिकता है। उनकी समिति के द्वारा लगातार यह प्रयास किया जा रहा है कि दामोदर नदी को प्रदूषण मुक्त किया जाए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

चांडिल : ईचागढ़ विधायक ने 47 लाख की दो योजनाओं का किया शिलान्यास

NewsCode Jharkhand | 25 May, 2018 8:41 AM

चांडिल : ईचागढ़ विधायक ने 47 लाख की दो योजनाओं का किया शिलान्यास

चांडिल (सरायकेला) । ईचागढ प्रखंड क्षेत्र के कई योजनाओं का गुरूवार को ईचागढ़ के विधायक साधुचरण महतो ने शिलान्यास किया। विधायक ने गुदड़ी पंचायत भवन में प्रधानमंत्री उज्ज्वला प्लस योजना अन्तर्गत गैस सिलेंडर,चुल्हा का वितरण किया।

विधायक साधू चरण महतो ने सिलदा में करीब 24 लाख की लागत से भूमि-संरक्षण विभाग के द्वारा सरकारी तालाब का मरम्मती कार्य एवं अनाबद्ध निधि से ग्रामीण विकास विभाग द्वारा नदीसाई व तपोवन के बीच नाला मे पुलिया निर्माण कार्य का शिलापट्ट अनावरण कर व नारियल फोड़ कर शिलान्यास किया।

चास : सारदाहा पंचायत के बसंतपुर गांव में मंत्री प्रतिनिधि ने किया तालाब का शिलान्यास

उन्होंने शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हूए कहा की सिलदा काटघोड़ा एवं गौरांगकोचा को जोड़ने वाले सड़क का भी जल्द ही कार्य का शुभारंभ किया जाएगा। विधायक ने कहा की कुटाम नारो सड़क भी बनवाया जाएगा तथा भूमिगत जल-स्रोत बढ़ाने एवं सिंचाई हेतु सरकारी व निजी तालबों का मरम्मती कार्य युद्ध स्तर पर किया जाएगा।

मौके पर जिप सदस्य पिंकी देवी,ईचागढ़ प्रखंड के बीडीओ सोमा उरांव,बीस सूत्री अध्यक्ष विश्वनाथ उरांव, सांसद प्रतिनिधि बलराम महतो, मुखिया निताई उरांव, भूषण मुर्मु, रंजीत टुडु, मनोरंजन महतो, सुभाष महतो , यदुपति गोप, मनसाराम प्रामाणिक सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

X

अपना जिला चुने