जामताड़ा : पुलिस ने साइबर क्राइम का किया खुलासा, 13 अपराधी गिरफ्तार

भाषाई आधार पर क्षेत्र विशेष में साइबर अपराध को देता था अंजाम

NewsCode Jharkhand | 3 April, 2018 9:15 PM

जामताड़ा : पुलिस ने साइबर क्राइम का किया खुलासा, 13 अपराधी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ से आयी थी पुलिस, 21 बैंक खाता, छह एटीएम सहित कई सामान बरामद

जामताड़ा। सोमवार को जिले के जामताड़ा, नारायणपुर व करमाटांड थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवों से पुलिस छापेमारी में 13 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। मंगलवार को इन 13 में से 11 आरोपियों को जामताड़ा जेल भेज दिया गया। जबकि तीन आरोपियों को छत्तीसगढ़ पुलिस अपने साथ ले गई।

छापेमारी में गिरफ्तार साइबर आरोपियों के पास से विभिन्न बैंकों के 21 बैंक खाता, छह एटीएम कार्ड, 21 बड़ा-छोटा मोबाइल एवं 07 फर्जी सिम पुलिस ने जब्त किया है। उक्त जानकारी मंगलवार को साइबर थाना में प्रेस वार्ता का आयोजन कर साइबर डीएसपी सुमित कुमार ने दी।

छत्तीसगढ़ सीटी कोतवाली सदर थाना में था मामला दर्ज

छत्तीसगढ़ सीटी कोतवाली थाना सदर के इंस्पेक्टर व नारायणपुर थाना प्रभारी अजय कुमार के संयुक्त नेतृत्व में नारायणपुर, जामताड़ा व करमाटांड़ थाना क्षेत्र के बांस पहाड़ी, शंकरपुर, झिलुवा,पाकडीह आदि गांव में छापेमारी कर चार साइबर आरोपियों क्रमश: शंकरपुर निवासी भागीरथ पंडित, बांसपहाडी निवासी सह राम-लखन होटल के संचालक लखन मंडल, विकास मंडल,पाकडीह निवासी गांधी राणा को गिरफ्तार किया गया। इन चारों में से लखन मंडल को जामताड़ा जेल भेजा गया वहीं शेष तीन आरोपियों को न्यायालय में प्रस्तुत कर छत्तीसगढ़ पुलिस अपने साथ ले गई।

15 दिनों से पुलिस कर रही थी जांच

छत्तीसगढ़ पुलिस कोतवाली थाना में दर्ज 35 हजार रुपए अवैध निकासी की पड़ताल करने पहुंचे थी। जांच के क्रम में करोड़ों रुपए साइबर अपराध करने का मामला प्रकाश में आया है। सीटी कोतवाली थाना इंसपेक्टर मोहर मंडल ने बताया कि थाना में दर्ज मामले के अनुसंधान को ले गत 15 दिनों से बिहार के मुंगेर व झारखंड के जामताड़ा, देवघर व गिरिडीह जिला में भ्रमण कर रहा था। ये चारों साइबर अपराध में प्रमुख सरगना है।

गुप्त सूचना पर हुई छापेमारी, सात गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक को प्राप्त गुप्त सूचना के आधार पर साइबर डीएसपी की अध्यक्षता में गठित टीम द्वारा की गई छापेमारी में जामताड़ा व करमाटांड थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवों से सात साइबर आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है। पुलिस अधीक्षक को जामताड़ा व करमाटांड थाना क्षेत्र के सियाटांड, सोनबाद व रामपुर में साइबर आरोपियों के बारे में सूचना मिली थी। इस निमित छापेमारी दल का गठन कर गिरफ्तारी करने का निर्देश दिया गया।

छापेमारी के क्रम में सोनबाद गांव से गौतम दत्ता, राजीव नाग, मालू दां वहीं सियाटांड से गुड्डू मंडल, रामनाथ मंडल, रामपुर गांव से पलटन मंडल के दोनों पुत्र क्रमश: विष्णु मंडल व हरेंद्र मंडल को बांस की झाड़ी में साइबर अपराध को अंजाम देते गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार आरोपियों के पास से साइबर अपराध में प्रयोग किये गये मोबाइल फोन व फर्जी सिम भी जब्त किया गया है। सभी आरोपियों के विरुद्ध जामताड़ा साइबर थाना मामला दर्ज कर जेल भेज दिया गया।

गुड्डू मंडल पूर्व के मामले में भी संलिप्त

करमाटांड थाना क्षेत्र के सियाटांड निवासी भूनी मंडल का पुत्र गुड्डू मंडल पूर्व में दर्ज साइबर मामले में भी संलिप्ता है। पूर्व में दर्ज साइबर मामले में गुड्डू मंडल का नाम दर्ज है। पुन: उसके नाम पर मामला दर्ज किया गया। वहीं जामताड़ा थाना क्षेत्र के सोनबाद गांव से गिरफ्तार आरोपी बांग्‍ला भाषी है इसी कारण ये पश्चिम बंगाल व दार्जलिंग क्षेत्र को लक्ष्य निर्धारित कर साइबर अपराध को अंजाम देता था। इसी प्रकार सियाटांड गांव से गिरफ्तार गुड्डू मंडल व रामनाथ मंडल दक्षिण भारत व मध्य भारत को टारगेट बनाया था। इसके द्वारा इन्हीं क्षेत्र के लोगों के बैंक खाता से राशि उड़ाने का मामला है।

नाला व कुंडहित से एक-एक साइबर आरोपी गिरफ्तार

बीती रात नाला पुलिस ने छापेमारी कर नाला व कुंडहित से एक-एक साइबर आरोपी को गिरफ्तार किया है। नाला से निमाई घोष वहीं कुंडहित से दिलीप घोडई को गिरफ्तार किया गया है। निमाई घोष अपने एटीएम कार्ड का साइबर से अर्जित राशि निकासी में उपयोग करता था। एक साल में लगभग दो लाख से अधिक रुपए की निकासी करने का आरोप है। दिलीप घोड़ई भी अपने एटीएम का उपयोग साइबर अर्जित से पैसे के निकास में करता रहा है।

देवरी : अवैध कोयला लदा ट्रक जब्त, चालक, उपचालक गिरफ्तार

छापेमारी दल में ये थे शामिल

पुलिस उपाधीक्षक साइबर क्राइम सुमित कुमार, साइबर थाना प्रभारी बाल्मिकी कुमार सिंह, पुलिस निरीक्षक सुबोध कुमार, गंदूर उरांव, पुलिस अवर निरीक्षक अमृत सिंह व करमाटांड थाना के सशस्त्र बल शामिल थे। इसी प्रकार नाला व नारायणपुर में भी थाना प्रभारी के नेतृत्व में छापेमारी की गई।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

सरायकेला : सर्वे रिपोर्ट से खुलासा, दलमा वाइल्डलाइफ सेंचुरी में जानवरों की कमी

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:24 PM

सरायकेला : सर्वे रिपोर्ट से खुलासा, दलमा वाइल्डलाइफ सेंचुरी में जानवरों की कमी

सरायकेला। नेशनल वाइल्डलाइफ सर्वे 2018 की अगर मानें तो झारखंड के सरायकेला-खरसांवा जिला स्थित दलमा वन्य प्राणी अभ्यारण्य में बेहद ही चौंकाने वाले परिणाम सामने आए हैं। बता दें पिछले दिनों राष्ट्रीय वन्य पशु जनगणना का काम पूरा हुआ, जिसमें दलमा सेंचुरी में निवास करने वाले जानवरों में कमी देखी गई। वही दलमा सेंचुरी को हाथियों के लिए अनुकूल माना जाता है। यहां बंगाल और उड़ीसा से भी हाथी आकर प्रवास करते हैं।

सरायकेला : निपाह वायरस का खौफ, लेकिन अंजान है यहाँ के लोग

जानकारी के अनुसार हाल के दिनों में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ के बाद लगातार हाथियों का जाना शुरू हो गया है। एक समय हुआ करता था जब दलमा सेंचुरी में 100 से भी ज्यादा हाथी और जंगली जानवर प्रवास करते थे, वही अब महज 25 से 30 की संख्या में हाथी बचे हैं। आशंका यह जताई जा रही है कि बारुद के गंध से पूरा दलमा अभयारण्य दमक रहा है। जिसकी भनक हाथियों को लगते ही हाथियों ने दलमा से जाना शुरू कर दिए है।

इधर राष्ट्रीय वाइल्डलाइफ सर्वे के अनुसार दूसरे जंगली जानवर भी धीरे-धीरे दलमा सेंचुरी से जा रहे हैं। राष्ट्रीय पशु सुरक्षा सर्वेक्षण की दृष्टिकोण से यह एक बेहद ही गंभीर मामला माना जा रहा है। वही पिछले कुछ दिनों दलमा के कांकादशा और बिजली घाटी में लगातार नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है। रुक-रुक कर दोनों ओर से फायरिंग की जा रही है, जिससे दलमा में जंगली जानवरों के लिए खतरा बढ़ गया है। वही वन विभाग इसको लेकर काफी चिंतित है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Read Also

लोहरदगा : अब नहीं हो सकती है राजस्‍व की चोरी – उपायुक्‍त

NewsCode Jharkhand | 26 May, 2018 6:17 PM

लोहरदगा : अब नहीं हो सकती है राजस्‍व की चोरी – उपायुक्‍त

लोहरदगा। अब कोई भी राजस्व की चोरी नहीं कर पाएगा। इसे लेकर खनन टास्क फोर्स ने कमर कस ली है। लोहरदगा में उपायुक्त विनोद कुमार ने अवैध खनन को लेकर कड़े तेवर अख्तियार करते हुए खनन टास्क फोर्स के अधिकारियों का स्पष्ट निर्देश दिया है कि कहीं पर भी अवैध खनन की जानकारी मिलती है तो तुरंत छापेमारी कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करें।

किसी भी हाल में राजस्व का नुकसान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। डीसी ने स्पष्ट तौर पर कहा कि लीज एरिया से ज्यादा क्षेत्र में किसी भी प्रकार का खनन करना अवैध है। इस मामले में यदि किसी सरकारी पदाधिकारी या कर्मचारी की संलिप्तता भी पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

रांची : राजकीयकृत मध्य विद्यालय के समर कैंप में बच्चों ने की जमकर मस्ती

बालू के अवैध उठाव को लेकर भी डीसी ने सख्ती दिखाया, उन्होंने कहा कि जब तक बालू का लिज निर्धारण नहीं होता है तब तक अवैध रूप से बालू का उठाव नहीं होना चाहिए। साथ ही शिकायतें मिल रही है कि बॉक्साइट माइंस में जंगली औऱ वन क्षेत्र से बॉक्साइट का खनन किया जा रहा है।

इन मामलों पर संज्ञान लेते हुए तत्काल जांच कर कार्रवाई करें। पत्थर के अवैध खनन को लेकर भी डीसी ने स्पष्ट निर्देश दिए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

4 साल पूरा होने पर कटक में बोले मोदी, देश में कन्फ्यूजन नहीं, कमिटमेंट वाली सरकार

NewsCode | 26 May, 2018 5:58 PM

4 साल पूरा होने पर कटक में बोले मोदी, देश में कन्फ्यूजन नहीं, कमिटमेंट वाली सरकार

कटक। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को कटक पहुंचे। कटक बालीयात्रा मैदान में होने वाली जनसभा में शामिल होकर प्रधानमंत्री अपने कार्यकाल के चार साल का हिसाब जनता के सामने रख रहें हैं।

ओडिशा जाने से पहले पीएम मोदी ट्विटर पर लिखा कि ‘2014 में आज ही के दिन हम सबने साथ मिलकर भारत को ट्रांसफॉर्म करने की दिशा में काम शुरू किया। पिछले 4 सालों में विकास एक बड़ा मूवमेंट चला है। हर नागरिक को अहसास हुआ है कि वह देश के विकास में अहम भूमिका निभा रहा है। 125 करोड़ जनता देश को नई ऊंचाइयों पर ले जा रही है।’

Live Updates:

इन चार वर्षों में, 125 करोड़ भारतीयों का मानना है कि हमारा भारत बदल सकता है। आज देश ‘काला धन’ से जन धन तक जा रहा है, बुरे शासन से सुशासन तक

एक परिवार को बचाने के लिए सभी नेता एक हो रहे हैं: पीएम मोदी

कालाधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई से कट्टर दुश्मन भी दोस्त बने, जनता सब देखती है, सब समझती हैः पीएम मोदी

मोदी ने कहा, “हमारी सरकार साफ नीयत के साथ सही विकास कर रही है। न हम कड़े फैसले लेने से डरते हैं और न ही मत बड़े फैसले लेने से चूकते हैं। देश में कमिटमेंट (प्रतिबद्धता) वाली सरकार होती है, तभी सर्जिकल स्ट्राइक जैसे फैसले होते हैं। जब देश में कंफ्यूजन नहीं कमिटमेंट वाली सरकार होती है, तो वन रैंक वन पेंशन और शत्रु संपत्ति जैसे कानून बनते हैं।”

जनधन, आधार और मोबाइल फोन के जरिए 80 हजार करोड़ बचायाः पीएम मोदी

एनडीए सरकार में रहने वाले बहुत से लोग गरीबी में रहते हैं और यही कारण है कि गरीबों का सुधार उनकी सबसे बड़ी प्राथमिकता है।

पहली बार देश के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और पीएम ऐसे लोग हैं जिन्होंने बचपन में गरीबी देखी हैः पीएम मोदी

एक परिवार को बचाने के लिए सभी नेता एक हो रहे हैं: पीएम मोदी

BJP सरकार सही रास्ते पर, हमने जनता का विश्वास और मत दोनों जीता: पीएम मोदी

हमने 4 वर्षों में देश के 125 करोड़ लोगों में भरोसा पैदा कियाः पीएम मोदी

कटक में बोले PM मोदी- हम बड़े फैसले लेने से नहीं चूकते हैं

देश में कन्फ्यूजन नहीं, कमिटमेंट वाली सरकारः पीएम मोदी

महान स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस की जन्मभूमि है कटकः पीएम मोदी

महान स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस की जन्मभूमि है कटकः पीएम मोदी

गरीबों का पसीना गंगाजल की तरह: पीएम मोदी

मोदी सरकार के 4 साल: राहुल गांधी ने मोदी को दिया F ग्रेड, लेकिन इन दो कामों के लिए की तारीफ

गोवा: बीच पर प्रेमी के सामने हुआ प्रेमिका का गैंगरेप, दो आरोपी गिरफ्तार

X

अपना जिला चुने