जमशेदपुर : बच्चा चोरी मामले में सुनवाई, मुख्य गवाह उत्तम कुमार वर्मा ने दी गवाही

NewsCode Jharkhand | 5 April, 2018 2:40 PM
newscode-image

जिला व्यवहार न्यायालय में हुई गवाही

जमशेदपुर। बागबेड़ा थाना अंतर्गत नागाड़ी में बच्चा चोरी के आरोप में हुई 4 लोगों की पीट-पीटकर निर्मम हत्या के मामले में जिला व्यवहार न्यायालय में मुख्य गवाह उत्तम कुमार वर्मा ने जिला एवं सत्र न्यायाधीश चतुर्थ अजय कुमार सिंह की अदालत में गवाही दी।

गवाह उत्तम कुमार वर्मा, मृतक के भाई भी हैं और उन्होंने कुल 28 अभियुक्तों में से 10 की पहचान की है जिसके आधार पर कोर्ट में अगली सुनवाई जारी है। लगातार तीन दिनों से इस मामले में जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय कुमार सिंह की अदालत में सुनवाई हो रही है। जिसमें दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं द्वारा जिरह जारी है।

मुख्‍य आरोपी अब भी फरार है

वैसे इस मामले में मुख्य आरोपी जगत माली और भीषण सरदार अब भी फरार हैं। जिनकी तलाश में पुलिस लगी हुई है। वैसे अब तक कुल 26 लोग ट्रायल पर हैं।  बता दें कि बागबेड़ा के नागाडीह में बच्चा चोरी के अफवाह में तीन निर्दोष युवकों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। उन्हें बचा रही बुजुर्ग महिला को भी चोट लगी थी। टीएमएच में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।

मृतकों में विकास कुमार वर्मा और उसके भाई गौतम कुमार वर्मा, गंगेश गुप्ता समेत ,मृतक विकास की दादी राम सखी देवी शामिल थी। वही उत्तम कुमार वर्मा जो मौके पर इन्हें बचाने गया था वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने भी इन सभी को बचाने का प्रयास किया था लेकिन पुलिस की जीप से खींचकर इन सभी की पीट-पीटकर निर्मम हत्या आरोपियों ने कर दी थी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

जमशेदपुर : 4 लैंड माइंस गाड़ियों में 3 विगत 2 साल से है खराब, पड़ा है गैरेज में

NewsCode Jharkhand | 17 July, 2018 11:00 AM
newscode-image

जमशेदपुर । नक्सल प्रभावित इलाकों में नक्सलियों से लड़ने के लिये सरकार एन्टी लैंड माइंस गाड़ियां देती है। लेकिन जमशेदपुर जिला का हाल ये है कि 4 लैंड माइंस गाड़ियों में 3 विगत 2 साल से खराब है और गैरेज में पड़ा है।

कोडरमा : पानी की किल्लत से लोग परेशान, पम्प हॉउस के कई मोटरपम्प ख़राब

अधिकारी और गैरेज की माने तो सरकार के पास मरम्मती के लिए खर्च का ब्यौरा भेजा गया है लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वहीं मजबूरी में पुलिस बिना एन्टी लैंड माइंस गाड़ी के हीं नक्सल इलाकों में घूम रही है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

धनबाद : पत्थर से लदे दो ट्रक को वन विभाग ने किया जब्त

NewsCode Jharkhand | 17 July, 2018 10:58 AM
newscode-image

टुण्डी धनबाद । वन विभाग टुण्डी की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर दो अलग अलग जगहों से सफेद पत्थर से लदे दो ट्रक को जब्त किया।  हालांकि दोनो ही ट्रक के चालक व खलासी भागने मे सफल रहे। टुण्डी क्षेत्र के रेंजर शशिभूषण गुप्ता ने बताया कि उन्हे सूचना मिल रही थी।

 टुण्डी क्षेत्र से सफेद क्वार्टज पत्थर का अवैध रूप से कारोबार चल रहा है और ट्रक के जरिए इन्हे दूसरे राज्य मे भेजा जाता है। एक ट्रक पत्थर की किमत लाखो में होती है।

धनबाद : दलित समाज ने कांग्रेस नेता ददई दुबे का फूंका पुतला

इसी सूचना के आधार पर मुख्य मार्ग पर जांच अभियान चलाया गया। जिसके तहत इन ट्रक को जब्त किया गया । जब्त ट्रक संख्या जेएच 02 जे 2709  एवं जेएच 11 ई 4161 पर वन अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर परिवहन विभाग से संपर्क कर इसके मालिक का पता लगाया जा रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

गिरिडीह : बाबूलाल का भाजपा पर हमला, केस फौजदारियों से नहीं लगता डर

NewsCode Jharkhand | 17 July, 2018 10:39 AM
newscode-image

गिरिडीह। भाजपा न ही लोकतंत्र को मानती है और न ही उसे संविधान की मर्यादा का भान है। सिर्फ जोर जबरजस्ती से बस सत्ता में बने रहना चाहती है। यह कहना है जेवीएम सुप्रीमो सह सूबे के प्रथम मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी का। बाबूलाल मरांडी गिरिडीह में पत्रकारों से भाजपा विधायकों की खरीद बिक्री मुद्दे पर बात कर रहे थे।

हजारीबाग ​​: धड़ल्‍ले से चल रहा कोयले का अवैध कारोबार, 40  से अधिक ट्रक जब्‍त

मौके पर उन्होंने कहा कि सूबे के सबसे ऊंचे ओहदे पर बैठे व्यक्ति के पास शिकायत की है। ऐसे में संबंधित विधायक अगर निर्दोष हैं तो उन्हें जांच की मांग करनी चाहिये थी। लेकिन ये लोग सुर्खियों में बने रहने के लिए थाने की दौड़ लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनता सब कुछ देख समझ रही है।  केस फौजदारियों से उन्हें डर नहीं लगता है। इन्होंने कहा कि अब आर पार की लड़ाई छिड़ गई है। यह लड़ाई तब तक जारी रहेगी जब तक वे सभी के असल चाल-चरित्र को बेनकाब नहीं कर देते।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

सरायकेला : बच्चा चोरी अफवाह मामले में 12 दोषियों को...

more-story-image

चाईबासा : बेरोजगारी से पलायन करने वालों के दर्द को...