कश्मीर: सेना के निशाने पर आतंकियों के कमांडर, 21 मोस्ट वांटेड आतंकियों की सूची जारी

NewsCode | 24 June, 2018 6:18 PM
newscode-image

नई दिल्ली। रमजान के महीने में एकतरफा संघर्षविराम के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के सफाये के लिए सुरक्षाबलों ने कमर कस ली है। इसी कड़ी में सुरक्षाबलों ने घाटी में सक्रिय ख़तरनाक आतंकियों की एक नई लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में टॉप मोस्ट 21 आतंकवादी शामिल हैं और ये सेना समेत सभी सुरक्षाबलों के निशाने पर हैं। सुरक्षाबलों की नई लिस्ट में हिजबुल मुजाहिदीन के 11, लश्कर-ए-तैयबा के 7 और जैश-ए-मोहम्मद के 2 आतंकवादी शामिल हैं।

गौरतलब है कि इन दिनों कश्मीर घाटी में आतंकियों के ख़िलाफ़ सेना का ऑपरेशन ऑल आउट जारी है। अब तक कश्मीर में क़रीब 70 आतंकी मारे जा चुके हैं। वहीं एक जानकारी के मुताबिक घाटी में इन दिनों 300 आतंकवादी सक्रिय हैं और इन आतंकियों से निपटने के लिए सुरक्षाबल ने एक मास्टर प्लान तैयार किया है। जिसके तहत सेना ने एक हिट लिस्ट जारी की है और इस लिस्ट में आतंकियों के कमांडरों के नाम सबसे ऊपर हैं।

सूची में सबसे ज्यादा 11 आतंकी हिजबुल के

सूत्रों के मुताबिक, मोस्ट वांटेड आतंकियों की तैयार की गई सूची में सबसे ज्यादा 11 आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन के हैं। इसमें अंसार-उल-गजवा-ए हिंद का कमांडर जाकिर मूसा भी शामिल है। सूची में जैश के दो और लश्कर के सात आतंकी हैं। अल-बदर का एक भी आतंकी मोस्ट वांटेड नहीं है।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में 22 को भी सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में सुक्षाबलों ने चार आतंकियों को मार गिराया था। मुठभेड़ में कथित तौर पर इस्लामिक स्टेट जम्मू एंड कश्मीर (आईएसजेके) से जुड़े चार आतंकी ढेर हो गए जबकि एक जवान शहीद हो गया। इसमें कई आम नागरिक घायल हो गए।

पुलिस महानिदेशक एस पी वैद ने ट्विटर पर लिखा , ‘खिरम श्रीगुफवारा क्षेत्र में मुठभेड़ जारी है, चार आतंकी ढेर हो चुके हैं और गोलीबारी अभी जारी है। दुर्भाग्य से हमने जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक साथी को इसमें खो दिया’ एक अन्य ट्वीट में डीजीपी ने बताया कि मारे गए आतंकी कथित तौर पर आईएसजेके से जुड़े थे। उन्होंने लिखा , ‘आतंकी कथित तौर पर आईएसजेके से जुड़े थे।’

सेना प्रमुख रावत ने कश्मीर में राज्यपाल वोहरा से की मुलाकात, की सुरक्षा समीक्षा

सरकार का बड़ा कदम, अब आतंकियों को मारने के बाद परिजनों को नहीं सौंपे जाएंगे शव

प्रधानमंत्री बनने के बाद चार साल में कितनी बढ़ गई पीएम मोदी की संपत्ति?

NewsCode | 18 September, 2018 5:47 PM
newscode-image

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चल-अचल संपत्ति का ब्योरा जारी किया गया है। इसके अनुसार मौजूदा समय में PM मोदी के पास लगभग 50 हजार रुपये ही नकद में हैं। खास बात ये है कि पिछले साल पीएम मोदी के पास करीब डेढ़ लाख रुपये का कैश मौजूद था, जो अब सिर्फ 48 हजार 944 रुपये ही है।

हालांकि, अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुल चल-अचल संपत्ति की बात करें तो ये लगभग 2.28 करोड़ रुपये की है। इसमें लगभग एक करोड़ 28 लाख रुपये की चल और गांधीनगर में कुछ अचल संपत्ति है। मोदी ने 2002 में एक करोड़ रुपये की कीमत से 3531.45 स्क्वायर फीट की संपत्ति भी खरीदी थी।

अगर प्रधानमंत्री के बैंक बैलेंस की बात करें तो गुजरात के गांधीनगर में स्थित SBI की ब्रांच में उनका खाता है, जिसमें कुल 11, 29, 690 रुपये जमा हैं। साथ ही पीएम ने कुल 1 करोड़ रुपये (1,07,96,288 Rs.) से अधिक के फिक्स्ड डिपोज़िट करवाए हुए हैं। नरेंद्र मोदी ने इसके अलावा भी कई जगह सेविंग की हुई है, जिनमें इंफ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड डिपोज़िट कुल 20,000 रुपये के हैं। ये सभी 25 जनवरी, 2012 तक का आंकड़ा है। साथ ही उन्होंने 5,18,235 रुपए नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट में और 1,59,281 रुपए LIC की पॉलिसी में इन्वेस्ट किए हुए हैं।

इसके अलावा मोदी के पास चार सोने की अगूंठी (45 ग्राम) हैं जिनकी कीमत करीब 1 लाख 38 हज़ार रुपए है। जारी की गई जानकारी के अनुसार, प्रधानमंत्री ने बैंक से कोई लोन भी नहीं लिया है। प्रधानमंत्री के नाम पर कोई भी दुपहिया, फोर व्हीलर वाहन रजिस्टर्ड नहीं है। जब से नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री का पद संभाला है तब से उन्होंने कोई नया सोना नहीं खरीदा है।


काशी में बोले PM मोदी- वाराणसी बनेगा पूर्वी भारत का गेटवे, अभी तक का काम सिर्फ झलक

इन तीन बड़े बैंकों के विलय की तैयारी में मोदी सरकार, जानें क्या होगा असर

जब 32 साल तक मोदी को ढूंढते रहे बैंक अधिकारी, मिलने पर कहा- आपका खाता बंद करना है

पीएम मोदी मना रहे हैं 68वां जन्मदिन, राहुल, ममता सहित इन नेताओं ने दी बधाई

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

लातेहार : उपस्तिथि दर्शाने को लेकर नक्सलियों ने चिपकाये पोस्टर

Deepak Kumar Bharti | 18 September, 2018 10:02 PM
newscode-image

लातेहारनक्सली समाज में अपनी उपस्तिथि दर्ज कराने को लेकर हर संभव प्रयास कर रहे हैं। बीती रात लातेहार जिले के कई स्थानों पर नक्सलियों ने इसे लेकर पोस्टरबाजी की। 21 से 28 सितंबर तक लोगों को संगठन का  वर्षगांठ मनाने को कहा गया है।

सदर थाना क्षेत्र के बेंदी गांव, गारू थाना क्षेत्र के कई ग्रामीण इलाकों में  पोस्टर साटा गया है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के बाद सुरक्षा बल के जवानों ने नक्सली पोस्टर को जब्त कर लिया है।पोस्टरबाजी के बाद सभी संदिग्ध गांव में पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

टुण्डी : नक्‍सलियों की नकेल कसने के लिए हेलीपैड का उद्घाटन

Amit Kumar Gupta | 18 September, 2018 9:55 PM
newscode-image

टुण्‍डी (धनबाद)। नक्‍सलियों की नकेल कसने के लिए मनियाडीह स्थित सीआरपीएफ कैम्प में नव निर्मित हेलीपैड का उद्घाटन मंगलवार को किया गया। इस अवसर पर सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी, पुलिस इंस्पेक्टर किशोर तिर्की, टुंडी के थाना प्रभारी के साहू उपस्थित थे।

उद्घाटन के मौके पर सीआरपीएफ कैंप में एम्बुलेंस, वज्र वाहन के अलावा सुरक्षा के अन्‍य उपकरण तैयार रखे गए थे। आसमान में कई चक्कर लगाने के बाद हैलीकेप्‍टर ने हेलीपैड पर लैंड किया।

धनबाद : राष्ट्रीय लोक अदालत में दो हजार से ज्‍यादा मामले का निष्पादन

सीआरपीएफ के अधिकारियों ने बताया कि उद्घाटन के मौके पर इस नए हेलीपैड में हैलीकेप्‍टर को लैंड कराने का अभ्यास किया गया।

बताते चलें कि नक्सलियों पर नकेल कसने के लिए मनियाडीह में सीआरपीएफ कैंप बनाया गया है। टुंडी, तोपचांची एवं पीरटांड़ इलाके के जंगलों में निगरानी रखने के लिए हैलीकॉप्टर का उपयोग किया जाना है। इसी वजह से हैलीपैड का निर्माण किया गया है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

जमशेदपुर : भारतीय जनता पार्टी की जिला कार्यसमिति की बैठक...

more-story-image

बड़कागांव : ति‍हरे हत्याकांड के विरोध में कैंडल मार्च, हत्यारों...