IPL 11 : बेकार हुई धोनी की धुआंधार पारी, चेन्नई सुपरकिंग्स चार रन से हारी

Kumar Keshav | 16 April, 2018 9:10 AM

किंग्स इलेवन पंजाब के लिए पहली बार खेलते हुए क्रिस गेल ने जमाई ताबड़तोड़ फिफ्टी

newscode-image

मोहाली। अपने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (79) की शानदार पारी के बावजूद चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में रविवार को खेले गए अपने तीसरे मैच में चार रनों से हार गई। किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नई को अपने घर में इस संस्करण में हार का पहला स्वाद चखाया। चेन्नई ने अब तक अपने दोनों मैच जीते थे, लेकिन तीसरे मैच में उसे हार मिली है।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पंजाब ने सात विकेट खोकर निर्धारित 20 ओवरों में 197 रन बनाए, जिसे चेन्नई हासिल नहीं कर पाई और 193 रन ही बना सकी।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स के सलामी बल्लेबाज शेन वॉटसन (11) और मुरली विजय (12) टीम को अच्छी शुरूआत नहीं दे पाए।

चेन्नई का पहला विकेट 17 के ही कुल स्कोर पर गिरा। वॉटसन को मोहित शर्मा ने बरिंदर सरन के हाथों कैच आउट कर पवेलियन भेजा।

इसके बाद एंड्रयू टाए ने विजय को पिच पर टिकने का मौका नहीं दिया। वह भी बरिंदर के हाथों लपके गए।

विजय के पवेलियन लौटने के बाद टीम की पारी संभालने उतरे सैम बिलिंग्स (9) और अंबाती रायडू (49) ने तीसरे विकेट के लिए 17 ही रन जोड़े थे कि यहां पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने बिलिंग्स को पगबाधा आउट कर चेन्नई को तीसरा झटका दिया।

आईपीएल के इस संस्करण में अब तक खेले गए अपने दोनों मैच जीतने वाली चेन्नई पर पहली हार का साया मंडरा रहा था। यहां कप्तान धौनी ने अंबाती के साथ 57 रनों की शानदार अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम को 100 के आंकड़े के पार पहुंचाया। दोनो ने अच्छी लय हासिल कर ली थी, लेकिन यहां अश्विन एक बार फिर चेन्नई की परेशानी बनकर खड़े हो गए।

अश्विन ने 113 के कुलयोग पर अंबाती को रन आउट कर पवेलियन भेज दिया। वह अपना अर्धशतक पूरा करने से केवल एक रन दूर रह गए। उन्होंने 35 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का लगाया।

एक बार फिर चेन्नई पर दबाव बन गया। उसे जीत के लिए अब भी 85 रनों की जरूरत थी और टीम के पास केवल 36 गेंदें बाकी थी।

अंबाती के पवेलियन लौटने के बाद रवींद्र जड़ेजा (19) धौनी के साथ पिच पर टीम की पारी को आगे बढ़ाने उतरे। जड़ेजा अपने बल्ले से रन नहीं निकाल पा रहे थे और ऐसे में चेन्नई हार का मुहाने पर आ खड़ी थी। उसके पास 24 गेंदें बाकी थी और उसे अब भी जीत के लिए 67 रनों की जरुरत थी। ऐसे में दोनों बल्लेबाजों को एक चौके और छक्के लगाने जरूरी थे।

चेन्नई को यहां एंड्रयू ने एक और झटका दिया। उन्होंने जड़ेजा को अश्विन के हाथों कैच आउट कर पांचवां विकेट गिराया।

यहां से चेन्नई के लिए टीम में वापसी नामुमकिन थी और इस कारण उसे चार रनों से हार का सामन करना पड़ा। चेन्नई की टीम 193 रन ही बना पाई।

IPL 11 CSK vs KXIP : Dhoni's inning goes in vain as KXIP defeats CSK by 4 runs | NewsCode - Hindi News

इससे पहले, विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल (63) के बेहतरीन अर्धशतक और लोकेश राहुल (37) तथा मयंक अग्रवाल (30) की उपयोगी पारियों की मदद से किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ सात विकेट पर 197 रन का मजबूत स्कोर बनाया था।

इस पारी में चेन्नई की तरफ से ताहिर ने 34 रन पर दो विकेट, ठाकुर ने 33 रन पर दो विकेट, हरभजन सिंह ने 41 रन पर एक विकेट, शेन वाटसन ने 15 रन पर एक विकेट और ब्रावो ने 37 रन पर एक विकेट हासिल किया।

आईपीएल-11: संजू सैमसन की धमाकेदार पारी विराट सेना पर पड़ी भारी, राजस्थान की दूसरी जीत

(इनपुट : आईएएनएस)

रांची : भाजयुमो के खेलो भारत दिल्ली में हिस्सा लेंगे झारखंड के 65 खिलाड़ी

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 9:00 PM
newscode-image

रांची। भारतीय जनता युवा मोर्चा, झारखंड प्रदेश द्वारा आयोजित खेलो भारत का समापन दिल्ली में 24-25 जुलाई 2018 को होगा। 24 जुलाई को खेलो भारत का भव्य आयोजन दिल्ली के ताल कटोरा स्टेडियम में होगा। इसके उद्घाटन समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, खेल मंत्री राज्यवर्द्धन सिंह राठौर, मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन, अभिषेक बच्चन, विजेन्द्र सिंह (बाक्सर) मेरीकाम बॉक्सर, सुशील कुमार, मोहित चौहान (गायक) विशेष रुप से उपस्थित रहेंगे। समापन समारोह में भारत के लोकप्रिय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी विशेष रुप से उपस्थित रहेंगे।

रांची : भाजयुमो के खेलो भारत दिल्ली में हिस्सा लेंगे झारखंड के 65 खिलाड़ी

24 जुलाई को जोनल मैच आयोजित किया जाएगा, जिसमें उत्तर क्षेत्र, पूर्व क्षेत्र, पश्चिम क्षेत्र और दक्षिण क्षेत्र की टीमें भाग लेगी। खेलो भारत के तहत 4 खेलों में कबड्डी, कुश्ती, रस्सा-कस्सी, खो-खो शामिल हैं। इस आयोजन में 27 प्रदेशों के 733 जिलों से कुल 8,834 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। 25 जुलाई को फाइनल मैच का आयोजन किया जाएगा। खेलो भारत देश के सभी राज्यों में आयोजित किया गया था।

रांची : एस.एस. मेमोरियल कॉलेज में एन.एस.एस. ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन

झारखंड प्रदेश को, खेलो भारत के सर्वश्रेष्ठ आयोजन का पुरस्कार भी दिल्ली में दिया जाएगा। इसी के निमित झारखंड से भी 4 टीमों के कुल 65 खिलाड़ी भाग लेंगे। ये खिलाड़ी 22 जुलाई को रांची से ट्रेन से दिल्ली रवाना होंगे। टीम के साथ झारखंड प्रदेश के खेल संयोजक अजातशत्रु सहित प्रदेश के पदाधिकारी भी दिल्ली जायेंगे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

राँची : मुख्यमंत्री ने जूस पिलाकर तुड़वाया विधायक शिवपूजन मेहता का अनशन

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:18 PM
newscode-image

राँची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विधायक शिवपूजन मेहता को जूस पिलाकर उनका अनशन तुड़वाया। मुख्यमंत्री, विधायक सुखदेव भगत के साथ सदन के बाहर पहुंचे और शिवपूजन मेहता को जूस पिलाया। आपको बता दें कि शिवपूजन मेहता जपला सीमेंट फैक्ट्री को पुनर्स्थापित करने की मांग को लेकर, झारखंड विधानसभा के मुख्य गेट पर विगत 3 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे थे।

रांची : भाजयुमो के खेलो भारत दिल्ली में हिस्सा लेंगे झारखंड के 65 खिलाड़ी

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

धनबाद : सगे भाई-बहन ने किया रक्‍तदान, पेश की मिसाल  

NewsCode Jharkhand | 21 July, 2018 10:09 PM
newscode-image

धनबाद। पीएमसीएच के रक्त अधिकोष में सगे भाई-बहन ने थैलीसीमिया रोग से पीड़ित दो बच्चों के लिए रक्तदान कर मानवता की मिसाला पेश की। समाजसेवी शालिनी खन्ना के कहने पर पीएमसीएच के थैलीसिमिया वार्ड में भर्ती करीब 3 साल की बच्‍ची आराध्या के लिए पल्‍लवी पायल ने रक्‍तदान किया। वे बीएसएस कॉलेज की पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रह चुकी है।

रक्‍तदान करने जैसे की वह सामाजिक कार्यकर्ता सौरभ सिंह के साथ पीएमसीएच के रक्त अधिकोष  में रक्तदान के लिए  पहुंची वहां पहले से मौजूद थैलीसीमिया से ग्रस्‍त लगभग 5 वर्ष के मोहित कुमार महतो की मां उषा देवी ने भी पल्लवी से अपने बच्चे के लिए रक्त उपलब्ध कराने का आग्रह किया।

झरिया : आजसू पार्टी की बैठक, महिला सशक्तिकरण पर जोर

पल्लवी ने उस महिला की बात सुनकर अपने बड़े भाई राकेश रंजन को फोन कर रक्‍तदान करने पीएमसीएच आने को कहा। कुछ ही समय में राकेश भी वहां पहुंच गए और दोनों भाई-बहन ने दोनों बच्‍चों के लिए रक्‍तदान किया।

रक्‍तदान करने पर शालिनी खन्‍ना ने दोनों भाई-बहन की प्रशंसा और धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने कहा कि पल्लवी की तरह बेटियां व महिलाएं भी रक्‍तदान करने आगे आएगी तो कई लोगों की जान बचायी जा सकेगी। सौरभ सिंह ने भी युवाओं से अपील की है कि वो अधिक से अधिक रक्तदान करें  ताकि जरूरतमंदों को समय पर खून मिल सके।

रक्त अधिकोष में रक्त की कमी को देखते हुए इस बार स्वतंत्रता दिवस पर शिविर लगाकर रक्‍तदान करने का निर्णय लिया गया।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

कोलेबिरा : लचरागढ़ में संदिग्ध हालत में मिला नाबालिग बच्ची...

more-story-image

दुमका : लाभुकों के बीच मुख्य न्यायाधीश ने परिसंपति का...