रेलवे ने निकाली 9,739 पदों पर भर्तियां, ऐसे करें अप्लाई

NewsCode | 4 June, 2018 8:08 PM
newscode-image

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने रेलवे प्रटेक्शन फोर्स(RPF) और रेलवे प्रोटेक्शन स्पेशल फोर्स के तहत कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर की भर्ती प्रक्रिया शुरू की है। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार 30 जून से पहले इन पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं। इनमें से 50 फीसदी भर्तियां महिला उम्मीदवारों के लिए आरक्षित किया गया है। कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर के कुल 9,739 पदों पर भर्तियां होनी हैं।

भर्ती से जुड़ी जानकारियां

कुल पदों की संख्या- 9,739

पुरुष उम्मीदवारों के लिए कांस्टेबल के पदों की संख्या- 4,408
महिला उम्मीदवारों के लिए कांस्टेबल के पदों की कुल संख्या- 4,216
पुरुष उम्मीदवारों के लिए सब इंस्पेक्टर के पदों की कुल संख्या- 819
महिला उम्मीदवारों के लिए सब इंस्पेक्टर के पदों की कुल संख्या- 301

शैक्षणिक योग्यता

कांस्टेबल- किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से SSLC या मैट्रिक पास

सब-इंस्पेक्टर- किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन पास

चयन प्रक्रिया

चयन प्रक्रिया तीन चरणों में बांटी गई है।
पहला चरण- फिजिकल एफिसिएंसी टेस्ट
दूसरा चरण- लिखित परीक्षा
तीसरा चरण- वाइवा और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन

वेतन

सफल उम्मीदवारों को 5200-20200 रुपए हर महीने दिए जाएंगे। इसके अलावा 2000 रुपए ग्रेड पे भी दिए जाएंगे।

उम्र सीमा

इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की उम्र 18 साल से 25 साल के बीच होनी चाहिए। इसके अलावा भर्ती में कुछ वर्गों को छूट देने का भी प्रावधान रखा गया है।

ऐसे करें अप्लाई

1) सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट rpfonlinereg.org पर जाएं।

2) Employment Notice No. SI/RPF – 02/2018 या Employment Notice No. CONSTABLE/RPF – 01/2018 के लिंक पर क्लिक करें।

3) New Registration पर क्लिक करके रजिस्टेशन करें और अपने प्रोफाइल पर लॉग-इन करें।

4) एप्लाकेशन फॉर्म भरें, एग्जाम फीस पे करें और इसके साथ एप्लीकेशन फॉर्म का प्रिंट आउट भी ले लें।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की याद में योगी सरकार इन 4 शहरों में बनाएगी स्मारक

NewsCode | 18 August, 2018 6:03 PM
newscode-image

लखनऊ। दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर योगी सरकार उत्तर प्रदेश के शहरों में 4 बड़े स्मारक बनाने की तैयारी में है। यूपी सरकार जल्द ही कैबिनेट की बैठक में प्रस्ताव लाकर इन स्मारकों को बनाने पर फैसला लेगी।

इन 4 शहरों में बनेगा अटल बिहारी वाजपेयी का स्मारक

1. योगी सरकार एक स्मारक का निर्माण आगरा स्थित अटल के पैतृक गांव बटेश्वर में कराएगी,

2. वहीं दूसरा बलरामपुर में कराया जाएगा। बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी ने 1957 में बलरामपुर से पहला लोकसभा चुनाव जीता था।

3. तीसरा स्मारक कानपुर में बनाने की योजना है क्योंकि यहां स्थित डीएवी कॉलेज से अटल बिहारी वाजपेयी ने उच्च शिक्षा ग्रहण की थी।

4. चौथा स्मारक लखनऊ में बनाने की योजना है। दरअसल, लखनऊ सीट से वह पांच बार लोकसभा सदस्य रहे।

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा था कि उत्तर प्रदेश वाजपेयी की कर्मभूमि रहा है। इस सूबे के हर क्षेत्र से उन्हें गहरा लगाव था। इसीलिये जनभावनाओं का सम्मान करते हुए वाजपेयी की अस्थियां प्रदेश के सभी जिलों की मुख्य नदियों में प्रवाहित की जाएंगी, ताकि राज्य की जनता को भी उनकी अन्तिम यात्रा से जुड़ने का अवसर मिल सके।

गौरतलब है कि शुक्रवार शाम दिल्ली के राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। गम और आंसुओं के बीच उनकी बेटी नमिता ने कांपते हाथों से वाजपेयी की चिता को मुखाग्नि दी।


हज से पहले मक्का पर इकट्ठे हुए लाखों मुसलमान, श्रद्धालुओं को मिलेगी ‘स्लीपिंग पॉड’ की सुविधा

INDvsENG: इंग्लैंड ने जीता टॉस, भारत पहले करेगा बल्लेबाजी, ऋषभ पंत खेलेंगे अपना डेब्यू टेस्ट मैच

नहीं रहे नोबेल विजेता पूर्व संयुक्त राष्ट्र महासचिव कोफी अन्नान

LIVE: केरल के 11 जिलों में रेड अलर्ट- भारी बारिश का अनुमान, बेहाल प्रदेश की मदद को आगे आए अन्‍य राज्‍य

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

दुमका : बेकाबू ट्रैक्टर ने दो लोगों को रौंदा,एक की मौत, पांच घंटे तक सड़क जाम

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:08 PM
newscode-image

मुआवजा के आश्वासन पर माने लोग

दुमका। जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र के रामगढ़-गोड्डा मुख्य मार्ग पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से करीब 5 सौ गज की दूरी पर एक बेकाबू ट्रैक्टर ने दो लोगों को रौंद दिया। जिसमें से गंभीर रूप से घायल थाना क्षेत्र के कुशमाहा गांव निवासी सरजन सोरेन ने इलाज के दौरान अस्पताल में ही दम तोड़ दिया।

दुमका : लूट की योजना बना रहे अंतर्राज्‍यीय गिरोह के सात अपराधी गिरफ्तार

जबकि जरमुंडी थाना क्षेत्र के नोनीहाट निवासी सुखदेव दास गंभीर जख्मी इलाजरत है। घटना के बाद ग्रामीणों की मदद से आनन-फानन में दोनों व्यक्ति को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, रामगढ़ में भर्ती कराया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल नोनीहाट के सुखदेव दास को सदर अस्पताल, दुमका रेफर कर दिया गया।

श्राद्ध में शामिल होने रामगढ़ आया था सुखदेव

सुखदेव दास अपनी सास के श्राद्ध में शामिल होने रामगढ़ आया था। सरजन सोरेन को डॉक्टर ने जीवित बताकर दुमका रेफर कर रहे थे, लेकिन उसकी सांस चलता नहीं देख परिजन समझ गए कि सरजन की मौत हो चुकी है।

रेफर करनेे को तैयार नहीं थे परिजन

प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी संजय कुमार मिश्रा परिजन को बार-बार समझा रहे थे कि युवक कोमा में है, उसे रेफर करना जरूरी है। परिजन किसी की बात सुनने को तैयार नहीं हुए। किसी तरह से सरजन को एंबुलेंस में भी चढ़ाया गया, लेकिन परिजनों ने उसे एंबुलेंस से जबरन उतार लिया।

थोड़ी देर के बाद सरजन को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इधर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में हंगामा कर रहे परिजन तथा कुशमाहा गांव के ग्रामीणों ने मृतक के शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अंदर रख मुआवजे की मांग को लेकर रामगढ़-गोड्डा मुख्य मार्ग को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने जाम कर दिया।

मौके पर पहुंची रामगढ़ थाना पुलिस  शव को कब्जे में लेना चाह रही थी। लेकिन ग्रामीणों ने पुलिस को शव लेने नहीं दिया। इधर दुर्घटना कर भाग रहे ट्रैक्टर को पुलिस ने जब्त कर लिया है।

ग्रामीणों ने बताया कि सरजन शनिवार को रामगढ़ बाजार से राशन का चावल लेकर वापस अपने घर जा रहा था। जबकि विपरीत दिशा से बाइक पर सवार होकर सुखदेव दास आ रहा था। सुखदेव को बचाने के प्रयास में ट्रैक्टर चालक ने उसे रौंद दिया।

5 पांच घंटे रहा रामगढ़-गोड्डा मुख्य मार्ग जाम

सड़क दुर्घटना में युवक की मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने करीब 5 घंटे तक रामगढ़-गोड्डा मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। मौके पर हंसडीहा एवं काठीकुंड सर्किल इंस्पेक्टर सीओ रामा रविदास ने ग्रामीणों को समझाने तथा सरकारी नियमानुसार मुआवजा देने का आश्वासन देकर जाम हटवाया। गौर तलब है कि मृतक के दो छोटे छोटे बच्चे हैं। घटना के बाद से मृतक की पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

बेरमो : सांप्रदायिक सौहार्द के लिए मिशाल होगा नावाडीह-प्रमुख

NewsCode Jharkhand | 18 August, 2018 8:08 PM
newscode-image

बेरमो(बोकारो)। शनिवार को नावाडीह थाना परिसर में बकरीद तथा मनसा पूजा को लेकर शांति समिति की बैठक हुई। प्रमुख पूनम देवी ने कहा कि पूर्व की तरह फिर नावाडीह प्रखंड सांप्रदायिक सौहार्द के लिए पूरे बोकारो जिला में मिशाल कायम करेगा। हिन्दू भाई मनसा पूजा और मुस्लिम समुदाय के लोग बकरीद का त्योहार शांति तथा सौहार्द पूर्ण माहौल में मनायेंगे।

बोकारो : बाईक सवार दो युवको ने किया मैनजर से डेढ़ लाख रूपये की छिनतई

पिछले साल की बीती बातों को भूलकर सूरही, जूनोडीह आदि गांव के लोगों ने विश्वास दिलाया है कि गांव समाज और प्रशासन को बकरीद ही नहीं आने वाले हर त्योहार में सांप्रदायिक सद्भाव तथा शांति व्यवस्था को कायम रखेंगे। इस दौरान किसी भी समुदाय की ओर से गड़बड़ी करने वाले शरारती तत्वों के बारे में तत्काल पुलिस प्रशासन को सूचित करेंगे।

बोकारो : अस्पताल का आधारभूत संरचनाओं का करें विकास-उपायुक्त

वहीं प्रशासन की ओर से थाना प्रभारी लक्ष्मीकांत ने कहा कि शरारती तत्वों पर पुलिस की कड़ी निगाह होगी, जरूरत पर त्वरित कार्यवाही की जायेगी। बीडीओ शंकराचार्य सामद ने कहा कि हमारे पर्व त्योहार आपसी सद्भाव और भाईचारे को बढ़ाने का संदेश देते हैं। एक दूसरे का मान सम्मान का ख्याल रखेंगे और सांप्रदायिक सौहार्द को मजबूत बनाते हुए क्षेत्र की परंपरा को कायम रखेंगे।

गोमिया : गोमिया विधानसभा क्षेत्र का विकास ही मेरी प्राथमिकता- विधायक

 बैठक को उप प्रमुख विश्व नाथ महतो, पूर्व प्रमुख मोहन महतो, बीस सूत्री अध्यक्ष सह मुखिया रणविजय सिंह, ललिता देवी, लालजी प्रसाद, गौरी शंकर महतो, राम पुकार प्रसाद, कुमार दास, इमरान अंसारी, ईश्वर ठाकुर, अमीन अंसारी, इदरीश अंसारी, गणेश महतो आदि उपस्थित थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

More Story

more-story-image

गुमला : कुएं में डूबने से युवक की मौत, हसुआ...

more-story-image

बेंगाबाद : दो पक्षों में उत्पन्न विवाद सुलझाने को लेकर...