इंग्लैंड के साथ खिताबी भिड़ंत के लिए तैयार विराट सेना, तीसरा टी-20 आज

NewsCode | 8 July, 2018 1:31 PM
newscode-image

ब्रिस्टल। भारत और इंग्लैंड रविवार को होने वाले अंतिम और निर्णायक टी-20 मैच में एक दूसरे के सामने होंगे। दूसरे मैच को जीत कर इंग्लैंड ने तीन मैचों की सीरीज को रोमांचक मोड़ पर पहुंचा दिया है। अब सीरीज के आखिरी मैच में दोनों टीमों की कोशिश जीत हासिल कर सीरीज पर कब्ज़ा जमाने की होगी। टीम इंडिया ने मैनचेस्टर में खेले गए पहले मैच में जीत हासिल कर 1-0 की बढ़त ले ली थी, लेकिन कार्डिफ में शुक्रवार को खेले गए मैच में इंग्लैंड ने सीरीज में बराबरी कर ली। ऐसे में खिताबी मुकाबला जीतने के लिए भारत के ऊपर दबाव जरूर होगा। मैच शाम साढ़े छह बजे शुरू होगा।

गौरतलब है कि पहले मैच में एकतरफा हार झेलने वाली इंग्लैंड ने दूसरे मैच में खेल के हर क्षेत्र में सुधार किया। पहले मैच में बैकफुट पर रहने वाली इंग्लैंड ने दूसरे मैच में अपनी गलतियों को सुधारते हुए बराबरी हासिल की।

पहले मैच में कुलदीप यादव ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों को काफी परेशान किया था लेकिन दूसरे मैच में पूरी टीम कुलदीप और उनके जोड़ीदार युजवेंद्र चहल के खिलाफ पूरी तैयारी से उतरी थी। तीसरे और आखिरी मैच में इंग्लैंड के सामने अपने इसी प्रदर्शन को जारी रखने की चुनौती है तो वहीं भारत के लिए अपने विजयी रास्ते पर वापस लौटना आसान नहीं होगा।

दूसरे मैच में भारतीय शीर्ष क्रम पूरी तरह से ढह गया था। पहले मैच के शतकवीर लोकेश राहुल का बल्ला भी शांत रहा था। वहीं रोहित शर्मा, शिखर धवन, सुरेश रैना भी सस्ते में पवेलियन लौट लिए थे। कप्तान विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी ने टीम को संभाला था और सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया था।

तीसरे मैच में भारतीय शीर्ष क्रम को अपनी फॉर्म में लौटना होगा। वहीं कोहली, धोनी तथा हार्दिक पांड्या को अपने फॉर्म को बरकरार रखना होगा। गेंदबाजी में टीम ने दोनों मैचों में अच्छा किया है। दूसरे मैच में कम स्कोर होने के बाद भी भारतीय गेंदबाजों ने मैच में रोमांच ला दिया था और अंत तक मैच को खींचा था। हालांकि एलेक्स हेल्स की नाबाद 58 रनों की पारी मेहमान टीम के गेंदबाजों पर भारी पड़ी थी और इंग्लैंड ने एक गेंद शेष रहते हुए मैच जीत लिया था।

तेज गेंदबाज उमेश यादव और भुवनेश्वर कुमार ने शुरुआत में टीम को विकेट दिलाए थे। आखिरी मैच में भारत के लिए यह बहुत जरूरी होगा कि वह इंग्लैंड के शीर्ष क्रम को जल्दी पवेलियन में बैठा दे। पहले मैच में पांच विकेट लेने वाले कुलदीप को दूसरे मैच में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने आसानी से खेला था। वहीं उनके साथी चहल दोनों मैचों में ज्यादा प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं। दोनों के लिए तीसरा मैच अहम होगा।

इंग्लैंड ने दूसरे मैच में बताया है कि वह बिना तैयारी के नहीं उतरती। बल्लेबाजी में उसके पास खेल के छोटे प्रारुप के बड़े नाम हैं। हालांकि दूसरे मैच में शीर्ष क्रम कुछ कर नहीं पाया था। जोस बटलर, जेसन रॉय जल्दी पवेलियन लौट गए थे। इयोन मोर्गन भी कुछ खास नहीं कर पाए थे। अंत में हेल्स को जॉनी बेयरस्टो का अच्छा साथ मिला था। इन सभी बल्लेबाजों को जीत हासिल करन के लिए तीसरे मैच में अपनी फॉर्म में वापसी करनी होगी।

टीमें-

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, सुरेश रैना, युजवेंद्रा सिंह चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, सिद्धार्थ कौल, भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव।

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, जैक बॉल, जोस बटलर, सैम कुर्रन, एलेक्स हेल्स, क्रिस जॉर्डन, लियाम प्लंकेट, आदिल राशिद, जोए रूट, जेसन रॉय और डेविड विली।

IND vs ENG: हेल्स के बल्ले निकली इंग्लैंड की जीत, 5 विकेट से हारी टीम इंडिया

राहुल गांधी ने रक्षा मंत्री को बताया राफेल मंत्री, बोले- झूठ आया सामने, इस्तीफा दें

NewsCode | 20 September, 2018 2:51 PM
newscode-image

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर एक बार फिर से हमला बोला है। राहुल ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे का ठेका सरकारी उपक्रम हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को नहीं दिए जाने पर रक्षा मंत्री पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने इस संदर्भ में ट्वीट कर निर्मला पर ‘झूठ बोलने’ का आरोप लगाया।

साथ ही उन्होंने रक्षा मंत्री से इस्तीफा भी मांगा है। एचएएल के पूर्व प्रमुख टीएस राजू के बयान से जुड़ी खबर ट्विटर पर साझा करते हुए राहुल ने कहा, ‘भ्रष्टाचार का बचाव करने का काम संभाल रही RM (राफेल मिनिस्टर) का झूठ एक बार फिर पकड़ा गया है। एचएएल के पूर्व प्रमुख टीएस राजू ने उनके इस झूठ की कलई खोल दी है कि एचएएल के पास राफेल बनाने की क्षमता नहीं है।’

राहुल गांधी ने कहा, ‘उनका (सीतारमण) रुख अस्थिर है। उन्हें इस्तीफा देना चाहिए।’ समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, राहुल ने जो खबर शेयर की है उसके मुताबिक राजू ने कहा है कि एचएलएल भारत में राफेल विमानों को बना सकती थी। कांग्रेस का आरोप है कि मोदी सरकार ने फ्रांस की कंपनी दसॉ से 36 राफेल लड़ाकू विमान की खरीद का जो सौदा किया है, वह बहुत ज्यादा कीमत पर किया गया है। बता दें कि कांग्रेस राफेल डील में अनियमितताओं के आरोपों की जांच को लेकर बुधवार को कैग के दफ्तर भी पहुंची थी।

कांग्रेस के मुताबिक इस सौदे में राफेल विमानों का मूल्य यूपीए सरकार में किए गए समझौते की तुलना में बहुत ज्यादा है जिससे सरकारी खजाने को हजारों करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। पार्टी का दावा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सौदे को बदलवाया जिससे एचएएल से कॉन्ट्रैक्ट लेकर अनिल अंबानी की कंपनी को दिया गया।

बता दें कि मंगलवार को निर्मला सीतारमण ने पत्रकारों से बातचीत में कहा था कि एचएएल के साथ डील क्यों नहीं हो सकी, इसका जवाब यूपीए को देना चाहिए। उन्होंने केवल 36 विमानों की ही डील क्यों की, इसके जवाब में कहा कि स्क्वॉर्डन्स की आदर्श क्षमता 42 विमानों की है। यूपीए के शासनकाल में ही यह क्षमता कम होने लगी थी और 2013 तक यह घटकर 33 पर आ गई थी।

दरअसल, निर्मला सीतारमण मंगलवार को ही हुई पूर्व रक्षा मंत्री और कांग्रेसी नेता एके एंटनी की प्रेस कॉन्फ्रेंस का जवाब दे रही थीं। एंटनी ने सवाल उठाया था कि 136 राफेल खरीदने का प्रस्ताव था, तो इसे घटाकर 36 क्यों किया गया? उन्होंने कहा था कि हमारी मांग पहले दिन से स्पष्ट है कि संयुक्त संसदीय समिति राफेल डील मामले की जांच करे। सीवीसी का संवैधानिक दायित्व है कि वो पूरे मामले के कागजात मंगवाएं और जांच कर पूरे मामले की जानकारी संसद में रखें।

एंटनी ने यह भी कहा कि यूपीए शासनकाल के दौरान, एचएएल मुनाफा कमाने वाली कंपनी थी। मोदी सरकार के समय में इतिहास में पहली बार एचएएल ने अलग-अलग बैंकों से लगभग 1000 करोड़ रुपए का कर्ज लिया है।


राफेल सौदे पर मोदी सरकार को घेरने में जुटी कांग्रेस, CAG में शिकायत लेकर पहुंची

पीएम मोदी पर फिर हमलावर हुए राहुल गांधी, कहा- अगले कुछ हफ्तों में बड़े बम गिराने वाला है राफेल

अगस्ता डील के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल का हो सकता है प्रत्यर्पण, बढ़ेंगी कांग्रेस की मुश्किलें

sun

320C

Clear

क्रिकेट

Jara Hatke

Read Also

रांची : संविधान, समाज व कानून के विरोधी मंत्री पर हो कार्रवाई- लक्ष्मीनारायण मुंडा

NewsCode Jharkhand | 20 September, 2018 2:54 PM
newscode-image

रांची। आम आदमी पार्टी के द्वारा प्रदेश कार्यलय हरमू में प्रेस कांफ्रेंस क़ा आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता  लक्ष्मीनारायण मुण्डा प्रदेश उपाध्यक्ष कर रहे थे। ये प्रेस कांफ्रेंस मंत्री सीपी सिंह द्वारा थाने में धरना देने, आपत्तिजनक नारेबाजी, थाना परिसर में गाना बजाने एवं विश्वकर्मा पुजा, करमा, एवं मोहर्रम जैसे त्याहारों के मौसम में शहर का महौल बिगाड़ने की कोशिक के खिलाफ में किया गया।

रांची : एनसीसी ने नशा मुक्त एवं यातायात नियमों के प्रति निकाली जागरूकता रैली

जिसमें लक्ष्मीनारायण ने कहा कि बुधवार को जिस प्रकार से एक जिम्मेदार मंत्री के द्वारा अपने लोगों को छुड़ाने के नाम पर प्रदर्शन किया गया, बयान बाजी दी गई एक समुदाय विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक नारेबाजी हुई हम उसकी घोर निंदा करते हैं। उन्होंने आगे कहा कि  रघुवर सरकार को इसे संज्ञान में लेना चाहिए और ऐसे संविधान विरोधी, समाज विरोधी, कानून विरोधी मंत्री पर कार्यवाही होनी चाहिए।

रांची : मांदर की थाप पर झूमे सुबोधकांत, धूमधाम से मना करमा पर्व  

पूरे राज्य में जिस तरह से आए दिन ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं। इससे यह साफ स्पष्ट होता है कि सरकार में शामिल लोग ही एक समुदाय विशेष के खिलाफ माहौल बिगाड़ने का काम कर रही है।  और राज्य को अशांत करने की कोशिश कर रही है। हम चाहते हैं कि ऐसे व्यक्तियों पर कार्यवाही हो ताकि इस पर्व के माहौल में सब शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो सके।

अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

रांची : एनसीसी ने नशा मुक्त एवं यातायात नियमों के प्रति निकाली जागरूकता रैली

Chandan Verma | 20 September, 2018 2:45 PM
newscode-image

रांची। झारखण्ड बटालियन एन.सी.सी. द्वारा रांची ग्रूप के एन.सी.सी. कड़ेट्स को प्रशिक्षण  प्रदान करने के लिए दस दिवसीय संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन के रांची के बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम मोरहाबादी में किया गया है।

इस शिविर में एन.सी.सी कड़ेट्स ने समाज के नशा के दुष्प्रभाव व ड्रग्स एडिक्शन से छुटकारा पाने के लिए शिविर से कहचरी चौक तक एक जागरूकता रैली में हिस्सा लिया और स्वयं आरा-करम से आये हुए रमेश बेदिया एवं नगरकोटी विभाग से आए पदाधिकारी संजय मिश्रा ने इस पर प्रकाश डाला।

रांची : मांदर की थाप पर झूमे सुबोधकांत, धूमधाम से मना करमा पर्व  

इसी शिविर में कैडेट्स को  यातायात नियमों के अनुपालन के प्रति समाज में जागरूकता रैली सिद्धू कान्हू से मुख्यमंत्री आवास से होते हुए सूचना भवन से गुजरते हुए एन.सी.सी. शिविर मोरहाबादी तक निकाली गई तथा नगर के नागरिकों को जागरूक किया गया।

शिविर में एन. सी.सी. कैडेट्स को 9 बटालियन एन. डी.आर.एफ. की टीम ने आपदा प्रबंधन के विभिन्न तरीकों जैसे की सी.पी.आर., रक्त की बहाओ को रोकना, स्थानिय वस्तु से स्ट्रेचर/लाइफ जैकेट बनाने की शिक्षा दी ताकि जरूरत पड़ने पर एन. सी.सी. कैडेट्स आपदा प्रबंधन में प्रशासन की मदद कर सके।

इसके अलावा कड़ेट्स को शूटिंग रेंज में फ़ाईरिंग में निपुणता हासिल करने के लिए ट्रेनिंग दी गयी। शिविर में मिलिटेरी ट्रेनिंग कैम्प कामंडैंट कर्नल अभिजात कश्यप, सूबेदार  मेजर- Lt.लखबीर सिंह,सूबेदार अर्जुडेन्ट राधे भगत , बी.अच्.ऍम. हरजीत सिंह और अन्य सैन्य अधिकारी द्वारा प्रदान किया जा रहा है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.) 

More Story

more-story-image

रांची : मांदर की थाप पर झूमे सुबोधकांत, धूमधाम से...

more-story-image

बोकारो : प्रभारी मंत्री करती रही बैठक, अधिकारी व्यस्त दिखे...