इंग्लैंड के साथ खिताबी भिड़ंत के लिए तैयार विराट सेना, तीसरा टी-20 आज

NewsCode | 8 July, 2018 1:31 PM
newscode-image

ब्रिस्टल। भारत और इंग्लैंड रविवार को होने वाले अंतिम और निर्णायक टी-20 मैच में एक दूसरे के सामने होंगे। दूसरे मैच को जीत कर इंग्लैंड ने तीन मैचों की सीरीज को रोमांचक मोड़ पर पहुंचा दिया है। अब सीरीज के आखिरी मैच में दोनों टीमों की कोशिश जीत हासिल कर सीरीज पर कब्ज़ा जमाने की होगी। टीम इंडिया ने मैनचेस्टर में खेले गए पहले मैच में जीत हासिल कर 1-0 की बढ़त ले ली थी, लेकिन कार्डिफ में शुक्रवार को खेले गए मैच में इंग्लैंड ने सीरीज में बराबरी कर ली। ऐसे में खिताबी मुकाबला जीतने के लिए भारत के ऊपर दबाव जरूर होगा। मैच शाम साढ़े छह बजे शुरू होगा।

गौरतलब है कि पहले मैच में एकतरफा हार झेलने वाली इंग्लैंड ने दूसरे मैच में खेल के हर क्षेत्र में सुधार किया। पहले मैच में बैकफुट पर रहने वाली इंग्लैंड ने दूसरे मैच में अपनी गलतियों को सुधारते हुए बराबरी हासिल की।

पहले मैच में कुलदीप यादव ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों को काफी परेशान किया था लेकिन दूसरे मैच में पूरी टीम कुलदीप और उनके जोड़ीदार युजवेंद्र चहल के खिलाफ पूरी तैयारी से उतरी थी। तीसरे और आखिरी मैच में इंग्लैंड के सामने अपने इसी प्रदर्शन को जारी रखने की चुनौती है तो वहीं भारत के लिए अपने विजयी रास्ते पर वापस लौटना आसान नहीं होगा।

दूसरे मैच में भारतीय शीर्ष क्रम पूरी तरह से ढह गया था। पहले मैच के शतकवीर लोकेश राहुल का बल्ला भी शांत रहा था। वहीं रोहित शर्मा, शिखर धवन, सुरेश रैना भी सस्ते में पवेलियन लौट लिए थे। कप्तान विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी ने टीम को संभाला था और सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया था।

तीसरे मैच में भारतीय शीर्ष क्रम को अपनी फॉर्म में लौटना होगा। वहीं कोहली, धोनी तथा हार्दिक पांड्या को अपने फॉर्म को बरकरार रखना होगा। गेंदबाजी में टीम ने दोनों मैचों में अच्छा किया है। दूसरे मैच में कम स्कोर होने के बाद भी भारतीय गेंदबाजों ने मैच में रोमांच ला दिया था और अंत तक मैच को खींचा था। हालांकि एलेक्स हेल्स की नाबाद 58 रनों की पारी मेहमान टीम के गेंदबाजों पर भारी पड़ी थी और इंग्लैंड ने एक गेंद शेष रहते हुए मैच जीत लिया था।

तेज गेंदबाज उमेश यादव और भुवनेश्वर कुमार ने शुरुआत में टीम को विकेट दिलाए थे। आखिरी मैच में भारत के लिए यह बहुत जरूरी होगा कि वह इंग्लैंड के शीर्ष क्रम को जल्दी पवेलियन में बैठा दे। पहले मैच में पांच विकेट लेने वाले कुलदीप को दूसरे मैच में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने आसानी से खेला था। वहीं उनके साथी चहल दोनों मैचों में ज्यादा प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं। दोनों के लिए तीसरा मैच अहम होगा।

इंग्लैंड ने दूसरे मैच में बताया है कि वह बिना तैयारी के नहीं उतरती। बल्लेबाजी में उसके पास खेल के छोटे प्रारुप के बड़े नाम हैं। हालांकि दूसरे मैच में शीर्ष क्रम कुछ कर नहीं पाया था। जोस बटलर, जेसन रॉय जल्दी पवेलियन लौट गए थे। इयोन मोर्गन भी कुछ खास नहीं कर पाए थे। अंत में हेल्स को जॉनी बेयरस्टो का अच्छा साथ मिला था। इन सभी बल्लेबाजों को जीत हासिल करन के लिए तीसरे मैच में अपनी फॉर्म में वापसी करनी होगी।

टीमें-

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, सुरेश रैना, युजवेंद्रा सिंह चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, सिद्धार्थ कौल, भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव।

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, जैक बॉल, जोस बटलर, सैम कुर्रन, एलेक्स हेल्स, क्रिस जॉर्डन, लियाम प्लंकेट, आदिल राशिद, जोए रूट, जेसन रॉय और डेविड विली।

IND vs ENG: हेल्स के बल्ले निकली इंग्लैंड की जीत, 5 विकेट से हारी टीम इंडिया

LIVE: पीएम मोदी का कांग्रेस पर तंज, कहा- मेरी शुभकामनाएं 2024 में आप फिर से अविश्वास प्रस्ताव लाएं

NewsCode | 20 July, 2018 9:39 PM
newscode-image

संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन है और आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराई जाएगी. बुधवार को टीडीपी सांसद की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय हुआ था.

संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन है और आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराई जाएगी. बुधवार को टीडीपी सांसद की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय हुआ था.

अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी भाषण दिया. राहुल गांधी अपना भाषण खत्‍म करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास गए और उनके गले लगकर हाथ मिलाया.

LIVE UPDATES:

पीएम मोदी ने बोलना शुरू किया-

प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान लोकसभा में जमकर हंगामा,  विपक्षी नेताओं लगा रहे वी वांट जस्टिस के नारे

-जब हम डिजिटल लेनदेन की बात करने लगे तो सदन में बैठे लोग बताने लगे कि हमारे देश में लोग अनपढ़ हैं.

-ऐसे लोगों को हमारे देश की जनता ने तमाचा मारा है. इनकी यही मानसिकता गलत है

-यह अच्छा मौका है कि हमें अपनी बात कहने का बात मिल ही रहा है लेकिन देश को यह चेहरा भी देखने का मौका मिला है कि कैसे नकारात्मक राजनीति ने कुछ लोगों को घेर कर रखा हुआ है और उन सब का चेहरा निखर कर बाहर आया है.

-कई लोगों के मन में यह सवाल आया कि यह प्रस्ताव आया क्यों? विपक्ष के पास बहुमत नहीं है फिर भी यह प्रस्ताव लाया गया. सरकार को गिराने के लिए इतना ही उतावलापन था तो इसे 48 घंटे और टालने की कोशिश क्यों की गई. अगर चर्चा की तैयारी ही नहीं थी तो इसे लाया ही क्यों?

पिछले दो वर्ष में पांच करोड़ लोग गरीबी से बाहर आए : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– किसानों की आय 2022 तक दोगुनी कर देंगे : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में कहा, ”हम ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर काम करते रहे.”

– अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर चर्चा : प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान लोकसभा में जमकर हंगामा

– लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं पर भरोसा ज़रूरी, सवा सौ करोड़ देशवासियों पर अविश्वास न करें : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– साथियों की परीक्षा लेने के लिए अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जाना चाहिए : लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– न मांझी, न रहबर, न हक में हवाएं, है कश्ती भी जर्जर, यह कैसा सफर है : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

– न संख्या है, न बहुमत, फिर भी अविश्वास प्रस्ताव लाया गया, देश देख रहा है, कैसी नकारात्मकता है : अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

– अविश्‍वास प्रस्‍ताव के बहाने अपने कुनबे को जमाने की कोशिश की गई है.

– राहुल गांधी के गले मिलने पर पीएम मोदी बोले- कुर्सी पर पहुंचने की जल्‍दबाजी है.

– पीएम मोदी ने कहा , संसद में बहुमत नहीं फिर भी अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाया गया है.

 -तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी ने कहा, “आप राम पर भी अपनी मनॉपली (एकाधिकार) करना चाहते हैं.”

-हमें रूस-अमेरिका नहीं, हिन्दू-मुस्लिम के बीच फैल रही नफरत मारेगी : नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद फारुक अब्दुल्ला

– मॉब लिंचिंग सिर्फ 1984 में नहीं हुई थी, वह 2002 में भी हुई : AIMIM के सांसद असदुद्दीन ओवैसी

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

रांची : Low Rank वाले न हों हताश, Dr.S.S. Singh से लें सलाह

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:56 PM
newscode-image

रांची। JEE Mains में 1 लाख से ऊपर रैंक वालों के लिए Self Financed Technical Institute (SFTIS)  के लिए काउंसिल शुरू।

माननीयों की लड़ाई सदन से लेकर सड़क तक, जिम्मेदार कौन ?

Low Rank  वाले हताश न हों , जानिए करियर सलाहकार Dr.S.S. Singh से कि किन संस्थानों में एडमिशन लेना चाहिए।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

गुमला : दिल्ली ले जायी जा रही छः लड़कियां रांची रेलवे स्टेशन से बरामद

NewsCode Jharkhand | 20 July, 2018 9:56 PM
newscode-image

गुमला। दिल्ली ले जायी जा रही छः लड़कियों को पुलिस ने रांची रेलवे स्टेशन से बरामद किया है। ये सभी लड़कियां गुमला जिले के रायडीह थाना क्षेत्र की रहने वाली हैं और आनंद विहार ट्रेन से रांची स्टेशन से नई दिल्ली जाने वाली थी। रायडीह थाना प्रभारी राजेश कुमार सिंह की पहल पर, राँची रेलवे स्टेशन से गुप्त सूचना के आधार पर इन लड़कियों की बरामदगी की गई। सभी लड़कियों को cwc रांची को सौंप दिया गया है।

लोहरदगा : भूमि विवाद में वृद्ध को मारी गोली, हालत गंभीर, रिम्स रेफर 

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

दुमका : मामूली विवाद को लेकर शिक्षक ने छात्र को...

more-story-image

 पलामू : भू-माफियाओं से परेशान ग्रामीण अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर