गुमला : टांगी से मारकर 65 वर्षीय महिला की हत्या

NewsCode Jharkhand | 12 July, 2018 5:30 PM
newscode-image

गुमला। गुमला में हत्या रुकने का नाम नही ले रहा है। टेसेरा गांव में 65 वर्षीय महिला सोमारी उराइन को तेज धारदार हथियार से हत्या कर दी गई है।

जिससे सोमारी की मौत घटना स्थल पर हो गयी। वहीं घटना की सूचने पर थाना प्रभारी दलबल के साथ घटना स्थल पंहुचकर शव को अपने कब्जे में लिए। शव को पोस्मार्टम के लिए गुमला सदर अस्पताल में भेज दिया गया है। वहीं घटना के बाद से हत्यारे पुलिस के गिरफ्त से बाहर हैं।

घर में अकेली थी सोमारी

इस घटना से गांव के लोगों के बीच दहशत व्याप्त है। घटनाक्रम में मिली जानकारी के अनुसार मृतक सोमारी उराइन घर मे अकेली थी, पूरा परिवार खेत में काम करने गया था। इसी दौरान उसी गांव का उमटा उराँव नशे की हालत में आया और टांगी से मारकर हत्या कर दी। वहीं हत्या किन कारणों से हुई है, इसका खुलासा अभी तक नहीं हुआ है। पुलिस हत्या की छानबीन में जुटी हुई है।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं).

पाकुड़ : अगर नहीं होती इन विस्फोटकों बरामदगी, तो दहल जाता पाकुड़

Tarun Kumar Choubey | 23 July, 2018 7:58 PM
newscode-image

पाकुड़। गुप्त सूचना के आधार पर पाकुड़ पुलिस को बारूदों का जखीरा पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है। इस संबंध में समाहरणालय स्थित अपने कार्यालय कक्ष में पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र वर्णवाल ने बताया कि गुप्त सूचना मिली कि पश्चिम बंगाल के कुछ अपराधकर्मी द्वारा भारी मात्रा में विस्फोटक पदार्थ माल पहाड़ी ओपी एवं पाकुर जिला के अन्य क्षेत्रों में तस्करी हेतु लाया जा रहा है।

पाकुड़ : अगर नहीं होती इन विस्फोटकों बरामदगी, तो दहल जाता पाकुड़

सूचना मिलते ही सत्यापन हेतु तुरंत क्यूआरटी बल के साथ एक विशेष टीम गठन कर त्वरित कार्रवाई की गई। जैसे ही टीम माल पहाड़ी ओपी क्षेत्र के बांस माता गांव पहुंची, चेगड़ांगा से बस माता की ओर आ रहे मोटरसाइकिल सवार दो व्यक्ति पुलिस को देखते ही मोटरसाइकिल छोड़कर भागने लगे। यूआरटी टीम की सहायता से भाग रहे दोनों व्यक्तियों को खदेड़कर पकड़ा गया।

पाकुड़ : डूमरघाटी में सड़क दुर्घटना, एक की मौत

पकड़े गए व्यक्तियों में इक ने अपना नाम मेहरून शेख पिता हमशेद शेख बन पड़ा सींगदा थाना माल पहाड़ी   जिला पाकुड़ तथा दूसरा सद्दाम शेख ग्राम चचकी थाना पाकुड़ जिला का रहने वाला है। पुलिस अधीक्षक ने बताया मांगे जाने पर दोनों ने कोई कागजात नहीं दिखा पाये।

पाकुड़ : सड़क दुर्घटना में परा शिक्षक गम्भीर रूप से घायल

दोनों के पास से सात बोरी डिटोनेटर करीब ढाई हजार पीस एवं एक बोरी जिलेटिन लगभग दस हजार पीस बरामद किया गया है। दोनों ने स्वीकार किया कि विस्फोटक पदार्थ होबू शेख नाम के व्यक्ति के पास लेकर माल पहाड़िया ओपी एवं अन्य विभिन्न खदानों में दिया जाना था।

अगर ये विस्फोटक पदार्थ पुलिस नहीं पकड़ती तो दहल सकता था पूरा  पाकुड़ जिला, ये घटना को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया इस संबंध में उसका नाम सत्यापन हेतु अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पाकुड़ के नेतृत्व में टीम का गठन कर जांच कराया जा रहा है।

पाकुड़ : दुष्कर्म के आरोपी को आठ साल की मिली सजा

पुलिस अधीक्षक के अनुसार दोनों व्यक्ति ने के बयान पर होबु शेख के बंगाल सीमा क्षेत्र में अवस्थित ठिकाने से पांच बोरी डिटोनेटर एवं एक बोरी जिलेटिन बरामद किया गया है, हॉबू शेख फिलहाल फरार है।

विशेष टीम द्वारा उसकी गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है। दोनों अपराधियों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कांड अंकित किया जा रहा है। मौके पर पुलिस अवर निरीक्षक राज किशोर मिश्रा, प्रभारी माल पहाड़ियों की सहायक अवर निरीक्षक भरत सिंह एक्यूआरटी सशस्त्र बल मौजूद थे।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

sun

320C

Clear

क?रिकेट

Jara Hatke

Read Also

रांची : संघ की दृष्टि में राम ही खुदा है और खुदा ही राम है- इंद्रेश कुमार

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 8:24 PM
newscode-image

शशि थरूर आजाद भारत के जिन्ना- इंद्रेश

रांची। एक दिवसीय झारखंड दौरे पर आये आरएसएस के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश कुमार ने मीडिया के समक्ष कहा कि, संघ की दृष्टि में राम ही खुदा है और खुदा ही राम है। राम मंदिर था, राम मंदिर है और राम मंदिर रहेगा। होटल बीएनआर में आयोजित ‘हिन्दू जागरण मंच’ के एक कार्यक्रम में शामिल होने आये थे इंद्रेश कुमार।

राँची : झारखण्ड विकास मोर्चा ने फूंका राज्य सरकार का पुतला

‘राम जन्‍मभूमि बनाम विवादित ढांचा’ के नाम से अदालती कार्यवाही

राम मंदिर निर्माण के सवाल का जवाब देते हुए इंद्रेश कुमार ने कहा कि एक साल पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट में राम मंदिर बनाम बाबरी मस्जिद के रूप में मामला चल रहा था। पिछले एक साल से सुप्रीम कोर्ट में यह मामला नाम बदलकर ‘राम जन्‍मभूमि बनाम विवादित ढांचा’ के नाम से अदालती प्रक्रिया चल रही है।

राम का जन्‍म-स्‍थान एक ही है

इंद्रेश ने बताया कि मुस्लिम समुदाय से जुडे लोग भी उस विवादित ढांचे को बाबरी मस्जिद कहना इस्‍लाम का अपमान समझते हैं। वहीं अदालती कार्यवाही  में राम मंदिर को राम जन्‍म स्‍थान रखा गया है, क्‍योंकि राम मंदिर तो कहीं भी हो सकता है, लेकिन राम जन्‍म स्‍थान तो एक ही है।

पत्थलगड़ी आंदोलन चर्च व मिशन संस्थाओं का षड़यंत्र- RSS

खूंटी व झारखंड में सक्रिय हो रहे पत्थलगड़ी आंदोलन को चर्च व मिशन संस्थाओं का षड्यंत्र करार दिया है। मदर टेरेसा द्वारा स्थापित मिशनरीज ऑफ चैरिटी संस्था में नवजात बच्चों के बेचने की घटना को उन्होंने कलंकित करने वाली अमानवीय कृत बताया।

शशि थरूर आजाद भारत के जिन्ना

चंद्रेश कुमार ने कांग्रेस के  बड़े लीडर शशि थरूर पर सवाल उठाते हुए कहा कि शशि थरूर आजाद भारत के जिन्ना हैं।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

रांची : झारखंड की महिला हो रही है सशक्त- सीपी सिंह 

NewsCode Jharkhand | 23 July, 2018 8:24 PM
newscode-image

रांची। महिलायें आगे आ रही है यह बहुत खुशी की बात है। हर क्षेत्र में महिलायें अपना परचम लहरा रही है। झारखंड की सशक्त महिला संगठन नारी शक्ति झारखंड प्रदेश के बैनर तले कई सामाजिक कार्य किए जा रहे है। संस्था की अध्यक्षा आरती बेहरा आज गांव के पीडित और वंचित महिलाओं को न्याय दिलाने का काम कर रही है जो बहुत ही खुशी की बात है। यह बाते नगर विकास एवं आवास सह परिवहन मंत्री सीपी सिंह ने कही।

रांची : कोयला सचिव ने की सीसीएल के कार्य निष्पादन की समीक्षा

वे नारी शक्ति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में महिलाओं को संबोधित कर रहें थें। सिंह ने सभी महिलाओं को केंद्र और राज्य की योजनाओं से परिचीत कराते हुए कहा कि सरकार द्वारा आवास, शौचलय, कोशल विकास, समेत अन्य कई योजना चलाई जा रही है।

राँची : झारखण्ड विकास मोर्चा ने फूंका राज्य सरकार का पुतला

जिसका महिलायें लाभ उठाकर अपना जीवन-स्तर सुधार सकती है। उन्होंने कहा कि कौशल विकास योजना से जुड कर महिलायें अपना और अपने परिवार का भरण-पोशण कर रहीं है। वहीं इस मौके पर बेहरा ने कहा कि वैसा गांव जहां के लोगों आजादी के 70 वर्ष बाद भी बिजली नहीं देखी नहीं थी।

वहां नारी शक्ति के प्रयास से बिजली पहुंचाने काम का किया गया। विधवा एवं वृद्ध  महिलाओं का पेंशन कार्ड, सात हजार से भी ज्यादा गरीब महिलाओं का राशन कार्ड बनवाया गया। वहीं कई टूटे परिवार को समझा-बुझाकर उनके घर को बसाने का काम किया गया।

संगठन में शामिल हुई आर्मी के जवानों की पत्नियां

नारी शक्ति झारखंड प्रदेश में सोमवार को आर्मी के जवानों की पत्नियां भी शामिल हुर्इं। 15 महिलायों ने संगठन मांडर के चटवल गांव की है। सभी के पति देश की सेवा में व्यस्त है। लेकिन इनके गांव घर को देखने वाला कोई नहीं। इन्हीं कार्यों से खुश होकर आर्मी में काम कर रहे जवानों की पत्नियों ने नारी शक्ति के साथ जुडने का फैसला किया था। नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने इस पर प्रसन्नता जाहिर की और सभी को शुभकामनायें भी दी।

(अन्य झारखंड समाचार के लिए न्यूज़कोड मोबाइल ऐप डाउनलोड करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

More Story

more-story-image

निरसा : पेयजल की किल्लत दूर करने के लिए स्टेंडिंग प्‍वाइंट...

more-story-image

बेंगाबाद : बीडीओ ने किया विकास योजनाओं का निरीक्षण, दिए...